मैं ज़िंदगी से अक्सर उदास रहता हूँ तो मुझे क्या करना चाहिए?...


user

AKANSHA SHUKLA

PSYCHOLOGIST & COUNSELING PSYCHOLOGIST ( Child, Carrier, Family, Parental And Relationship)

5:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो गुड आफ्टरनून आपका क्वेश्चन है कि मैं जिंदगी मसूरी दाल से कहूं तो मुझे क्या करना चाहिए तो आइए मैं काउंसलिंग साइकोलॉजी समय आपको काउंसलिंग की आपदा से आप उदास होते तो आपको आपका मोटिवेशन लेबल बहुत डाउन हो चुका है तक उसको हाय मोटिवेशन लेबल को अगर आपके मन में इच्छा होगी अगर आपके मन से इच्छा होगी यहां मुझे कुछ करना है कुछ आगे बढ़ना है या किसी चीज के प्रति आपको कुछ करने की इच्छा है आप आपके मोटिवेशन लेवल को बढ़ाइए सबको उदास पहन दूर होगा आप नेगेटिव चीजें ना सोचे उदासी उदासी को भगाने का दिन तारीख तरीके एक तो पहले आप नेगेटिव चीजें ना सोचे नेगेटिव थॉट ना लाए आपके माइंड में और पॉजिटिव आपके घर के वातावरण को पॉजिटिव बना है आपको अगर गार्डनिंग अच्छी लगती है तो आप गार्डिंग करें आपका प्ले चीज में इंटरेस्ट है आप वह करें म्यूजिक करना चालकता ताप म्यूजिक सुने और सोशल ही रहे तो ज्यादा बैटर रहेगा क्योंकि सोशल ही रहने से सोशल एक्टिविटी करने से आपका उदासी पन दूर हो जाएगा आप उन लोगों से इंटरेक्ट करेंगे सोशल ही रहेंगे कहां गई आप समाज सेवा भी कर सकते या किसी एनजीओ से जुड़ सकते हैं ताकि आप अपने वर्क को अपने उसमें डेयरी में बिजी रहेंगे आप अकेली राइटिंग में जो रहेगा आपका आप उस में बिजी रहेंगे तो आपको उधर से महसूस नहीं होगी अगर आप बिजी नहीं है तो आपको हर चीज हर बार ऐसा उदास उदास भी लगते रहेगा अपने फैमिली पर मिलिए से बात करें जो कि आपके फैमिली मेंबर से उनसे बात करें अगर किसी प्रकार की कोई ऐसी प्रॉब्लम है जिसे आप से नहीं कर पा रहे हो आप को सोच सोच के अंदर ही अंदर अंदर आपको सोचकर बजीब सा फील हो रहा हो अच्छा नहीं लग रहा है हंसी आ रही है तो आप उस चीज को शेयर करिए यह कभी-कभी ऐसा होता है कि हमारे मन की बात को बोल देते तो हमारा मन हल्का हो जाता है तो आप यह चीजें कर सकते अब आपकी उदासी को इस तरह से भगा सकते हैं मॉर्निंग वॉक कीजिए आपको मॉर्निंग वॉक करता जोगिंग कीजिए और योगा करना चाहते योगा सबसे बेटा रिश्ता मेडिटेशन कीजिए मेडिटेशन करने से आपका उधर से बंद होगा किसी चीज का ध्यान केंद्रित करेंगे ना पर आपने किसी चीज पर कभी ध्यान मत कीजिए पॉजिटिव चीज पर आप ध्यान केंद्रित कीजिए सब कुछ चेंज करिए कि सुबह-सुबह मेडिटेशन करेंगे योगा करेंगे उसके बाद आपको बुक करना है तो वो कीजिए साइज करना है क्या इसके लिए आपको गार्डनिंग करने का शौक है तो गार्डनिंग कीजिए म्यूजिक सुनना है तो म्यूजिक सुनी है फिर आपका जो दिल्ली के वह की जिसके साथ आप ऐड कीजिए कर सकते हैं क्या आपको किसी सोशल एक्टिविटी में पार्टिसिपेट करना था पाठ फिटकरी करेंगे और जब आप इंटरनेट कौशल्या फैमिली में सब भी किसी से इंटरनेट पर करेंगे तो आपका उदासी पनाराम से दूर हो जाएगा इससे आपको ज्यादा ऐसा नहीं लगेगा कि मेरी लाइफ में बहुत ज्यादा उदास हूं उत्तर उदास हो तो ऐसा फील ही नहीं हो पाएगा हमेशा पॉजिटिव थिंक पॉजिटिव पॉजिटिव तो फिर इसलिए हमेशा खुश रहिए मन को अच्छा रखिए और रिमाइंड में नेगेटिव थॉट ना लाइए खुश रहना खुश मन को अच्छा रखे खुश खुश रहे लोगों से मुस्कुरा कर बात करें जो भी आपसे कुछ हेलो हाय जो भी करता हूं तो आप उनका अच्छे से अभिवादन कीजिए हमें चाहती हो कर दीजिए बेटा और सामने वाले को भी अच्छा भी लगेगा कि हां उसको भी पैसा लगेगा कि हां है कि मैं किसी अच्छे परसेंट पर मिल रहा हूं कैसे प्रसन्न मुझे अच्छी चीज बोली है या अच्छा चित्र समझाइए क्या उससे मिलकर मुझे खुशी हुई है और यह भी है कि आपकी उदासी अगर आपको ऐसा लगता है तो आप आप आप जिन्हें पसंद करते आप हमसे मिलने के लिए ताकि आप हमसे मिलेंगे तो आपको भी अच्छा लगेगा थोड़ा को माइंड फ्रेश होगा चाहो तो आप उदासी अगर आप को दूर करना हो तो आप ट्रैवलिंग कर सकते हैं ट्रेनिंग के लिए कहीं आप थोड़े टाइम के लिए बाहर वेकेशन पर जा सकते हैं जिसके दो चीजों की तरफ ना सोचे तो ठीक है नेगेटिव चीजों में शामिल करा दिए और रोने की तो हमेशा अमन पता है हमें उन सब चीजों को सोचते हैं और आपका डेली रूटीन में सोशल एक्टिविटी में इंक्लूड एक्टिविटी को इंक्लूड करें जिससे आपकी उदासी दूर हो जाएगी ओके हैव ए गुड डे अगर आपको कोई क्वेश्चन सेवा कंपनी की जरूरत है तो आप मुझे फोन कर सकते हैं ओके

