कैंसर के बारे में आयुर्वेद क्या कहता है क्या आयुर्वेद में आयुर्वेद लिखा गया था?...


user

Dr Nitin Jain

General Physician and Gynaecologist

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखा जाए तो कैंसर का इलाज आयुर्वेद में है और डिपेंड करता है कि किसी स्टेबल है बाकी खाली स्टेटस चला जाता है तो यह थोड़ा मुश्किल होता है एडमिट करना होता है पंचकर्म थेरेपी हम काम करते हैं बामणी विरेचन सब कुछ कर आएंगे शरीर से उनके शरीर से टॉक्सिन को बाहर निकालना है तो वह पेशेंट के लिए थोड़ा टेस्टी होता है कराना बर्थडे चाहते हैं और इसमें एक तरह से देखा जाए तो योगा काफी हेल्पफुल होता है योगा मेडिटेशन यह सब पेशेंट के लिए काफी हेल्पफुल होते हैं इसे क्यों करने के लिए कोटेशन की विल पावर स्ट्रांग होनी चाहिए वह चाहता है कि हां मैं ठीक हो जाऊं मैं ठीक हो सकता हूं तो वह जरूर ठीक होगा

dekha jaaye toh cancer ka ilaj ayurveda mein hai aur depend karta hai ki kisi stable hai baki khaali status chala jata hai toh yah thoda mushkil hota hai admit karna hota hai panchkarm therapy hum kaam karte hain bamni virechan sab kuch kar aayenge sharir se unke sharir se toxin ko bahar nikalna hai toh vaah patient ke liye thoda tasty hota hai krana birthday chahte hain aur isme ek tarah se dekha jaaye toh yoga kaafi helpful hota hai yoga meditation yah sab patient ke liye kaafi helpful hote hain ise kyon karne ke liye quotation ki will power strong honi chahiye vaah chahta hai ki haan main theek ho jaaun main theek ho sakta hoon toh vaah zaroor theek hoga

देखा जाए तो कैंसर का इलाज आयुर्वेद में है और डिपेंड करता है कि किसी स्टेबल है बाकी खाली स्

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  154
WhatsApp_icon
26 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Anurag Dubey

Ayurvedic Doctors

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हंड्रेड वन परसेंट अगर परमात्मा ने मोहित नहीं लगा दी है कि अगर परमात्मा ने बुला लिया है तो क्या कर सकते हैं कैसे ठीक होता है समझने की जरूरत है कैसे पैदा होते हैं अंदर बॉडी में सबसे छोटा मकैनिज्म होता है

hundred van percent agar paramatma ne mohit nahi laga di hai ki agar paramatma ne bula liya hai toh kya kar sakte hain kaise theek hota hai samjhne ki zarurat hai kaise paida hote hain andar body mein sabse chota makainijm hota hai

हंड्रेड वन परसेंट अगर परमात्मा ने मोहित नहीं लगा दी है कि अगर परमात्मा ने बुला लिया है तो

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  169
WhatsApp_icon
user

Annat Joshi

Ayurvedic Expert

0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल सौ परसेंट स्कोर उपचार है आयुर्वेद में ज्यादा एक नहीं हो और सेकंड स्टेटस भी खबर होने की पूरी पूरी संभावना कम होती है

bilkul sau percent score upchaar hai ayurveda mein zyada ek nahi ho aur second status bhi khabar hone ki puri puri sambhavna kam hoti hai

बिल्कुल सौ परसेंट स्कोर उपचार है आयुर्वेद में ज्यादा एक नहीं हो और सेकंड स्टेटस भी खबर होन

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  298
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज की कैंसर अलग-अलग किस्म के होते हैं अलग होते हैं होते हैं अलग अलग अलग कंडीशन के गाने जिस पर केवल किए जा सकते हैं यदि प्रॉपर गाइड नेस डाइट और आयुर्वेदिक ट्रीटमेंट फॉर परमिट

aaj ki cancer alag alag kism ke hote hain alag hote hain hote hain alag alag alag condition ke gaane jis par keval kiye ja sakte hain yadi proper guide Ness diet aur ayurvedic treatment for permit

आज की कैंसर अलग-अलग किस्म के होते हैं अलग होते हैं होते हैं अलग अलग अलग कंडीशन के गाने जिस

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  298
WhatsApp_icon
user

Dr Alok Kumar Sinha

Ayurvedic Doctor Joint Pain specialist

0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कैंसर का इलाज जब तक कैंसर के रोगी को देखा जा सकता है कि अगर है तो उसके आयुर्वेदिक में इलाज है

cancer ka ilaj jab tak cancer ke rogi ko dekha ja sakta hai ki agar hai toh uske ayurvedic mein ilaj hai

