देश में राज्य सभा और लोक सभा क्यों होनी चाहिए?...


play
user
0:36

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे देश में राजसभा तू मेरे साथ नहीं होना चाहिए कि तब तक लोग पब्लिक में नहीं आते हैं तब तो कोई नहीं है नंबर तो सिर्फ हकीकत उनके तो सिर्फ लोहारा उसी आता लोकसभा द्वारा

hamare desh mein rajyasabha tu mere saath nahi hona chahiye ki tab tak log public mein nahi aate hain tab toh koi nahi hai number toh sirf haqiqat unke toh sirf lohara usi aata lok sabha dwara

हमारे देश में राजसभा तू मेरे साथ नहीं होना चाहिए कि तब तक लोग पब्लिक में नहीं आते हैं तब त

Romanized Version
Likes  34  Dislikes    views  469
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
2:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देश में राज्यसभा और लोकसभा की होनी चाहिए आपका यही प्रश्न है दोनों सदनों का परस्पर एक दूसरे के पहलू जैसा है एक सिक्के के दो पहलू होते हैं उस तरीके से दोनों सदनों का परस्पर आपस में संबंध है और इनका इसी तरीके से महत्व है इस देश के विकास के लिए इस देश की कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए और इस देश में होने वाले भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए रोकने के लिए जैसे लोकसभा और राज्यसभा का महत्व माली जी की कोई बिल आता है या कोई कानून बना होता है तो देश के लिए कोई कानून बना होता कोई भी लाना होता है तो उसमें क्या होता है कि राज्यसभा के सदस्यों पास होता है लोग लोकसभा में पास होता है फिर उसके बाद यह स्वीकृति के लिए जाता है आगे राष्ट्रपति के पास में कोई भी विधेयक को कोई भी कानूनों लोकसभा में पास हुआ राज्यसभा में पास हुआ उसके बाद जिस तरीके से मैं आपको एग्जांपल दे दूं कि अभी जो सीएसईबी जो पास हुआ था यहां पर पहले यह लोकसभा में इतनी बहस हुई लोकसभा में यह आया लोकसभा में पास हुआ और उसके बाद ही राज सभा में गया रात सभा में भी वोटिंग हुई राज सभा में भी बिल पास हुआ और उसके बाद वे इंप्लीमेंट के लिए आगे भेजा गया तो कोई भी कानून व्यवस्था बनने के लिए और सारी चीजों को बैलेंस रखने के लिए लोकसभा और राज्यसभा का होना बहुत जरूरी है देश में कानून व्यवस्था कोई नियम और जैसे अगर कोई भी अपने पद का दुरुपयोग करता है तो उस पर महाभियोग का प्रस्ताव भी चढ़ाया लाया जा सकता है तो उसके लिए भी लोकसभा और राज्यसभा का होना बहुत जरूरी है धन्यवाद

desh me rajya sabha aur lok sabha ki honi chahiye aapka yahi prashna hai dono sadano ka paraspar ek dusre ke pahaloo jaisa hai ek sikke ke do pahaloo hote hain us tarike se dono sadano ka paraspar aapas me sambandh hai aur inka isi tarike se mahatva hai is desh ke vikas ke liye is desh ki kanoon vyavastha ko banaye rakhne ke liye aur is desh me hone waale bhrashtachar ko khatam karne ke liye rokne ke liye jaise lok sabha aur rajya sabha ka mahatva maali ji ki koi bill aata hai ya koi kanoon bana hota hai toh desh ke liye koi kanoon bana hota koi bhi lana hota hai toh usme kya hota hai ki rajya sabha ke sadasyon paas hota hai log lok sabha me paas hota hai phir uske baad yah swikriti ke liye jata hai aage rashtrapati ke paas me koi bhi vidhayak ko koi bhi kanuno lok sabha me paas hua rajya sabha me paas hua uske baad jis tarike se main aapko example de doon ki abhi jo CSEB jo paas hua tha yahan par pehle yah lok sabha me itni bahas hui lok sabha me yah aaya lok sabha me paas hua aur uske baad hi raj sabha me gaya raat sabha me bhi voting hui raj sabha me bhi bill paas hua aur uske baad ve implement ke liye aage bheja gaya toh koi bhi kanoon vyavastha banne ke liye aur saari chijon ko balance rakhne ke liye lok sabha aur rajya sabha ka hona bahut zaroori hai desh me kanoon vyavastha koi niyam aur jaise agar koi bhi apne pad ka durupyog karta hai toh us par mahabhiyog ka prastaav bhi chadaya laya ja sakta hai toh uske liye bhi lok sabha aur rajya sabha ka hona bahut zaroori hai dhanyavad

देश में राज्यसभा और लोकसभा की होनी चाहिए आपका यही प्रश्न है दोनों सदनों का परस्पर एक दूसरे

