आप राजपूत के बारे में क्या सोचते हैं?...


play
user

Pankaj Mall

Life Coach, Trainer, Cyclist

1:50

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं खुद का राजपूत क्षत्रिय वर्ग से हूं और मैं आपको अपनी बात बताऊंगा कि अगर मैं क्या समझता हूं राजपूत क्षत्रिय वह होता है जो देश की रक्षा के लिए काम है जो समाज के रक्षक के लिए काम आता है वह राजपूत होता को सक्रिय होता है और यही धर्म है और सीखते हैं लोग वह है कि उनको निरंतर देश के लिए काम करना है और योद्धा है अब आज के डेट में अगर हम कहें तो योद्धा तलवार लेकर के माला लेकर के लड़ाई नहीं होगी लड़ाई होगी अपने अधिकारों के लिए लड़ाई होगी देश को समाज को आगे बढ़ाने के लिए अपने परिवार को आगे बढ़ाने के लिए तो उसके लिए कलम का सहारा ले अच्छी सोच का सहारा ले अच्छी किताबें पढ़ी नौकरियों में जाए अगर ऐसे रहेंगे शायद अब आप की मान मर्यादा भी रहेगी समाज का भी सम्मान देगा लेकिन हमेशा यह एक वर्ग ऐसा होना चाहिए अगर राजपूत की बात करते हैं जो लोगों के बारे में सूचित सबके हित में सोचे देश का जिस प्रकार पर ही हो राज्य जिसके लिए सड़क पर ही हो वही राजपूत होते हैं वह सक्रिय होते हैं कोई आज राजतंत्र नहीं है क्या आप राजा के बेटे लोग आपको सिर्फ राजपूत है इसलिए इज्जत करें आपको इज्जत बनानी होगी आपको मान-सम्मान बनाना पड़ेगा और उसके लिए उसी पर होने चाहिए जैसा कर्म होगा वैसा ही समाज के लोगों के लिए थैंक यू गॉड ब्लेस यू

main khud ka rajput kshatriya varg se hoon aur main aapko apni baat bataunga ki agar main kya samajhata hoon rajput kshatriya vaah hota hai jo desh ki raksha ke liye kaam hai jo samaj ke rakshak ke liye kaam aata hai vaah rajput hota ko sakriy hota hai aur yahi dharm hai aur sikhate hai log vaah hai ki unko nirantar desh ke liye kaam karna hai aur yodha hai ab aaj ke date mein agar hum kahein toh yodha talwar lekar ke mala lekar ke ladai nahi hogi ladai hogi apne adhikaaro ke liye ladai hogi desh ko samaj ko aage badhane ke liye apne parivar ko aage badhane ke liye toh uske liye kalam ka sahara le achi soch ka sahara le achi kitaben padhi naukriyon mein jaaye agar aise rahenge shayad ab aap ki maan maryada bhi rahegi samaj ka bhi sammaan dega lekin hamesha yah ek varg aisa hona chahiye agar rajput ki baat karte hai jo logo ke bare mein suchit sabke hit mein soche desh ka jis prakar par hi ho rajya jiske liye sadak par hi ho wahi rajput hote hai vaah sakriy hote hai koi aaj rajtantra nahi hai kya aap raja ke bete log aapko sirf rajput hai isliye izzat kare aapko izzat banani hogi aapko maan sammaan banana padega aur uske liye usi par hone chahiye jaisa karm hoga waisa hi samaj ke logo ke liye thank you god bless you

मैं खुद का राजपूत क्षत्रिय वर्ग से हूं और मैं आपको अपनी बात बताऊंगा कि अगर मैं क्या समझता

Romanized Version
Likes  62  Dislikes    views  1163
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!