क्या पिछले कुछ वर्षों में UPSC CSE प्रीलिम्स को क्लियर करना वास्तव में बहुत कठिन है?...


user
0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रेसिडेंट मेंढक का बंगाली मिठाई यूपीसी कब खुलेगी अच्छा तो यह है कि इसके अलावा सीसैट के लिए मैक्सविजन इंग्लिश पंचायत बुड्ढों की डिबेट टॉपिक टेंपरेचर

resident mendak ka bengali mithai UPC kab khulegi accha toh yah hai ki iske alava csat ke liye maiksavijan english panchayat buddhon ki debate topic temperature

रेसिडेंट मेंढक का बंगाली मिठाई यूपीसी कब खुलेगी अच्छा तो यह है कि इसके अलावा सीसैट के लिए

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  201
WhatsApp_icon
11 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

PRAMOD KUMAR

Retired IFS Officer | Advisor to TRIFED

2:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने भाषण का किया कि पिछले कुछ वर्षों में स्थित सिविल पुलिस के अनुसार करना बिल्कुल सही बात है क्योंकि आप हो साला देखेंगे शीतल का एग्जाम कमांडो 1000 का वैकेंसी है तो 10 से लेकर 12000 तक को चयनित किया जाएगा आपको मेंस एग्जाम देने के लिए उससे अनुमान लगा सकते कि त्रिकटु 500000 से आपको 10 से 12000 का नंबर आपको पता है ऊपर वाले कमरे अथवा नौकरी से शोषित होते 200 बार का 200 से आपका 105ce 102 सब को कम-से-कम लाना पड़ेगा लक्ष्य का लास्ट कट ऑफ मार्क जाता है कोई अपने जज़्बात बिल्कुल नहीं करेगी बस बहुत हो जाता है तो वह अंतर्गत और उसको तैयारी बहुत ही बढ़िया से करें जिसका बारिश से पढ़े पूरा शीला बस एक बार देख ले और उसके बेसिक इतना तो आपको पता है इन सिटी में किताबों को पढ़ने के लिए उसके साथ साथ और किताब के साथ आपको सप्लीमेंट करना पड़ेगी आपका पूरा जीएस का जो पेपर है वह किसका सिलावट और पुलिस दोनों को एक साथ दर्शन करवाता को डिस्टर्ब हो जाएंगे जो व्यक्ति को सुख आएगा उसमें इतनी बारीक का अंतर होता है उल्टा चश्मा पूरा करो नहीं हो तो आप उसको और नहीं कर पाएंगे थोड़ा सीरियसली चाहिए इंटेलिजेंट मैंने अभी प्लांट में में रिवीजन चाहिए करंट अफेयर्स कपूर पूरा ग्रुप होनी चाहिए और सभी शब्द का प्रयोग इकोनॉमिक्स स्टैटिसटिक्स ओं रेंट प्रोग्राम जो है कमेंट के बारे में हो सदा खुश हो जाता है और ऊपर से तो मैंने बता दिया 500000 शाम को 10:15 तक आने में जाना है 10000 के अंदर में तो आप अनुमान लगा सकते कि बदला

apne bhashan ka kiya ki pichle kuch varshon me sthit civil police ke anusaar karna bilkul sahi baat hai kyonki aap ho sala dekhenge shital ka exam commando 1000 ka vacancy hai toh 10 se lekar 12000 tak ko chayanit kiya jaega aapko mains exam dene ke liye usse anumaan laga sakte ki trikatu 500000 se aapko 10 se 12000 ka number aapko pata hai upar waale kamre athva naukri se shoshit hote 200 baar ka 200 se aapka 105ce 102 sab ko kam se kam lana padega lakshya ka last cut of mark jata hai koi apne jazbat bilkul nahi karegi bus bahut ho jata hai toh vaah antargat aur usko taiyari bahut hi badhiya se kare jiska barish se padhe pura shila bus ek baar dekh le aur uske basic itna toh aapko pata hai in city me kitabon ko padhne ke liye uske saath saath aur kitab ke saath aapko supplement karna padegi aapka pura GS ka jo paper hai vaah kiska silavat aur police dono ko ek saath darshan karwata ko disturb ho jaenge jo vyakti ko sukh aayega usme itni baarik ka antar hota hai ulta chashma pura karo nahi ho toh aap usko aur nahi kar payenge thoda seriously chahiye Intelligent maine abhi plant me me revision chahiye current affairs kapur pura group honi chahiye aur sabhi shabd ka prayog economics statistic on rent program jo hai comment ke bare me ho sada khush ho jata hai aur upar se toh maine bata diya 500000 shaam ko 10 15 tak aane me jana hai 10000 ke andar me toh aap anumaan laga sakte ki badla