कैंसर का इलाज जब तक कैंसर के रोगी को देखा जा सकता है कि अगर है तो उसके आयुर्वेदिक में इलाज

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  340
WhatsApp_icon
user

Dr Meenal Gupta (BAMS)

Ayurvedic Doctor

1:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कैंसर जहां तक कैंसर का जो बेसिक कारण है वह है एक्सिस ग्रोथ ऑफ सेल एक्सिस ग्रोथ ऑफ सेल्फ में जो अनवांटेड सेल संबोधित रोज करती है कि कैंसर की बीमारी जो है जुगनू सहयोग अनियंत्रित रोष है उसको रोकने में हेल्प कर सकती हूं तो हमारी आईडी दवाइयां जिसने कि यदि वाटिका वटी आती है या फिर मूविंग करते तो टैबलेट हैं जो आती है जो कि हमारी की रेगुलर पहुंच को काम करती हैं यह चीज हमारी है नंबर मैं आपको बता रही थी अगर हमको कराते हैं तो बॉडी की से टॉक्सिंस पर हो बाहर निकलते हैं तो चॉकलेट के बाहर निकलने को जो भी कोई चीज है वह सॉरी सॉरी होती है उसकी फीस होने की चीज कम हो जाती आयुर्वेद किस मुख कैंसर की भी कई तरीके पर विजय प्राप्त कर सकते लेकिन हमें पता होना चाहिए कि कैंसर किस स्टेट से है अभी चैटिंग स्टेज पर है तो हम काफी हद तक की दवाइयां

cancer jaha tak cancer ka jo basic karan hai vaah hai axis growth of cell axis growth of self mein jo unwanted cell sambodhit roj karti hai ki cancer ki bimari jo hai jugnoo sahyog aniyantrit rosh hai usko rokne mein help kar sakti hoon toh hamari id davaiyan jisne ki yadi vatika vati aati hai ya phir moving karte toh tablet hai jo aati hai jo ki hamari ki regular pohch ko kaam karti hai yah cheez hamari hai number main aapko bata rahi thi agar hamko karate hai toh body ki se taksins par ho bahar nikalte hai toh chocolate ke bahar nikalne ko jo bhi koi cheez hai vaah sorry sorry hoti hai uski fees hone ki cheez kam ho jaati ayurveda kis mukh cancer ki bhi kai tarike par vijay prapt kar sakte lekin hamein pata hona chahiye ki cancer kis state se hai abhi chatting stage par hai toh hum kaafi had tak ki davaaiyaan

कैंसर जहां तक कैंसर का जो बेसिक कारण है वह है एक्सिस ग्रोथ ऑफ सेल एक्सिस ग्रोथ ऑफ सेल्फ मे

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  301
WhatsApp_icon
user

Dr Viral desai

Ayurvedic Doctor

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आयुर्वेद में कोई भी आर्टिस्ट का लाइट का उतना डायग्नोसिस होने के बाद होता तो कैंसर स्टेजेस मेडिकल डायग्नोसिस नॉटी आयुर्वेदिक डायग्नोसिस फॉर कैंसर का सिमिलर रितेश आयुर्वेद में है और लेकिन वह है सफर करना चाहिए तो ऐसे ही है सर्च कैंसर का ट्रीटमेंट के लिए कैंसर जो कंडीशन है वह मॉडर्न मेडिकल कंडीशन है और उसका ट्रीटमेंट आयुर्वेद तो यह क्रोसमैच होता है आयुर्वेद के अनुसार क्या है वह देखना पड़ता है फिर उसके अनुसार उसका ट्रीटमेंट करना पड़ता है लेकिन डायग्नोसिस होना चाहिए

ayurveda mein koi bhi artist ka light ka utana diagnosis hone ke baad hota toh cancer stejes medical diagnosis naughty ayurvedic diagnosis for cancer ka similar ritesh ayurveda mein hai aur lekin vaah hai safar karna chahiye toh aise hi hai search cancer ka treatment ke liye cancer jo condition hai vaah modern medical condition hai aur uska treatment ayurveda toh yah krosamaich hota hai ayurveda ke anusaar kya hai vaah dekhna padta hai phir uske anusaar uska treatment karna padta hai lekin diagnosis hona chahiye

आयुर्वेद में कोई भी आर्टिस्ट का लाइट का उतना डायग्नोसिस होने के बाद होता तो कैंसर स्टेजेस

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  384
WhatsApp_icon
play
user

