उत्तर और दक्षिण कोरिया के बीच में आख़िरकार बातचीत हो रही है, चर्चा के मुख्य विषय क्या होंगे?...


play
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

0:60

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मुझे लगता है कि कांग्रेस हमारे देश के अंदर अस्तित्व के लिए लड़ रहे जिस तरह से धीरे धीरे सारे स्टेट कांग्रेस से जाते जा रहे हैं अब केवल दो मजिस्ट्रेट के पास बचे हैं इसमें से कर्नाटक के दूसरा पंजा कर्नाटक में खाली लक्षण और मुझे लगता है कि कांग्रेस का सफाया बिल्कुल होगा क्योंकि आज के दिन वहां के जो चीफ मिनिस्टर उन्होंने इतना बेहूदा बयान दिया है जिसमें उन्होंने कहा कि हिंदू आतंकवाद की बात की उन्होंने कहा कि हिंदू इस देश में आतंकवादी हैं उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी rss के आतंकवादी संगठन है तो मुझे लगता है कि किसी भी व्यक्ति कोई भी व्यक्ति जो भारत देश के अंदर रहता है इस तरह की बात तो बर्दाश्त नहीं करेगा टैबलेट नहीं करेगा और एक-एक शब्द समझने में इस तरह की बातों के लिए कोई स्थान नहीं होता तो मुझे लगता है जिस तरह के बयान दे रहे हैं तो वह अपनी साख को बट्टा लगा रहे हैं कांग्रेस की साख को बट्टा लगा रहे हैं और इसका परिणाम यह हुआ कि तू अब जो इलेक्शन होने वाले कर्नाटक के अंदर YouTube हारेंगे और 2019 में जो कर रहा है कुछ और कांग्रेस के लिए बेटी खत्म हो जाएगा

lekin mujhe lagta hai ki congress hamare desh ke andar astitva ke liye lad rahe jis tarah se dhire dhire saare state congress se jaate ja rahe hain ab keval do magistrate ke paas bache hain isme se karnataka ke doosra panja karnataka mein khaali lakshan aur mujhe lagta hai ki congress ka safaya bilkul hoga kyonki aaj ke din wahan ke jo chief minister unhone itna behuda bayan diya hai jisme unhone kaha ki hindu aatankwad ki baat ki unhone kaha ki hindu is desh mein aatankwadi hain unhone kaha ki bharatiya janta party rss ke aatankwadi sangathan hai toh mujhe lagta hai ki kisi bhi vyakti koi bhi vyakti jo bharat desh ke andar rehta hai is tarah ki baat toh bardaasht nahi karega tablet nahi karega aur ek ek shabd samjhne mein is tarah ki baaton ke liye koi sthan nahi hota toh mujhe lagta hai jis tarah ke bayan de rahe hain toh vaah apni saakh ko batta laga rahe hain congress ki saakh ko batta laga rahe hain aur iska parinam yah hua ki tu ab jo election hone waale karnataka ke andar YouTube harenge aur 2019 mein jo kar raha hai kuch aur congress ke liye beti khatam ho jaega

लेकिन मुझे लगता है कि कांग्रेस हमारे देश के अंदर अस्तित्व के लिए लड़ रहे जिस तरह से धीरे ध

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  182
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए और नॉर्थ कोरिया ने साउथ कोरिया को 25 जून 1950 में इनवाइट किया उस पर हमला किया और तब से ही इन दोनों देशों के बीच जो इस गोल्ड सैंडल लड़ाई है चले जा रही है अब इस लड़ाई में जो यूनाइटेड नेशन है आज यूनाइटेड सेक्स का जो है उसने इंटरव्यू किया और उन्होंने साउथ को डिफरेंट किया और नॉर्थ कोरिया के गेस्ट गए और वह आज भी हो रहा है क्योंकि देखी जो नॉर्थ कोरिया के चुपके मालूम है जो कह दे कि वह न्यू प्ले बटन को अपने टेबल पर रखे हुए हैं और कभी भी दबा सकते हैं और फिर ट्रंप ने जो बोला कि मेरे पास ज्यादा बड़ा बटन है तू कब से USB इसमें कहीं ना कहीं निकलो रोग है आप जब साउथ कोरिया के अंदर ओलंपिक सोने वाले तो नॉर्थ कोरिया को इंवाइट किया है जो इमिटेशन है एक्सेप्ट कर लिया है लेकिन अगर हम बात करेंगे दोनों देशों के बीच में वार्तालाप किया होगी तो मुझे लगता है कि पहला बुकस्टोर शांति बनाए रखना ही होगा क्योंकि दोनों देशों में बहुत ज्यादा डिस्टरबेंस है या यूं कहिए कि साउथ कोरिया में तो कुछ ज्यादा ही है और वहां का जो जीवन लाइफ स्टाइल है वह बहुत ही अच्छे थे नॉर्थ कोरिया के डर के कारण तो पहला ही होगा जो पहला बात करना होगा वह ऑफिस के ऊपर ही होगा और उसके बाद फिर वह किसी और चीज के बारे में सोचेंगे