अपने भाषण का किया कि पिछले कुछ वर्षों में स्थित सिविल पुलिस के अनुसार करना बिल्कुल सही बात

Romanized Version
Likes  964  Dislikes    views  7282
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

1:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में यूपीएससी सीएसई प्रे को क्लियर करना मास्टर में बात करेंगे मैं जानना चाहूंगा आपने क्यों सुंदरबों में कहा कि वह कठिन है प्रश्न पूछने के तरीके या प्रश्न कठिन या प्रश्न सिलेबस से बाहर या प्रश्न कैसे हैं पाठ्य पुस्तक पर आधारित गुनाहों का करंट सिचुएशन पर आधारित प्रश्न ऐसे ही दिन की भाषा समझ में नहीं आती क्या प्रश्न ऐसे हैं जो टाइम कंजूमिंग कोई तो कारण होगा जो भी कारण आपकी लिस्ट बनाइए और एक के कानून को मिटाने की कोशिश कीजिए क्योंकि साल में एक बार मिलने का एग्जाम होता है उन कारणों को नोट कीजिए 365 दिन का टाइम मिलता है 365 भी कारण होंगे तो 1 दिन में एक कांड मिल जाएगा लेकिन मैं मानता हूं कि किसी परीक्षा को सफल करने के लिए केवल 7 से 17 कारण होते हैं अधिकतम चर्चा कारण था तो इंसान निर्मिती जिसके पास सट्टा कारण है और सात कारण होते हैं जो इंसान थे उसकी सब कुछ करने के बावजूद उसे चुप हो जाती है हिंदी सुधार कीजिए और यह स्टेटमेंट की बहुत कठिन है फिर बताइए क्या

aapne kaha ki pichle kuch varshon me upsc cse prey ko clear karna master me baat karenge main janana chahunga aapne kyon sundarabon me kaha ki vaah kathin hai prashna poochne ke tarike ya prashna kathin ya prashna syllabus se bahar ya prashna kaise hain pathy pustak par aadharit gunaho ka current situation par aadharit prashna aise hi din ki bhasha samajh me nahi aati kya prashna aise hain jo time kanjuming koi toh karan hoga jo bhi karan aapki list banaiye aur ek ke kanoon ko mitane ki koshish kijiye kyonki saal me ek baar milne ka exam hota hai un karanon ko note kijiye 365 din ka time milta hai 365 bhi karan honge toh 1 din me ek kaand mil jaega lekin main maanta hoon ki kisi pariksha ko safal karne ke liye keval 7 se 17 karan hote hain adhiktam charcha karan tha toh insaan nirmiti jiske paas satta karan hai aur saat karan hote hain jo insaan the uski sab kuch karne ke bawajud use chup ho jaati hai hindi sudhaar kijiye aur yah statement ki bahut kathin hai phir bataiye kya

आपने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में यूपीएससी सीएसई प्रे को क्लियर करना मास्टर में बात करेंगे