Dr. Ram Gopal Agarwal

Ayurvedic Doctor

0:30

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर फर्स्ट स्टेज पर आ जाता है तो आराम से हो जाता है मेरे पास अभी दो पेशेंट डाइट है कैंसर के और वह ठीक होने के कगार सेटिंग उज्जैन जयपुर में पेशेंट को उन्होंने डॉक्टरों ने कह दिया तो 3 दिन बचा ले जाओ उसका इलाज मैंने किया तो 2 साल के अंदर आ हर मर्ज का इलाज करती है

agar first stage par aa jata hai toh aaram se ho jata hai mere paas abhi do patient diet hai cancer ke aur vaah theek hone ke kagar setting ujjain jaipur mein patient ko unhone doctoron ne keh diya toh 3 din bacha le jao uska ilaj maine kiya toh 2 saal ke andar aa har merge ka ilaj karti hai

अगर फर्स्ट स्टेज पर आ जाता है तो आराम से हो जाता है मेरे पास अभी दो पेशेंट डाइट है कैंसर क

Romanized Version
Likes  120  Dislikes    views  1812
WhatsApp_icon
user

Dr. Samir Sapcota

Ayurvedic Doctors

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आयुर्वेद में कैंसर के बारे में बताएं क्या है और क्या बोलती पता है यह है कि उसमें भी काफी का नक्शा बताया हुआ है कि सारे लोग भी हैं जो अच्छी तरह से उसको डील करते हैं और काफी जा रे पंछी है जो अपने पुरखों से मिला हुआ कॉलेज से स्कोर अच्छा कर रहे हैं और बाकी सब ठीक है लेकिन थोड़ा बहुत ज्यादा है

ayurveda mein cancer ke bare mein bataye kya hai aur kya bolti pata hai yeh hai ki usme bhi kaafi ka naksha bataya hua hai ki saare log bhi hain jo acchi tarah se usko deal karte hain aur kaafi ja ray panchhi hai jo apne purkhon se mila hua college se score accha kar rahe hain aur baki sab theek hai lekin thoda bahut zyada hai

आयुर्वेद में कैंसर के बारे में बताएं क्या है और क्या बोलती पता है यह है कि उसमें भी काफी क

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  457
WhatsApp_icon
user

Dr. Mitramahesh

Ayurvedic Doctors

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पंचकर्म के नुकसान

panchkarm ke nuksan

पंचकर्म के नुकसान

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  120
WhatsApp_icon
user
0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कहां पर स्कोरकार्ड कहकर कड़ा रुख किया गया वह कैंसर की ट्रांसलेशन की गई है लेकिन है नहीं तो सांवरिया कोई मूवी सॉन्ग आर्केस्टा इसको घात कार में रखा है तीनों दोषों जाएंगे और सारे के सारे इसमें हमारे सब बंद हो जाएंगे उसी स्थिति में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होगी और इनकी जरूरत भी है 2:00 तक बढ़ती चली जाएगी यह आपको प्रदूषण मिला

kahaan par scorecard kehkar kada rukh kiya gaya vaah cancer ki translation ki gayi hai lekin hai nahi toh sanwariya koi movie song arkesta isko ghat car mein rakha hai tatvo doshon jaenge aur saare ke saare isme hamare sab band ho jaenge usi sthiti mein rog pratirodhak kshamta kam hogi aur inki zarurat bhi hai 2 00 tak badhti chali jayegi yah aapko pradushan mila

कहां पर स्कोरकार्ड कहकर कड़ा रुख किया गया वह कैंसर की ट्रांसलेशन की गई है लेकिन है नहीं तो

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  123
WhatsApp_icon
user

Dr. Garima Saxena

Founder, Consultant - Sukhayubhava ayurveda integrated clinic

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कैंसर के बारे में आयुर्वेदिक की जीत कहता है कि आपने अपनी पितृदोष को ध्यान में रखना कब तक तो बढ़ता जाएगा बढ़ता जाएगा बढ़ता जाएगा तो कैंसर में कर्क रोग में होता और कैंसर का हर व्यक्ति के लिए कारण अलग होता है इसीलिए कैंसर से अगर आपको बच के रहना है तो उसका ध्यान रखेंगे हमारे को इनक्रीस नहीं होगा वहीं पर सेटल रहेगा तो आपको खुद को बचा के मानसिक दोष से मुक्त कैसे प्रिंटेड

cancer ke bare mein ayurvedic ki jeet kahata hai ki aapne apni pitridosh ko dhyan mein rakhna kab tak toh badhta jaega badhta jaega badhta jaega toh cancer mein kark rog mein hota aur cancer ka har vyakti ke liye karan alag hota hai isliye cancer se agar aapko bach ke rehna hai toh uska dhyan rakhenge hamare ko increase nahi hoga wahi par settle rahega toh aapko khud ko bacha ke mansik dosh se mukt kaise printed

कैंसर के बारे में आयुर्वेदिक की जीत कहता है कि आपने अपनी पितृदोष को ध्यान में रखना कब तक त

