क्या कांग्रेस की नरेगा योजना मील का पत्थर साबित हुई है गांव के गरीब लोगों के लिए?...


user
0:56
Play

Likes  2  Dislikes    views  24
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

sourabh

Mechanical engineer

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे तो ऐसा नहीं लगता क्योंकि नरेगा के अंदर कुछ भी नहीं होता लोग सुबह 8:00 बजे जाते हैं और 10:00 बजे वापस चले आते हैं वहां कुछ भी नहीं करते एक तरह की वीडियो उठा कर दूसरे को डाल देते हैं ऐसा कुछ भी नहीं हमें तो यह लगता है कि यह एक तरह की एक फ्रॉड स्कीम की सबसे बड़ी बात है हम खुद गांव में रहते हैं तो हम देखते हैं कि लोग जाते हैं और कुछ लोग को जानते भी नहीं हैं और अपनी हाजिरी लगा देते हो आधे पैसे मेट को दे देते हो राधे खुद ले लेते हैं तो मुझे नहीं लगता यह कांग्रेस के लिए योजना 1 मील का पत्थर है

mujhe toh aisa nahi lagta kyonki nrega ke andar kuch bhi nahi hota log subah 8 00 baje jaate hain aur 10 00 baje wapas chale aate hain wahan kuch bhi nahi karte ek tarah ki video utha kar dusre ko daal dete hain aisa kuch bhi nahi hamein toh yah lagta hai ki yah ek tarah ki ek fraud scheme ki sabse badi baat hai hum khud gaon mein rehte hain toh hum dekhte hain ki log jaate hain aur kuch log ko jante bhi nahi hain aur apni hajiri laga dete ho aadhe paise mate ko de dete ho radhe khud le lete hain toh mujhe nahi lagta yah congress ke liye yojana 1 meal ka patthar hai

मुझे तो ऐसा नहीं लगता क्योंकि नरेगा के अंदर कुछ भी नहीं होता लोग सुबह 8:00 बजे जाते हैं और

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  133
WhatsApp_icon
play
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

1:02

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कांग्रेस द्वारा 25 अगस्त 2005 को पारित किया गया नरेगा योजना एक बहुत ही अच्छा कानून सांवरिया मील का पत्थर साबित हुआ है गरीब लोगों के लिए क्योंकि इस कानून के आने के बाद सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम भत्ते पर किसी भी ग्रामीण परिवार के व्यस्त को 2 दिन के लिए रोजगार मिल जाता है और अगर दो दिनों के लिए एक गरीब परिवार के व्यस्त को रोजगार मिल रहा है तो वह इनसो दिनों में काम करके कुछ पैसे अपने परिवार के लिए कमा सकते हैं जिससे उसकी आर्थिक स्थिति सुधर सकती है तो यह कानून प्राथमिक तौर पर गरीबी रेखा से नीचे रह रहे और दीया और कुशल ग्रामीण लोगों की क्रय शक्ति यानी कि उनकी खरीदने की शक्ति को बढ़ाने के उद्देश्य के साथ शुरू किया गया था यह देश में अमीरी और गरीबी के बीच या गरीबों के बीच की दूरी को कम करने का प्रयास था तो मेरे हिसाब से अगर नरेगा योजना नहीं आती तो गरीबों की स्थिति और भी खराब हो जाती और उन्हें रोजगार बिल्कुल भी नहीं ईमेल पता

congress dwara 25 august 2005 ko paarit kiya gaya nrega yojana ek bahut hi accha kanoon sanwariya meal ka patthar saabit hua hai garib logo ke liye kyonki is kanoon ke aane ke baad sarkar dwara nirdharit ninuntam bhatte par kisi bhi gramin parivar ke vyast ko 2 din ke liye rojgar mil jata hai aur agar do dino ke liye ek garib parivar ke vyast ko rojgar mil raha hai toh vaah inaso dino mein kaam karke kuch paise apne parivar ke liye kama sakte hain jisse uski aarthik sthiti sudhar sakti hai toh yah kanoon prathmik taur par garibi rekha se niche reh rahe aur diya aur kushal gramin logo ki kray shakti yani ki unki kharidne ki shakti ko badhane ke uddeshya ke saath shuru kiya gaya tha yah desh mein amiri aur garibi ke beech ya garibon ke beech ki doori ko kam karne ka prayas tha toh mere hisab se agar nrega yojana nahi aati toh garibon ki sthiti aur bhi kharab ho jaati aur unhe rojgar bilkul bhi nahi email pata

कांग्रेस द्वारा 25 अगस्त 2005 को पारित किया गया नरेगा योजना एक बहुत ही अच्छा कानून सांवरिय

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  189
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!