GST क्यों अच्छा नहीं है?...


user

Salman Chamadiya

Consaltant (Tax, Account, Business, Trade)

4:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका प्रश्न ही जीएसटी क्यों अच्छा नहीं है जीएसटी सिस्टम थोड़ी कॉम्प्लिकेटेड है जीएसटी में कुछ प्रावधान ऐसे भी हैं जो कि लोगों को दिक्कत में डाल देते हैं व्यापारियों को दिक्कत में डाल देते हैं कुछ पता नहीं है कि जिस में खुद व्यापारी का कुछ फॉल्ट नहीं होता है लेकिन फिर भी उसको दंड की भरपाई करनी पड़ती है वह सारे जितने भी प्रॉब्लम से उसको गवर्नमेंट एक-एक करके अमेंडमेंट कर रही है जीएसटी काउंसिल की मीटिंग में जिससे कि जनता को जीएसटी का बोझ ना पड़े और कॉम्प्लिकेटेड ना लगे बात करें जीएसटी वेबसाइट की तो वह उसमें भी कभी-कभी सर्वर का प्रॉब्लम हो जाता है बात करें जीएसटी रिटर्न की तो उस कंप्लायंस में भी थोड़ा कॉम्प्लिकेटेड रहता है gst3b gstr-1 और जीएसटी मैक्वेरी का जो रिवीजन है वह थोड़ा हार्ड एचडी में कोई अगर आप से मिस्टेक हो गया तो उसको करेक्शन करना बहुत मुश्किल है यह सारी प्रॉब्लम है लेकिन जीएसटी जब इंडिया में लाया गया तब था फर्स्ट जुलाई 2017 तब से आप देखिए वैश्विक स्तर पर और तंत्र की पोजीशन इतनी अच्छी नहीं है इकोनॉमी की पोजीशन इतनी बेस्ट नहीं है कि कोई भी गवर्नमेंट अगर टैक्स सिस्टम लागू पर है तो उसकी गाड़ी को पहिए पर ला पाए मैं आपको क्लियर बताऊं तो जीएसटी के बाद आज फिलहाल दो ट्वेंटी-20 मैच हो रहा है उसके बाद क्या होगा किसी को मालूम नहीं है इकोनामी पूरा डाउन हो गया तू गवर्नमेंट को थोड़ा टाइम लग रहा है जीएसटी को सेट करने के लिए इंडिया में जीएसटी स्टेट करने में टाइम लग रहा है इसलिए लोगों को ऐसा लग रहा है कि जीएसटी अच्छा नहीं है लेकिन जीएसटी इज द बेस्ट टैक्स बिकॉज़ वेट सीएसटी और ड्यूटीज सर चार्ज सब में जो आपको प्रोसेस करनी पड़ती थी वह सारी प्रोसेस बंद हो गई यह ऑनलाइन परचेज ए सिंगल प्रोसेस हो जाती है आपको एक ही टैक्स का हिसाब रखना है ज्यादा आपको हिसाब नहीं रखना है और आपको जो जीएसटी टैक्स से पूरा ऑनलाइन सिस्टम होगा तो नहीं आपके साथ कभी फ्रॉड हो गए ना आप गलत कर पाओगे मतलब क्या होगा कि हर कोई इमानदारी से टैक्स पर करना उसके लिए कंपलसरी हो जाएगा इसीलिए गवर्नमेंट ने छोड़े हरकते हैं लेकिन उसको गवर्नमेंट थोड़े टाइम में अमेंडमेंट कर देगी क्योंकि अभी भी जीएसटी में कुछ चोरियां हो रही है और कुछ चोरियां करने वाले लोगों के हिसाब से बाकी के व्यापारियों को भी पूरे टॉप जोरूल से मतलब जो भी हार्ड है जितने भी रूल्स उसको भुगतना पड़ रहा है जितने भी नियम व्यापारियों को हार्ड पढ़ रहे हैं वहीं चोरों के हिसाब से भुगतने पड़ रहे लेकिन उसके बाद कुछ समय ऐसा जाएगा कि गवर्नमेंट पूरा सिस्टम कंट्रोल में ले लेगी उसके बाद मैं किसी को प्रॉब्लम