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  432
WhatsApp_icon
user

Pragyan Tripathi

Ayurvedic Doctor

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या होता है कि कोई भी व्याधि है उसको तीन कैटेगरी में मिनिमम हम बांटते व्हाट्सएप स्टेटस अगर कोई एक-दो छिंद वाले अग्रवाल वाले अकाउंट वाले तीनों दोस्त बहुत ज्यादा लेट हो गए तो वह लगभग करना बहुत मुश्किल हो जाता है या तो उसको मेंटेन रख सकते हैं या फिर ठीक नहीं कर सकते सर के बारे में आयुर्वेद ग्रंथ इस तरह से अलग-अलग नामों के बारे में बहुत ज्यादा दोस्त हो गए हो गया तो ठीक करना मुश्किल है

kya hota hai ki koi bhi vyadhi hai usko teen category mein minimum hum bantate whatsapp status agar koi ek do chind waale agrawal waale account waale tatvo dost bahut zyada late ho gaye toh vaah lagbhag karna bahut mushkil ho jata hai ya toh usko maintain rakh sakte hain ya phir theek nahi kar sakte sir ke bare mein ayurveda granth is tarah se alag alag namon ke bare mein bahut zyada dost ho gaye ho gaya toh theek karna mushkil hai

क्या होता है कि कोई भी व्याधि है उसको तीन कैटेगरी में मिनिमम हम बांटते व्हाट्सएप स्टेटस अग

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  322
WhatsApp_icon
user

Dr Amit Mishra

Ayurveda Dr /Yoga Consultant

3:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वीडियो जी हम जी रहे हैं तो उसकी वजह से दो नंबर ऑफ़ कैंसर की जो भेजे थे वह ऑन रही है और अलग-अलग प्रकार के कैंसर ऑन रही है जो जंगल में ब्रेस्ट कैंसर मधुमेह को काफी पसंद गम का बड़ा है और इसके अलावा खानपान से मुझे ध्यान नहीं रहता है यह तंबाकू का सेवन हो रहा है तो उसकी वजह से बीमार माउथ कैंसर जो है वह काफी मात्रा में बड़ा है कि की अनदेखी मां के बच्चे हैं उनको भी बिना कोई रोक-टोक के तंबाकू और सिगरेट और अल्कोहल इनका को सेवन कर देते हैं और इसीलिए लोगों का झुकाव जो है वो फिर हरकत की तरक्की आया है और दूध का नाम दिया गया है हमारी जो जिक्र किया गया है और यही कारण है कि आज दिखे तो टेंशन कॉन्फ्रेंस का नाम दिया था और यह हार्वर्ड मेडिकल स्कूल में बहुत ठंड है और वहां के लिए मुझे जब कीमोथेरेपी के बाद में हमारे पास में नहीं थी यह रखी शुरू में ऐसे लोगों का यह मानना होता है कि कीमोथेरेपी प्लीज है और युग और आदमी दोनों का सहारा लिया क्योंकि कहीं ना कहीं वो अंदर से टूट चुकी थी अब आगे क्या होगा बहुत अच्छा और पीड़ितों को एकदम नॉर्मल नहीं प्लीज कर रहे हैं किसी को देखकर यह पता भी नहीं चलता है कि उन्हें कभी कैंसर हुआ था कि पक्का कैंसर के लिए आज बहुत अच्छी रिजल्ट गोमूत्र के कैंसर के ऊपर मिल रहे हैं इसी तरह से जो उसका भी प्रयोग जो है वह कैंसर किस में होता है गाय का जो मिलता है उस पर भी आएगा कि वह भी और घूंघट जो है वह भी कैंसर काफी फायदेमंद से दुआ है इसलिए मैं जरूर करूंगा कि अरविंद को लेकर काफी अच्छे

video ji hum ji rahe hain toh uski wajah se do number of cancer ki jo bheje the vaah on rahi hai aur alag alag prakar ke cancer on rahi hai jo jungle mein breast cancer madhumeh ko kaafi pasand gum ka bada hai aur iske alava khanpan se mujhe dhyan nahi rehta hai yah tambaku ka seven ho raha hai toh uski wajah se bimar mouth cancer jo hai vaah kaafi matra mein bada hai ki ki andekha maa ke bacche hain unko bhi bina koi rok tok ke tambaku aur cigarette aur alcohol inka ko seven kar dete hain aur isliye logo ka jhukaav jo hai vo phir harkat ki tarakki aaya hai aur doodh ka naam diya gaya hai hamari jo jikarr kiya gaya hai aur yahi karan hai ki aaj dikhe toh tension conference ka naam diya tha aur yah Harvard medical school mein bahut thand hai aur wahan ke liye mujhe jab chemotherapy ke baad mein hamare paas mein nahi thi yah rakhi shuru mein aise logo ka yah manana hota hai ki chemotherapy please hai aur yug aur aadmi dono ka sahara liya kyonki kahin na kahin vo andar se toot chuki thi ab aage kya hoga bahut accha aur piditon ko ekdam normal nahi please kar rahe hain kisi ko dekhkar yah pata bhi nahi chalta hai ki unhe kabhi cancer hua tha ki pakka cancer ke liye aaj bahut achi result gomutra ke cancer ke upar mil rahe hain isi tarah se jo uska bhi prayog jo hai vaah cancer kis mein hota hai gaay ka jo milta hai us par bhi aayega ki vaah bhi aur ghunghat jo hai vaah bhi cancer kaafi faydemand se dua hai isliye main zaroor karunga ki arvind ko lekar kaafi acche

