अगर PSU बैंक मर्ज हो जाए ंगे तो उनके शेयर प्राइस का क्या होगा?...


play
user

Chandraprakash Joshi

Ex-AGM RBI & CEO@ixamBee.com

1:39

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बैंकों के मर्जर से उनके शेयर प्राइस बढ़ने की संभावना है, क्योंकि मार्केट जो है बैंक मर्जर्स को पॉजिटिवली देखती है | ३-४ कारणों से एक तो उनकी बैलेंस शीट बड़ी हो जाएगी और कैपिटल बेस बहुत बड़ा हो जाएगा | दूसरा जो एक शहर में कई बार बहुत दो तीन बैंकों की एकदम लोकैलिटी में ब्रांच खुली हुई है सिम लोकैलिटी में तो वह मर्ज जाएगी तो उनकी कॉस्ट ऑफ ऑपरेशन से कम हो जाएगी | सपोज के मार्केट में आज की डेट में तीन बैंक काम कर रहे हैं, तो वह अगर तीन बैंक मर्ज हो रहे हैं तो वह तीन ब्रांच को छोड़कर एक ब्रांच से काम कर लेंगे | तो कॉस्ट ऑफ ऑपरेशन्स कम होगी और एफिशिएंसी बढ़ेगी, क्योंकि बिगर स्केल होगा | तो मार्केट उसको पॉजिटिवली देखती है | बैंक मर्जर्स में कुछ चैलेंजस भी है, प्रॉब्लम भी है जिससे कल्चरल इशू हैं, बैंक बहुत पुराने हैं और जो सीनियरिटी है पब्लिक सेक्टर में वह अफ्फेक्ट होएगी | तो स्टाफ परफॉर्मेंस को मेज़रमेंट करना है उनके प्रमोशने, रेवेन्यूज, ये इश्यूज है बैंक मर्जर में | इसलिए इनके मर्जर में काफी टाइम भी लग रहा है | और बैलेंसशीट मर्जर भी थोडा कॉन्प्लिकेटेड है| तो बैंक मर्जर्स के इन इश्यूज के चलते ही सरकार अभी फाइनलाइज नहीं कर पा रही है कि मर्जर किस तरीके से होगा, स्ट्रांग बैंक, वीक बैंक खुलेगा तो क्या स्ट्रांग बैंक की बैलेंस शीट भी वीक हो जाएगी तों एक्साक्ट्ली बताना बहुत मुश्किल है जब तक यह डिसाइड नहीं होता कि कौन बैंक किस बैंक में मर्ज कर रहा है अपने में | हो सकता है कोई एक स्ट्रांग बैंक अगर बहुत ही वीक बैंक को ले लेता है तो उसका शेयर प्राइस गिर भी जाए | तो अगर आप इन्वेस्ट करने की सोच रहे हैं तो बैटर वेट एंड वॉच क्योंकि इसमें अभी बहुत ज्यादा अनसरटेनिटी है|

bankon ke merger se unke share price badhne ki sambhavna hai kyonki market jo hai bank mergers ko positively dekhti hai 3 4 karanon se ek toh unki balance sheet badi ho jayegi aur capital base bahut bada ho jaega doosra jo ek shehar mein kai baar bahut do teen bankon ki ekdam locality mein branch khuli hui hai sim locality mein toh vaah merge jayegi toh unki cost of operation se kam ho jayegi suppose ke market mein aaj ki date mein teen bank kaam kar rahe hain toh vaah agar teen bank merge ho rahe hain toh vaah teen branch ko chhodkar ek branch se kaam kar lenge toh cost of operations kam hogi aur efishiensi badhegi kyonki bigger scale hoga toh market usko positively dekhti hai bank mergers mein kuch chailenjas bhi hai problem bhi hai jisse cultural issue hain bank bahut purane hain aur jo siniyariti hai public sector mein vaah affekt hoegi toh staff performance ko measurement karna hai unke pramoshane revenyuj ye issues hai bank merger mein isliye inke merger mein kaafi time bhi lag raha hai aur bailensashit merger bhi thoda kanpliketed hai toh bank mergers ke in issues ke chalte hi sarkar abhi finalize nahi kar paa rahi hai ki merger kis tarike se hoga strong bank weak bank khulega toh kya strong bank ki balance sheet bhi weak ho jayegi to eksaktli bataana bahut mushkil hai jab tak yah decide nahi hota ki kaun bank kis bank mein merge kar raha hai apne mein ho sakta hai koi ek strong bank agar bahut hi weak bank ko le leta hai toh uska share price gir bhi jaaye toh agar aap invest karne ki soch rahe hain toh better wait and watch kyonki isme abhi bahut zyada anasarateniti hai