होगा तो बिल्कुल ही सही से जीएसटी चलेगा हम तो ऐसा ही हो कर रहे कि जीएसटी बिल्कुल सही से चले बिकॉज यह तो सिस्टम में बहुत बेस्ट है वेट से अच्छे करप्शन कम हो चुका है इसमें टैक्स कलेक्शन गवर्नमेंट का बढ़ रहा है जिससे इकोनामी को भी फोकस मिलेगा हमें भी सर्विस अच्छी मिलेगी आज हमको भी अच्छी सड़क चाहिए हर जगह पर पानी दे पानी मिलना है तो यह हर जगह पर लाइट चाहिए और जगह पर प्रोडक्शन चाहिए तो गवर्नमेंट यह सब भी तो दे रही है तो उसके बदले गवर्नमेंट को जोड़ें होनी चाहिए वह भी तो अच्छी चाहिए होगी अगर विकास चाहिए तो गवर्नमेंट तो रेवेन्यू प्रोवाइड करनी पड़ती है वह जनता अभी मूलभूत फर्जी में आता है लेकिन हमें यह अधिकारी कम कंप्लेंट करेंगे कि हमको जीएसटी अच्छा नहीं लग रहा है या में प्रॉब्लम हो रहा है लेकिन हम जीएसटी को लेबल नहीं लगा सकते कि यह अच्छा नहीं है बिकॉज़ गवर्नमेंट कर रही है अगर आप भी कोई नई चीज बनाओगे तो आपको तीन चार बार उसको कलेक्ट करना पड़ेगा ऐसे ही कोई चीज नहीं पिक भेजती और यह तो 135 करोड़ लोगों के फ्यूचर की बातें तो गवर्नमेंट कोई भी चीज कमेंट करने से पहले 10 बार सोचेगी और जीएसटी काउंसिल में बहुत एयरपोर्ट गवर्नमेंट में बिठाए फाइनेंस मिनिस्ट्री भी है पूरे बैंकर्स कभी वह लोग एडवाइस ले रहे हैं कंपनी लेवल कैसे उसका भी एक एडवाइज ले रहे हो और आउट ऑफ इंडिया जहां पर जीएसटी है वह लोग क्या काम कर रहे हो वहां से भी वह लोग एडवाइजरी लेकर उसके बाद वो लोग चार्टर्ड अकाउंटेंट से भी बात कर ले उसके बाद कोई भी चीज हमें ऐड कर रहे इसलिए थोड़ा वक्त लग रहा है क्योंकि यह लोकतंत्र है थोड़ा तो दिल होगा लेकिन जीएसटी बुरी चीज नहीं है अगर आज भी अब जीएसटी में पर्टिकुलर चलोगे तो आपको कभी कोई ज्यादा भुगतान नहीं करना पड़ेगा ना ही आपको प्रॉब्लम होगा इसके अलावा कर आपको जीएसटी अच्छा नहीं है तो क्या आपके बिजनेस में कोई प्रॉब्लम हो रहा है या फिर आपको कोई ज्यादा एक्सप्रेस लग रहा है अगर ऐसा कुछ है तो जीएसटी गलत है ऐसा अब हम ना बनाकर अब मुझे भी कॉल कर सकते हैं मेरे प्रोफाइल में मेरा नंबर दिया हुआ है मैं आपको जीएसटी के बारे में पूरी एडवाइजरी और उसके बाद भी जीएसटी में आकर कैसे स्टडी करनी है उसकी गाइड लाइन मैप को निशुल्क प्रोवाइड करूंगा उसके लिए कुछ चार्ज भी नहीं है और यह देश के लिए है यह किसी पर्सनल व्यक्तिगत बात नहीं है यह देश की बात है अगर हम सब एक साथ मिलकर जीएसटी में कंपलीटली बैठ जाएंगे तो जीएसटी है वह जोशीली चल पाएगा और यह जो सिस्टम हो जाएगी वह बेस्ड सिस्टम है आगे किसी को प्रॉब्लम नहीं होगा इसीलिए मैं आपसे विनती करता हूं अब जीएसटी के बारे में रिसर्च करें यह सी चीज अच्छी है लेकिन नई चीजें इसलिए हमको अभी नहीं पूछ रही है अगर आपको लग रहा है फिर भी कुछ डाउट है तो आप उसका डिस्कस कर सकते हैं धन्यवाद

