मोदी जी अगर विदेश दौरे के पैसे भारत की छोटी मोटी कंपनियों में इन्वेस्ट करते रोज़गार बढ़ते?...


user

Harvinder kaur

Municipal councillor

2:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी जी ने पिछले 6 सालों में इतने विदेशी दौरे किए हैं मेरे पास इस वकत उसका आंकड़ा तो नहीं है कि उनके ऊपर कितना खर्च आया है पर और विदेश यात्रा पर करोड़ों रुपए का बजट खर्च आ जाता है जहां को जाना है जहां से विदेशी दौरे से हमें फायदा हो रहा है हमारे देश के लिए रोजगार बनते हैं रोजगार बढ़ने के लिए कंपनियां आती है तो हमें जाना जरूरी है उसके लिए कितना भी पैसा जो टीवी से एनडीटीवी से और न्यूज़ पेपर के माध्यम से जहां तक लगता है कि मोदी जी की जितनी भी विदेशी यात्राएं रही हैं वह तकरीबन सफर में कहीं से भी हमें इनवास तक नहीं मिले हैं जो पैसा पहुंचाने में हमने खर्च किया है उसे हम अपने ही देश में छोटे-छोटे रोजगार सृजन कर सकते थे स्वर लोगों को आसानी से लोन मिल जाता उसे वह छोटे-छोटे रोजगार पैदा खुद से तो सकते थे अपनी इन्वेस्टमेंट करते अपने रोजगार बढ़ाते इससे तो वही संतु में है कुछ बार बैंकों में देखा है कि जो छोटे बच्चे आते हैं नए बच्चे अपने वह लेकर कि मैंने यह छोटी दुकान खोली है या मुझे अपना कोई स्वरोजगार शुरू करना है तो बैंक मैनेजर मुझे कई बार देखा है कि उसे ध्यान से बात भी नहीं करते और उनको इतनी सारी फॉर्मेलिटीज बता देते हैं दुबारा आते ही नहीं है मोदी सरकार को चाहिए था कि वह इन चीजों पर ध्यान दो बच्चे हैं छोटे बच्चे हैं अपना अपना कोई कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो उनको इस दी लोन मिल जाते और वो अपना काम शुरू कर जाते उनकी रीपेमेंट क्यूटम्स एंड कंडीशन है उनको और इजी बनाया जाता तो इसे हमारा अच्छा होता कि भारत में कंपनियां कंपनियों के इंतजार ना करके हम खुद से

modi ji ne pichle 6 salon me itne videshi daure kiye hain mere paas is waqt uska akanda toh nahi hai ki unke upar kitna kharch aaya hai par aur videsh yatra par karodo rupaye ka budget kharch aa jata hai jaha ko jana hai jaha se videshi daure se hamein fayda ho raha hai hamare desh ke liye rojgar bante hain rojgar badhne ke liye companiya aati hai toh hamein jana zaroori hai uske liye kitna bhi paisa jo TV se NDTV se aur news paper ke madhyam se jaha tak lagta hai ki modi ji ki jitni bhi videshi yatraen rahi hain vaah takareeban safar me kahin se bhi hamein inavas tak nahi mile hain jo paisa pahunchane me humne kharch kiya hai use hum apne hi desh me chote chote rojgar srijan kar sakte the swar logo ko aasani se loan mil jata use vaah chote chote rojgar paida khud se toh sakte the apni investment karte apne rojgar badhate isse toh wahi santu me hai kuch baar bankon me dekha hai ki jo chote bacche aate hain naye bacche apne vaah lekar ki maine yah choti dukaan kholi hai ya mujhe apna koi swarojgar shuru karna hai toh bank manager mujhe kai baar dekha hai ki use dhyan se baat bhi nahi karte aur unko itni saari formalities bata dete hain dubara aate hi nahi hai modi sarkar ko chahiye tha ki vaah in chijon par dhyan do bacche hain chote bacche hain apna apna koi karobaar shuru karna chahte hain toh unko is di loan mil jaate aur vo apna kaam shuru kar jaate unki repayment kyutams and condition hai unko aur easy banaya jata toh ise hamara accha hota ki bharat me companiya companion ke intejar na karke hum khud se

