UP सरकार इतनी स्कीम लांच करने के बाद भी किसान और युवा का दिल क्यों नहीं जीत पाती?...


play
user

Vijay Singh

Social Worker

2:24

Likes  80  Dislikes    views  1359
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो अगर दूसरी पार्टी है वह हमेशा लेकर किसानों के किसानों के लिए उन्होंने किया भी है ठीक है लेकिन मोदी भी ना मिलेगी मदद करेंगे हमारे हमारे प्रधान देख रहा है

jo agar dusri party hai vaah hamesha lekar kisano ke kisano ke liye unhone kiya bhi hai theek hai lekin modi bhi na milegi madad karenge hamare hamare pradhan dekh raha hai

जो अगर दूसरी पार्टी है वह हमेशा लेकर किसानों के किसानों के लिए उन्होंने किया भी है ठीक है

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  181
WhatsApp_icon
user

Dr. Radha kant Singh

किसान

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने लिखा है उत्तर प्रदेश सरकार की स्कीम लांच करने के बाद भी किसान और युवाओं का दिल नहीं जीत पाती है देखिए होता क्या है उत्तर प्रदेश राजनीतिक पृष्ठभूमि फैक्ट्री मानता हूं ना उत्तर प्रदेश को राजनीति की और यहां तो इतने प्रयोगशाला है यह पूरी तो यहां तो इतने प्रयोग किए हैं राजनीतिक परिवारों ने कि यहां पर कोई चीज ऐसी लॉन्च करना एक बेमानी होगी यहां के लिए तो सीधी योजनाएं जो आएंगी जो लाभप्रद योजनाएं होंगी उन्हीं को यहां का किसान समझता है धन्यवाद

aapne likha hai uttar pradesh sarkar ki scheme launch karne ke baad bhi kisan aur yuvaon ka dil nahi jeet pati hai dekhiye hota kya hai uttar pradesh raajnitik prishthbhumi factory manata hoon na uttar pradesh ko raajneeti ki aur yahan toh itne prayogshala hai yah puri toh yahan toh itne prayog kiye hain raajnitik parivaron ne ki yahan par koi cheez aisi launch karna ek bemani hogi yahan ke liye toh seedhi yojanaye jo aayengi jo laabhaprad yojanaye hongi unhi ko yahan ka kisan samajhata hai dhanyavad

आपने लिखा है उत्तर प्रदेश सरकार की स्कीम लांच करने के बाद भी किसान और युवाओं का दिल नहीं ज

Romanized Version
Likes  56  Dislikes    views  800
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!