ऐसा लोगों को क्यों लग रहा हैं कि 2017 प्राकृतिक आपदाओं का सबसे महंगा वर्ष है? खासकर अमेरिका में?...


play
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:40

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नीति 2017 में खबर केंद्र लेकर बाढ़ से लेकर भूकंप लैंड स्लाइड किसे बहुत सारे नेचुरल डिसास्टर्स हुए जाए फिर वह हरिकेन ऑटोमेशन रिपब्लिक में या फिर हम बात करें मेक्सिको की बुक भूकंप की जिसमें 200 लोगों की जानें गई बांग्लादेश की बाढ़ जिसमें 12 लोग मर गए मर स्लाइडशो हुआ कोलंबिया में जहाज 200 लोगों की जान चली गई या फिर पढ़ो लैंडस्लाइड होलसेलर लियोन इमेजिस में 312 लोग मर गए और दूसरी तरफ हमारे गांव में जो हरिकेन इरमा आया जिसमें हजारों लोगों के घर तबाह हो गए कितने लोगों को फाइनेंस के नुकसान और कितनी दूर जाने भी चली गई या फिर जो हरिकेन हार्वे आया USA में 50 साल में सबसे पावरफुल हरिजन था और उससे भी बहुत लोगों को बहुत ही ज्यादा नुकसान हुआ अमेरिका में तो अभी भी चल ही रहा है देखिए कितने लोगों के घर बाढ़ में बह गए कितने लोगों की कितनी जगह जंगलों में आग लग गई जिसकी वजह से इतने जानवर और इतने घर तबाह हो गए तू 2017 की प्राकृतिक आपदाओं का एक साल राज जिसमें बहुत ही खर्चा हुआ फाइनेंस लिपि और लोगों की चालों का भी

niti 2017 mein khabar kendra lekar baadh se lekar bhukamp land slide kise bahut saare natural disastars hue jaaye phir vaah hurricane automation Republic mein ya phir hum baat karen mexico ki book bhukamp ki jisme 200 logon ki janein gayi bangladesh ki baadh jisme 12 log mar gaye mar slideshow hua Colombia mein jahaj 200 logon ki jaan chali gayi ya phir padho laindaslaid wholesaler leone images mein 312 log mar gaye aur dusri taraf hamare gaon mein jo hurricane irama aaya jisme hazaron logon ke ghar tabah ho gaye kitne logon ko finance ke nuksan aur kitni dur jaane bhi chali gayi ya phir jo hurricane harvey aaya USA mein 50 saal mein sabse powerful harijan tha aur usse bhi bahut logon ko bahut hi zyada nuksan hua america mein toh abhi bhi chal hi raha hai dekhiye kitne logon ke ghar baadh mein wah gaye kitne logon ki kitni jagah jungalon mein aag lag gayi jiski wajah se itne janwar aur itne ghar tabah ho gaye tu 2017 ki prakirtik apadao ka ek saal raj jisme bahut hi kharcha hua finance lipi aur logon ki chaalo ka bhi

नीति 2017 में खबर केंद्र लेकर बाढ़ से लेकर भूकंप लैंड स्लाइड किसे बहुत सारे नेचुरल डिसास्ट