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  179
WhatsApp_icon
user

Peeyooshpankaj Dubey

Vice President Human Resources

3:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मानना है कि देश में लोकसभा और राज्यसभा बिल्कुल भी नहीं होनी चाहिए और उसका एक बहुत ही मतलब एक उदाहरण में दे दूं कि अरुण जेटली अमृतसर से लोकसभा का चुनाव लड़ा था और बहुत ही बुरी तरह से हार गया क्योंकि वह बहुत ही घमंडी आदमी है वह दिल्ली में रहता था कभी जिंदगी में जाकर उसने कोई काम नहीं किया खाने के बाद उसे मोदी ने राज्यसभा से 9 मिनट करके और इस देश का फाइनेंस मिनिस्टर जो कि सबसे पावरफुल आदमी रहता है वह बना दिया और उसने आते ही क्या करा कॉस्ट बजट में हर आदमी को जैसे मैं भी उस समय एंड्रॉयड था तो मुझे उम्मीद थी कि यह जो कांग्रेस कल्चर चल रहा था कि मनमोहन सिंह बहुत बड़े अर्थशास्त्री बनते थे उन्होंने देश के लिए कुछ भी नहीं किया एकदम जीरो जीरो और वही काम जान फुल रखना है अगर हमें अपना ध्यान खुद रखना है तो हमारे को भी देश में पानी मिनिस्टर की भी जरूरत नहीं है उसके अलावा राज्य में बना रखी है जहां पर सुभाष चंद्र आज ऐसे लोग जिनकी कोई भी खिला कर के हरियाणा से राज्यसभा के मेंबर बन जाते हैं मनाया जता 42 भाग गया कितना देश का पैसा लेकर के वह जाने के पहले वह भी राज्यसभा मेंबर बन गया था तो ऐसे बहुत सारे उदाहरण है जहां से कि उद्योगपति पैसा दे कर दे और राज्यसभा में एंट्री लेनी और उनका फोन भी भूषण मिल रहा और राज सभा किसी भी अध्यादेश को अधिक आती ही है क्योंकि मैं ज्योति ज्योति रूलिंग पार्टी नहीं है तो वह भी लटक जाते हैं पूरे देश में हमें उनकी उनका बिल अटक जाए तो वह कुछ भी नहीं कर पाएंगे अंग्रेजों ने बनाई थी उस समय और ये जो कहा कि भारत संविधान हमने नहीं बनाया जा कर हमने बनाया होता तो हम कभी भी राज्यसभा उसमें नहीं बनाते अंग्रेजों ने बनाया था और अंग्रेजो ने ही ये भी संस्कार आए सभा के नाम पर कर रखी है जिसमें कि इन डायरेक्ट वहीं लेफ्ट होते हैं लोग और उसमें बहुत पैसा चलता है और करप्शन की बहुत बड़ी देन है राज सभा मेंबर कुछ ही लोग सिर्फ जो अच्छे जुड़े हुए उनको 9 मिनट करती है गवर्नमेंट पर वह बहुत लिमिटेड लोग हैं और हमें उनकी जरूरत नहीं है जैसे पर एक नंबर सचिन तेंदुलकर उसको ने कर दिया गया था उसने अटेंड नहीं किया तो मैं ऐसे विलक्षण प्रतिभा खिलाड़ी को वहां जरूरत ही नहीं है क्योंकि आज तक का के राज सभा में कुछ भी नहीं बोल पाया और ना ही उसका कोई भूलता विडमेट किया गया था राज्यसभा में रेखा का क्या बनती गुलशन तो हमको लाइफ लोंग टेंशन लेनी पड़ती है जो कि इस देश के गरीब लोगों की जेब तो कैसा जाता है ना कि यह है कि सरकार का पैसा जनता का है और वह हर तरह की टाइल्स देती है नमक खाती है तो मैं उसके ऊपर भी टैक्स लेती है तो हमारे यह आदमी के ऊपर काय के लिए राज्यसभा को एक तरफ से जो बना रखा है जो हमारे देश की प्रगति को पीछे कर रहे हैं हमारे है कि वह कहां तक जाते हैं और