Romanized Version
Likes  383  Dislikes    views  5288
WhatsApp_icon
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या पिछले कुछ वर्षों में यूपीएससी सीएसई प्रीलिम्स को किया करना वास्तव में बहुत कठिन है पूरी कठिन नहीं है चिंता करने हैं और उसके लक्ष्य पर निरंतर प्रयास करते रहेंगे समय का सदुपयोग करते रहेंगे अपनी काबिलियत विश्लेषणात्मक क्षमता अपना सामान्य ज्ञान अपना व्यक्तित्व को प्रमाणित करते रहे कोई कारण नहीं है यूपीएससी सीआपीएफ न कर सकें बैलेंस किया है आपके जैसे विद्यार्थी हैं इन्होंने एग्जाम क्लियर की साइकिल

kya pichle kuch varshon me upsc cse prilims ko kiya karna vaastav me bahut kathin hai puri kathin nahi hai chinta karne hain aur uske lakshya par nirantar prayas karte rahenge samay ka sadupyog karte rahenge apni kabiliyat vishleshanatmak kshamta apna samanya gyaan apna vyaktitva ko pramanit karte rahe koi karan nahi hai upsc siaapief na kar sake balance kiya hai aapke jaise vidyarthi hain inhone exam clear ki cycle

क्या पिछले कुछ वर्षों में यूपीएससी सीएसई प्रीलिम्स को किया करना वास्तव में बहुत कठिन है पू

Romanized Version
Likes  386  Dislikes    views  3330
WhatsApp_icon
user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज के दिन रात मेहनत करनी पड़ेगी और खुशी कीजिए अपने लक्ष्य को केंद्रित करने के आ जा कर पाते हैं तो आपको क्लियर कर पाए

aaj ke din raat mehnat karni padegi aur khushi kijiye apne lakshya ko kendrit karne ke aa ja kar paate hain toh aapko clear kar paye

आज के दिन रात मेहनत करनी पड़ेगी और खुशी कीजिए अपने लक्ष्य को केंद्रित करने के आ जा कर पाते

Romanized Version
Likes  374  Dislikes    views  2569
WhatsApp_icon
user

Ansh jalandra

Motivational speaker & criminal lawyer

0:29
Play

Likes  123  Dislikes    views  1850
WhatsApp_icon
user

Avdesh Pratap Soam

Content Writer

4:06
Play

Likes  18  Dislikes    views  427
WhatsApp_icon
play
user

Ankit Shrivastava

Director at The SkyHigh IAS

2:01

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई भी इंसान को क्लियर करने के लिए हमें उसकी तैयारी करना बहुत जरूरी अच्छे लोग एग्जाम दे रहे हैं उसमें से केवल 15000 लोग सिलेक्ट हो रहे हैं तो ऑफिस में कंपटीशन तो बहुत ज्यादा टैलेंट एक्जाम मैटेरियल पूरा मार्केट में सबके लिए तुम मेरे लिए भी आपके लिए भी पूरे भारत में हर किसी के लिए फ्रेम मटेरियल बनाने का तरीका और हमें फिल्म की तैयारी के लिए मोस्ट इंपोर्टेंट यह पता होना चाहिए क्या नहीं करना है क्या करना है यह तो पता नहीं पड़ना ही प्रॉब्लम हो जाती है अगर हमने बहुत ज्यादा पढ़ लिया बहुत ज्यादा लैंड बेनिफिट एनालिसिस कर ना आना इस गोइंग टो टेक ए साइकोलॉजी साइकोलॉजी में कम से कम 10 क्वेश्चन आंसर करंट अफेयर्स अपने दिल्ली किए हैं आप नाजिम से तो करिए मैं तुमसे करना बुरी बात नहीं है लेकिन हमें दिल्ली अगर आपने करंट पड़ेंगे न्यूज़पेपर पढ़ा है या अलग फिल्म करने के लिए बिल्कुल सक्षम रहेंगे एग्जाम के 1 दिन पहले तक और एग्जाम भी आएंगे निकाल कर

