पुरुष कहते है की उन्हें सबल महिलाएँ पसंद है, पर जब वह ऐसी महिलाओं क साथ होते है तो वह ख़ुद को सम्भाल नहीं पाते। ऐसा क्यों?...


user

Dr. Swatantra Jain

Psychotherapist, Family & Career Counsellor and Parenting & Life Coach

2:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि पुरुष कहते हैं उन्हें सफल महिलाओं पसंद है पर जब वह ऐसी महिलाओं को साथ होते हैं तो वह खुद को संभाल नहीं पाते ऐसा क्यों हां बिल्कुल सही कहा आपने सामान्य तौर पर क्वेश्चन खुशखबर महिलाएं बात अच्छी लगती पसंद आती हैं और उनकी कद्र भी करते हैं उनसे इंटरेस्ट भी होते हैं लेकिन जब उनकी खुद की पत्नियां पागल हो जाए और वह अपनी राय दबंग रूप से रखना शुरू करें तो फिर पुरुषों को 8 महीने आप अपने इनका कम भाव खाने शुरू हो जाता है क्योंकि वह पति के रूप में अपने आप को चुप ही समझता है और जो पति के बदले जब पत्नी हावी होने लगे तो उसे बताइए कुछ गड़बड़ हो रही है तो और उनकी पत्नियों की जब दूसरे लोग इज्जत करना शुरू करते हैं तो उन्हें तब भी मर्जी मनीषा होती अच्छा नहीं लगता वही बात ओमकार उनका हटता इगो हर्ट होता है और धीरे धीरे को चाटने का मन खातून के चाहिए पत्नियों के गरबा दिखाएं घर में घर में दिखाए तो यह उनसे बर्दाश्त नहीं होता यह सही बात है

aapka prashna hai ki purush kehte hain unhe safal mahilaon pasand hai par jab vaah aisi mahilaon ko saath hote hain toh vaah khud ko sambhaal nahi paate aisa kyon haan bilkul sahi kaha aapne samanya taur par question khushakhabar mahilaye baat achi lagti pasand aati hain aur unki kadra bhi karte hain unse interest bhi hote hain lekin jab unki khud ki patniya Pagal ho jaaye aur vaah apni rai dabang roop se rakhna shuru kare toh phir purushon ko 8 mahine aap apne inka kam bhav khane shuru ho jata hai kyonki vaah pati ke roop me apne aap ko chup hi samajhata hai aur jo pati ke badle jab patni haavi hone lage toh use bataiye kuch gadbad ho rahi hai toh aur unki patniyon ki jab dusre log izzat karna shuru karte hain toh unhe tab bhi marji manisha hoti accha nahi lagta wahi baat omkar unka hatata ego heart hota hai aur dhire dhire ko chatne ka man khatun ke chahiye patniyon ke garba dikhaen ghar me ghar me dekhiye toh yah unse bardaasht nahi hota yah sahi baat hai

आपका प्रश्न है कि पुरुष कहते हैं उन्हें सफल महिलाओं पसंद है पर जब वह ऐसी महिलाओं को साथ हो

Romanized Version
Likes  487  Dislikes    views  5534
KooApp_icon
WhatsApp_icon
7 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!