hello good afternoon aapka question hai ki main zindagi masoori daal se kahun toh mujhe kya karna chahiye toh aaiye main kaunsaling psychology samay aapko kaunsaling ki aapda se aap udaas hote toh aapko aapka motivation lebal bahut down ho chuka hai tak usko hi motivation lebal ko agar aapke man me iccha hogi agar aapke man se iccha hogi yahan mujhe kuch karna hai kuch aage badhana hai ya kisi cheez ke prati aapko kuch karne ki iccha hai aap aapke motivation level ko badhaiye sabko udaas pahan dur hoga aap Negative cheezen na soche udasi udasi ko bhagane ka din tarikh tarike ek toh pehle aap Negative cheezen na soche Negative thought na laye aapke mind me aur positive aapke ghar ke vatavaran ko positive bana hai aapko agar gardening achi lagti hai toh aap guarding kare aapka play cheez me interest hai aap vaah kare music karna chalakta taap music sune aur social hi rahe toh zyada better rahega kyonki social hi rehne se social activity karne se aapka udasi pan dur ho jaega aap un logo se intarekt karenge social hi rahenge kaha gayi aap samaj seva bhi kar sakte ya kisi ngo se jud sakte hain taki aap apne work ko apne usme dairy me busy rahenge aap akeli writing me jo rahega aapka aap us me busy rahenge toh aapko udhar se mehsus nahi hogi agar aap busy nahi hai toh aapko har cheez har baar aisa udaas udaas bhi lagte rahega apne family par miliye se baat kare jo ki aapke family member se unse baat kare agar kisi prakar ki koi aisi problem hai jise aap se nahi kar paa rahe ho aap ko soch soch ke andar hi andar andar aapko sochkar bajib sa feel ho raha ho accha nahi lag raha hai hansi aa rahi hai toh aap us cheez ko share kariye yah kabhi kabhi aisa hota hai ki hamare man ki baat ko bol dete toh hamara man halka ho jata hai toh aap yah cheezen kar sakte ab aapki udasi ko is tarah se bhaga sakte hain morning walk kijiye aapko morning walk karta jogging kijiye aur yoga karna chahte yoga sabse beta rishta meditation kijiye meditation karne se aapka udhar se band hoga kisi cheez ka dhyan kendrit karenge na par aapne kisi cheez par kabhi dhyan mat kijiye positive cheez par aap dhyan kendrit kijiye sab kuch change kariye ki subah subah meditation karenge yoga karenge uske baad aapko book karna hai toh vo kijiye size karna hai kya iske liye aapko gardening karne ka shauk hai toh gardening kijiye music sunana hai toh music suni hai phir aapka jo delhi ke vaah ki jiske saath aap aid kijiye kar sakte hain kya aapko kisi social activity me participate karna tha path fitkari karenge aur jab aap internet kaushalya family me sab bhi kisi se internet par karenge toh aapka udasi panaram se dur ho jaega isse aapko zyada aisa nahi lagega ki meri life me bahut zyada udaas hoon uttar udaas ho toh aisa feel hi nahi ho payega hamesha positive think positive positive toh phir isliye hamesha khush rahiye man ko accha rakhiye aur remind me Negative thought na laiye khush rehna khush man ko accha rakhe khush khush rahe logo se muskura kar baat kare jo bhi aapse kuch hello hi jo bhi karta hoon toh aap unka acche se abhivadan kijiye hamein chahti ho kar dijiye beta aur saamne waale ko bhi accha bhi lagega ki haan usko bhi paisa lagega ki haan hai ki main kisi acche percent par mil raha hoon kaise prasann mujhe achi cheez boli hai ya accha chitra samjhaiye kya usse milkar mujhe khushi hui hai aur yah bhi hai ki aapki udasi agar aapko aisa lagta hai toh aap aap aap jinhen pasand karte aap humse milne ke liye taki aap humse milenge toh aapko bhi accha lagega thoda ko mind fresh hoga chaho toh aap udasi agar aap ko dur karna ho toh aap travelling kar sakte hain training ke liye kahin aap thode time ke liye bahar vacation par ja sakte hain jiske do chijon ki taraf na soche toh theek hai Negative chijon me shaamil kara diye aur rone ki toh hamesha aman pata hai hamein un sab chijon ko sochte hain aur aapka daily routine me social activity me include activity ko include kare jisse aapki udasi dur ho jayegi ok have a good day agar aapko koi question seva company ki zarurat hai toh aap mujhe phone kar sakte hain ok

