जो लोग धरम के नाम पर जातिवाद करता है क्या वो सही है?...


user

Vatsal

Engineering Student

0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भीगी धर्म के नाम पर जाति / आजकल बहुत ही एक आम चीज हो गई है काम धारणा हो गई है कि धर्म के नाम पर जातिवाद करना जातिवाद अधर्म दोनों के नाम पर आप वोट मांगते हैं या फिर लोगों का बटवारा करते हैं क्योंकि यह काम सोच हो गई है कि यदि लोग नहीं सपोर्ट करते हैं तो उनके धर्म में जातिवाद की बात करिए तो जिस से जो उस ग्रुप को पर टिकने नहीं ब्लॉक करेंगे वह अपने ही ग्रुप को सपोर्ट करेंगे तो वह अपने आप ही आप के पक्ष में आ जाएंगे तो यह बहुत अच्छा तरीका हो गया लेकिन यह बहुत ही गंदी चीज़ है बहुत ही गंदी राजनीति है हमारा देश को बांट रहे हैं आप इस तरीके से धर्म और जातिवाद आरक्षण बहुत ही इंपॉर्टेंट पहलू है इसमें यह धर्म और जातिवाद के नाम पर 12 लोगों को और बाकी जो राजनेता लोग कर रहे हैं यह सब नहीं होना चाहिए इस को बढ़ावा नहीं मिलना चाहिए

bheegi dharm ke naam par jati aajkal bahut hi ek aam cheez ho gayi hai kaam dharana ho gayi hai ki dharm ke naam par jaatiwad karna jaatiwad adharma dono ke naam par aap vote mangate hain ya phir logo ka batwara karte hain kyonki yah kaam soch ho gayi hai ki yadi log nahi support karte hain toh unke dharm mein jaatiwad ki baat kariye toh jis se jo us group ko par tikne nahi block karenge vaah apne hi group ko support karenge toh vaah apne aap hi aap ke paksh mein aa jaenge toh yah bahut accha tarika ho gaya lekin yah bahut hi gandi cheez hai bahut hi gandi raajneeti hai hamara desh ko baant rahe hain aap is tarike se dharm aur jaatiwad aarakshan bahut hi important pahaloo hai isme yah dharm aur jaatiwad ke naam par 12 logo ko aur baki jo raajneta log kar rahe hain yah sab nahi hona chahiye is ko badhawa nahi milna chahiye

भीगी धर्म के नाम पर जाति / आजकल बहुत ही एक आम चीज हो गई है काम धारणा हो गई है कि धर्म के न

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  42
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Amber Rai

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज नहीं देखी जो लोग धर्म के नाम पर जाति वादा करते हैं वह बिल्कुल भी सही नहीं है क्योंकि धर्म के नाम पर और कोई नहीं खा ली तो पॉलिटिशंस है कुछ पॉलिटिशंस हमारे देश में है ऐसा जो धर्म के नाम पर जाति वादा करके आरजू झूठ है या वह पट खुले सेक्स एंड सोसाइटी करना चाहते हैं उनको कुछ मिल जाए और लोगों को जो है वह आपस में लड़ा देते तो मैं तुमसे बिल्कुल भी सही नहीं है क्या पॉलिटिकल फायदे के लिए लोगों को भड़काना वह भी जाति के नाम पर मैं नहीं समझता कि सही है हमारे लोगों को हमारे देश को मरे पार्टीशन समय समय सोचते थोड़ी ऊपर उठने की जरूरत है कि वह जातिवाद और धर्म को जो है अपने पॉलिटिक्स में ना यूज़ करें और ना उसके बारे में सोचे मेरे को लगता सबसे बड़ा धर्म जो है हमारे देश में इंसानियत इंसानियत को कॉल करना चाहिए