मोदी जी ने पिछले 6 सालों में इतने विदेशी दौरे किए हैं मेरे पास इस वकत उसका आंकड़ा तो नहीं

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  102
WhatsApp_icon
18 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Dr. KRISHNA CHANDRA

Rehabilitation Psychologist

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी जी अगर विदेश दौरे के पैसे भारत की छोटी-मोटी कंपनियों में निवेश करते तो क्या रोजगार भर्ती का पिछले 70 साल में सरकारी विभाग काम कर रही थी वह भाग से नहीं थी हिंदुस्तान के अंदर 3234 परसेंट सेविंग से क्या वह बिजनेस भी नहीं लगता है कुछ करोड़ रुपए जो मोदी सरकार ने विदेश नीति पर विदेशों में अपनी स्थिति बनाने में सभी सीना का फाइट करने में विश्वास और मेक इन इंडिया में विदेशों के तब निकल रहा उसका चलाने से क्या रोजगार नहीं पढ़ते आज का कितने एन आर आई पी ओ आई बंद करके यहां पर आते हैं मोटर से बनी होता उससे पैसा नहीं बनता जो हमारा प्रेम डेंट हुआ था पत्थर के आसपास का निवेश की पॉलिसी से कोटा व 36 कड़वा तेल गवा 10 लाख लोग भारत में पुरुष नहीं देता है क्या उसको भारत में इंग्लिश नहीं कर रहे हैं यह बाहर आना भाई है वह क्या पैसा नहीं भेज रहे हैं आप कैसे रखता है कि मोदी जो अपने गवर्नमेंट में जाकर काम करता है वह सपना अपना पैसा बैंक तो शादी भी नहीं हुई

modi ji agar videsh daure ke paise bharat ki choti moti companiyo mein nivesh karte toh kya rojgar bharti ka pichhle 70 saal mein sarkari vibhag kaam kar rahi thi wah bhag se nahi thi Hindustan ke andar 3234 percent saving se kya wah business bhi nahi lagta hai kuch crore rupaye jo modi sarkar ne videsh niti par videshon mein apni sthiti banane mein sabhi seena ka fight karne mein vishwas aur make in india mein videshon ke tab nikal raha uska chalane se kya rojgar nahi padhte aaj ka kitne en r I p o I band karke yahan par aate hain motor se bani hota usse paisa nahi banta jo hamara prem dent hua tha patthar ke aaspass ka nivesh ki policy se quota v 36 kadwa tel gawa 10 lakh log bharat mein purush nahi deta hai kya usko bharat mein english nahi kar rahe hain yeh bahar aana bhai hai wah kya paisa nahi bhej rahe hain aap kaise rakhta hai ki modi jo apne government mein jaakar kaam karta hai wah sapna apna paisa bank toh shadi bhi nahi hui

मोदी जी अगर विदेश दौरे के पैसे भारत की छोटी-मोटी कंपनियों में निवेश करते तो क्या रोजगार भर

Romanized Version
Likes  286  Dislikes    views  5723
WhatsApp_icon
user

Dr. Ashwani Kumar Singh

Chairman & Director at VEMS

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल गलत है भाई अगर किसी ने जानकार आदमी ने यह सवाल पूछा है जो राजनीति के संबंध में आप पिछले 70 सालों में आप खोजिए बहुत सारी नरेंद्र मोदी के बाहर की यात्रा का तमाम दबा दें कि उन्होंने पूरे विश्व में जो भारत की लॉबिंग की बेस्ट नेटवर्क तैयार किया कि आज पूरा विश्व भारत के साथ खड़ा होने में अपनी शक्ति और यह सब की समस्या या अपने को गौरवान्वित महसूस करते हैं इससे पहले तो कभी नहीं हुआ अमेरिका की राष्ट्रपति से मुलाकात इंटरव्यू में पूछा कोई भी प्राइम मिनिस्टर के पहले वह सरकार का सरकार की सपना कबड्डी का सारा खर्च अपने जैसे मैंने जो भी लोग जाते हैं उनको उनको भी अपने पिता और इस तरह का या तो जो भी लोग पूछ रहे हैं कृपा करके थोड़ा ध्यान करके अगर सवाल पूछा जाता है