हेलो गुड आफ्टरनून आपका क्वेश्चन है कि मैं जिंदगी मसूरी दाल से कहूं तो मुझे क्या करना चाहिए

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  119
WhatsApp_icon
10 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

Likes  6  Dislikes    views  190
WhatsApp_icon
user

Amit Kumar Ranjan

Psychologist

1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी बहुत ही खूबसूरत है और उदास रहने का कोई ना कोई कारण जरूर होगा आपका आप उदास क्यों रहते हैं उनका मुक्वक पहचानी एक डायरी लें और जब भी आप उदास हो आप उदास क्यों हैं इसको इस डायरी में नोट करें इससे आपको अपने बारे में जानकारी मिलेगी आपके उदासी का कारण मिलेगा दूसरी तरफ उदासी से बचने का उपाय है सुबह उठ के बयान कीजिए योगा मेडिटेशन कीजिए आपको जो चीज बहुत अच्छी लगती है जो काम करने में अच्छा महसूस होता है इस काम को कीजिए संतुलित भोजन दीजिए और संगीत सुनने आपने जो लाइफ में ऐसी दिया है अब तक उसको याद कीजिए छोटी-छोटी खुशियों को तलाश थी इससे आपका जीवन कितना होगा उदासी विधि होगा

zindagi bahut hi khoobsurat hai aur udaas rehne ka koi na koi karan zaroor hoga aapka aap udaas kyon rehte hain unka mukwak pahchani ek diary le aur jab bhi aap udaas ho aap udaas kyon hain isko is diary me note kare isse aapko apne bare me jaankari milegi aapke udasi ka karan milega dusri taraf udasi se bachne ka upay hai subah uth ke bayan kijiye yoga meditation kijiye aapko jo cheez bahut achi lagti hai jo kaam karne me accha mehsus hota hai is kaam ko kijiye santulit bhojan dijiye aur sangeet sunne aapne jo life me aisi diya hai ab tak usko yaad kijiye choti choti khushiyon ko talash thi isse aapka jeevan kitna hoga udasi vidhi hoga

जिंदगी बहुत ही खूबसूरत है और उदास रहने का कोई ना कोई कारण जरूर होगा आपका आप उदास क्यों रहत