dekhiye aur north korea ne south korea ko 25 june 1950 mein invite kiya us par hamla kiya aur tab se hi in dono deshon ke beech jo is gold sandal ladai hai chale ja rahi hai ab is ladai mein jo united nation hai aaj united sex ka jo hai usne interview kiya aur unhone south ko different kiya aur north korea ke guest gaye aur vaah aaj bhi ho raha hai kyonki dekhi jo north korea ke chupake maloom hai jo keh de ki vaah new play button ko apne table par rakhe hue hain aur kabhi bhi daba sakte hain aur phir trump ne jo bola ki mere paas zyada bada button hai tu kab se USB isme kahin na kahin niklo rog hai aap jab south korea ke andar olympic sone waale toh north korea ko invait kiya hai jo imitation hai except kar liya hai lekin agar hum baat karenge dono deshon ke beech mein vartalaap kiya hogi toh mujhe lagta hai ki pehla bukastor shanti banaye rakhna hi hoga kyonki dono deshon mein bahut zyada distarabens hai ya yun kahiye ki south korea mein toh kuch zyada hi hai aur wahan ka jo jeevan life style hai vaah bahut hi acche the north korea ke dar ke karan toh pehla hi hoga jo pehla baat karna hoga vaah office ke upar hi hoga aur uske baad phir vaah kisi aur cheez ke bare mein sochenge

देखिए और नॉर्थ कोरिया ने साउथ कोरिया को 25 जून 1950 में इनवाइट किया उस पर हमला किया और तब

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  118
WhatsApp_icon
user

Amber Rai

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

संधि उत्तर और दक्षिण कोरिया के बीच जो है वह बातचीत हो रही है क्योंकि उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया जो है वह आपस में जो उनका कोल्ड वॉर टाइप का हे दुश्मनी में चलता ही रहता क्योंकि नॉर्थ कोरिया जो है वह पूरे वर्ल्ड के लिए जो है कि मैं एक बहुत ही बड़ा डेंजर है बहुत ही बड़ा खतरा है और क्योंकि उसके सबसे पास जो कंट्री है जो सब टीवी कंट्री है और साउथ कोरिया है तो इसे साउथ कोरिया को बहुत खतरा रहता है जिम जाऊंगा क्योंकि वही सरफिरा इंसान है और न्यूक्लियर वेपंस जो है बहुत ज्यादा जमा करके रखा हुआ अपने पास एक तरह का हिटलर है वह हमारे न्यू जनरेशन का और काली साउथ कोरियाई कोई नहीं इस विश्व के सारे देश जो है उन सबको जो है वह खतरा बना हुआ है जब तक किम जोंग जिंदा है अगर उससे निपटने तो सारे देशों के सारे देशों के जो प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति हैं उन सबको एक होकर उसके खिलाफ एक्शन लेना पड़ेगा दोनों के बीच अगर बातचीत हो रही है तो कुछ टेक्नोलॉजी एक्सीडेंट की तो बात होगी नहीं जाहिर सी बात है कि जो 20 मिनट करने के बाद से वह होगी अभी दिल्ली में निकलेगा पहना है वह साउथ कोरिया पर टेक्स्ट ना करें या उनके खिलाफ अटैक ना करें

sandhi uttar aur dakshin korea ke beech jo hai vaah batchit ho rahi hai kyonki uttar korea aur dakshin korea jo hai vaah aapas mein jo unka cold war type ka hai dushmani mein chalta hi rehta kyonki north korea jo hai vaah poore world ke liye jo hai ki main ek bahut hi bada danger hai bahut hi bada khatra hai aur kyonki uske sabse paas jo country hai jo sab TV country hai aur south korea hai toh ise south korea ko bahut khatra rehta hai gym jaunga kyonki wahi sarfira insaan hai aur nuclear weapons jo hai bahut zyada jama karke rakha hua apne paas ek tarah ka hitler hai vaah hamare new generation ka aur kali south koriyaee koi nahi is vishwa ke saare desh jo hai un sabko jo hai vaah khatra bana hua hai jab tak kim jong zinda hai agar usse nipatane toh saare deshon ke saare deshon ke jo pradhanmantri ya rashtrapati hai un sabko ek hokar uske khilaf action lena padega dono ke beech agar batchit ho rahi hai toh kuch technology accident ki toh baat hogi nahi jaahir si baat hai ki jo 20 minute karne ke baad se vaah hogi abhi delhi mein niklega pehna hai vaah south korea par text na kare ya unke khilaf attack na karen