manana hai ki desh mein lok sabha aur rajya sabha bilkul bhi nahi honi chahiye aur uska ek bahut hi matlab ek udaharan mein de doon ki arun jaitley amritsar se lok sabha ka chunav lada tha aur bahut hi buri tarah se haar gaya kyonki wah bahut hi ghamandi aadmi hai wah delhi mein rehta tha kabhi zindagi mein jaakar usne koi kaam nahi kiya khane ke baad use modi ne rajya sabha se 9 minute karke aur is desh ka finance minister jo ki sabse powerful aadmi rehta hai wah bana diya aur usne aate hi kya kara cost budget mein har aadmi ko jaise main bhi us samay android tha toh mujhe ummid thi ki yeh jo congress culture chal raha tha ki manmohan Singh bahut bade arthshastri bante the unhone desh ke liye kuch bhi nahi kiya ekdam zero zero aur wahi kaam jaan full rakhna hai agar humein apna dhyan khud rakhna hai toh hamare ko bhi desh mein pani minister ki bhi zarurat nahi hai uske alava rajya mein bana rakhi hai jaha par subhash chandra aaj aise log jinki koi bhi kila kar ke haryana se rajya sabha ke member ban jaate hai manaya jata 42 bhag gaya kitna desh ka paisa lekar ke wah jaane ke pehle wah bhi rajya sabha member ban gaya tha toh aise bahut saare udaharan hai jaha se ki udyogpati paisa de kar de aur rajya sabha mein entry leni aur unka phone bhi bhushan mil raha aur raaj sabha kisi bhi adhyadesh ko adhik aati hi hai kyonki main jyoti jyoti ruling party nahi hai toh wah bhi latak jaate hai poore desh mein humein unki unka bill atak jaye toh wah kuch bhi nahi kar payenge angrejo ne banai thi us samay aur ye jo kaha ki bharat samvidhan humne nahi banaya ja kar humne banaya hota toh hum kabhi bhi rajya sabha usme nahi banate angrejo ne banaya tha aur angrejo ne hi ye bhi sanskar aaye sabha ke naam par kar rakhi hai jisme ki in direct wahi left hote hai log aur usme bahut paisa chalta hai aur corruption ki bahut baadi then hai raaj sabha member kuch hi log sirf jo acche jude hue unko 9 minute karti hai government par wah bahut limited log hai aur humein unki zarurat nahi hai jaise par ek number sachin tendulkar usko ne kar diya gaya tha usne attend nahi kiya toh main aise vilakshan pratibha khiladi ko wahan zarurat hi nahi hai kyonki aaj tak ka ke raaj sabha mein kuch bhi nahi bol paya aur na hi uska koi bhooltaa vidmate kiya gaya tha rajya sabha mein rekha ka kya banti gulshan toh hamko life long tension leni padti hai jo ki is desh ke garib logo ki jeb toh kaisa jata hai na ki yeh hai ki sarkar ka paisa janta ka hai aur wah har tarah ki tiles deti hai namak khati hai toh main uske upar bhi tax leti hai toh hamare yeh aadmi ke upar kya ke liye rajya sabha ko ek taraf se jo bana rakha hai jo hamare desh ki pragati ko peeche kar rahe hai hamare hai ki wah kahaan tak jaate hai aur

मानना है कि देश में लोकसभा और राज्यसभा बिल्कुल भी नहीं होनी चाहिए और उसका एक बहुत ही मतलब

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  431
WhatsApp_icon
user

Ashish Singh

Co-Founder

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आना मतलब है पूरा आप बीटी के नंबर राज्यसभा के सांसद होते हैं वह पूरे राज्य को रिप्रेजेंट करते

aana matlab hai pura aap biti ke number rajya sabha ke saansad hote hain wah poore rajya ko represent karte

आना मतलब है पूरा आप बीटी के नंबर राज्यसभा के सांसद होते हैं वह पूरे राज्य को रिप्रेजेंट कर

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  398
WhatsApp_icon
user

Gulnaz

लेवल 1 (बिगिनर)

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

संसद देश के सर्वोच्च विद्यालय निकाय है यह बॉडी ऑफ अ कंट्री को सुप्रीम यूनिवर्सिटी बहुत जरूरी है इसके लिए जो है हमारी दो हमारी संसद के राष्ट्रपति और दो साधनों में जो लोकसभा और राज्यसभा और लोकसभा को जो है हाउस ऑफ पीपल कहा जाता है और राज्यसभा को कौन चॉकलेट कहा जाता है राष्ट्रपति को संसद की किसी सभा को बुलाने या उसे प्रचार करने या लोकसभा को भंग करने की शक्ति है

sansad desh ke sarvoch vidyalaya nikaay hai yah body of a country ko supreme university bahut zaroori hai iske liye jo hai hamari do hamari sansad ke rashtrapati aur do saadhano mein jo lok sabha aur rajya sabha aur lok sabha ko jo hai house of pipal kaha jata hai aur rajya sabha ko kaun chocolate kaha jata hai rashtrapati ko sansad ki kisi sabha ko bulane ya use prachar karne ya lok sabha ko bhang karne ki shakti hai

संसद देश के सर्वोच्च विद्यालय निकाय है यह बॉडी ऑफ अ कंट्री को सुप्रीम यूनिवर्सिटी बहुत जरू

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  181
WhatsApp_icon
user

Rudra Narayan

Accountant

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आना मतलब पूरा T20 के राज्यसभा के सांसद होते हैं वह पूरे राज्य को रिप्रेजेंट्स थे

aana matlab pura T20 ke rajya sabha ke saansad hote hain vaah poore rajya ko riprejents the

आना मतलब पूरा T20 के राज्यसभा के सांसद होते हैं वह पूरे राज्य को रिप्रेजेंट्स थे

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  124
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!