वीडियो जी हम जी रहे हैं तो उसकी वजह से दो नंबर ऑफ़ कैंसर की जो भेजे थे वह ऑन रही है और अलग

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  492
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कैंसर भी ऐसे ही है कैंसर भी 1 दिन में नहीं होता उसे लंबे समय तक जब शरीर धीरे-धीरे कमजोर होता जाता है और लाइफस्टाइल की प्रॉब्लम है ऊंट की प्रॉब्लम है कई सारी चीजें हैं जिनसे कैंसर जनरेट होता है आजकल कोई भी जो हमारे ट्रेडीशनली जो हमारे लाइफ स्टाइल को फॉलो नहीं कर रहा है रात को 2:00 बजे तक जाग रहे हैं पार्टी से आ रहे हैं पार्टी में दारु पी रहे तरह तरह की चीजें खा रहे हैं जो नहीं खाना चाहिए उसे डिलीट करके कैंसिल रूटीन में आदमी रहता है सूर्योदय से पहले उसका है रात में खाना खा लेता है 122 करता है वोटिंग करता है यह सारी चीजें करता है तो उसको कैंसर होने की संभावना बहुत कम होती है टूट जाता है

cancer bhi aise hi hai cancer bhi 1 din mein nahi hota use lambe samay tak jab sharir dhire dhire kamjor hota jata hai aur lifestyle ki problem hai unth ki problem hai kai saree cheezen hain jinse cancer generate hota hai aajkal koi bhi jo hamare tredishanali jo hamare life style ko follow nahi kar raha hai raat ko 2 00 baje tak jag rahe hain party se aa rahe hain party mein daaru p rahe tarah tarah ki cheezen kha rahe hain jo nahi khana chahiye use delete karke cancel routine mein aadmi rehta hai suryoday se pehle uska hai raat mein khana kha leta hai 122 karta hai voting karta hai yah saree cheezen karta hai toh usko cancer hone ki sambhavna bahut kam hoti hai toot jata hai

कैंसर भी ऐसे ही है कैंसर भी 1 दिन में नहीं होता उसे लंबे समय तक जब शरीर धीरे-धीरे कमजोर हो

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  175
WhatsApp_icon
user

Dr. Ranabhai Paansarwala

Ayurvedic Doctors

1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले कैंसर होता है आयुर्वेद में को अर्बुद नाम से जाना जाता है और जहां तक मॉडर्न साइंस के आंसर एक शब्द है जो कि डर पैदा करता है इसका मतलब होता है अनकंट्रोल ग्रोथ बिना कंट्रोल के कोई ग्रोथ हो ना तो हम लोग एक अर्बुद जो होता है अर्बुद क्यों होता है किसी होता इसमें कई कारण होते हैं हम लोग कब शक्ति के जो लोग होते हैं प्रकृति के लोग होते हैं उनमें बहुत संभावनाएं होती हैं और शरीर से जब भी तो दोस्त कुपित होता है वह कब दोष होता है उसको निकालने के लिए आप लोग नाना प्रकार के कार्य करते हैं जिसे आम आदमी तो हर 15 दिन पर अपना पेट साफ करने की व्यवस्था कर सकता और जांच भी नहीं लेना चाहिए वैसे जो प्रचलित दवा है वह है कांचनार गुग्गुल दो-दो गोली दिन में तीन बार लेकिन यह जो होता है जिसमें तीन अवस्थाएं होती हैं क्या हम या पर है साध्य साध्य असाध्य का मतलब जो नहीं ठीक हो पाए या फिर क्या मतलब जब तक दवा चलेगी ठीक होगा उसका मतलब ठीक हो जाए और यह करता है