bilkul galat hai bhai agar kisi ne janakar aadmi ne yeh sawal puchha hai jo rajneeti ke sambandh mein aap pichhle 70 salon mein aap khojiye bahut saree narendra modi ke bahar ki yatra ka tamam daba dein ki unhone poore vishwa mein jo bharat ki lobbying ki best network taiyaar kiya ki aaj pura vishwa bharat ke saath khada hone mein apni shakti aur yeh sab ki samasya ya apne ko gaurvanvit mahsus karte hain isse pehle toh kabhi nahi hua america ki Rashtrapati se mulakat interview mein puchha koi bhi prime minister ke pehle wah sarkar ka sarkar ki sapna kabaddi ka saara kharch apne jaise maine jo bhi log jaate hain unko unko bhi apne pita aur is tarah ka ya toh jo bhi log poochh rahe hain kripa karke thoda dhyan karke agar sawal puchha jata hai

बिल्कुल गलत है भाई अगर किसी ने जानकार आदमी ने यह सवाल पूछा है जो राजनीति के संबंध में आप प

Romanized Version
Likes  88  Dislikes    views  2809
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह तो अपने आप में राजनीतिक द्वार ग्रह की दृष्टि से किया हुआ यह प्रश्न है मोदी जी की विदेश यात्राओं का की एक छोटी बांध की आपको बताते हैं छोटे आंकड़े कुछ आपको आपके सामने रखते हैं आपको समझ में आ जाएगा कि जो खर्चे हुए हैं उसका प्रतिफल क्या मिला है कुल 55 देशों की यात्रा मोदी जी ने की है अपने पूरे कार्यकाल में और इन 55 देशों की यात्रा करने में जो खर्च आया है वह 352 करो रुपए का आया है लेकिन भारत को क्या मिला है यह खर्च करने के बाद सांस्कृतिक दृष्टि से आर्थिक दृष्टि से सामरिक दृष्टि से अंतरराष्ट्रीय संबंधों की दृष्टि से भारत कितना सशक्त और मजबूत हुआ है आप देखिए इन देशों के माध्यम से जो भारत में निवेश हुआ है वह 17 लाख करोड़ रुपए का है उसका एक छोटा एग्जांपल छोटा उदाहरण आपको देते हैं अकेला ही प्रोजेक्ट जापान के द्वारा भारत में अहमदाबाद से मुंबई तक बुलेट ट्रेन का निर्माण किया जा रहा है जिसमें 90000 करोड रुपए खर्च आ रहे हैं और वह भी पैसा जापान सरकार स्वयं लगा रही है और वह भी बहुत सस्ते दर पर कर्ज के रूप में long-term बेसिस पर लोन दिया हुआ है बहुत ही नॉमिनल ब्याज दर यह होती है अंतरराष्ट्रीय संबंधों की ताकत यह होती है मोदी के विदेश नीति की ताकत जिस कारण से इतना बड़ा निवेश एक तरफ से आप समझ लीजिए कि मुफ्त में आपको इतनी बड़ी चीज इस देश मिला करके मोदी जी ने दे दिया तो उनका तो एक ही प्रोजेक्ट अंकित कुल खर्च से कई गुना ज्यादा है और रही अगर सारे प्रोजेक्ट

