क्या सिविल सेवा के लिए ऑप्शनल विषय के रूप में आर्किटेक्चर को प्राथमिकता दी जा सकती है?...


user

Dr. Guddy Kumari

UPSC Coach / Ph.d

0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपने कहा कि क्या सिविल सेवा के लिए ऑप्शनल विषय के रूप में आर्किटेक्चर को प्राथमिकता दी जा सकती है आप गूगल पर जाइए यूपीसी का ऑफिशल वेबसाइट है उसको खोलिए उसमें देखिए कि यूपीएससी के एक लिस्ट जो है सब्जेक्ट का लिस्ट उसने आर्किटेक्चर आता है यदि आप ट्रैक्टर आता है तो आप ऑप्शन के रूप में वह सब्जेक्ट ले सकते हैं अब कितनी प्राथमिकता दी जाती है इस बात पर यूपीएससी टारगेट नहीं करता है यह टारगेट करता है कि आपको उस विषय में आप की नॉलेज क्या है आप क्या क्वेश्चन क्लियर कर पाते हैं यह मैनपाट है ऐसा नहीं है किसी सब्जेक्ट को ज्यादा तरजीह दी जाती है कि सब्जेक्ट को नहीं ऐसा कुछ नहीं है आप उसी सब्जेक्ट को ऑप्शन के रूप में चुने जिस पर आप की पकड़ अच्छी हो धन्यवाद

namaskar aapne kaha ki kya civil seva ke liye optional vishay ke roop me architecture ko prathamikta di ja sakti hai aap google par jaiye UPC ka official website hai usko kholiye usme dekhiye ki upsc ke ek list jo hai subject ka list usne architecture aata hai yadi aap tractor aata hai toh aap option ke roop me vaah subject le sakte hain ab kitni prathamikta di jaati hai is baat par upsc target nahi karta hai yah target karta hai ki aapko us vishay me aap ki knowledge kya hai aap kya question clear kar paate hain yah mainpat hai aisa nahi hai kisi subject ko zyada tarajih di jaati hai ki subject ko nahi aisa kuch nahi hai aap usi subject ko option ke roop me chune jis par aap ki pakad achi ho dhanyavad

नमस्कार आपने कहा कि क्या सिविल सेवा के लिए ऑप्शनल विषय के रूप में आर्किटेक्चर को प्राथमिकत

Romanized Version
Likes  264  Dislikes    views  4170
WhatsApp_icon
9 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dhananjay Kumar

government

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सुप्रभात सिविल सेवा के लिए ऑप्शनल सब्जेक्ट में आप किसी भी विषय को चुन सकते हैं अपितु ध्यान रखें कि आप तो सुन रहे हैं उसमें आपकी रुचि कितनी है उसमें आप कितना ज्यादा उसको जानते हैं और कितना अच्छा कर सकते हैं आप जितना अच्छा करेंगे जितना आगे बढ़ना चाहेंगे अपॉर्चुनिटी आपके हाथ में आपके सामने आप कर सकते हैं आपका दिन मंगलमय हो

suprabhat civil seva ke liye optional subject me aap kisi bhi vishay ko chun sakte hain apitu dhyan rakhen ki aap toh sun rahe hain usme aapki ruchi kitni hai usme aap kitna zyada usko jante hain aur kitna accha kar sakte hain aap jitna accha karenge jitna aage badhana chahenge opportunity aapke hath me aapke saamne aap kar sakte hain aapka din mangalmay ho

सुप्रभात सिविल सेवा के लिए ऑप्शनल सब्जेक्ट में आप किसी भी विषय को चुन सकते हैं अपितु ध्यान

