मोदी जी बुलेट ट्रेन के लिए करोड़ों कर्जा ले रहे हैं और कौन-कौन से देश से कर्जा लेंगे अभी?...


play
user

Ravi Sharma

Advocate

1:40

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि आप किसी अर्थव्यवस्था की जानकारी से पूछेंगे तो आपको या ज्ञान होगा कि जो कर्जा हम करोड़ो का अरबों का कर्जा हम किसी परियोजना के लिए लेते हैं वह वास्तव में कर्जा नहीं होता में निवेश होता है उसमें एक उचित ब्याज दर होती है जिसके आधार पर हम मुनाफे का एक शेयर उस कंपनी को या उस बैंक को देते हैं जिसे हमने कब्ज़ा लिया है तो बात पूरी तरह सत्य नहीं है कि हमने एक केवल कर्जे के आधार पर शुरू किया है भारत के पास एक बहुत बड़ा रिजर्व है एक बहुत बड़ा पूंजी भंडार है जिसको चाहे तो इन योजनाओं में निवेश कर सकती है परंतु उनका जो मूल्यांकन है वह इस आधार पर नहीं होता है हर चीज के लेकर कम बंधी हुई होती है एक पूंजी जो एक निवेश होता है वह पैदा हुआ होता है हम उसको हाथ नहीं लगा सकते इस प्रकार की नई योजनाओं के लिए तो अगर हम देखें कि इन परियोजनाओं के लिए चाहे वह बुलेट ट्रेन हो जाए मेट्रो ट्रेनों हमेशा कर दिया लिया जाता क्या भारत जैसे देश ही नहीं अमेरिका जैसे समृद्ध देश भी इन सब परियोजना को प्रारंभ करने से पहले एक उचित ब्याज दर पर अनेक बैंकों सेवर सरकारों से कर्जा लेते हैं उसके बाद या परियोजना प्रारंभ होती हैं और उनके मुनाफे का एक पर्टिकुलर शेयर एक निश्चित शेयर उन कंपनियों को वापस दिया जाता है जिससे उन्हें उन्होंने कर दिया लिया हो तो यह एक व्यवस्था है जो अर्थ आर्थिक विकास के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है वह आने वाले समय में यह सुनिश्चित हो जाएगा कि इस प्रकार की परियोजनाओं से भारतीय अर्थव्यवस्था पर ज्यादा दबाव नापने धन्यवाद

yadi aap kisi arthavyavastha ki jaankari se puchenge toh aapko ya gyaan hoga ki jo karja hum croredo ka araboon ka karja hum kisi pariyojana ke liye lete hain vaah vaastav mein karja nahi hota mein nivesh hota hai usme ek uchit byaj dar hoti hai jiske aadhaar par hum munafe ka ek share us company ko ya us bank ko dete hain jise humne kabja liya hai toh baat puri tarah satya nahi hai ki humne ek keval karje ke aadhaar par shuru kiya hai bharat ke paas ek bahut bada reserve hai ek bahut bada punji bhandar hai jisko chahen toh in yojnao mein nivesh kar sakti hai parantu unka jo mulyankan hai vaah is aadhaar par nahi hota hai har cheez ke lekar kam bandhi hui hoti hai ek punji jo ek nivesh hota hai vaah paida hua hota hai hum usko hath nahi laga sakte is prakar ki nayi yojnao ke liye toh agar hum dekhen ki in pariyojanaon ke liye chahen vaah bullet train ho jaaye metro traino hamesha kar diya liya jata kya bharat jaise desh hi nahi america jaise samriddh desh bhi in sab pariyojana ko prarambh karne se pehle ek uchit byaj dar par anek bankon sevar sarkaro se karja lete hain uske baad ya pariyojana prarambh hoti hain aur unke munafe ka ek particular share ek nishchit share un companion ko wapas diya jata hai jisse unhe unhone kar diya liya ho toh yah ek vyavastha hai jo arth aarthik vikas ke liye bahut hi mahatvapurna hai vaah aane waale samay mein yah sunishchit ho jaega ki is prakar ki pariyojanaon se bharatiya arthavyavastha par zyada dabaav napne dhanyavad

यदि आप किसी अर्थव्यवस्था की जानकारी से पूछेंगे तो आपको या ज्ञान होगा कि जो कर्जा हम करोड़ो