yeh toh apne aap mein raajnitik dwar grah ki drishti se kiya hua yeh prashna hai modi ji ki videsh yatraon ka ki ek choti bandh ki aapko batatey hain chhote aankade kuch aapko aapke saamne rakhte hain aapko samajh mein aa jayega ki jo kharche hue hain uska pratiphal kya mila hai kul 55 deshon ki yatra modi ji ne ki hai apne poore karyakal mein aur in 55 deshon ki yatra karne mein jo kharch aaya hai wah 352 karo rupaye ka aaya hai lekin bharat ko kya mila hai yeh kharch karne ke baad sanskritik drishti se aarthik drishti se samarik drishti se antararashtriya sambandhon ki drishti se bharat kitna sashakt aur mazboot hua hai aap dekhie in deshon ke maadhyam se jo bharat mein nivesh hua hai wah 17 lakh crore rupaye ka hai uska ek chota example chota udaharan aapko dete hain akela hi project japan ke dwara bharat mein ahmedabad se mumbai tak bullet train ka nirmaan kiya ja raha hai jisme 90000 crore rupaye kharch aa rahe hain aur wah bhi paisa japan sarkar swayam laga rahi hai aur wah bhi bahut saste dar par karj ke roop mein long-term basis par loan diya hua hai bahut hi nominal byaj dar yeh hoti hai antararashtriya sambandhon ki takat yeh hoti hai modi ke videsh niti ki takat jis kaaran se itna bada nivesh ek taraf se aap samajh lijiye ki muft mein aapko itni badi cheez is desh mila karke modi ji ne de diya toh unka toh ek hi project ankit kul kharch se kai guna zyada hai aur rahi agar saare project

यह तो अपने आप में राजनीतिक द्वार ग्रह की दृष्टि से किया हुआ यह प्रश्न है मोदी जी की विदेश

Romanized Version
Likes  394  Dislikes    views  4623
WhatsApp_icon
user

Deepak Goyal

Co-Founder, Goyal Solanki & Co

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मनी ऑन ऑल कंपनी बर्थडे प्वाइंट्स करने पर गवर्नमेंट को यह फायदा मिला कि वर्ल्ड कॉलोनी में जो पहचान थी वह चेंज हो चुकी है टोटली पहले इंडियन स्कोर बहुत खराब नजर से देखा जाता था ना वह इंडियन कैन वॉक विद ठेर हेड स्टेट

money on all company birthday pwaints karne par government ko yah fayda mila ki world colony mein jo pehchaan thi vaah change ho chuki hai totally pehle indian score bahut kharaab nazar se dekha jata tha na vaah indian can walk with ther head state

मनी ऑन ऑल कंपनी बर्थडे प्वाइंट्स करने पर गवर्नमेंट को यह फायदा मिला कि वर्ल्ड कॉलोनी में ज

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  1120
WhatsApp_icon
user

Rahul Bharat

राजनैतिक विश्लेषक

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल सही कहा मोदी जी का विदेश के दौरे के पैसे बात की छुट्टी बड़ी कंपनी में निवेश करते हुए रोजगार बढ़ जाते हैं अगर मोदी जी खाना नहीं खाते तो बेरोजगार बढ़ जाता आप भी नहीं खाना खाते तो रोजगार बढ़ जाते सारे यह ट्रांसपोर्टेशन खत्म कर दिए जाए उसी को क्यों यहां सब कुछ खत्म कर दिया जाए सारे बस ट्रक रेलवे बरेली में कितना पैसा लगता है यहां से आ जाती है उसको खत्म कर दिया जाए सारा पैसा कंपनियों में निवेश कर दिया जाए

bilkul sahi kaha modi ji ka videsh ke daure ke paise baat ki chhutti badi company mein nivesh karte hue rojgar badh jaate hain agar modi ji khana nahi khate toh berozgaar badh jata aap bhi nahi khana khate toh rojgar badh jaate saare yeh transportation khatam kar diye jaye usi ko kyon yahan sab kuch khatam kar diya jaye saare bus truck railway bareilly mein kitna paisa lagta hai yahan se aa jati hai usko khatam kar diya jaye saara paisa companiyo mein nivesh kar diya jaye

बिल्कुल सही कहा मोदी जी का विदेश के दौरे के पैसे बात की छुट्टी बड़ी कंपनी में निवेश करते ह