namaskar aapka prashna hi gst kyon accha nahi hai gst system thodi complicated hai gst me kuch pravadhan aise bhi hain jo ki logo ko dikkat me daal dete hain vyapariyon ko dikkat me daal dete hain kuch pata nahi hai ki jis me khud vyapaari ka kuch fault nahi hota hai lekin phir bhi usko dand ki bharpai karni padti hai vaah saare jitne bhi problem se usko government ek ek karke Amendment kar rahi hai gst council ki meeting me jisse ki janta ko gst ka bojh na pade aur complicated na lage baat kare gst website ki toh vaah usme bhi kabhi kabhi server ka problem ho jata hai baat kare gst return ki toh us compliance me bhi thoda complicated rehta hai gst3b gstr 1 aur gst maikweri ka jo revision hai vaah thoda hard hd me koi agar aap se mistake ho gaya toh usko correction karna bahut mushkil hai yah saari problem hai lekin gst jab india me laya gaya tab tha first july 2017 tab se aap dekhiye vaishvik sthar par aur tantra ki position itni achi nahi hai economy ki position itni best nahi hai ki koi bhi government agar tax system laagu par hai toh uski gaadi ko pahiye par la paye main aapko clear bataun toh gst ke baad aaj filhal do Twenty 20 match ho raha hai uske baad kya hoga kisi ko maloom nahi hai economy pura down ho gaya tu government ko thoda time lag raha hai gst ko set karne ke liye india me gst state karne me time lag raha hai isliye logo ko aisa lag raha hai ki gst accha nahi hai lekin gst is the best tax because wait CST aur duties sir charge sab me jo aapko process karni padti thi vaah saari process band ho gayi yah online purchase a singles process ho jaati hai aapko ek hi tax ka hisab rakhna hai zyada aapko hisab nahi rakhna hai aur aapko jo gst tax se pura online system hoga toh nahi aapke saath kabhi fraud ho gaye na aap galat kar paoge matlab kya hoga ki har koi imaandari se tax par karna uske liye compulsory ho jaega isliye government ne chode harkate hain lekin usko government thode time me Amendment kar degi kyonki abhi bhi gst me kuch choriyan ho rahi hai aur kuch choriyan karne waale logo ke hisab se baki ke vyapariyon ko bhi poore top jorul se matlab jo bhi hard hai jitne bhi rules usko bhugatna pad raha hai jitne bhi niyam vyapariyon ko hard padh rahe hain wahi choron ke hisab se bhugatane pad rahe lekin uske baad kuch samay aisa jaega ki government pura system control me le legi uske baad main kisi ko problem hoga toh bilkul hi sahi se gst chalega hum toh aisa hi ho kar rahe ki gst bilkul sahi se chale because yah toh system me bahut best hai wait se acche corruption kam ho chuka hai isme tax collection government ka badh raha hai jisse economy ko bhi focus milega hamein bhi service achi milegi aaj hamko bhi achi sadak chahiye har jagah par paani de paani milna hai toh yah har jagah par light chahiye aur jagah par production chahiye toh government yah sab bhi toh de rahi hai toh uske badle government ko joden honi chahiye vaah bhi toh achi chahiye hogi agar vikas chahiye toh government toh revenue provide karni padti hai vaah janta abhi mulbhut farji me aata hai lekin hamein yah adhikari kam complaint karenge ki hamko gst accha nahi lag raha hai ya me problem ho raha hai lekin hum gst ko lebal nahi laga sakte ki yah accha nahi hai because government kar rahi hai agar aap bhi koi nayi cheez banaaoge toh aapko teen char baar usko collect karna padega aise hi koi cheez nahi pic bhejti aur yah toh 135 crore logo ke future ki batein toh government koi bhi cheez comment karne se pehle 10 baar sochegi aur gst council me bahut airport government me bithaye finance ministry bhi hai poore barrels kabhi vaah log advice le rahe hain company level kaise uska bhi ek edavaij le rahe ho aur out of india jaha par gst hai vaah log kya kaam kar rahe ho wahan se bhi vaah log advisory lekar uske baad vo log chartered accountant se bhi baat kar le uske baad koi bhi cheez hamein aid kar rahe isliye thoda waqt lag raha hai kyonki yah loktantra hai thoda toh dil hoga lekin gst buri cheez nahi hai agar aaj bhi ab gst me particular chaloge toh aapko kabhi koi zyada bhugtan nahi karna padega na hi aapko problem hoga iske alava kar aapko gst accha nahi hai toh kya aapke business me koi problem ho raha hai ya phir aapko koi zyada express lag raha hai agar aisa kuch hai toh gst galat hai aisa ab hum na banakar ab mujhe bhi call kar sakte hain mere profile me mera number diya hua hai main aapko gst ke bare me puri advisory aur uske baad bhi gst me aakar kaise study karni hai uski guide line map ko nishulk provide karunga uske liye kuch charge bhi nahi hai aur yah desh ke liye hai yah kisi personal vyaktigat baat nahi hai yah desh ki baat hai agar hum sab ek saath milkar gst me kampalitli baith jaenge toh gst hai vaah joshili chal payega aur yah jo system ho jayegi vaah based system hai aage kisi ko problem nahi hoga isliye main aapse vinati karta hoon ab gst ke bare me research kare yah si cheez achi hai lekin nayi cheezen isliye hamko abhi nahi puch rahi hai agar aapko lag raha hai phir bhi kuch doubt hai toh aap uska discs kar sakte hain dhanyavad

