सरकार द्वारा किए गए वास्तव में खराब निर्णय का उदाहरण क्या है?...


play
user

Sa Sha

Journalist since 1986

1:02

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

समय-समय पर पर सरकारों ने अपने समय में कुछ ऐसे फैसले के जिन्हें एक खराब फैसला माना जा सकता है इंदिरा गांधी द्वारा एजेंसी की घोषणा भी इसी तरह का एक खराब फैसला था जुग जिया जाना चाहिए था मोदी सरकार का नोटबंदी का फैसला भी बहुत अच्छा फैसला नहीं माना जा रहा है क्योंकि इतनी परेशानी और जद्दोजहद के बाद हासिल कुछ खास नहीं हुआ वैसे पश्चिम बंगाल की वह मोर्चा सरकार ने भी एक ऐसा फैसला लिया था जिसकी जमकर आलोचना हुई थी दरअसल ज्योति बसु के समय में राज्य की सरकारी प्राइमरी स्कूलों में अंग्रेजी की पढ़ाई बंद कर दी गई थी इसका खामियाजा आगे चलकर उस पुरी के युवकों को उठाना पड़ा नौकरी में उन्हें काफी दिक्कतें पेश आए वही ममता सरकार द्वारा पहली कक्षा से बांग्ला को कंपलसरी करने का फैसला भी है इसे बच्चों पर अनावश्यक पोस्ट डाल देना माना जा रहा है

samay samay par par sarkaro ne apne samay mein kuch aise faisle ke jinhen ek kharab faisla mana ja sakta hai indira gandhi dwara agency ki ghoshana bhi isi tarah ka ek kharab faisla tha jug jiya jana chahiye tha modi sarkar ka notebandi ka faisla bhi bahut accha faisla nahi mana ja raha hai kyonki itni pareshani aur jaddojahad ke baad hasil kuch khaas nahi hua waise paschim bengal ki vaah morcha sarkar ne bhi ek aisa faisla liya tha jiski jamakar aalochana hui thi darasal jyoti basu ke samay mein rajya ki sarkari primary schoolon mein angrezi ki padhai band kar di gayi thi iska khamiyaja aage chalkar us puri ke yuvakon ko uthana pada naukri mein unhe kaafi dikkaten pesh aaye wahi mamata sarkar dwara pehli kaksha se bangla ko compulsory karne ka faisla bhi hai ise baccho par anavashyak post daal dena mana ja raha hai

समय-समय पर पर सरकारों ने अपने समय में कुछ ऐसे फैसले के जिन्हें एक खराब फैसला माना जा सकता

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  108
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Bari khan

Practicing journalist

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भैया जैसा आप ने सवाल पूछा है कि गवर्नमेंट द्वारा लिया गया सबसे बेकार सबसे गलत डिसीजन कौन सा था तो मेरे ख्याल से मैं यहां पर जो वेस्ट बंगाल की सरकार में एक डिसीजन लिया था कि जिसके अंदर जितने भी पॉलिटिकल लीडर्स हैं उन सबको अगर वह किसी भी आरोप के अंदर दे पाए जाते हैं तो जब तक रिपोर्ट नहीं की जाएगी उनके बारे में जब तक न्यूज़ में आप नहीं बता सकते हैं उनका नाम जब तक है और जो है पूरी तरह सिद्ध नहीं हो जाता और इसे कंट्रोल वह अपने हाथ में रखेंगे गवर्नमेंट के हाथ में रहेगा रिपोर्टर को जाकर गवर्नमेंट से यह पूछना पड़ेगा कि क्या हम उनके अपराध के बारे में न्यूज़ में बता सकते हैं या नहीं तो मेरे ख्याल से यह करा से जो मीडिया की आजादी है वह छीनने की कोशिश की गई थी उस हल्के वह जो विधायक है अभी तक पास नहीं हुआ है लेकिन यह जो विधायक जिस तरह की सोच से ही बनाया गया है वही गलत है मेरे पास

bhaiya jaisa aap ne sawaal poocha hai ki government dwara liya gaya sabse bekar sabse galat decision kaun sa tha toh mere khayal se main yahan par jo west bengal ki sarkar mein ek decision liya tha ki jiske andar jitne bhi political leaders hain un sabko agar vaah kisi bhi aarop ke andar de paye jaate hain toh jab tak report nahi ki jayegi unke bare mein jab tak news mein aap nahi bata sakte hain unka naam jab tak hai aur jo hai puri tarah siddh nahi ho jata aur ise control vaah apne hath mein rakhenge government ke hath mein rahega reporter ko jaakar government se yah poochna padega ki kya hum unke apradh ke bare mein news mein bata sakte hain ya nahi toh mere khayal se yah kara se jo media ki azadi hai vaah chhinne ki koshish ki gayi thi us halke vaah jo vidhayak hai abhi tak paas nahi hua hai lekin yah jo vidhayak jis tarah ki soch se hi banaya gaya hai wahi galat hai mere paas

भैया जैसा आप ने सवाल पूछा है कि गवर्नमेंट द्वारा लिया गया सबसे बेकार सबसे गलत डिसीजन कौन स

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  25
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!