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  89
WhatsApp_icon
user

Rony

Psychologist

6:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अक्सर आपने सुना कि कि जीवन बहुत अनमोल है इसका हमें पल पल खुशियों से भर देना चाहिए उसको हमें हर पल खुशियों से जीना चाहिए हर मूवमेंट को और अरुण फीलिंग्स को में महसूस करना चाहिए जो हमारे अंदर उठ रही हो फेसबुक में दर्द हो उन्हें देखना क्या हो रहा है महेंद्र उदासी है जो दुख है वह आपके समझ में आएगा क्या है एक्चुअल में यह सच है या झूठ है किसी झूठ को आप पकड़ लेते हो इस वजह से आप दुखी हो जाते हो तो जीवन एक बहुत अच्छी चीज है जो अपन गलत समझने लग जाते हैं गलत कुछ बना लेते हैं तो निकाल देते इंसान नहीं जी पाता है सही तरीके से जीवन को जीवन की समझ नहीं होती अपने बारे में खुद के बारे में जान नहीं पाता है जानना क्या अपने बारे में जानना क्या मतलब मैं कौन हूं कि मुझ में कोई कमी है इस वजह से दुख होता है इस वजह से परेशानी होती है इस वजह से उदासी अरे क्या कमी है मेरे अंदर अगर आप अपने अंदर झांक कर देखोगे तो सब कुछ आपके अंदर मिल जाएगी वह खुशियां वह प्यार और दर्द भी आपके अंदर ही है कि दुखी उदासी सब कुछ आपके अंदर ही है आपके ऊपर डिपेंड करना कि आपको क्या करना है क्या होना है क्या बनना है आपको एक इंसान बनना अच्छा इंसान बनना है तो वह भी आपके अंदर ही है और दुखी इंसान भी आपके अंदर छिपा हुआ है डिपेंड आपके और आपके ऊपर करता है कि आप क्या बनना चाहते हो एक अच्छा इंसान बनना चाहते हो जो हंसता खेलता हुआ रहता हूं बच्चों की तरह बच्चों के साथ खेलते रहते हैं लेकिन बड़े होते उसकी बड़े की बात कर रहा हूं अगर दिमाग से बड़े होते तो अपन कभी दुखी नहीं होता लेकिन क्या होता है जब बड़े होते हैं ना उनके अंदर है ना बड़ी बड़ी चीज आ जाती है थोड़ी-थोड़ी जून को खुद को नहीं पता यह सच है या गलत सच है या झूठ है बस उनको मानकर बैठ लेते हैं लोगों ने बता दिया किसी जगह देख लिया सुन लिया तो उसको पकड़ कर बैठ जाते हैं और कुछ नहीं रखा अरे आप हर एक छोटी सी चीज से खुश रह सकते हो पूरा जीवन वह अपने शरीर से उससे भी खुश रह सकते हो कि आपको मिला है अपना जीवन एक छोटी चीज थोड़ी है हर किसी को नहीं मिलता है भगवान भी इनकी इसके लिए प्रार्थना करते हैं वह भी एक मानव जीवन प्राप्त करना चाहते हैं सालों से सालों से इंतजार करते हैं मानव जीवन जीने के लिए तब उनका जीवन में पृथ्वी पर होता है उनके भी काम होना होते हैं उनको कायदे उनको निभाना पड़ता है ऐसे ही थोड़ी सभी तो ऐसे तो फिर सभी मजे लेने लग जाए लोगों को परेशान करने लग जाए उनकी जब इच्छा हो करने लग जाए वह भी ऐसा नहीं कर सकते जैसे अपन अपन नहीं कर सकते उसे अपन किसी के ऊपर जादू नहीं कर सकते फिर भी वह खुश क्यों रहते हैं कि उनके उस समझ जाता है इसलिए वह भगवान बन गए अपन जानवर रेलवे थोड़ा बहुत उठे हैं इंसान तक पहुंचे हैं लेकिन फिर भी अपन इससे भी ज्यादा बढ़ा सकते हैं अपनी समझ को तो अपन भी भगवान बन सकते हैं जैसे गौतम बुध उनको भगवान की बोला जाता इनको समझ थी उनके जीवन के बारे में समझते इनको कि कभी दुखी नहीं होते थे नहीं कभी परेशान होते थे किसी चीज को लगे जब इंसान मर जाता था खुद के जीवन की भी उनको पर वह नहीं थी दिक्कत नहीं दिया कि मैं मारूंगा नहीं मारूंगा उनको दुख नहीं तो इस बात का डर नहीं था इच्छाशक्ति दिन के पास इच्छा से मरे हैं यह लोग जागरूक ओके तो सारा खेल समझ कर अगर आप इस तरीके से समझ के जीते अपना जीवन तो बहुत अभी इसी स्थान से अभी आप उनके जैसे बन सकते हो आज ही अभी इस्पर्ली अभी मैं बोल रहा हूं अभी आप चेंज हो सकते हो चेंज होना कोई सालों का खेल नहीं है धीरे-धीरे नहीं होता है एकदम से चेंज होता है इंसान शक्तियां एकदम से मिलती है और वह शक्ति है क्या समझ की समस्त अब हर इंसान तक बंद कर सकता है अगर ऐसी बातें रोज सुने किसी से अच्छी अच्छी बातें अपने माइंड में ले जाए इंसान तो बदल सकता है उसका जीवन बदल सकता है पहले जो सोचता था तो उसने मुस्करा दिन के अंदर हो जाता है जिसे रात होता है दिन होता है तो दिन में उजाला होता है और रात में अंधेरे उजाले को चुनते हो या अंधेरे को चुनते उजाले को चुनते हो तो आप आपका जीवन खिल जाएगा और अगर आप अंधेरे को सुनते हो गलत बातों को गलत विचारों सुनते हो तो आपका जीवन नर्क बन जाएगा सुनना क्या आपको सुनना है और आप हमेशा यह समझ लो कि आप कभी भी है ना इन लोगों की वजह से खुश मत होना लोगों की वजह से दुखी मत होना लोग तो कहते रहते हैं समझना आपको अपने आप को समझना है समझना क्या समझना यह है कि मैं लोगों की वजह से सक्सेसफुल नहीं लोगों की वजह से खुश नहीं हूं मैं अपनी वजह से खुश हूं अपनी वजह से क्योंकि मैं मानता हूं मैं खुश हूं मैं मानता हूं मैं सक्सेसफुल हूं इस वजह से खुश हूं इस वजह से सक्सेसफुल हूं अगर आप इस तरीके से मानने लग जाओगे ना तो आपको जिंदगी बहुत अच्छी लगने लग जाएगी