नमस्कार आपका प्रश्न ही जीएसटी क्यों अच्छा नहीं है जीएसटी सिस्टम थोड़ी कॉम्प्लिकेटेड है जीए

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  87
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Harish Agarwal

Chartered Accountant

0:30

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीएसटी इसलिए अच्छा नहीं है कि जीएसटी में बहुत से प्रावधान ऐसे हैं जो बहुत कठिन है प्रैक्टिकल प्रैक्टिकल अच्छे नहीं है यदि इन दिक्कतों को दूर कर दिया जाए तो जैसी सेक्स अटैक्स कोई नहीं है जेसीबी ट्रैक्टर भी हो ज्यादा यदि टैक्स रेट को कम कर दिया जाए जिस 28% का जगह है उस वस्तु को 30% टैक्स लगता है यह दिल तुम पर किया जाए जेपी से अच्छा कोई नहीं हो सकता

gst isliye accha nahi hai ki gst mein bahut se pravadhan aise hain jo bahut kathin hai practical practical acche nahi hai yadi in dikkaton ko dur kar diya jaye toh jaisi sex attacks koi nahi hai JCB tractor bhi ho zyada yadi tax rate ko kam kar diya jaye jis 28% ka jagah hai us vastu ko 30% tax lagta hai yeh dil tum par kiya jaye jp se accha koi nahi ho sakta

जीएसटी इसलिए अच्छा नहीं है कि जीएसटी में बहुत से प्रावधान ऐसे हैं जो बहुत कठिन है प्रैक्टि

Romanized Version
Likes  47  Dislikes    views  859
WhatsApp_icon
user

Geet Awadhiya

Aspiring Software Developer

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसे देखा जाए तो जो लोग नौकरी करते हैं तथा जिन लोगों की एक छोटी आमदनी उनके लिए एक अच्छा सौदा है लेकिन बड़े व्यापारियों के लिए या व्यापार करने वालों के लिए इसमें काफी ज्यादा नुकसान है क्योंकि इसके द्वारा उनकी जो भी बचत के साधन हुआ करते थे

jaise dekha jaaye toh jo log naukri karte hain tatha jin logo ki ek choti aamdani unke liye ek accha sauda hai lekin bade vyapariyon ke liye ya vyapar karne walon ke liye isme kaafi zyada nuksan hai kyonki iske dwara unki jo bhi bachat ke sadhan hua karte the

जैसे देखा जाए तो जो लोग नौकरी करते हैं तथा जिन लोगों की एक छोटी आमदनी उनके लिए एक अच्छा सौ

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  470
WhatsApp_icon
user

Roshan Prasad Jaiswal

Junior Volunteer

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीएसटी क्यों है बिल्कुल सही है जीएसटी लगाना बिल्कुल सही हो रहा था कि हमारे जो भी सर्विस टैक्स संपर्क कर रहे हो सरकार को जा रहा है इससे जो है हमें किसी चीज की कोई दिक्कत नहीं हो रही है इसमें लॉस में नहीं यह देश के विकास में खर्च किए जा रहे हैं

gst kyon hai bilkul sahi hai gst lagana bilkul sahi ho raha tha ki hamare jo bhi service tax sampark kar rahe ho sarkar ko ja raha hai isse jo hai humein kisi cheez ki koi dikkat nahi ho rahi hai ismein loss mein nahi yeh desh ke vikas mein kharch kiye ja rahe hain

जीएसटी क्यों है बिल्कुल सही है जीएसटी लगाना बिल्कुल सही हो रहा था कि हमारे जो भी सर्विस टै

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  456
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
achcha nahin hai ; kyon achcha ; kyon achcha nahin hai ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!