sabse pehle cancer hota hai ayurveda mein ko arbud naam se jana jata hai aur jaha tak modern science ke answer ek shabd hai jo ki dar paida karta hai iska matlab hota hai anakantrol growth bina control ke koi growth ho na toh hum log ek arbud jo hota hai arbud kyon hota hai kisi hota isme kai karan hote hain hum log kab shakti ke jo log hote hain prakriti ke log hote hain unmen bahut sambhavnayen hoti hain aur sharir se jab bhi toh dost kupit hota hai vaah kab dosh hota hai usko nikalne ke liye aap log nana prakar ke karya karte hain jise aam aadmi toh har 15 din par apna pet saaf karne ki vyavastha kar sakta aur jaanch bhi nahi lena chahiye waise jo prachalit dawa hai vaah hai kanchanar guggul do do goli din mein teen baar lekin yah jo hota hai jisme teen avasthae hoti kya hum ya par hai saadhy saadhy asadhya ka matlab jo nahi theek ho paye ya phir kya matlab jab tak dawa chalegi theek hoga uska matlab theek ho jaaye aur yah karta hai

सबसे पहले कैंसर होता है आयुर्वेद में को अर्बुद नाम से जाना जाता है और जहां तक मॉडर्न साइंस

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  483
WhatsApp_icon
user

Dr Akash Gupta

Ayurvedic Doctor

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आयुर्वेद में कैंसर के बारे में डिस्क्रिप्शन है उसका जो कैंसर में बहुत अच्छी काम कर रहे हैं जैसे लूटी मियां पर अभी बहुत ही अच्छा काम हुआ है इनकी मृत्यु किया गया चल रहा है

ayurveda mein cancer ke bare mein description hai uska jo cancer mein bahut achi kaam kar rahe hain jaise looti miyan par abhi bahut hi accha kaam hua hai inki mrityu kiya gaya chal raha hai

आयुर्वेद में कैंसर के बारे में डिस्क्रिप्शन है उसका जो कैंसर में बहुत अच्छी काम कर रहे हैं

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
user
1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कैंसिल वही पैदा होता है जहां पर चौकसी हो तो उसके मक्खी मक्खी नहीं जब हमारा यूज़ करते हैं आज पर पता हुआ जान ज्यादा खाना खाते हैं तो सर का गाना जाने से हो जाती है और वही सब बीमारियों की जड़ नहीं जुड़ेंगे तो इसीलिए आयुर्वेद के लोग वेट नहीं करते हैं कि चाहते के पहले पति के किसी की मौत दे दो यह तो कुछ फर्क नहीं होता उसको बहुत अच्छा चीज बन सकता है

cancel wahi paida hota hai jaha par chauksi ho toh uske makkhi makkhi nahi jab hamara use karte hain aaj par pata hua jaan zyada khana khate hain toh sir ka gaana jaane se ho jaati hai aur wahi sab bimariyon ki jad nahi judenge toh isliye ayurveda ke log wait nahi karte hain ki chahte ke pehle pati ke kisi ki maut de do yah toh kuch fark nahi hota usko bahut accha cheez ban sakta hai

कैंसिल वही पैदा होता है जहां पर चौकसी हो तो उसके मक्खी मक्खी नहीं जब हमारा यूज़ करते हैं आ

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user

Dr. Sachin Chouhan

Ayurvedic Doctor

0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कैंसर की शुरूआत की दृष्टि नहीं अगर हम डिजीज चेंज कर लेते हैं विस्तृत पकड़ लेते हैं तो आयुर्वेद से उत्कृष्ट रिजल्ट देखने को मिलते हैं ना कि कैंसर की आगे की आपूर्ति पर सेकंड सेट किया जा सकता है

cancer ki shuruat ki drishti nahi agar hum disease change kar lete hain vistrit pakad lete hain toh ayurveda se utkrasht result dekhne ko milte hain na ki cancer ki aage ki aapurti par second set kiya ja sakta hai

कैंसर की शुरूआत की दृष्टि नहीं अगर हम डिजीज चेंज कर लेते हैं विस्तृत पकड़ लेते हैं तो आयुर

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user
1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वेस्टेज के ऊपर डिपेंड करता है कौन सा स्टेट का है कैंसर का स्टेज पर हुआ है उसके ऊपर डिपेंड करता है ठीक है और दोनों चीज है उसमें एलोपैथी इन कंप्लीट है उसमें आयुर्वेद भी इनकंप्लीट अगर दोनों साथ में चलते हैं तो बैठता है सो सकते हैं उसमें कीमोथेरेपी चलती है ओन्ली इमेज चलता है इनको पोस्ट करता है करता है लोड करना चालू होती है तो उसके लिए आपका इम्यून सिस्टम जो डिस्टरबेंस सेंटर भरने में रिकॉर्ड है वह डिटेक्टेड इन सिस्टम ही है तू उसके लिए आयुर्वेदिक बेस्ट होता है

wastage ke upar depend karta hai kaun sa state ka hai cancer ka stage par hua hai uske upar depend karta hai theek hai aur dono cheez hai usme allopathy in complete hai usme ayurveda bhi incomplete agar dono saath mein chalte hain toh baithta hai so sakte hain usme chemotherapy chalti hai only image chalta hai inko post karta hai karta hai load karna chaalu hoti hai toh uske liye aapka immune system jo distarabens center bharne mein record hai vaah detected in system hi hai tu uske liye ayurvedic best hota hai