aksar aapne suna ki ki jeevan bahut anmol hai iska hamein pal pal khushiyon se bhar dena chahiye usko hamein har pal khushiyon se jeena chahiye har movement ko aur arun feelings ko me mehsus karna chahiye jo hamare andar uth rahi ho facebook me dard ho unhe dekhna kya ho raha hai mahendra udasi hai jo dukh hai vaah aapke samajh me aayega kya hai actual me yah sach hai ya jhuth hai kisi jhuth ko aap pakad lete ho is wajah se aap dukhi ho jaate ho toh jeevan ek bahut achi cheez hai jo apan galat samjhne lag jaate hain galat kuch bana lete hain toh nikaal dete insaan nahi ji pata hai sahi tarike se jeevan ko jeevan ki samajh nahi hoti apne bare me khud ke bare me jaan nahi pata hai janana kya apne bare me janana kya matlab main kaun hoon ki mujhse me koi kami hai is wajah se dukh hota hai is wajah se pareshani hoti hai is wajah se udasi are kya kami hai mere andar agar aap apne andar jhank kar dekhoge toh sab kuch aapke andar mil jayegi vaah khushiya vaah pyar aur dard bhi aapke andar hi hai ki dukhi udasi sab kuch aapke andar hi hai aapke upar depend karna ki aapko kya karna hai kya hona hai kya banna hai aapko ek insaan banna accha insaan banna hai toh vaah bhi aapke andar hi hai aur dukhi insaan bhi aapke andar chhipa hua hai depend aapke aur aapke upar karta hai ki aap kya banna chahte ho ek accha insaan banna chahte ho jo hansata khelta hua rehta hoon baccho ki tarah baccho ke saath khelte rehte hain lekin bade hote uski bade ki baat kar raha hoon agar dimag se bade hote toh apan kabhi dukhi nahi hota lekin kya hota hai jab bade hote hain na unke andar hai na badi badi cheez aa jaati hai thodi thodi june ko khud ko nahi pata yah sach hai ya galat sach hai ya jhuth hai bus unko maankar baith lete hain logo ne bata diya kisi jagah dekh liya sun liya toh usko pakad kar baith jaate hain aur kuch nahi rakha are aap har ek choti si cheez se khush reh sakte ho pura jeevan vaah apne sharir se usse bhi khush reh sakte ho ki aapko mila hai apna jeevan ek choti cheez thodi hai har kisi ko nahi milta hai bhagwan bhi inki iske liye prarthna karte hain vaah bhi ek manav jeevan prapt karna chahte hain salon se salon se intejar karte hain manav jeevan jeene ke liye tab unka jeevan me prithvi par hota hai unke bhi kaam hona hote hain unko kayade unko nibhana padta hai aise hi thodi sabhi toh aise toh phir sabhi maje lene lag jaaye logo ko pareshan karne lag jaaye unki jab iccha ho karne lag jaaye vaah bhi aisa nahi kar sakte jaise apan apan nahi kar sakte use apan kisi ke upar jadu nahi kar sakte phir bhi vaah khush kyon rehte hain ki unke us samajh jata hai isliye vaah bhagwan ban gaye apan janwar railway thoda bahut uthe hain insaan tak pahuche hain lekin phir bhi apan isse bhi zyada badha sakte hain apni samajh ko toh apan bhi bhagwan ban sakte hain jaise gautam buddha unko bhagwan ki bola jata inko samajh thi unke jeevan ke bare me samajhte inko ki kabhi dukhi nahi hote the nahi kabhi pareshan hote the kisi cheez ko lage jab insaan mar jata tha khud ke jeevan ki bhi unko par vaah nahi thi dikkat nahi diya ki main marunga nahi marunga unko dukh nahi toh is baat ka dar nahi tha ichchhaashakti din ke paas iccha se mare hain yah log jagruk ok toh saara khel samajh kar agar aap is tarike se samajh ke jeete apna jeevan toh bahut abhi isi sthan se abhi aap unke jaise ban sakte ho aaj hi abhi isparli abhi main bol raha hoon abhi aap change ho sakte ho change hona koi salon ka khel nahi hai dhire dhire nahi hota hai ekdam se change hota hai insaan shaktiyan ekdam se milti hai aur vaah shakti hai kya samajh ki samast ab har insaan tak band kar sakta hai agar aisi batein roj sune kisi se achi achi batein apne mind me le jaaye insaan toh badal sakta hai uska jeevan badal sakta hai pehle jo sochta tha toh usne muskura din ke andar ho jata hai jise raat hota hai din hota hai toh din me ujaala hota hai aur raat me andhere ujale ko chunte ho ya andhere ko chunte ujale ko chunte ho toh aap aapka jeevan khil jaega aur agar aap andhere ko sunte ho galat baaton ko galat vicharon sunte ho toh aapka jeevan nark ban jaega sunana kya aapko sunana hai aur aap hamesha yah samajh lo ki aap kabhi bhi hai na in logo ki wajah se khush mat hona logo ki wajah se dukhi mat hona log toh kehte rehte hain samajhna aapko apne aap ko samajhna hai samajhna kya samajhna yah hai ki main logo ki wajah se successful nahi logo ki wajah se khush nahi hoon main apni wajah se khush hoon apni wajah se kyonki main maanta hoon main khush hoon main maanta hoon main successful hoon is wajah se khush hoon is wajah se successful hoon agar aap is tarike se manne lag jaoge na toh aapko zindagi bahut achi lagne lag jayegi

अक्सर आपने सुना कि कि जीवन बहुत अनमोल है इसका हमें पल पल खुशियों से भर देना चाहिए उसको ह

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  515
WhatsApp_icon
user

Amit vishwakarma

Psychologist

1:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी में उदासी के एक पाठ लाइफ का लेकिन हर समय उदासी रहना यह किसी ने किसी बीमारी के होने का संकेत भी हो सकता है आपके चारों ओर आदि कुछ आपके हिसाब से अच्छा नहीं होता है तो हम उदास होने लगते हैं जब हमारे हिसाब से सब कुछ अच्छा होता है तो हम उदास नहीं हैप्पी होते हैं एक ही सिक्के के दो पहलू हैं हम यह नहीं कह सकते कि जो खुशी आएगी तो दुख हमारे साथ ना हो तो आएगा ही साथ में चुनाव हमारे हाथ में है कि हम किस पहले को किस अच्छी तरह से हैंडल करते हैं कि चुनाव हमारे हाथ में है कि हम खुशी को कितना अच्छी तरह से हैंडल करते हैं वह देखो कैसे हैंडल करते हैं यह जो प्रोसेस है वह दोनों साथ में आएगा सिक्के को जब हम अपने पास रखते हैं तो हम यह नहीं कह सकते कि जो हिस्सा हमने देखा उसे वहीं बैठे जैसा हमें सामने नजर आ रहा है इसका सब एक पार्ट है दूसरा इससे उसे धक्का रहता है वह दबा हुआ ऐसा ही कभी भी उदासी डिप्रेशन किसी और बीमारी है किसी और परेशानी के रूप में बाहर आ ही सकता है लोकगीत

