नोटबंदी की वजह से लाखों लोगों की नौकरी छिन गई प्राइवेट सेक्टर में इनका जवाब कौन देगा?...


play
user

Shubham

Software Engineer in IBM

1:55

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राजस्थान मैं आपकी बात से बिल्कुल सहमत हूं कि प्राइवेट कंपनी बहुत ज्यादा असर हुई है डिमोनेटाइजेशन के बाद काफी प्राइवेट लोगों की नौकरियां जिनमें और गवर्नमेंट सेक्टर के लोगों को कुछ भी नहीं हुआ उनकी प्रोफेशनल लाइफ में कोई असर नहीं पड़ा लेकिन प्राइवेट फैक्ट्री काफी लोग आने में लेट हो गए उसके पीछे कई सारे रीजन है मालूम पहले एक कंपनी प्राइवेट कंपनी उत्पादन करती थी सामान उसके बाद 500 1000 केनोट नहीं है क्या कमी थी तो उसने सामान को बनाना बंद कर दिया और तो फिर उससे क्या झोली भर उनके काम करती थी उनको पैसे नहीं मिले ऐसी कई सारी चीजें आप जैसे पहले जब डिमोनेटाइजेशन हुआ तो शाम आलोक सामान कम खरीद रहे थे क्योंकि उनको पैसों की थोड़ी कमी थी तो इसलिए जब ट्रांसपोर्टेशन ऑफ गुड्स में फर्क पड़ा तो जो लोग इनका ट्रांसपोर्टेशन ऑफ गुड्स में लगे हुए थे वह लोग भी अनेक लेट हो गए तो मेरे साथ में जितने भी प्राइवेट सेक्टर के कहीं ना कहीं असर तो किया ही प्राइवेट सेक्टर पर स्लोगन MP लेट हो गए मोदी जी ने जब इतना बड़ा स्टेप लिया क्या डेमोनेटिसेशन इतना बड़ा स्टेंप है तो मोदी जी को कोई प्रकाशन रखना चाहिए था बैकअप रखना चाहिए था उसके लिए लेकिन मोदी जी ने नहीं किया तो मुझे लगता है कि इसमें कहीं ना कहीं गलती है और रही बात यह कब तक चलेगा हम तो इतना बड़ा स्टेंप है तो अब आपको बताया डिमोनेटाइजेशन डीमोनेटाइजेशन को हुए 1 साल से ऊपर हो चुका है तो आप जैसे प्राइवेट कंपनी जैसे वह इंडस्ट्रीज कि वह अपने वापस बैकअप वाला वापस अपनी पुरानी वाली लाइन पर आ रहे हैं अब इन चीजों में तो वापस लोग जो निकाले गए थे वह अपलोड हो रखें लेकिन अभी भी कहीं ना कहीं किसी रियल एस्टेट पर असर पड़ा है कहना कि अभी भी उसका असर दिखाई दे रहा है मुझे लगता है मोदी जी को इस चीज का जवाब देना चाहिए और कहीं ना कहीं इस चीज के पीछे ब्रेकअप रखे और प्रिकॉशन देना चाहिए जो लोग इससे ज्यादा विकेट हो चुके हैं

rajasthan main aapki baat se bilkul sahmat hoon ki private company bahut zyada asar hui hai dimonetaijeshan ke baad kaafi private logo ki naukriyan jinmein aur government sector ke logo ko kuch bhi nahi hua unki professional life mein koi asar nahi pada lekin private factory kaafi log aane mein late ho gaye uske peeche kai saare reason hai maloom pehle ek company private company utpadan karti thi saamaan uske baad 500 1000 kenot nahi hai kya kami thi toh usne saamaan ko banana band kar diya aur toh phir usse kya jholee bhar unke kaam karti thi unko paise nahi mile aisi kai saree cheezen aap jaise pehle jab dimonetaijeshan hua toh shaam alok saamaan kam kharid rahe the kyonki unko paison ki thodi kami thi toh isliye jab transportation of goods mein fark pada toh jo log inka transportation of goods mein lage hue the vaah log bhi anek late ho gaye toh mere saath mein jitne bhi private sector ke kahin na kahin asar toh kiya hi private sector par slogan MP late ho gaye modi ji ne jab itna bada step liya kya demonetiseshan itna bada stemp hai toh modi ji ko koi prakashan rakhna chahiye tha backup rakhna chahiye tha uske liye lekin modi ji ne nahi kiya toh mujhe lagta hai ki isme kahin na kahin galti hai aur rahi baat yah kab tak chalega hum toh itna bada stemp hai toh ab aapko bataya dimonetaijeshan dimonetaijeshan ko hue 1 saal se upar ho chuka hai toh aap jaise private company jaise vaah industries ki vaah apne wapas backup vala wapas apni purani wali line par aa rahe hain ab in chijon mein toh wapas log jo nikale gaye the vaah upload ho rakhen lekin abhi bhi kahin na kahin kisi real estate par asar pada hai kehna ki abhi bhi uska asar dikhai de raha hai mujhe lagta hai modi ji ko is cheez ka jawab dena chahiye aur kahin na kahin is cheez ke peeche breakup rakhe aur precaution dena chahiye jo log isse zyada wicket ho chuke hain

राजस्थान मैं आपकी बात से बिल्कुल सहमत हूं कि प्राइवेट कंपनी बहुत ज्यादा असर हुई है डिमोनेट

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  226
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!