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  155
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदी कि अगर 2017 के बारे में एक चीज होली की बहुत बुरी हो तो यह होगा कि जिस प्रकार से प्राकृतिक आपदाओं जो है जो इस पुरुष भेजो कि इसके पहले इतनी प्राकृतिक आपदा नहीं देखेगा वह अमेरिका हो या फिर कोई दूसरा देश होगी कि अगर हम बात हुए 2017 में तो लगभग हर एक प्रक्रिया प्रदीप जो है वह पाई गई है वह चाहे वोल्केनो हो चुकी इंडोनेशिया में आया उसके जैसे तो लाखों लोग जा चुके थे क्योंकि फ्लाइट जो वह भी बंद हो गई चाहिए या फिर वह हमारी होगी डोमिनिकन रिपब्लिक में जो हुआ था सितंबर महीने में उनसे कोई नहीं जिस प्रकार से भूकंप मेक्सिको में आया था सितंबर के महीने में 30 से 200 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं वह बांग्लादेश में वह चाहे बाढ़ हो जहां पर लगभग 40 करोड़ लोग जुड़े हैं उनका घर छोड़ना पड़ा या फिर हरिकेन इरमा ना हो जो कि कैरेबियन कंट्री में या फिर हम कह सकते हैं USA में आया होमगार्ड फ्लाइट हो चुकी कोलंबिया में आया हूं मैं फ्लाइट से है जो कि अमेरिका में भी आया था ओर से भाई ने हरिकेश और विजय भाई वैसे मैं भी पाया जा चुका था और अफ्रीकन कंट्रीज में भी जो है जिस प्रकार से बुक करवाई गई है जिससे वो भूखे मर रहे हैं और इंग्लिश प्रकार से ठंडी जगह ठंडी अमेरिका में पढ़ चुके इतने अधिक बढ़ चुकी है कि न्यूयॉर्क जो है या फिर हम कह सकते नियाग्रा फॉल जो है वह फ्री हो चुका है तो मेरे हिसाब से हार 2017 प्राकृतिक आपदाओं में सबसे महंगा भारत है और हम 2018 की ऐसी प्राकृतिक आपदाएं ना आए और हम इंसान जितना हो सके उतना पर्यावरण को लेकर आ ध्यान रखें और पर्यावरण के बारे में सोचें

hindi ki agar 2017 ke bare mein ek cheez holi ki bahut buri ho toh yah hoga ki jis prakar se prakirtik apadao jo hai jo is purush bhejo ki iske pehle itni prakirtik aapada nahi dekhega vaah america ho ya phir koi doosra desh hogi ki agar hum baat hue 2017 mein toh lagbhag har ek prakriya pradeep jo hai vaah payi gayi hai vaah chahen volkeno ho chuki indonesia mein aaya uske jaise toh laakhon log ja chuke the kyonki flight jo vaah bhi band ho gayi chahiye ya phir vaah hamari hogi dominikan Republic mein jo hua tha september mahine mein unse koi nahi jis prakar se bhukamp mexico mein aaya tha september ke mahine mein 30 se 200 se zyada log maare ja chuke hain vaah bangladesh mein vaah chahen baadh ho jahan par lagbhag 40 crore log jude hain unka ghar chhodna pada ya phir hurricane irama na ho jo ki kairebiyan country mein ya phir hum keh sakte hain USA mein aaya homeguard flight ho chuki Colombia mein aaya hoon main flight se hai jo ki america mein bhi aaya tha aur se bhai ne harikesh aur vijay bhai waise main bhi paya ja chuka tha aur african countries mein bhi jo hai jis prakar se book karwai gayi hai jisse vo bhukhe mar rahe hain aur english prakar se thandi jagah thandi america mein padh chuke itne adhik badh chuki hai ki new york jo hai ya phir hum keh sakte niyagra fall jo hai vaah free ho chuka hai toh mere hisab se haar 2017 prakirtik apadao mein sabse mehnga bharat hai aur hum 2018 ki aisi prakirtik apadaen na aaye aur hum insaan jitna ho sake utana paryaavaran ko lekar aa dhyan rakhen aur paryaavaran ke bare mein sochen

हिंदी कि अगर 2017 के बारे में एक चीज होली की बहुत बुरी हो तो यह होगा कि जिस प्रकार से प्रा

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  137
WhatsApp_icon
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह बात बिल्कुल सही है जो अमेरिका के लोगों को लग रहा है क्योंकि बीता वर्ष अमेरिका के लिए सबसे नुकसानदायक रहा है वर्ष 2017 में तूफान जंगलों में लगी आग और बेहद ठंडे मौसम की वजह से देश को लगभग 306 अरब डॉलर का नुकसान उठाना पड़ा अमेरिका की एक रिपोर्ट में यह बताया गया है कि लगभग वहां पर 1 साल के दौरान 16 मौसम और जलवायु आपदाएं आई और हर आपदा के दौरान देश को एक अरब डॉलर से अधिक का नुकसान उठाना पड़ा एक अन्य रिपोर्ट में यह बताया गया है कि इन प्राकृतिक आपदाओं के वजह से वहां पर 362 लोगों की मौत हो गई और बहुत सारे लोग घायल हो गए पश्चिमी तट के जंगलों में आग लगने की वजह से 18 अरब डॉलर का नुकसान हुआ तो इन सभी बातों से यह अंदाजा लगाना मुश्किल नहीं होगा कि बीते 1 वर्ष में यानी कि पूरे साल 2017 में अमेरिका के लोगों ने बहुत सारी प्राकृतिक आपदाएं थैली हैं और उन्हें काफी ज्यादा नुकसान का सामना करना पड़ा है