zindagi me udasi ke ek path life ka lekin har samay udasi rehna yah kisi ne kisi bimari ke hone ka sanket bhi ho sakta hai aapke charo aur aadi kuch aapke hisab se accha nahi hota hai toh hum udaas hone lagte hain jab hamare hisab se sab kuch accha hota hai toh hum udaas nahi happy hote hain ek hi sikke ke do pahaloo hain hum yah nahi keh sakte ki jo khushi aayegi toh dukh hamare saath na ho toh aayega hi saath me chunav hamare hath me hai ki hum kis pehle ko kis achi tarah se handle karte hain ki chunav hamare hath me hai ki hum khushi ko kitna achi tarah se handle karte hain vaah dekho kaise handle karte hain yah jo process hai vaah dono saath me aayega sikke ko jab hum apne paas rakhte hain toh hum yah nahi keh sakte ki jo hissa humne dekha use wahi baithe jaisa hamein saamne nazar aa raha hai iska sab ek part hai doosra isse use dhakka rehta hai vaah daba hua aisa hi kabhi bhi udasi depression kisi aur bimari hai kisi aur pareshani ke roop me bahar aa hi sakta hai lokgeet

जिंदगी में उदासी के एक पाठ लाइफ का लेकिन हर समय उदासी रहना यह किसी ने किसी बीमारी के होने

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  131
WhatsApp_icon
user

Dr.Ravi Atroliya

रिटायर्डडीएसपी

3:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अक्सर उदास रहना ठीक बात नहीं आप बगीचे में जब जाते हैं तो किस तरह के फूल को देखना पसंद करते हैं मुरझाए फूलों को या खिले हुए फूलों को निश्चित ही खिले हुए फूलों को देखकर हम बहुत खुश होते हैं आप सूची जब आप उदास उदासी भरत चेहरा लेकर जब परिवार में घूमते हैं मित्रों से मिलते हैं आप कहीं भी जाते हैं क्या लोग आपको पसंद करते होंगे नहीं करते होंगे जब हमें लोग हमारे चेहरे की उदासी के कम पसंद नहीं करते तो हम फिर उदासी का चेहरा लेकर क्यों गम मेरा यह कहना है कि जिंदगी में अक्सर उदास होते हैं अभी आपका कहना है तो उदासी का कारण कोई एक है या अलग अलग कारण है एक ही कारण है तो उस कारण के सच को समझें योद्धा सीतापाठी जब अपना कोई प्रिय पंछी बिछड़ जाता है जिससे दोबारा मिलने की सारी उम्मीदें खत्म हो जाती है तो उसके बारे में सोचकर हम उदास हो जाते हैं या प्रेम में असफल हो गए हैं प्रेम का किसी और के साथ चल दी या विवाह उससे नहीं हो पाया इन बातों को सोचकर हम उदास होते हैं मगर सच यह है कि अब वह पल वापस नहीं आ सकता जो पहले थे जो पहले था हमारा तो उस बात को लेकर उदास होने का तो कोई औचित्य नहीं है इस तरह कि अगर विचार वापस मन में आते हैं तो एक पर्चा पूजा भट्ट कर देती है रब से क्या वास्ता लेकिन जब उन बातों को लेकर आप पकड़ कर बैठ जाते तो फिर उदासी शुरू हो जाती है आप दिखाते जिंदगी में अक्सर स्पष्ट यह करें कि अक्सर में कारण क्या एक ही है या कुछ अलग अलग कारण है तो उन अलग-अलग कारणों पर जवाब चिंतन करेंगे तो मैं दावे से कहता हूं उसका उत्तर भी आपको अपने आप मिल जाएगा और अगर फिर भी उत्तर नहीं मिलता है तो फिर आप उस बात को अपने किसी प्रिय व्यक्ति से अपने दोस्त से अपनी सहेली से डिस्कस करके उसका जवाब पा सकते हैं उदास रहना ठीक नहीं उदासी अगर यह प्रतिशत बढ़ती चली गई तो आप बहुत गहरे अवसाद में जा सकते हैं दिमागी रूप से भी कहीं ना कहीं कोई ना कोई प्रॉब्लम खड़ी हो सकती है इतना बड़ा रस के नाले आप उदासी किन कारणों से आ रही है उनका पता लगाएं उनका निराकरण कैसे किया जाए इस बारे में सोचें फायदा मिलेगा