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  314
WhatsApp_icon
user

Kumar Raghav

Career Counsellor Cum Motivational Speaker

2:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मक्का क्वेश्चन है क्या सिविल सेवा के लिए ऑप्शनल विषय के रूप में आर्किटेक्चर को प्राथमिकता दी जा सकती है आर्किटेक्चर में सब्जेक्ट कौन सा है आपका और प्रथम प्राथमिकता तो मिल जाएगी लेकिन आ क्योंकि इसके लिए ग्रेजुएट होना मस्त है और जहां तक बात रही ऑप्शनल सब्जेक्ट के बारे में तो आप यूपीएससी के साइड में www.uppsc.org.in वहां पर जाकर टोटल मेंस के लिए 44 सब्जेक्ट होते हैं 44 सब्जेक्ट में से आप कोई भी एक सब्जेक्ट रख सकते हैं और उसमें से आपका बीटेक इंजीनियरिंग यह सब जो भी हो वह सब जल्दी से आपने ग्रेजुएशन किया है वह सब जग रख सकता हूं आप कर सकते हैं प्रिपरेशन और पीटी का जातक बात है प्राइमरी मनली एग्जामिनेशन और पीटी के लिए कपड़ा प्राइमरी एग्जामिनेशन के लिए आपको उसमें 2 पेपर होते हैं जीएस पेपर वन और सीसैट पेपर होता है रिपोर्ट दो आज एसपी पवन 2 वर्ष के लिए टू हंड्रेड मार्क्स एंड हार्ड क्वेश्चन का होता है और सीसैट पेपर 2 था यह फर्स्ट सेटिंग में देश में पवन होता है सेकंड सीटिंग में सीसैट पेपर होता सिविल सर्विस एटीट्यूड टेस्ट यह भी टू आवर क्वेश्चन एंड होता है तो फिर आपका मेंस के लिए आप को आप लाइक करते हैं उसके लिए मेंस में अप्लाई करने से पहले कुछ चीजों को ध्यान में रखना जरूरी है क्योंकि ऑप्शनल सब्जेक्ट के बारे में यह रखना पड़ता उस सब्जेक्ट जो ऑप्शनल सब्जेक्ट के लिए आपको जिस सब्जेक्ट से आपने ग्रेजुएशन फाइनल किया जाए और बीटेक एमटेक हो या जिससे भी किया ग्रेजुएशन हो किसी भी स्ट्रीम से कैंडिडेट पूछते के पास परसेंटेज भी जरूरी है क्या देखे परसेंटेज का कोई आवश्यक भी तो नियम ही बना है वह परसेंटेज नहीं ग्रेजुएशन होना चाहिए ग्रेजुएशन पास ग्रेजुएट होना चाहिए पास आउट कैंडिडेट अप्लाई कर सकते हैं

makka question hai kya civil seva ke liye optional vishay ke roop me architecture ko prathamikta di ja sakti hai architecture me subject kaun sa hai aapka aur pratham prathamikta toh mil jayegi lekin aa kyonki iske liye graduate hona mast hai aur jaha tak baat rahi optional subject ke bare me toh aap upsc ke side me www uppsc org in wahan par jaakar total mains ke liye 44 subject hote hain 44 subject me se aap koi bhi ek subject rakh sakte hain aur usme se aapka btech Engineering yah sab jo bhi ho vaah sab jaldi se aapne graduation kiya hai vaah sab jag rakh sakta hoon aap kar sakte hain preparation aur PT ka jatak baat hai primary manali examination aur PT ke liye kapda primary examination ke liye aapko usme 2 paper hote hain GS paper van aur csat paper hota hai report do aaj SP pawan 2 varsh ke liye to hundred marks and hard question ka hota hai aur csat paper 2 tha yah first setting me desh me pawan hota hai second Seating me csat paper hota civil service attitude test yah bhi to hour question and hota hai toh phir aapka mains ke liye aap ko aap like karte hain uske liye mains me apply karne se pehle kuch chijon ko dhyan me rakhna zaroori hai kyonki optional subject ke bare me yah rakhna padta us subject jo optional subject ke liye aapko jis subject se aapne graduation final kiya jaaye aur btech Mtech ho ya jisse bhi kiya graduation ho kisi bhi stream se candidate poochhte ke paas percentage bhi zaroori hai kya dekhe percentage ka koi aavashyak bhi toh niyam hi bana hai vaah percentage nahi graduation hona chahiye graduation paas graduate hona chahiye paas out candidate apply kar sakte hain

मक्का क्वेश्चन है क्या सिविल सेवा के लिए ऑप्शनल विषय के रूप में आर्किटेक्चर को प्राथमिकता

