कुलभूषण को अपनी पत्नी और मां से मिलने की अनुमति देकर पाकिस्तान क्या हासिल करना चाहता था?...


play
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:27

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी कौन से मिलने की इजाजत दे कर एक पॉलिटिकल साइंस चली है मेरे हिसाब से क्योंकि अब फिल्म में कुलभूषण यादव की जो अंतरराष्ट्रीय कोर्ट है वहां पर सुनवाई होने वाले क्योंकि इंटरनेशनल कोर्ट ने जाधव की फांसी पर रोक लगा रखी है जो पाकिस्तान ने भारत को कितना रेस्ट किया था जासूसी के जुर्म में तो ऐसा करके पाकिस्तानी दिखाना चाहता है कि वह कितना मतलब जीवो को सुनाने के लिए पेसे देने की हिमायती को माना तू कितना बढ़ावा दे रहा है ताकि इंटरनेशनल कोर्ट में भारत के गैस को बोल बोल सके कि हमने तो बाराबंकी ज्यादा की मां और उनकी पत्नी कौन से मिलने की इजाजत दी थी ताकि इंटरनेशनल कोर्ट का रुख पाकिस्तान के प्रति थोड़ा नरम हो जाए लेकिन उसे जब पाकिस्तान ने ना तो सारे को कोई काउंसलर प्रोवाइड कर वाया नाही उनकी मां को हल्का करने उन्हें उन्हें इंटरकॉम के फोन की बात हुई फोन पर उन्होंने बात की एक शीशे की दीवार उनके बीच में थी यहां तक कि यादव की पत्नी क्यों मंगलसूत्र उनकी मां की चूड़ियां खनके पैरों की दफ्तर ले वह सब भी उन्होंने निकल वाली तो यह सिर्फ उनका उनका कोई उन्होंने कोई हिमालयन बेसिस पर यह नहीं किया कि सिर्फ उनका खुद को एक राष्ट्र कोर्ट में सॉन्ग दिखाने का एक सिर्फ एक बार चला था

dekhiye pakistan ne kulbhushan jadhav ki maa aur patni kaunsi milne ki ijajat de kar ek political science chali hai mere hisab se kyonki ab film mein kulbhushan yadav ki jo antararashtriya court hai wahan par sunvai hone waale kyonki international court ne jadhav ki fansi par rok laga rakhi hai jo pakistan ne bharat ko kitna rest kiya tha jasoosi ke jurm mein toh aisa karke pakistani dikhana chahta hai ki vaah kitna matlab jeevo ko sunaane ke liye paise dene ki himayati ko mana tu kitna badhawa de raha hai taki international court mein bharat ke gas ko bol bol sake ki humne toh barabanki zyada ki maa aur unki patni kaunsi milne ki ijajat di thi taki international court ka rukh pakistan ke prati thoda naram ho jaaye lekin use jab pakistan ne na toh saare ko koi counselor provide kar vaya naahi unki maa ko halka karne unhe unhe intercom ke phone ki baat hui phone par unhone baat ki ek shishe ki deewaar unke beech mein thi yahan tak ki yadav ki patni kyon mangalsutra unki maa ki churian khanke pairon ki daftaar le vaah sab bhi unhone nikal wali toh yah sirf unka unka koi unhone koi himalayan basis par yah nahi kiya ki sirf unka khud ko ek rashtra court mein song dikhane ka ek sirf ek baar chala tha

देखिए पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी कौन से मिलने की इजाजत दे कर एक पॉलिटिकल सा

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  62
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!