aksar udaas rehna theek baat nahi aap bagiche me jab jaate hain toh kis tarah ke fool ko dekhna pasand karte hain murjhaye fulo ko ya khile hue fulo ko nishchit hi khile hue fulo ko dekhkar hum bahut khush hote hain aap suchi jab aap udaas udasi Bharat chehra lekar jab parivar me ghumte hain mitron se milte hain aap kahin bhi jaate hain kya log aapko pasand karte honge nahi karte honge jab hamein log hamare chehre ki udasi ke kam pasand nahi karte toh hum phir udasi ka chehra lekar kyon gum mera yah kehna hai ki zindagi me aksar udaas hote hain abhi aapka kehna hai toh udasi ka karan koi ek hai ya alag alag karan hai ek hi karan hai toh us karan ke sach ko samajhe yodha sitapathi jab apna koi priya panchhi bichhad jata hai jisse dobara milne ki saari ummeeden khatam ho jaati hai toh uske bare me sochkar hum udaas ho jaate hain ya prem me asafal ho gaye hain prem ka kisi aur ke saath chal di ya vivah usse nahi ho paya in baaton ko sochkar hum udaas hote hain magar sach yah hai ki ab vaah pal wapas nahi aa sakta jo pehle the jo pehle tha hamara toh us baat ko lekar udaas hone ka toh koi auchitya nahi hai is tarah ki agar vichar wapas man me aate hain toh ek parcha puja bhatt kar deti hai rab se kya vasta lekin jab un baaton ko lekar aap pakad kar baith jaate toh phir udasi shuru ho jaati hai aap dikhate zindagi me aksar spasht yah kare ki aksar me karan kya ek hi hai ya kuch alag alag karan hai toh un alag alag karanon par jawab chintan karenge toh main daave se kahata hoon uska uttar bhi aapko apne aap mil jaega aur agar phir bhi uttar nahi milta hai toh phir aap us baat ko apne kisi priya vyakti se apne dost se apni saheli se discs karke uska jawab paa sakte hain udaas rehna theek nahi udasi agar yah pratishat badhti chali gayi toh aap bahut gehre avsad me ja sakte hain dimagi roop se bhi kahin na kahin koi na koi problem khadi ho sakti hai itna bada ras ke naale aap udasi kin karanon se aa rahi hai unka pata lagaye unka nirakaran kaise kiya jaaye is bare me sochen fayda milega

अक्सर उदास रहना ठीक बात नहीं आप बगीचे में जब जाते हैं तो किस तरह के फूल को देखना पसंद करत

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  141
WhatsApp_icon
user

Dr. Rameez Shaikh

Psychiatrist

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है मैं जिंदगी से एक से उदास रहता हूं तो मुझे क्या करना चाहिए सबसे पहले आपको रेगुलरली फिजिकल एक्टिविटी करनी पड़ेगी जैसे कि रनिंग किया जोकिंग जो कि आपके शरीर का इंडोर फल बढ़ाता है जो कि आपको खुश रहने में सहायक होता है दूसरा है आपके खाने पीने में आपको थोड़ा सा ध्यान देना पड़ेगा खासकर की ओमेगा 3 फैटी एसिड इनपुट करेगा जो आपके साइड ने से उदासी को दूर करता है जो कि खास करके फ्रेश में पाया जाता है तीसरा आपको रेगुलरली मेडिटेशन करना पड़ेगा कोई भी आप मेडिटेशन कर सकते हो माइंडफूलनेस कर सकते हो योगा कर सकते हो या ड्यूटी देंगे कर सकते हैं गुड लक

aapka sawaal hai main zindagi se ek se udaas rehta hoon toh mujhe kya karna chahiye sabse pehle aapko regularly physical activity karni padegi jaise ki running kiya joking jo ki aapke sharir ka indoor fal badhata hai jo ki aapko khush rehne me sahayak hota hai doosra hai aapke khane peene me aapko thoda sa dhyan dena padega khaskar ki omega 3 fatty acid input karega jo aapke side ne se udasi ko dur karta hai jo ki khas karke fresh me paya jata hai teesra aapko regularly meditation karna padega koi bhi aap meditation kar sakte ho maindafulnes kar sakte ho yoga kar sakte ho ya duty denge kar sakte hain good luck

आपका सवाल है मैं जिंदगी से एक से उदास रहता हूं तो मुझे क्या करना चाहिए सबसे पहले आपको रेगु

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  60
WhatsApp_icon
play
user

Manish Chauhan

Computer Hardware Engineer

1:25

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी मेरा मानना है कि एक बात हमेशा याद रखना कि जिंदगी को कभी उदास मत रखना आप अगर आपको कहानियां अच्छी लगती है तो आप कहानियां पड़ गई या आपकी नजर में कोई ऐसा है जिसे आपको बात करने में अच्छा लगता है तो आप उनसे बातें कीजिए और उसके साथ-साथ आपको अगर इससे भी आपकी प्रॉब्लम सॉल्व नहीं होती है तो आप कुछ वीडियो देखी जैसे की कॉमेडी वीडियो मोटिवेशन वीडियो और उसके साथ साथ अगर आप ही कोई मस्त पसंदीदा मूवी है तो वह देखिए या फिर आप आपके पसंद के अपने पसंद के गाने सुनिए जैसे कि मैं आपको बताना चाहूंगा कि अगर आप पुराने गाने जैसे कि मोहम्मद रफी और किशोर कुमार ऐसे लोगों के गाने सुनेंगे तो आपको काफी अच्छा लगेगा लेकिन वह आपकी पसंद के ऊपर निर्भर करता है कि आपको किस टाइप की पसंद है गाने तो आप को जितना हो सके अपने ऊंची वाली क्षेत्र में इतना टाइम वेट कीजिए जिससे कि आपने बदलाव आएंगे और यकीन मानिए भेज रहे आपने बदलाव आ जाएंगे और आप एक अच्छी जिंदगी जीने लगेंगे