संधि उत्तर और दक्षिण कोरिया के बीच जो है वह बातचीत हो रही है क्योंकि उत्तर कोरिया और दक्षि

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  163
WhatsApp_icon
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उत्तर और दक्षिण कोरिया के बीच में जो है 2 साल बाद आखिरकार बातचीत हो चुकी है इस चर्चा के जूते हैं वह तो मुख्य विषय है सबसे पहला विषय यह था कि उत्तर कोरिया ने जो है जितने भी उनके खिलाड़ी है या फिर जॉब कह सकते डेलीगेशन से उन्हें दक्षिण कोरिया में जाने की अनुमति दे दी है क्योंकि अगले महीने दक्षिण कोरिया में जो है विंटर ओलंपिक्स होने वाले हैं तो उन्होंने इस बात की चर्चा की ओर इस बात से सहमत हैं और इस बात पर उत्तर कोरिया जाएं जितने में उनके खिलाड़ी है हम सब को दक्षिण कोरिया भेजिएगा फ्री डाउनलोड क्रिकेट खेलने दूसरी बात जो है जिस पर उनकी मुख्य विषय पर चर्चा हुई थी वह यह देखिए जिस प्रकार से दोनों ही देशों के बीच में मिलिट्री टेंशन सा भी कह सकते हैं वह तो वह जिसे सिचुएशन सो चुके थे तो इस बात पर उत्तर कोरिया ने साफ कर दिया है कि हम लोग दक्षिण कोरिया की तरफ हमला नहीं करेंगे और उन्होंने यह भी कहा है कि जिस प्रकार से दोनों ही देशों के बीच में जो मिलिट्री और टेंशन जो पढ़ रहे हो उसने थोड़ा बहुत कम कर देना चाहिए और सिर्फ यही नहीं उन्होंने यह भी कहा है कि जिस प्रकार से दक्षिण उत्तर कोरिया के लोग जो है अब समय आ चुका हे कि वो मिलकर जो है एक अच्छा वातावरण बनाए दो ना ही देश के बीच में और से भी नहीं भी कहा है कि उत्तर कोरिया ने की जितनी भी आम जो मिसाइल से फिर हथियार बना रहे हैं वह सेंसेक्स अमेरिका की तरफ ही टारगेट करने वाले हैं तो यही मुख्य विषय रहे हैं दोनों ही देशों के बातचीत के बीच में दोनों देशों की जो मुलाकात जो है वह टू स्कूल एजुकेशन मोचन नाम का शहर में हुई थी

uttar aur dakshin korea ke beech mein jo hai 2 saal baad aakhirkaar batchit ho chuki hai is charcha ke joote hain vaah toh mukhya vishay hai sabse pehla vishay yah tha ki uttar korea ne jo hai jitne bhi unke khiladi hai ya phir job keh sakte delegation se unhe dakshin korea mein jaane ki anumati de di hai kyonki agle mahine dakshin korea mein jo hai winter olympics hone waale hain toh unhone is baat ki charcha ki aur is baat se sahmat hain aur is baat par uttar korea jayen jitne mein unke khiladi hai hum sab ko dakshin korea bhejiega free download cricket khelne dusri baat jo hai jis par unki mukhya vishay par charcha hui thi vaah yah dekhiye jis prakar se dono hi deshon ke beech mein miltary tension sa bhi keh sakte hain vaah toh vaah jise situation so chuke the toh is baat par uttar korea ne saaf kar diya hai ki hum log dakshin korea ki taraf hamla nahi karenge aur unhone yah bhi kaha hai ki jis prakar se dono hi deshon ke beech mein jo miltary aur tension jo padh rahe ho usne thoda bahut kam kar dena chahiye aur sirf yahi nahi unhone yah bhi kaha hai ki jis prakar se dakshin uttar korea ke log jo hai ab samay aa chuka hai ki vo milkar jo hai ek accha vatavaran banaye do na hi desh ke beech mein aur se bhi nahi bhi kaha hai ki uttar korea ne ki jitni bhi aam jo missile se phir hathiyar bana rahe hain vaah sensex america ki taraf hi target karne waale hain toh yahi mukhya vishay rahe hain dono hi deshon ke batchit ke beech mein dono deshon ki jo mulakat jo hai vaah to school education mochan naam ka shehar mein hui thi

उत्तर और दक्षिण कोरिया के बीच में जो है 2 साल बाद आखिरकार बातचीत हो चुकी है इस चर्चा के जू

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
user

Sameer Tripathy

Political Critic

1:57
Play

Likes  1  Dislikes    views  12
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!