वेस्टेज के ऊपर डिपेंड करता है कौन सा स्टेट का है कैंसर का स्टेज पर हुआ है उसके ऊपर डिपेंड

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  346
WhatsApp_icon
user

Dr Jigna Varia

Ayurvedic Doctor

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कैसा की है होता है ट्रीटमेंट पर उतना उसके ऊपर इस सर्च अभी नहीं हुआ है और दूसरा क्या है कि ऐसे ऐसे ऐसे नहीं बोल सकते कि कैंसर का ही मेडिसिनल कैंसर की आयुर्वेदिक मतलब इसको लेकर कैसे हुआ है वह देखते उसका मतलब करके उसको क्रीम जिससे होता है उसका मतलब उनको बोलेंगे कि आपको नहीं करना है तो मतलब लाइफस्टाइल और डाइट वह पहली बार के बारे में क्या इन बैलेंस मोबाइल से कैसे वायु पिक्चर कंप्यूटर दोष है बॉडी के तो वह क्या इन बैलेंस हुआ वह देखकर ऐसा डेकोरेशन मेडिसिन अब जो भी सबको हम फिट कर सकते ऐसा नहीं है कि इस मेडिसिन कैंसर में जानकारी और दूसरे में नहीं करेगी ऐसा नहीं नॉर्मल मेडिसिन होती है जोर मतलब जो है रूप को जुकाम को ठीक करने के किस्से कैंसिल हुआ वह हमको तेज करने की कला पक्ष इन दिस इज और उनको कहां रहता है कैसे वह सब दिखे वह सब कोई भी डॉक्टर भी है तो वह अपने हिसाब से अलग-अलग कंबीनेशन करती उसको मेडिसिन

kaisa ki hai hota hai treatment par utana uske upar is search abhi nahi hua hai aur doosra kya hai ki aise aise aise nahi bol sakte ki cancer ka hi medisinal cancer ki ayurvedic matlab isko lekar kaise hua hai vaah dekhte uska matlab karke usko cream jisse hota hai uska matlab unko bolenge ki aapko nahi karna hai toh matlab lifestyle aur diet vaah pehli baar ke bare mein kya in balance mobile se kaise vayu picture computer dosh hai body ke toh vaah kya in balance hua vaah dekhkar aisa decoration medicine ab jo bhi sabko hum fit kar sakte aisa nahi hai ki is medicine cancer mein jaankari aur dusre mein nahi karegi aisa nahi normal medicine hoti hai jor matlab jo hai roop ko zukam ko theek karne ke kisse cancel hua vaah hamko tez karne ki kala paksh in this is aur unko kahaan rehta hai kaise vaah sab dikhe vaah sab koi bhi doctor bhi hai toh vaah apne hisab se alag alag combination karti usko medicine

कैसा की है होता है ट्रीटमेंट पर उतना उसके ऊपर इस सर्च अभी नहीं हुआ है और दूसरा क्या है कि

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  145
WhatsApp_icon
user
0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कैंसर के मामले बहुत जल्दी हो जाता

cancer ke mamle bahut jaldi ho jata

कैंसर के मामले बहुत जल्दी हो जाता

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  139
WhatsApp_icon
user

Dr Ashutosh Goyal

Panchkarma Specialist

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कैंसर का इलाज हो सकता है बट पैकिंग डिस्ट्रिक्ट पर कि पहुंचने वाले हैं इसके बाद पॉसिबल नहीं है यह कैंसर कोई छोटी चीज नहीं पता चल पाता है बहुत लेट पता चलता है शरीर में कुछ भी तरह की कोई प्रॉब्लम तो आपको दिखाई देती है तो उसका चेकअप कर भाई एक कम से कम 6 महीने में बॉडी चेकअप होना बहुत जरूरी

cancer ka ilaj ho sakta hai but packing district par ki pahuchne waale hain iske baad possible nahi hai yah cancer koi choti cheez nahi pata chal pata hai bahut late pata chalta hai sharir mein kuch bhi tarah ki koi problem toh aapko dikhai deti hai toh uska checkup kar bhai ek kam se kam 6 mahine mein body checkup hona bahut zaroori

कैंसर का इलाज हो सकता है बट पैकिंग डिस्ट्रिक्ट पर कि पहुंचने वाले हैं इसके बाद पॉसिबल नहीं