ji mera manana hai ki ek baat hamesha yaad rakhna ki zindagi ko kabhi udaas mat rakhna aap agar aapko kahaniya acchi lagti hai toh aap kahaniya pad gayi ya aapki nazar mein koi aisa hai jise aapko baat karne mein accha lagta hai toh aap unse batein kijiye aur uske saath saath aapko agar isse bhi aapki problem solve nahi hoti hai toh aap kuch video dekhi jaise ki comedy video motivation video aur uske saath saath agar aap hi koi mast pasandida movie hai toh wah dekhie ya phir aap aapke pasand ke apne pasand ke gaane sunie jaise ki main aapko batana chahunga ki agar aap purane gaane jaise ki muhammad rafi aur kishore kumar aise logo ke gaane sunenge toh aapko kaafi accha lagega lekin wah aapki pasand ke upar nirbhar karta hai ki aapko kis type ki pasand hai gaane toh aap ko jitna ho sake apne uchi wali kshetra mein itna time wait kijiye jisse ki aapne badlav aayenge aur yakin maniye bhej rahe aapne badlav aa jaenge aur aap ek acchi zindagi jeene lagenge

जी मेरा मानना है कि एक बात हमेशा याद रखना कि जिंदगी को कभी उदास मत रखना आप अगर आपको कहानिय

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  70
WhatsApp_icon
user

DJM

Brhmakumarij

2:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ओम शांति आपकी उदासी का क्या कारण है पहले उस कारण को पता लगाइए क्यों उदास रहते हैं भगवान को भी हमेशा खिले हुए चेहरे ही पसंद है आप हमेशा सकारात्मक विचारों को कीजिए और जिन बातों के कारण जीवन में उदासी आती है उन बातों से दूर रहने का प्रयास कीजिए जीवन में नकारात्मक विचारों को स्थान मत दीजिए और हमेशा अच्छे विचारों के साथ अच्छे लोग जो सत्कर्म और अच्छा जीवन जीते हैं ऐसे लोगों को जीवन में सहयोगी और साक्षी बनाई है तो आप जीवन में कभी भी उदास नहीं रहेंगे तथा जो कार्य आपके मन को अच्छा लगता है उस कार्य में व्यस्त रहिए और प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरी विश्वविद्यालय से संपर्क का मेडिटेशन सीखिए ध्यान यदि आप सीख जाते हैं और परमात्मा से यदि आपका लिंक मिल जाएगा तो आपके जीवन में खुशियों की बहार आएगी और आप अपने सहित दूसरे के भी जीवन में खुशियां बांट सकेंगे ओम शांति

om shanti aapki udasi ka kya karan hai pehle us karan ko pata lagaaiye kyon udaas rehte hain bhagwan ko bhi hamesha khile hue chehre hi pasand hai aap hamesha sakaratmak vicharon ko kijiye aur jin baaton ke karan jeevan me udasi aati hai un baaton se dur rehne ka prayas kijiye jeevan me nakaratmak vicharon ko sthan mat dijiye aur hamesha acche vicharon ke saath acche log jo satkarm aur accha jeevan jeete hain aise logo ko jeevan me sahyogi aur sakshi banai hai toh aap jeevan me kabhi bhi udaas nahi rahenge tatha jo karya aapke man ko accha lagta hai us karya me vyast rahiye aur prajapita brahmakumari ISHWARI vishwavidyalaya se sampark ka meditation sikhiye dhyan yadi aap seekh jaate hain aur paramatma se yadi aapka link mil jaega toh aapke jeevan me khushiyon ki bahar aayegi aur aap apne sahit dusre ke bhi jeevan me khushiya baant sakenge om shanti

ओम शांति आपकी उदासी का क्या कारण है पहले उस कारण को पता लगाइए क्यों उदास रहते हैं भगवा

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  101
WhatsApp_icon
user

Geet Awadhiya

Aspiring Software Developer

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बीएफ जिंदगी में कभी उदास नहीं हटाना चाहिए उतार-चढ़ाव सभी की जिंदगी में आते हैं ठीक इसी प्रकार की गलत घटना घटी आपके साथ तो आपको यह सोचना चाहिए कि जो होता है वही के देवता को सीख लेनी चाहिए और आगे और अच्छा करके अपना जीवन सुख में बनाना चाहिए

bf zindagi mein kabhi udaas nahi hatana chahiye utar chadhav sabhi ki zindagi mein aate hain theek isi prakar ki galat ghatna ghati aapke saath toh aapko yah sochna chahiye ki jo hota hai wahi ke devta ko seekh leni chahiye aur aage aur accha karke apna jeevan sukh mein banana chahiye

बीएफ जिंदगी में कभी उदास नहीं हटाना चाहिए उतार-चढ़ाव सभी की जिंदगी में आते हैं ठीक इसी प्र

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  398
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
जिंदगी में क्या करना चाहिए ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!