koi bhi insaan ko clear karne ke liye hamein uski taiyari karna bahut zaroori acche log exam de rahe hain usme se keval 15000 log select ho rahe hain toh office mein competition toh bahut zyada talent exam material pura market mein sabke liye tum mere liye bhi aapke liye bhi poore bharat mein har kisi ke liye frame material banane ka tarika aur hamein film ki taiyari ke liye most important yah pata hona chahiye kya nahi karna hai kya karna hai yah toh pata nahi padhna hi problem ho jaati hai agar humne bahut zyada padh liya bahut zyada land benefit analysis kar na aana is going toe take a psychology psychology mein kam se kam 10 question answer current affairs apne delhi kiye hain aap najim se toh kariye main tumse karna buri baat nahi hai lekin hamein delhi agar aapne current padenge Newspaper padha hai ya alag film karne ke liye bilkul saksham rahenge exam ke 1 din pehle tak aur exam bhi aayenge nikaal kar

कोई भी इंसान को क्लियर करने के लिए हमें उसकी तैयारी करना बहुत जरूरी अच्छे लोग एग्जाम दे रह

Romanized Version
Likes  66  Dislikes    views  1118
WhatsApp_icon
user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

1:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या पिछले कुछ वर्षों से यूपीएससी सीएसई प्रीलिम्स का क्लियर करना वास्तव में बहुत कठिन बिल्कुल नहीं हुआ भाई आपको लग रहा होगा कुछ जोशी एक शर्ट का पेपर जोड़ा गया है उसमें थोड़ा सा प्रॉब्लम होती होगी लेकिन क्वालीफाइंग आ जाते हैं तब आपको और जनरल नॉलेज का पहला प्रीलिम्स जनरल नॉलेज में से पहले भी होता था उसमें जनरलिस्ट की होती थी करंट अफेयर होते थे नेशनल इंटरनेशनल पासपोर्ट होते थे जनरल साइंस जोग्राफी होती थी पॉलिटिकल साइंस होती थी एनवायरमेंट से संबंधित होता था टेक्नोलॉजी याद आते कुछ कंप्रेंशन क्वेश्चन आते हैं तो जो सेट जोड़ा गया है थोड़ा सा दिमाग की कसरत करने के लिए जोड़ा गया मेरी टीम भी तो नहीं मैं नहीं समझता हूं ऐसा कुछ हुआ है

kya pichle kuch varshon se upsc cse prilims ka clear karna vaastav me bahut kathin bilkul nahi hua bhai aapko lag raha hoga kuch joshi ek shirt ka paper joda gaya hai usme thoda sa problem hoti hogi lekin qualifying aa jaate hain tab aapko aur general knowledge ka pehla prilims general knowledge me se pehle bhi hota tha usme journalist ki hoti thi current affair hote the national international passport hote the general science jografi hoti thi political science hoti thi environment se sambandhit hota tha technology yaad aate kuch kamprenshan question aate hain toh jo set joda gaya hai thoda sa dimag ki kasrat karne ke liye joda gaya meri team bhi toh nahi main nahi samajhata hoon aisa kuch hua hai

क्या पिछले कुछ वर्षों से यूपीएससी सीएसई प्रीलिम्स का क्लियर करना वास्तव में बहुत कठिन बिल्

Romanized Version
Likes  301  Dislikes    views  3516
WhatsApp_icon
user

नरसिंह भाटी"कवि नीशू बीकानेरी"।

समाजसेवी,कवि,राजनीतिज्ञ प्रदेश महामंत्री प्र.मंत्री मन की बात राजस्थान।

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां मित्रों एक सेंस में यह बात सही है क्योंकि पिछले कुछ वर्षों में विरोध से ज्यादा बड़ी है तो अभी होने वाले विद्यार्थियों की संख्या बढ़ी है जब सीट पर दिया आवश्यकता में और उसको किस करने की इच्छा करने वाले अपील होने वाले ज्यादा है तो निश्चित तौर पर मुकाबला बड़ा है बड़ा मुकाबला है बड़ा मुकाबला है तो आपको बहुत ज्यादा मेहनत की आवश्यकता है कि पड़ेगी इसमें आप चलते फिरते ही की थी के साइड 24 घंटे 2 घंटे कोरिया की उम्मीद करें कि आप मेरठ में पाकिस्तान उड़ा देंगे संभव नहीं इसके लिए आपको कठिन मेहनत एकाग्र ओके ओके आपका मित्र रविंद्र सिंह भाटी