aaj nahi dekhi jo log dharm ke naam par jati vada karte hain vaah bilkul bhi sahi nahi hai kyonki dharm ke naam par aur koi nahi kha li toh politicians hai kuch politicians hamare desh mein hai aisa jo dharm ke naam par jati vada karke aaraju jhuth hai ya vaah pat khule sex and society karna chahte hain unko kuch mil jaaye aur logo ko jo hai vaah aapas mein lada dete toh main tumse bilkul bhi sahi nahi hai kya political fayde ke liye logo ko bhadkaana vaah bhi jati ke naam par main nahi samajhata ki sahi hai hamare logo ko hamare desh ko mare partition samay samay sochte thodi upar uthane ki zarurat hai ki vaah jaatiwad aur dharm ko jo hai apne politics mein na use kare aur na uske bare mein soche mere ko lagta sabse bada dharm jo hai hamare desh mein insaniyat insaniyat ko call karna chahiye

आज नहीं देखी जो लोग धर्म के नाम पर जाति वादा करते हैं वह बिल्कुल भी सही नहीं है क्योंकि धर

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  17
WhatsApp_icon
user

Janak

An Enthusiastic Entrepreneur.

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

धर्म के नाम पर जो जातिवाद होता है वह बहुत ही गलत चीज है हमारे जो देश में होती है क्योंकि हमारा देश एक क्या कहलाता है फॉर वेरियस टाइप ऑफ पीपल विदेश वेरायटीज ऑफ पीपल का पेड़ टाइप टाइप हर मजहब भर जाति के लोग पाए जाते हैं और उस पर अगर आप जातिवाद करते हैं उस पर अगर आप डिफरेंट सेट करते हो उसके हिसाब से आप अगर लोगों में फर्क लाते हो तो वह बहुत ही गलत है कि कुछ और हम इंडियन है हम हिंदुस्तानी हैं पहले उसके बाद हम अपने अपने कास्ट के हैं तो यह बहुत गलत चीज है जो धर्म के नाम पर जाते वक्त होता है

dharam ke naam par jo jaatiwad hota hai vaah bahut hi galat cheez hai hamare jo desh mein hoti hai kyonki hamara desh ek kya kehlata hai for veriyas type of pipal videsh varieties of pipal ka ped type type har majhab bhar jati ke log paye jaate hain aur us par agar aap jaatiwad karte hain us par agar aap different set karte ho uske hisab se aap agar logo mein fark laate ho toh vaah bahut hi galat hai ki kuch aur hum indian hai hum hindustani hain pehle uske baad hum apne apne caste ke hain toh yah bahut galat cheez hai jo dharm ke naam par jaate waqt hota hai

धर्म के नाम पर जो जातिवाद होता है वह बहुत ही गलत चीज है हमारे जो देश में होती है क्योंकि ह

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  11
WhatsApp_icon
user

Anukrati

Journalism Graduate

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं मुझे बिल्कुल नहीं लगता है कि यह सही है अगर भारत किसी वजह से दुनिया में पीछे रह गया है तो वह यही वजह है कि हमारे देश में जातिवाद बहुत ही जटिल ता से फैला हुआ है और इसे निकालना बहुत मुश्किल हो गया है और सबसे बड़ा इशू यह है कि लोग आजकल धार्मिक तकलीफ है समझ रहे हैं अगर कोई धार्मिक लड़ाई होती है तो बहुत से लोग उसके खिलाफ बोलने उठ जाते हैं लेकिन जातिवाद लड़ाईयां आज तक अब तक भी लोग उसे आंख नॉलेज नहीं करते हैं अब तक 20 लोगों को वह एक बहुत बड़ा मुद्दा नहीं लगता है जो कि हमारे देश के लिए हानिकारक हो सकता है

nahi mujhe bilkul nahi lagta hai ki yah sahi hai agar bharat kisi wajah se duniya mein peeche reh gaya hai toh vaah yahi wajah hai ki hamare desh mein jaatiwad bahut hi jatil ta se faila hua hai aur ise nikalna bahut mushkil ho gaya hai aur sabse bada issue yah hai ki log aajkal dharmik takleef hai samajh rahe hain agar koi dharmik ladai hoti hai toh bahut se log uske khilaf bolne uth jaate hain lekin jaatiwad ladaiyan aaj tak ab tak bhi log use aankh knowledge nahi karte hain ab tak 20 logo ko vaah ek bahut bada mudda nahi lagta hai jo ki hamare desh ke liye haanikarak ho sakta hai