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  93
WhatsApp_icon
user

Ansh jalandra

Motivational speaker & criminal lawyer

0:20
Play

Likes  108  Dislikes    views  1057
WhatsApp_icon
user
1:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या सिविल सेवा के लिए ऑप्शनल विषय के रूप में आर्किटेक्चर को प्राथमिकता दी जा सकती है मैं पुनः आपको एक बार स्मरण कराना चाहूंगा कि ऑप्शनल ऐसा विषय होता है जो किसी के कहने से या किसी के सलाह और सुझाव से प्राथमिकता नहीं दी जा सकती है बल्कि आपके अपने नॉलेज से उसे प्राथमिकता दी जा सकती है क्या जिस विषय को आप ऑप्शनल विषय के रूप में सिलेक्ट करते हैं क्या उस पर आप की पकड़ मजबूत है या नहीं क्या उस पर टीका और टिप्पणी करने की स्थिति में है कि नहीं यह अनिवार्य नहीं है कि उस विषय में आप महारथी हो टीका टिप्पणी कर ले ऐसी बात नहीं लेकिन अगर उस पर प्रश्न देकर उस विषय में और आपसे पूछा जाए कि आपके अनुसार इस विषय में 20 शब्दों को जोड़िए अपने अनुसार तो क्या आप पर एक शिविर आयोजित सिविल सर्वेंट की तरह क्या तारीख रूप से अपने शब्दों को जोड़ने में समर्थ है कि नहीं अगर ऐसा है तो कोई भी तय हो एनी जितने भी सहयोग इसी में शामिल कर अपने के लिए लिस्ट दी गई है कोई भी विषय पर आ प्राथमिकता दे सकते हैं और अच्छे अंक भी अर्जित किए जा सकते हैं और सलेक्शन में कहीं न कहीं बहुत बड़ा मायने रखता है ऑप्शनल विषय आपका क्योंकि जीएस में एक समान नंबर उठते हैं और यही ऑप्शनल के नंबर से ही कहीं-कहीं सलेक्शन की मजबूत पहलू कदम उठते हैं जो आपको मंजिल के करीब पहुंचाते हैं तो इसको हमेशा ध्यान रखें और इसके लिए जो सबसे बढ़िया उपाय है कि अनुसार पेपर ले करके आप उन प्रश्नों को जवाब देने का प्रयास कीजिए आपको पता है सासू जाएगा कि कौन सी विषय को कब और कितनी बढ़िया कितनी सच में आप की पकड़ है यही भी से चलकर कि कहीं न कहीं इंटरव्यू में भी बड़ा मायने रखता है तो उम्मीद करता हूं आपको समझ में आया

kya civil seva ke liye optional vishay ke roop me architecture ko prathamikta di ja sakti hai main punh aapko ek baar smaran krana chahunga ki optional aisa vishay hota hai jo kisi ke kehne se ya kisi ke salah aur sujhaav se prathamikta nahi di ja sakti hai balki aapke apne knowledge se use prathamikta di ja sakti hai kya jis vishay ko aap optional vishay ke roop me select karte hain kya us par aap ki pakad majboot hai ya nahi kya us par tika aur tippani karne ki sthiti me hai ki nahi yah anivarya nahi hai ki us vishay me aap maharathi ho tika tippani kar le aisi baat nahi lekin agar us par prashna dekar us vishay me aur aapse poocha jaaye ki aapke anusaar is vishay me 20 shabdon ko jodiye apne anusaar toh kya aap par ek shivir ayojit civil servant ki tarah kya tarikh roop se apne shabdon ko jodne me samarth hai ki nahi agar aisa hai toh koi bhi tay ho any jitne bhi sahyog isi me shaamil kar apne ke liye list di gayi hai koi bhi vishay par aa prathamikta de sakte hain aur acche ank bhi arjit kiye ja sakte hain aur selection me kahin na kahin bahut bada maayne rakhta hai optional vishay aapka kyonki GS me ek saman number uthte hain aur yahi optional ke number se hi kahin kahin selection ki majboot pahaloo kadam uthte hain jo aapko manjil ke kareeb pahunchate hain toh isko hamesha dhyan rakhen aur iske liye jo sabse badhiya upay hai ki anusaar paper le karke aap un prashnon ko jawab dene ka prayas kijiye aapko pata hai sasu jaega ki kaun si vishay ko kab aur kitni badhiya kitni sach me aap ki pakad hai yahi bhi se chalkar ki kahin na kahin interview me bhi bada maayne rakhta hai toh ummid karta hoon aapko samajh me aaya

क्या सिविल सेवा के लिए ऑप्शनल विषय के रूप में आर्किटेक्चर को प्राथमिकता दी जा सकती है मैं

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  71
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने का क्या चूरू सेवा के लिए अपने विचार के रूप में आरती ट्रैक्टर को प्रार्थना जी तारक मेहता दी जा सकती है बिल्कुल भी आ सकते आर्किटेक्चर एक सब्जेक्ट है जो बीएससी आर्किटेक्चर याबिटेक आर्किटेक्चर या ग्रीनचैन आर्किटेक्चर के रूप में चुना जा सकता है

apne ka kya churu seva ke liye apne vichar ke roop me aarti tractor ko prarthna ji taarak mehta di ja sakti hai bilkul bhi aa sakte architecture ek subject hai jo bsc architecture yabitek architecture ya grinachain architecture ke roop me chuna ja sakta hai

अपने का क्या चूरू सेवा के लिए अपने विचार के रूप में आरती ट्रैक्टर को प्रार्थना जी तारक मेह