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  306
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकबर कहां डिस्कशन आयुर्वेदिक टाइम में कैंसर के बारे में है और हमें प्यार की मॉडल छोड़कर की आयुर्वेदिक मेडिसिन काफी है जो इस पर काम कर रहे हैं और रही बात कि कैंसर के रोगी के लिए सब लोग इलाज करते नहीं है कोई इलाज करते हैं तो पूरी जानकारी डिफ्यूज करते हैं और इलाज कर रहे हो फायदा भी मिल रहा है

akbar kahaan discussion ayurvedic time mein cancer ke bare mein hai aur hamein pyar ki model chhodkar ki ayurvedic medicine kaafi hai jo is par kaam kar rahe hain aur rahi baat ki cancer ke rogi ke liye sab log ilaj karte nahi hai koi ilaj karte hain toh puri jaankari diffuse karte hain aur ilaj kar rahe ho fayda bhi mil raha hai

अकबर कहां डिस्कशन आयुर्वेदिक टाइम में कैंसर के बारे में है और हमें प्यार की मॉडल छोड़कर की

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  447
WhatsApp_icon
user

Dr. Shashi Kant Rai

Bsc.BAMS (Gold Medallist) Lifestyle and Panchkarma Expert

1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी सबसे पहले कैंसर होता है आयुर्वेद में इसको अर्बुद नाम से जाना जाता है और जहां तक मॉडल साइंस के आंसर एक शब्द है जो पैदा करता है इसका मतलब होता है अनकंट्रोल ग्रुप बिना कंट्रोल के कोई ग्रोथ हो ना तो हम लोग एक अर्बुद जो होता है अर्बुद क्यों होता है किसी और का इसे कई कारण होते हैं अनुष्का व्यक्ति के जो लोग होते हैं प्रकृति के लोग होते हैं उनमें बहुत संभावनाएं होती हैं और शरीर से जब भी तो दोस्त कुपित होता है वह कब दोष होता है उसको निकालने के लिए आप लोग नाना प्रकार के कार्य करते हैं जिसे आम आदमी तो हर 15 दिन पर अपना पेट साफ करने की व्यवस्था कर सकता और ध्यान से नहीं लेना चाहिए वैसे जो प्रचलित दवा है वह कांचनार गुग्गुल दो-दो गोली दिन में तीन बार लिखे यह जो होता है इसमें तीन अवस्थाएं होती हैं क्या हम यापी है साध्य साध्य असाध्य का मतलब जो नहीं ठीक हो पाए या फिर का मतलब जब तक दवा चलेगी ठीक होगा उसका मतलब ठीक हो जाए और कर सकता है

vicky sabse pehle cancer hota hai ayurveda mein isko arbud naam se jana jata hai aur jaha tak model science ke answer ek shabd hai jo paida karta hai iska matlab hota hai anakantrol group bina control ke koi growth ho na toh hum log ek arbud jo hota hai arbud kyon hota hai kisi aur ka ise kai karan hote hain anushka vyakti ke jo log hote hain prakriti ke log hote hain unmen bahut sambhavnayen hoti hain aur sharir se jab bhi toh dost kupit hota hai vaah kab dosh hota hai usko nikalne ke liye aap log nana prakar ke karya karte hain jise aam aadmi toh har 15 din par apna pet saaf karne ki vyavastha kar sakta aur dhyan se nahi lena chahiye waise jo prachalit dawa hai vaah kanchanar guggul do do goli din mein teen baar likhe yah jo hota hai isme teen avasthae hoti kya hum yapi hai saadhy saadhy asadhya ka matlab jo nahi theek ho paye ya phir ka matlab jab tak dawa chalegi theek hoga uska matlab theek ho jaaye aur kar sakta hai

विकी सबसे पहले कैंसर होता है आयुर्वेद में इसको अर्बुद नाम से जाना जाता है और जहां तक मॉडल

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  108
WhatsApp_icon
user

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वाटर के बारे में कैंसर के बारे में लिखा है उन्होंने लोगों ने चार लोगों ने लिखा है कैंसर के बारे में डाला है तो बात जानते हैं ना चैट मैंट तो आया कुछ और तो नहीं किया जा सकता लेकिन आप पेशेंट को प्लेलिस्ट टाइम लगता है उसको लाइफस्टाइल उसका बना दिया जाए

water ke bare mein cancer ke bare mein likha hai unhone logo ne char logo ne likha hai cancer ke bare mein dala hai toh baat jante hain na chat maint toh aaya kuch aur toh nahi kiya ja sakta lekin aap patient ko playlist time lagta hai usko lifestyle uska bana diya jaaye

वाटर के बारे में कैंसर के बारे में लिखा है उन्होंने लोगों ने चार लोगों ने लिखा है कैंसर के

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!