क्या पावर शेयरिंग एक आत्मा है डेमोक्रेसी के लिए?...


play
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

0:52

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे विचार से डेमोक्रेसी यानी कि लोकतंत्र में पावर शेयरिंग काफी जरूरी होती है क्योंकि केंद्र और राज्य सरकारों के बीच सत्ता की साझेदारी अगर होती है तो इस से विभिन्न सामाजिक समूहों के बीच टकराव या फिर विरोध का अंदेशा काफी कम हो जाता है पावर शेयरिंग इसलिए भी जरुरी होती है डेमोक्रेसी में क्योंकि डेमोक्रेसी का मतलब ही है कि जो लोग इस आसन व्यवस्था से जुड़े हैं उनके बीच सत्ता को बांटा जाए तो इसीलिए हमारे देश में अगर हम देखें तो सत्ता की साझेदारी विधायिका और कार्यपालिका में मिल जाती है साथ ही साथ केंद्र और राज्य सरकारों के बीच भी पावर का शेयरिंग देखा जाता है पावर शेयरिंग से सरकार की नीतियों को रूट लेवल तक लागू करने में काफी मदद मिलती है इस पावर शेयरिंग डेमोक्रेसी की आत्मा के समान होती है

mere vichar se democracy yani ki loktantra mein power sharing kaafi zaroori hoti hai kyonki kendra aur rajya sarkaro ke beech satta ki sajhedari agar hoti hai toh is se vibhinn samajik samuho ke beech takraav ya phir virodh ka andesha kaafi kam ho jata hai power sharing isliye bhi zaroori hoti hai democracy mein kyonki democracy ka matlab hi hai ki jo log is aasan vyavastha se jude hain unke beech satta ko baata jaaye toh isliye hamare desh mein agar hum dekhen toh satta ki sajhedari vidhayika aur karyapalika mein mil jaati hai saath hi saath kendra aur rajya sarkaro ke beech bhi power ka sharing dekha jata hai power sharing se sarkar ki nitiyon ko root level tak laagu karne mein kaafi madad milti hai is power sharing democracy ki aatma ke saman hoti hai

मेरे विचार से डेमोक्रेसी यानी कि लोकतंत्र में पावर शेयरिंग काफी जरूरी होती है क्योंकि केंद

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  259
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Pragati

Aspiring Lawyer

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डेमोक्रेसी का मतलब होता है लोकतंत्र जहां सारी सत्ता यानी की पावर एक व्यक्ति या पार्टी के हाथ में नहीं होती इसे केंद्र और राज्य सरकार में बराबर बाटा जाता है सभी पार्टियों को हर फैसले में बराबरी का हक दिया जाता है उनके विचार भी सुने जाते हैं इसे हम पावर शेयरिंग कहते हैं तो यह कहना बिल्कुल सही होगा के पावर शेयरिंग डेमोक्रेसी की आत्मा होती है उसके बिना डेमोक्रेसी का काम करना बहुत ही नामुमकिन हो जाता है

democracy ka matlab hota hai loktantra jaha saree satta yani ki power ek vyakti ya party ke hath mein nahi hoti ise kendra aur rajya sarkar mein barabar bata jata hai sabhi partiyon ko har faisle mein barabari ka haq diya jata hai unke vichar bhi sune jaate hain ise hum power sharing kehte hain toh yah kehna bilkul sahi hoga ke power sharing democracy ki aatma hoti hai uske bina democracy ka kaam karna bahut hi namumkin ho jata hai

डेमोक्रेसी का मतलब होता है लोकतंत्र जहां सारी सत्ता यानी की पावर एक व्यक्ति या पार्टी के ह

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  192
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
पावर शेयरिंग ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!