बैंकों के मर्जर से उनके शेयर प्राइस बढ़ने की संभावना है, क्योंकि मार्केट जो है बैंक मर्जर्

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  115
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Sa Sha

Journalist since 1986

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी सरकार ने पब्लिक सेक्टर यूनिट बैंकों के एकीकरण यानी विलय की योजना बनाइए सरकार सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की संख्या 27 से घटाकर 10 करना चाहती है सरकार के अनुसार विलय का मकसद बैंकों को मजबूत बनाना है क्योंकि जनता से और बैड लोन की वजह से वित्तीय वर्ष 2016 से 17 यानी अप्रैल से लेकर दिसंबर के दौरान तक पब्लिक सेक्टर बैंकों का पेट्रोल एक लाख करोड़ रुपए से बढ़कर है लाख करोड़ से भी अधिक बैंकों की मौत की खबर के बाद से बैंक के शेयर ऊपर चढ़ रहे हैं और खरीदारी बढ़ रही है लेकिन फिलहाल स्थिति साफ नहीं है जब तक सरकार इस संबंध में अंतिम फैसला नहीं ले लेती पिक्चर साफ नहीं होगा

modi sarkar ne public sector unit bankon ke ekikaran yani vilay ki yojana banaiye sarkar sarvajanik kshetra ke bankon ki sankhya 27 se ghatakar 10 karna chahti hai sarkar ke anusaar vilay ka maksad bankon ko majboot banana hai kyonki janta se aur bad loan ki wajah se vittiy varsh 2016 se 17 yani april se lekar december ke dauran tak public sector bankon ka petrol ek lakh crore rupaye se badhkar hai lakh crore se bhi adhik bankon ki maut ki khabar ke baad se bank ke share upar chad rahe hain aur kharidari badh rahi hai lekin filhal sthiti saaf nahi hai jab tak sarkar is sambandh mein antim faisla nahi le leti picture saaf nahi hoga

मोदी सरकार ने पब्लिक सेक्टर यूनिट बैंकों के एकीकरण यानी विलय की योजना बनाइए सरकार सार्वजनि

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  16
WhatsApp_icon
user

Neha S

UPSC कोच

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकेश शेयर प्राइस पर क्या प्रभाव पड़ेगा अभी उसका प्रभाव पड़ेगा जैसे कि कोई बड़ा बैंक है और छोटे भाई को अपने साथ मौज कर रहा है तो जो छोटे मांगती तो शेर है शेर है जो वैल्यू है तू कुबूल है छोटी बहन की छूट शेर की भूख गुडविल ऑटोमेटिक बड़े बैंक के साथ मिलने के साथ मर्ज होने के साथ उसकी गुडविल जो है जो है वह ऑटोमेटिकली बढ़ जाएगी की उत्तम को सर्विस लाइन में प्रॉब्लम नहीं आएगी उनको सर्विस अच्छी प्रोवाइड होगी और उनकी जो शेयर कि वह गुडविल हो बढ़ गई है जिससे कि हम को लौंग रंग में लिखिए शॉर्ट रन में मैं नहीं कहती हूं बैठा लॉन्ग रन में हमें थोड़ा सा वेट करना पड़ेगा क्योंकि एक विज्ञापन लाइव दर्शन का प्रोसेस है और लॉन्ग रेंज में इसका फायदा मिलना चाहिए जैसा की अनुमान लगाया जा रहा है तो मैं मर जाएंगे तो शेयर प्राइस बढ़ेंगे और गुडविल जैसे की बढ़ेगी तो लॉन्ग रमेश का प्रॉफिट होगा