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  305
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

amitkul

CA student,pursuing bcom too

1:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी जी जो है बुलेट ट्रेन के लिए कोई अलग देश से कर्ज नहीं ले रहे हैं वह जापान से ही वह बुलेट ट्रेन जो है वह उधार देने क्रेडिट पर ले रहे हैं और उसके और उसकी ओर इसके लिए जापान जो है 0.1 परसेंट कुछ सरल 1% शायद कुछ ब्याज लगा रहा है जो खर्चा टोटल बुलेट ट्रेन पर तो यह जो बुलेट ट्रेन का जो फैसला है मेरे हिसाब से तो 12:30 के लिए अभी तैयार नहीं है मेट्रो की सेवाएं कुछ और थोड़ी और बड़ा नहीं चाहिए और जो ट्रेन नेटवर्क है उसमें जो है जो छोटे मोटे प्रॉब्लम से उसे सॉल्व करके उससे और एपिसोड बना दिया जाए तो भी काफी है ऐसे कोई खास जरुरत नहीं है बुलेट ट्रेन की समय भारत में अगर भारत नगर Karz भी लेता है तो भेजो जो वर्ल्ड बैंक से लिया जाता है कल जिस में जो है टॉप फाइव कंट्री जो यूएन में होते हैं वही वर्ल्ड बैंक में भी अपने पैसे डालते हैं और वहां से जो है पूरी दुनिया में हर कंट्री को पैसे दिए जाते ताकि योर कंट्री डेवलप्ड कंट्री बन सके

modi ji jo hai bullet train ke liye koi alag desh se karj nahi le rahe hain vaah japan se hi vaah bullet train jo hai vaah udhaar dene credit par le rahe hain aur uske aur uski aur iske liye japan jo hai 0 1 percent kuch saral 1 shayad kuch byaj laga raha hai jo kharcha total bullet train par toh yah jo bullet train ka jo faisla hai mere hisab se toh 12 30 ke liye abhi taiyar nahi hai metro ki sevayen kuch aur thodi aur bada nahi chahiye aur jo train network hai usme jo hai jo chote mote problem se use solve karke usse aur episode bana diya jaaye toh bhi kaafi hai aise koi khaas zarurat nahi hai bullet train ki samay bharat mein agar bharat nagar Karz bhi leta hai toh bhejo jo world bank se liya jata hai kal jis mein jo hai top five country jo un mein hote hain wahi world bank mein bhi apne paise daalte hain aur wahan se jo hai puri duniya mein har country ko paise diye jaate taki your country developed country ban sake

मोदी जी जो है बुलेट ट्रेन के लिए कोई अलग देश से कर्ज नहीं ले रहे हैं वह जापान से ही वह बुल

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
user

Rohith Agarwal

Advisor | Cricketer |Equities

1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए मोदी मोदी जी बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट के लिए जो उन्होंने बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट शुरू किया है जो मुंबई और अहमदाबाद को कनेक्ट करेगा उसके लिए करोड़ों रुपए का कर्ज़ जापान देश जापान भी जिगर मोदी जी को बिल्कुल बहुत ही कम ब्याज में दे रहे हैं यह हम सब जानते कि यह जो प्रोजेक्ट का कॉस्ट है यह बहुत ही ज्यादा है 100 सालों से भी ज्यादा पहले जब भारत सरकार में रेलवेज का काम जोरों से चल रहा था बहुत ही ज्यादा करोड़ों के इनवेस्टमेंट आ रही थी और परिवेश लग रही थी तो सब लोग इसको पोस्ट कर रहे थे कि यह नहीं चलेगा और नहीं करना चाहिए बिल्कुल गलत है बट आप इतने सालों के पास अभी देखते हैं कि हम बिल्कुल रेलवेज के बिना जी नहीं पाते जो एक आम आदमी है वह रेलवे में ही सफर करता है और इंडियन रेलवे सबसे बड़ी रेलवे है दुनिया की विश्व में सबसे बड़ी रेलवे है और ऐसे ही एक यूनिट बुलेट ट्रेन का प्रोजेक्ट शुरू किया है और मुझे पूरा विश्वास है सफल रहेगा और आने वाले समय मे और मैन सारे हट के पूरे भारत देश में बुलेट ट्रेन का उपयोग किया जा सकता है

dekhiye modi modi ji bullet train project ke liye jo unhone bullet train project shuru kiya hai jo mumbai aur ahmedabad ko connect karega uske liye karodo rupaye ka karz japan desh japan bhi jigar modi ji ko bilkul bahut hi kam byaj mein de rahe hain yah hum sab jante ki yah jo project ka cost hai yah bahut hi zyada hai 100 salon se bhi zyada pehle jab bharat sarkar mein railways ka kaam joron se chal raha tha bahut hi zyada karodo ke investment aa rahi thi aur parivesh lag rahi thi toh sab log isko post kar rahe the ki yah nahi chalega aur nahi karna chahiye bilkul galat hai but aap itne salon ke paas abhi dekhte hain ki hum bilkul railways ke bina ji nahi paate jo ek aam aadmi hai vaah railway mein hi safar karta hai aur indian railway sabse badi railway hai duniya ki vishwa mein sabse badi railway hai aur aise hi ek unit bullet train ka project shuru kiya hai aur mujhe pura vishwas hai safal rahega aur aane waale samay mein aur man saare hut ke poore bharat desh mein bullet train ka upyog kiya ja sakta hai

देखिए मोदी मोदी जी बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट के लिए जो उन्होंने बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट शुरू किय

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  424
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
izobility ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!