haan mitron ek sense me yah baat sahi hai kyonki pichle kuch varshon me virodh se zyada badi hai toh abhi hone waale vidyarthiyon ki sankhya badhi hai jab seat par diya avashyakta me aur usko kis karne ki iccha karne waale appeal hone waale zyada hai toh nishchit taur par muqabla bada hai bada muqabla hai bada muqabla hai toh aapko bahut zyada mehnat ki avashyakta hai ki padegi isme aap chalte phirte hi ki thi ke side 24 ghante 2 ghante korea ki ummid kare ki aap meerut me pakistan uda denge sambhav nahi iske liye aapko kathin mehnat ekagra ok ok aapka mitra ravindra Singh bhati

हां मित्रों एक सेंस में यह बात सही है क्योंकि पिछले कुछ वर्षों में विरोध से ज्यादा बड़ी है

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  84
WhatsApp_icon
user

Kumar Raghav

Career Counsellor Cum Motivational Speaker

3:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका क्वेश्चन है क्या पिछले कुछ वर्षों से यूपीएससी सीएसई पहले उसको क्लियर करना वास्तव में बहुत कठिन हो गया जी बिल्कुल नहीं अगर आप यह सोचते हैं तो यह सोच अपने दिमाग से निकाल दें जो तैयारी कठिन है कठिन उनके लिए हुआ है जो इनको सही तरीके से मतलब सही रणनीति नहीं बना पाते देखिए मैं आपको ऐसे इस क्वेश्चन के अंदर ही आंसर नहीं देना चाहिए फिर भी मैं बताना चाहूंगा इससे आपको भी पता चलेगा कि मैं बोलना क्या चाहता हूं मेरा पॉइंट ऑफ व्यू किया अभिमन्यु जो थे और अर्जुन अर्जुन के बेटा थे अभिमन्यु अभिमन्यु क्या हुआ कि चकरी में घुस गए लेकिन को निकालने का तरीका पता नहीं था क्योंकि अर्जुन को पता था तो अर्जुन को क्यों पता था क्योंकि के तौर-तरीकों को विस्तार पूर्वक सीखते थे अपने गुरु से और समय पर 30 पंक्तियों में क्या किया जाए अंदर कैसे जाना है यह सोचा कि हम अंदर चले जाएंगे तो बाहर खुद ब खुद आ जाएंगे तो ऐसा होता नहीं है आप तरीके से कीजिए सबसे पहले आप सिलेबस डाउनलोड कीजिए सिलेबस को डाउनलोड करने के बाद ऐसे में अभी एक व्हाट्सएप लोड किया हूं एक ऑडियो पूरा डिटेल सिलेबस के बारे में बताया गया है पूरा डिटेल्स सिलेबस है उसमें आप एक बार देख लीजिए उस को सबसे पहले उसको देखने के लिए क्या करें मुझे फॉलो करें कॉल करने से वह आपको मिल जाएगा और उस पर डिटेल सिलेबस में है क्या-क्या नहीं है फिर भी थोड़ा सा बता देता हूं भारत का इतिहास जो है इंडियन ज्योग्राफी है भूगोल राजस्थान सुशासन आर्थिक और सामाजिक विकास सामान्य विज्ञान है जिसको बोलते हैं सामान्य ज्ञान जनरल नॉलेज करंट अपडेट सैमसंग क्षमता भारत का इतिहास में क्या-क्या प्राचीन भारत मेडिकल इन भारत आधुनिक भारत भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन में बताएं अभी जस्ट लोड किया हूं अपलोड किया हूं यह ऑडियो उसको देख लेना और मैं और कठिन कोई भी नहीं है बस सही तरीके से सही मार्गदर्शन के साथ तैयारी करेंगे तो पक्का हो जाएगा और सही मार्गदर्शन के लिए मैं हमेशा आप सभी के साथ हूं तो सबको जाना डाउट हो आप क्वेश्चन कर सकते हो पूछ सकते हैं मैं कोशिश करूंगा कि आपको उचित मार्गदर्शन दिया जाए सही मार्गदर्शन दिया दिया जाए इसके लिए आप लोग से पास एक रिक्वेस्ट है कि हम को फॉलो करें उस से क्या होगा किया मेरा मार्गदर्शन आप तक पहुंच पाएगा और मुझे खुशी होगी कि मेरे मार्गदर्शन में अगर कोई विद्यार्थी सफल होता है तो मुझे बहुत खुशी होगी और आप सभी के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए मैं आप मुझे फॉलो करें और लाइक जरुर करें क्या होता है कि मेरा भी मनोबल बढ़ेगा थोड़ा self-confident बढ़ेगा तो मैं आप सबके बीच में आना चाहूंगा थैंक यू सो मच