vikas share price par kya prabhav padega abhi uska prabhav padega jaise ki koi bada bank hai aur chote bhai ko apne saath mauj kar raha hai toh jo chote mangati toh sher hai sher hai jo value hai tu kubul hai choti behen ki chhut sher ki bhukh goodwill Automatic bade bank ke saath milne ke saath merge hone ke saath uski goodwill jo hai jo hai vaah atometikli badh jayegi ki uttam ko service line mein problem nahi aayegi unko service achi provide hogi aur unki jo share ki vaah goodwill ho badh gayi hai jisse ki hum ko long rang mein likhiye short run mein main nahi kehti hoon baitha long run mein hamein thoda sa wait karna padega kyonki ek vigyapan live darshan ka process hai aur long range mein iska fayda milna chahiye jaisa ki anumaan lagaya ja raha hai toh main mar jaenge toh share price badhenge aur goodwill jaise ki badhegi toh long ramesh ka profit hoga

विकेश शेयर प्राइस पर क्या प्रभाव पड़ेगा अभी उसका प्रभाव पड़ेगा जैसे कि कोई बड़ा बैंक है और

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  18
WhatsApp_icon
user

Raj Shah

Aspiring engineer

0:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

BHU मतलब पब्लिक सेक्टर यूनिट रावत पब्लिक सेक्टर यूनिट बैंक सब मर्ज हो जाए तो देश के लिए एक बड़ा रिवोल्यूशनरी हो जाएगा क्योंकि इससे बहुत बड़ा फायदा होगा इकॉनॉमी थोड़ी डाउन फुल में रह गई पटाखे जाकर फायदा होने जैसा लग रहा है

BHU matlab public sector unit rawat public sector unit bank sab merge ho jaaye toh desh ke liye ek bada rivolyushanari ho jaega kyonki isse bahut bada fayda hoga ikanami thodi down full mein reh gayi patakhe jaakar fayda hone jaisa lag raha hai

BHU मतलब पब्लिक सेक्टर यूनिट रावत पब्लिक सेक्टर यूनिट बैंक सब मर्ज हो जाए तो देश के लिए एक

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  15
WhatsApp_icon
user

SHIVAM s

Pursuing BBA, day dreamer

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सोफिया शुभ अंक मर्जी मतलब पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग बैंक में एक पॉजिटिव अपडेट देखने को मिल सकता है कि उनकी स्टार्ट प्राइस बढ़ जाए क्योंकि और लोगों को कुछ नए की उम्मीद होगी उसने एक्सपेक्टेशन वक्त पॉजिटिव लाभ होगा इन दोनों बैंकों का आपस में मिलने के लिए जनता आपस में मिलकर जनता के लिए कुछ लाभदायक होगा यह तो ऐसे ही कर के स्टॉक मार्केट अजवाइन बैंक के स्टॉप हैं वह उनका प्राइस बढ़ सकता है

sofia shubha ank marji matlab public sector undertaking bank mein ek positive update dekhne ko mil sakta hai ki unki start price badh jaaye kyonki aur logo ko kuch naye ki ummid hogi usne expectation waqt positive labh hoga in dono bankon ka aapas mein milne ke liye janta aapas mein milkar janta ke liye kuch labhdayak hoga yah toh aise hi kar ke stock market ajwain bank ke stop hain vaah unka price badh sakta hai

सोफिया शुभ अंक मर्जी मतलब पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग बैंक में एक पॉजिटिव अपडेट देखने को मिल

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  43
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
indbank share price ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!