हमारे देश को किसकी ज़रूरत पहले है- बुलेट ट्रेन की या भुखमरी मिटाने की?...


user

Ravi Sharma

Advocate

1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में जहां भुखमरी बेरोजगारी व गरीबी का प्रभाव चारों तरफ देखा जा सकता है ऐसे में बुलेट ट्रेन चलाने से पहले जरूरी है कि भारत की मूलभूत आवश्यकताएं जो है जैसे गरीब से गरीब इंसान की भूख मिटाना उनको रोजगार के समान अवसर प्रदान करना तथा शिक्षित बेरोजगारी को दूर करना पर सबसे अधिक महत्वपूर्ण है बजाय इसके कि हम आधुनिक मंच पर एक दिखावे के लिए बुलेट मेट्रो व अन्य परियोजनाओं को आडंबर जनता के सामने रखें परंतु यह भी उतना ही सत्य है कि भारत एक विकासशील अर्थव्यवस्था है वह अंतरराष्ट्रीय मंच पर भारत को एक अच्छा निवेश स्थल दिखाने के लिए पहुंच को शोकेस करने के लिए हमें जरूरी है कि हम अंतर्राष्ट्रीय मंच पर अति आधुनिक सुविधाओं को निवेशकों के समक्ष प्रस्तुत करें और इसी प्रकार से प्रस्तुत किया जा सकता है कि भारत में नवीन उत्तम टेक्नोलॉजी व तकनीक का प्रयोग भारत की जनता और भारत के राजनेता कर रहे हैं इसी के माध्यम से हम अंतर्राष्ट्रीय मंच पर भारत के अच्छी छवि बना सकते हैं परंतु यह भी उतना ही महत्वपूण है कि जितना निवेश अमित अत्याधुनिक परियोजनाओं में कर रहे हैं वह भी करदाताओं के पैसो से उतना ही निवेश हम करदाताओं के पैसों से उनके कल्याण के लिए भी करें आज कर दाता सबसे अधिक वंचित है स्वास्थ्य रोजगार व शिक्षा जैसी जरूरी व मूलभूत आवश्यकताओं के लिए उनकी आवश्यकता है पूरा होना भी उतना ही महत्वपूण जितना इन अत्याधुनिक सुविधाओं का निर्माण होना अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय मंच पर धन्यवाद

bharat mein jahan bhukhmari berojgari v gareebi ka prabhav charo taraf dekha ja sakta hai aise mein bullet train chalane se pehle zaroori hai ki bharat ki mulbhut aavashyakataen jo hai jaise garib se garib insaan ki bhukh mitana unko rojgar ke saman avsar pradan karna tatha shikshit berojgari ko dur karna par sabse adhik mahatvapurna hai bajay iske ki hum aadhunik manch par ek dikhaave ke liye bullet metro v anya pariyojanaon ko aandabar janta ke saamne rakhen parantu yah bhi utana hi satya hai ki bharat ek vikasshil arthavyavastha hai vaah antararashtriya manch par bharat ko ek accha nivesh sthal dikhane ke liye pahunch ko showcase karne ke liye hamein zaroori hai ki hum antarrashtriya manch par ati aadhunik suvidhaon ko niveshako ke samaksh prastut karen aur isi prakar se prastut kiya ja sakta hai ki bharat mein naveen uttam technology v takneek ka prayog bharat ki janta aur bharat ke raajneta kar rahe hain isi ke madhyam se hum antarrashtriya manch par bharat ke achi chhavi bana sakte hain parantu yah bhi utana hi mahatwapun hai ki jitna nivesh amit atyadhunik pariyojanaon mein kar rahe hain vaah bhi kardataon ke paiso se utana hi nivesh hum kardataon ke paison se unke kalyan ke liye bhi karen aaj kar data sabse adhik vanchit hai swasthya rojgar v shiksha jaisi zaroori v mulbhut avashayaktaon ke liye unki avashyakta hai pura hona bhi utana hi mahatwapun jitna in atyadhunik suvidhaon ka nirmaan hona antararashtriya aur rashtriya manch par dhanyavad

भारत में जहां भुखमरी बेरोजगारी व गरीबी का प्रभाव चारों तरफ देखा जा सकता है ऐसे में बुलेट ट

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  265
KooApp_icon
WhatsApp_icon
21 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!