aapka question hai kya pichle kuch varshon se upsc cse pehle usko clear karna vaastav me bahut kathin ho gaya ji bilkul nahi agar aap yah sochte hain toh yah soch apne dimag se nikaal de jo taiyari kathin hai kathin unke liye hua hai jo inko sahi tarike se matlab sahi rananiti nahi bana paate dekhiye main aapko aise is question ke andar hi answer nahi dena chahiye phir bhi main batana chahunga isse aapko bhi pata chalega ki main bolna kya chahta hoon mera point of view kiya abhimanyu jo the aur arjun arjun ke beta the abhimanyu abhimanyu kya hua ki chakri me ghus gaye lekin ko nikalne ka tarika pata nahi tha kyonki arjun ko pata tha toh arjun ko kyon pata tha kyonki ke taur trikon ko vistaar purvak sikhate the apne guru se aur samay par 30 panktiyon me kya kiya jaaye andar kaise jana hai yah socha ki hum andar chale jaenge toh bahar khud bsp khud aa jaenge toh aisa hota nahi hai aap tarike se kijiye sabse pehle aap syllabus download kijiye syllabus ko download karne ke baad aise me abhi ek whatsapp load kiya hoon ek audio pura detail syllabus ke bare me bataya gaya hai pura details syllabus hai usme aap ek baar dekh lijiye us ko sabse pehle usko dekhne ke liye kya kare mujhe follow kare call karne se vaah aapko mil jaega aur us par detail syllabus me hai kya kya nahi hai phir bhi thoda sa bata deta hoon bharat ka itihas jo hai indian geography hai bhugol rajasthan sushashan aarthik aur samajik vikas samanya vigyan hai jisko bolte hain samanya gyaan general knowledge current update samsung kshamta bharat ka itihas me kya kya prachin bharat medical in bharat aadhunik bharat bharatiya rashtriya andolan me bataye abhi just load kiya hoon upload kiya hoon yah audio usko dekh lena aur main aur kathin koi bhi nahi hai bus sahi tarike se sahi margdarshan ke saath taiyari karenge toh pakka ho jaega aur sahi margdarshan ke liye main hamesha aap sabhi ke saath hoon toh sabko jana doubt ho aap question kar sakte ho puch sakte hain main koshish karunga ki aapko uchit margdarshan diya jaaye sahi margdarshan diya diya jaaye iske liye aap log se paas ek request hai ki hum ko follow kare us se kya hoga kiya mera margdarshan aap tak pohch payega aur mujhe khushi hogi ki mere margdarshan me agar koi vidyarthi safal hota hai toh mujhe bahut khushi hogi aur aap sabhi ke ujjawal bhavishya ki kamna karte hue main aap mujhe follow kare aur like zaroor kare kya hota hai ki mera bhi manobal badhega thoda self confident badhega toh main aap sabke beech me aana chahunga thank you so match

आपका क्वेश्चन है क्या पिछले कुछ वर्षों से यूपीएससी सीएसई पहले उसको क्लियर करना वास्तव में

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  99
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!