Romanized Version
Likes  233  Dislikes    views  2378
WhatsApp_icon
user

Dr.Vishal Saxena

Founder & HOD VSCC

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जहां तक मोदी जी के विदेश दौरों का सवाल है और उसका भारत की कंपनियों में निवेश करने से अगर कोई संबंध स्थापित किया जाए तो मैं यहां स्पष्ट करना चाहूंगा कि दोनों ही बातें बिल्कुल अलग अलग है जिनका आपस में एक दूसरे से कोई लेना देना नहीं है जब देश का प्रधानमंत्री और जिसका की विदेश मंत्रालय में भी काफी दखल हूं जब वह देश के बाहर जाकर तमाम देशों से अपने व्यापारिक और कूटनीतिक संबंध बनाना चाहता हूं तो ऐसे में यह बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है कि उसको एक फ्रीडम जरूर मिलना चाहिए अजब विधि द्वारा करते हैं तो केवल एक दौरा भ्रमण करने का किसी का व्यक्तिगत टूर नहीं होता है जबकि वह देश को समृद्ध करने की दिशा में उठाया गया कदम होता है अगर आप देखे हाल में जितने भी वैश्विक स्तर पर मत ले रहे हैं जिनको जिन मुद्दों में भारत को विश्व के तमाम कंट्रीज का अप्रत्याशित रूप से समर्थन मिला है उसका रीजन यही है कि मोदी जी ने अपने सारे 4 साल के कार्यकाल में अपने विदेशी संबंधों को भारत के तमाम देशों से जो परस्पर व्यापारिक और जो गैर व्यापारिक संबंध है उनको बहुत तेजी से बढ़ावा दिया है और कभी भी ध्यान रखना चाहिए कि जो समन्वय और जो तालमेल होता है वह दो तरफा होता है तो जब आप दूसरे देश में जाते हैं उनसे बातचीत करते हैं अपने भारत में जिस तरीके से विकास हो रहे हैं उनको अवगत कराते हैं तो भारत के लिए बहुत सारा निवेश लेकर आते हैं अभी हाल ही में देखा जाएगी अगर जो क्राउन अपने यहां पर आए थे क्रॉउन प्रिंस एमबीएस सऊदी सऊदी अरब से तो उन्होंने व्हाट हैव इंडिया में करें जिसका मोटी भी यही होता है कि उनको यह नजर आना चाहिए बाहरी लोगों को कि भारत में निवेश की क्षमताएं हैं निवेश का माहौल है और यह उनको तभी पता चलेगा जब भारत में या भारत का कोई एक शक्तिशाली नेतृत्व आगे बढ़ेगा और उनको अपनी शक्ति के बारे में बताएं

jahan tak modi ji ke videsh dauron ka sawal hai aur uska bharat ki companiyo mein nivesh karne se agar koi sambandh sthapit kiya jaye toh main yahan spasht karna chahunga ki dono hi batein bilkul alag alag hai jinka aapas mein ek dusre se koi lena dena nahi hai jab desh ka Pradhanmantri aur jiska ki videsh mantralay mein bhi kafi dakhal hoon jab wah desh ke bahar jaakar tamam deshon se apne vyaparik aur kutanitik sambandh banana chahta hoon toh aise mein yeh bahut mahatvapurna ho jata hai ki usko ek freedom zaroor milna chahiye ajab vidhi dwara karte hain toh keval ek daura bhraman karne ka kisi ka vyaktigat tour nahi hota hai jabki wah desh ko samriddh karne ki disha mein uthaya gaya kadam hota hai agar aap dekhe haal mein jitne bhi vaishvik sthar par mat le rahe hain jinako jin muddon mein bharat ko vishwa ke tamam countries ka apratyashit roop se samarthan mila hai uska reason yahi hai ki modi ji ne apne saare 4 saal ke karyakal mein apne videshi sambandhon ko bharat ke tamam deshon se jo paraspar vyaparik aur jo gair vyaparik sambandh hai unko bahut teji se badhawa diya hai aur kabhi bhi dhyan rakhna chahiye ki jo samanvay aur jo talmel hota hai wah do tarafa hota hai toh jab aap dusre desh mein jaate hain unse batchit karte hain apne bharat mein jis tarike se vikas ho rahe hain unko avgat karate hain toh bharat ke liye bahut saara nivesh lekar aate hain abhi haal hi mein dekha jayegi agar jo crown apne yahan par aaye the clown prince MBS saudi saudi arab se toh unhone what have india mein karein jiska moti bhi yahi hota hai ki unko yeh nazar aana chahiye baahri logon ko ki bharat mein nivesh ki kshamataen hain nivesh ka maahaul hai aur yeh unko tabhi pata chalega jab bharat mein ya bharat ka koi ek shaktishali netritva aage badhega aur unko apni shakti ke bare mein bataye