नहीं मुझे बिल्कुल नहीं लगता है कि यह सही है अगर भारत किसी वजह से दुनिया में पीछे रह गया है

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  151
WhatsApp_icon
user

Bari khan

Practicing journalist

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी धर्म के नाम पर जातिवाद दे थोड़ा सा गलत है ग्राम आटे के लिए आपका क्वेश्चन हालांकि जो आपका सवाल है वह मुझे लग रहा है वह कुछ ऐसा हो सकता है कि जो लोग फिरका परस्ती करते हैं धर्म के नाम पर जो राजनीति करते हैं क्या वह सही हैं तो जैसा सवाल आपका है मैं बताना चाहूंगा बिल्कुल गलत करते हैं जो लोग धर्म के नाम पर आप को भड़काते हैं धर्म के नाम पर आपसे तमाम चीजें कराने की कोशिश करते हैं वह लोग बिल्कुल गलत होते हैं क्योंकि आपको वह घर जाएंगे आपके धर्म के नाम से लेकिन आपके साथ जो आपके पड़ोसी हैं वह सब प्रभु की और धर्म के हम तो इस तरह से धर्म के नाम पर जब बटवारे होने लगते हैं तो देश हमारा मुल्क है वह भी ऐसी कगार पर आ सकता है कि उसको हमें फिर से करने पर जाएं तो यह बिल्कुल गलत है मेरे ख्याल से ऐसा नहीं होना चाहिए

vicky dharm ke naam par jaatiwad de thoda sa galat hai gram aate ke liye aapka question halaki jo aapka sawaal hai vaah mujhe lag raha hai vaah kuch aisa ho sakta hai ki jo log firka parasti karte hain dharm ke naam par jo raajneeti karte kya vaah sahi hain toh jaisa sawaal aapka hai bataana chahunga bilkul galat karte hain jo log dharm ke naam par aap ko bhadkate hain dharm ke naam par aapse tamaam cheezen karane ki koshish karte hain vaah log bilkul galat hote hain kyonki aapko vaah ghar jaenge aapke dharm ke naam se lekin aapke saath jo aapke padosi hain vaah sab prabhu ki aur dharm ke hum toh is tarah se dharm ke naam par jab batware hone lagte hain toh desh hamara mulk hai vaah bhi aisi kagar par aa sakta hai ki usko hamein phir se karne par jayen toh yah bilkul galat hai mere khayal se aisa nahi hona chahiye

विकी धर्म के नाम पर जातिवाद दे थोड़ा सा गलत है ग्राम आटे के लिए आपका क्वेश्चन हालांकि जो आ

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  14
WhatsApp_icon
play
user

Munmun 🌈

Volunteer

0:27

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आजकल देश में जो धर्म के नाम पर हो रहा है वह ठीक नहीं है क्योंकि देखिए सबका धर्म जो है अलग अलग है और लोग जो है धर्म के नाम पर पॉलिटिक्स करते हैं तो यह करना जो है बहुत ही गलत बात है और ऐसा करने से जो है काफी लोगों पर जो है असर पड़ता है नहीं कि जो यूज होती है उस पर काफी असर पड़ता है

aajkal desh mein jo dharm ke naam par ho raha hai vaah theek nahi hai kyonki dekhiye sabka dharm jo hai alag alag hai aur log jo hai dharm ke naam par politics karte hain toh yah karna jo hai bahut hi galat baat hai aur aisa karne se jo hai kaafi logo par jo hai asar padta hai nahi ki jo use hoti hai us par kaafi asar padta hai

आजकल देश में जो धर्म के नाम पर हो रहा है वह ठीक नहीं है क्योंकि देखिए सबका धर्म जो है अलग

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
dharam aaj tak ; aaj tak dharm ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!