yah baat bilkul sahi hai jo america ke logon ko lag raha hai kyonki bita varsh america ke liye sabse nukasanadayak raha hai varsh 2017 mein toofan jungalon mein lagi aag aur behad thande mausam ki wajah se desh ko lagbhag 306 arab dollar ka nuksan uthaana pada america ki ek report mein yah bataya gaya hai ki lagbhag wahan par 1 saal ke dauran 16 mausam aur jalvayu apadaen I aur har aapada ke dauran desh ko ek arab dollar se adhik ka nuksan uthaana pada ek anya report mein yah bataya gaya hai ki in prakirtik apadao ke wajah se wahan par 362 logon ki maut ho gayi aur bahut saare log ghaayal ho gaye pashchimi tat ke jungalon mein aag lagne ki wajah se 18 arab dollar ka nuksan hua toh in sabhi baaton se yah andaja lagana mushkil nahi hoga ki bite 1 varsh mein yani ki poore saal 2017 mein america ke logon ne bahut saree prakirtik apadaen thaili hain aur unhe kafi zyada nuksan ka samana karna pada hai

यह बात बिल्कुल सही है जो अमेरिका के लोगों को लग रहा है क्योंकि बीता वर्ष अमेरिका के लिए सब

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  196
WhatsApp_icon
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां खबरों के अनुसार यह सही है कि 2017 में प्राकृतिक आपदाओं की वजह से अमेरिका को काफी नुकसान हुआ बीता वर्ष तूफान जंगलों में लगी आग और बेटा ठंडी मौसम की वजह से अमेरिका को 306 अरब डॉलर का नुकसान हुआ रिपोर्ट के अनुसार 2017 में अमेरिका में 16 मौसम व जलवायु आपदाएं आई और हर एक से करीब एक अरब डॉलर से अधिक का नुकसान हुआ रिपोर्ट के अनुसार थी 62 व्यक्ति मारे गए और सैकड़ों लोग घायल हुए तूफान हार्वे 125 अरब डालर इरमा और मारिया से क्रमशः 50 और 90 अरब डॉलर का नुकसान हुआ 1980 से लेकर अब तक अमेरिका में 219 मौसम एवम जलवायु आपदाएं आई है जिस से होने वाले नुकसान ने 15 खरब डॉलर का आंकड़ा पार कर लिया है 1980 से 2017 के बीच वार्षिक औसत 5.8 है जबकि पिछले क्वेश्चन 2013 से 2017 में मौसम और जलवायु आपदाओं का आंकड़ा 11.6 रहा है

ji haan khabaro ke anusaar yah sahi hai ki 2017 mein prakirtik apadao ki wajah se america ko kafi nuksan hua bita varsh toofan jungalon mein lagi aag aur beta thandi mausam ki wajah se america ko 306 arab dollar ka nuksan hua report ke anusaar 2017 mein america mein 16 mausam v jalvayu apadaen I aur har ek se kareeb ek arab dollar se adhik ka nuksan hua report ke anusaar thi 62 vyakti maare gaye aur saikadon log ghaayal hue toofan harvey 125 arab dollar irama aur maria se kramashah 50 aur 90 arab dollar ka nuksan hua 1980 se lekar ab tak america mein 219 mausam evam jalvayu apadaen I hai jis se hone waale nuksan ne 15 kharab dollar ka akanda par kar liya hai 1980 se 2017 ke beech vaarshik ausat 5 8 hai jabki pichhle question 2013 se 2017 mein mausam aur jalvayu apadao ka akanda 11 6 raha hai

जी हां खबरों के अनुसार यह सही है कि 2017 में प्राकृतिक आपदाओं की वजह से अमेरिका को काफी नु

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  140
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!