जहां तक मोदी जी के विदेश दौरों का सवाल है और उसका भारत की कंपनियों में निवेश करने से अगर क

Romanized Version
Likes  74  Dislikes    views  1901
WhatsApp_icon
user

Tapendra Singh

Director, DEV CLASSES, BAREILY

1:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो मोदी जी का विदेश दौरा है वह आपके कह रहे हो कि उसका पैसा जो है वह छोटी मोटी कंपनियों में इन्वेस्ट करते अरे वह विदेश दौरे करके उन्होंने तो लाखों करोड़ों रुपए का इन्वेस्टमेंट भारत में लाए हैं जो विदेशी कंपनियां जो भारत में नहीं आना चाहती थी उनका पैसा भारत में इन्वेस्ट कराया ऐसे बोरिंग है या सैमसंग है जो बड़ी-बड़ी कंपनियां जिन्होंने भारत में कोई उद्योग नहीं लगाए थे वह सब भारत में जो है अब मोदी जी की वजह से जनित रोग लगाए हैं जिससे कि हमारे देश को रोजगार भी मिला है विदेशी मुद्रा भी बाहर आता ही है और जो है भारत को फायदा हुआ है जो है पैसों का भी टैक्सेस में भी बढ़ोतरी होगी और इसके साथ साथ जो है मोदी जी की विदेश यात्रा केवल वैसे ही लाने के लिए नहीं थी उन्होंने जो काम करे हैं जिससे भारत में भारत के साथ विदेशों में बड़ी है भारत के सपोर्ट में विदेश खड़े हुए हैं अमेरिका वगैरह जो हमेशा पाकिस्तान का सपोर्ट करता था वह भारत का सपोर्ट करने लगा है यह तो इसलिए आप यह नहीं कह सकते कि छोटी जगह इन्वेस्ट करके फायदा होता ठीक है उन्होंने लोंग टर्म इन्वेस्टमेंट सोचा है बहुत लंबे समय के लिए भारत को फायदा पहुंचा है

hello modi ji ka videsh daura hai wah aapke keh rahe ho ki uska paisa jo hai wah choti moti companiyo mein invest karte arre wah videsh daure karke unhone toh laakhon karodo rupaye ka investment bharat mein laye hain jo videshi companiyan jo bharat mein nahi aana chahti thi unka paisa bharat mein invest karaya aise boaring hai ya samsung hai jo badi badi companiyan jinhone bharat mein koi udyog nahi lagaye the wah sab bharat mein jo hai ab modi ji ki wajah se janit rog lagaye hain jisse ki hamare desh ko rojgar bhi mila hai videshi mudra bhi bahar aata hi hai aur jo hai bharat ko fayda hua hai jo hai paison ka bhi taxes mein bhi badhotari hogi aur iske saath saath jo hai modi ji ki videsh yatra keval waise hi lane ke liye nahi thi unhone jo kaam kare hain jisse bharat mein bharat ke saath videshon mein badi hai bharat ke support mein videsh khade hue hain america vagairah jo hamesha pakistan ka support karta tha wah bharat ka support karne laga hai yeh toh isliye aap yeh nahi keh sakte ki choti jagah invest karke fayda hota theek hai unhone long term investment socha hai bahut lambe samay ke liye bharat ko fayda pahuncha hai

हेलो मोदी जी का विदेश दौरा है वह आपके कह रहे हो कि उसका पैसा जो है वह छोटी मोटी कंपनियों म

Romanized Version
Likes  73  Dislikes    views  1453
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

1:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप का सवाल है कि मोदी जी विदेश जाने के पैसे से छोटी छोटी कंपनियों में इन्वेस्टमेंट करते तो यहां की बेरोजगारी खत्म होती आप लोग मोदी जी विदेश जाते हैं उसको गलत तरीके से क्यों लेते हैं मोदी जी विदेश जाते हैं पहले भी लोग विदेश जाते थे इतना लोग जागरुक नहीं थे कि कुछ बात कर सके कुछ बोल सके आज हम सभी लोग जागरूक हैं हम लोग वार्तालाप करते हैं किसके माध्यम से वार्तालाप करते हैं आज हम लोग सोशल मीडिया पर इतना सक्रिय हुए हैं अमीर गरीब सभी लोगों के पास फोन है इंटरनेट है किसके माध्यम से फोन इंटरनेट है सब कुछ मोदी जी के माध्यम से 2014 के बाद मोबाइल डाटा का इतना रेट कम कर दिया कि आज अमीर गरीब सभी लोग यूज कर रहे हैं आज हम लोग इतना जागरूक हो गए हैं कि हम लोग किसी भी मुद्दे पर सवा सौ करोड़ देशवासी बात करने के लिए तैयार है देखिए मोदी जी विदेश जाते हैं तो विदेश जाने से बहुत फायदा होता है आज आपका संबंध इजराइल से अच्छा है अमेरिका से अच्छा है फ्रांस अच्छा है ब्रिटेन से अच्छा है सभी देशों से अच्छा है चाइना को छोड़ कर अभी देखिए आपके देश के विंग कमांडर फंसे हुए थे पाकिस्तान में तो सारे बिट्टू पावर के कंट्री ने कूटनीतिक राजनीतिक बनाई है और कूटनीतिक दबाव बनाया पाकिस्तान के ऊपर और हमारे कमांडर कौन को छोड़ना पड़ा आज आपके देश में बुलेट ट्रेन चल रही है किसके वजह से मोदी जी अगर विदेश नहीं जाते जापान टोक्यो जापान अट्ठासी 1000 करोड़ रूपया देता इंडिया को कभी नहीं देता आज आपका देश बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है जो हमारे देश के ना लाई बाहर में रहते हैं मोदी जी वहां जाते हैं उनसे मिलते हैं उनसे बोलते हैं कि आप लोग भी कुछ अपने देश के लिए करिए तो मोदी जी इसलिए जाते हैं मोदी जी के जाने के कारण ही आज आपका देश इकोनॉमिकल ग्रोथ में सबसे तेजी से आगे बढ़ने वाला देश है 2019 का चुनाव नजदीक है हम सभी लोगों को अपना महत्वपूर्ण वोट भारतीय जनता पार्टी को देना चाहिए तभी हमारा देश आगे बढ़ेगा धन्यवाद

aap ka sawaal hai ki modi ji videsh jaane ke paise se choti choti companion mein investment karte toh yahan ki berojgari khatam hoti aap log modi ji videsh jaate hain usko galat tarike se kyon lete hain modi ji videsh jaate hain pehle bhi log videsh jaate the itna log jagruk nahi the ki kuch baat kar sake kuch bol sake aaj hum sabhi log jaagruk hain hum log vartalaap karte hain kiske madhyam se vartalaap karte hain aaj hum log social media par itna sakriy hue hain amir garib sabhi logon ke paas phone hai internet hai kiske madhyam se phone internet hai sab kuch modi ji ke madhyam se 2014 ke baad mobile data ka itna rate kam kar diya ki aaj amir garib sabhi log use kar rahe hain aaj hum log itna jaagruk ho gaye hain ki hum log kisi bhi mudde par sava sau crore deshvasi baat karne ke liye taiyar hai dekhiye modi ji videsh jaate hain toh videsh jaane se bahut fayda hota hai aaj aapka sambandh israel se accha hai america se accha hai france accha hai britain se accha hai sabhi deshon se accha hai china ko chhod kar abhi dekhiye aapke desh ke wing commander fanse hue the pakistan mein toh saare bittu power ke country ne kutanitik raajnitik banai hai aur kutanitik dabaav banaya pakistan ke upar aur hamare commander kaun ko chhodna pada aaj aapke desh mein bullet train chal rahi hai kiske wajah se modi ji agar videsh nahi jaate japan Tokyo japan atthasi 1000 crore rupaya deta india ko kabhi nahi deta aaj aapka desh bahut teji se aage badh raha hai jo hamare desh ke na lai bahar mein rehte hain modi ji wahan jaate hain unse milte hain unse bolte hain ki aap log bhi kuch apne desh ke liye kariye toh modi ji isliye jaate hain modi ji ke jaane ke karan hi aaj aapka desh economical growth mein sabse teji se aage badhne vala desh hai 2019 ka chunav nazdeek hai hum sabhi logon ko apna mahatvapurna vote bharatiya janta party ko dena chahiye tabhi hamara desh aage badhega dhanyavad