Romanized Version
Likes  426  Dislikes    views  3597
WhatsApp_icon
play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तू अकेला पार्टी बच्चों की आपने किसने किया है तो आप आगे तो नहीं कर पाओगे

tu akela party bacchon ki aapne kisne kiya hai toh aap aage toh nahi kar paoge

तू अकेला पार्टी बच्चों की आपने किसने किया है तो आप आगे तो नहीं कर पाओगे

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  453
WhatsApp_icon
user

Pragti Tripathi

upsc Aspirant Motivational Speaker For Small Stages

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए सिविल सेवा में उसी सब्जेक्ट को रखते हैं कि जिसमें लोगों का इंटरेस्ट हो ठीक है फॉर पर्सनल के रूप में प्राप्त नहीं दी जाएगी हमारे मन में जो भी सब्जेक्ट हैं उन सभी सब्जेक्ट को सारे स्टूडेंट वाकिफ हुए रहते हैं ठीक है तू उनको थोड़ा दिक्कत नहीं होती है ठीक है और लेट नहीं कर पाता ठीक है इस सब्जेक्ट नहीं कर पाता तो हमारी के आप हर इंसान कहीं ना कहीं उसको वह पढ़ा हुआ होता है ठीक है

dekhiye civil seva me usi subject ko rakhte hain ki jisme logo ka interest ho theek hai for personal ke roop me prapt nahi di jayegi hamare man me jo bhi subject hain un sabhi subject ko saare student wakif hue rehte hain theek hai tu unko thoda dikkat nahi hoti hai theek hai aur late nahi kar pata theek hai is subject nahi kar pata toh hamari ke aap har insaan kahin na kahin usko vaah padha hua hota hai theek hai

देखिए सिविल सेवा में उसी सब्जेक्ट को रखते हैं कि जिसमें लोगों का इंटरेस्ट हो ठीक है फॉर पर

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  132
WhatsApp_icon
user

Pooja mahajan

Work At Bank

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका क्वेश्चन है क्या सिविल सेवा के लिए ऑप्शनल विषय के रूप में आर्किटेक्चर को प्राथमिकता दी जा सकती है लेकिन सबसे पहले मैं आपसे यह कहूंगी कि जो सिविल परीक्षार्थियों को आर्किटेक्चर के साथ लेटे ही नहीं मैंने पहले भी आए क्वेश्चन में बोला था कि जो आर्किटेक्चर की जोड़ी होती है जो आर्किटेक्चर के जो सब्जेक्ट होता वह सेवा में कहीं भी रिलेटेड नहीं है उसको प्रेस प्रेस कैसे दोगे यह बिल्कुल गलत है जो सिविल सेवा की परीक्षा होती है वह सिर्फ और सिर्फ कानून की अपेक्षा होती है ना कि कोई आर्किटेक्चर की जाए कोई ऐसी ऐसी खुशी प्रोफेशन की कि आप किसी को भी प्रवचन दे सकते हो ठीक है आर्किटेक्चर की जो छोटी होती आर्किटेक्चर का जो होता है वह इंसुलेटेड नहीं है यह बिल्कुल आपने गलत आग क्वेश्चन में आज क्या हुआ आर्किटेक्चर होता है एक कला है जो सिविल सेवा में कहीं भी संबंधित नहीं है सो प्लीज आर्किटेक्चर को सिविल सेवा से अलग ही रखी है धन्यवाद

namaskar aapka question hai kya civil seva ke liye optional vishay ke roop me architecture ko prathamikta di ja sakti hai lekin sabse pehle main aapse yah kahungi ki jo civil pariksharthiyon ko architecture ke saath lete hi nahi maine pehle bhi aaye question me bola tha ki jo architecture ki jodi hoti hai jo architecture ke jo subject hota vaah seva me kahin bhi related nahi hai usko press press kaise doge yah bilkul galat hai jo civil seva ki pariksha hoti hai vaah sirf aur sirf kanoon ki apeksha hoti hai na ki koi architecture ki jaaye koi aisi aisi khushi profession ki ki aap kisi ko bhi pravachan de sakte ho theek hai architecture ki jo choti hoti architecture ka jo hota hai vaah insulated nahi hai yah bilkul aapne galat aag question me aaj kya hua architecture hota hai ek kala hai jo civil seva me kahin bhi sambandhit nahi hai so please architecture ko civil seva se alag hi rakhi hai dhanyavad

नमस्कार आपका क्वेश्चन है क्या सिविल सेवा के लिए ऑप्शनल विषय के रूप में आर्किटेक्चर को प्रा

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  120
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!