आप का सवाल है कि मोदी जी विदेश जाने के पैसे से छोटी छोटी कंपनियों में इन्वेस्टमेंट करते तो

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  412
WhatsApp_icon
user

Harish Agarwal

Chartered Accountant

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी जी विदेशों में दौरा करते हैं अभी तो सर विदेशों में होने वाले दौरे पर लगने वाले खर्चे को आप अदर इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं पर कई राजनीतिक रूप से या दूसरे कारणों से विदेशी दौरा भी प्रधानमंत्री आवश्यक है एक अजीज ने पल्लियादी आवश्यक रूप से दी मोदी जी विदेशों में दौरा करते हैं तो कोई बुराई नहीं

modi ji videshon mein daura karte hain abhi toh sir videshon mein hone waale daure par lagne waale kharche ko aap other investment kar sakte hain par kai raajnitik roop se ya dusre karanon se videshi daura bhi pradhanmantri aavashyak hai ek aziz ne palliyadi aavashyak roop se di modi ji videshon mein daura karte hain toh koi burayi nahi

मोदी जी विदेशों में दौरा करते हैं अभी तो सर विदेशों में होने वाले दौरे पर लगने वाले खर्चे

Romanized Version
Likes  81  Dislikes    views  1024
WhatsApp_icon
user

sujeet Kumar

Teaching

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी जी दूरदर्शी शासक हैं मोदी जी विदेश दौरा इसलिए करते हैं कि सारे देशों से दोस्ती करके भारत को मजबूत बनाया जा सके ताकि भारत का कोई दुश्मन ना रहे और सभी भारत के हित के बारे में सोचे यदि हमारा देश सुरक्षित रहेगा तो कई भी कंपनियां खुल सकती है और रोजगार बढ़ सकते हैं देश सुरक्षित नहीं रहेगा तो कंपनियों को बढ़ाने पर कोई लाभ नहीं होगा

modi ji doordarshi shasak hain modi ji videsh daura isliye karte hain ki saare deshon se dosti karke bharat ko mazboot banaya ja sake taki bharat ka koi dushman na rahe aur sabhi bharat ke hit ke bare mein soche yadi hamara desh surakshit rahega toh kai bhi companiyan khul sakti hai aur rojgar badh sakte hain desh surakshit nahi rahega toh companion ko badhane par koi labh nahi hoga

मोदी जी दूरदर्शी शासक हैं मोदी जी विदेश दौरा इसलिए करते हैं कि सारे देशों से दोस्ती करके भ

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  90
WhatsApp_icon
user

Vikram

Politician

1:03
Play

Likes  4  Dislikes    views  118
WhatsApp_icon
user

आशीष सिंह राजपूत 7801995702

नेटवर्क मार्केटिंग

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी के घर बैठे 9265 और कदम ले बाटी नेटवर्क मार्केटिंग करिए और इंडिया को डिजिटल बनाइए नंबर 485 अनुशासन

modi ke ghar baithe 9265 aur kadam le bati network marketing kariye aur india ko digital banaiye number 485 anushasan

मोदी के घर बैठे 9265 और कदम ले बाटी नेटवर्क मार्केटिंग करिए और इंडिया को डिजिटल बनाइए नंबर

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  80
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बात सही अगर मोदी जी विदेश ना जाकर और अंतरिक्ष पर ना करके हमारे भारत देश की छोटी मोटी कंपनियों पर कोई अच्छे काम करा देते हैं कोई मुझसे पैसा लगा देते तो हमारा देश आगे बढ़ सकता है क्योंकि बीजेपी नेता होता नहीं है वह करोड़ों करोड़ों खर्च कर देते इसलिए मोदी जी आप अपने देश का पैसा अपने कम देश की कंपनी यूनिटी यूनिटी में लगाई और देश के युवा को आगे बढ़ाएं

baat sahi agar modi ji videsh na jaakar aur antariksh par na karke hamare bharat desh ki choti moti companion par koi acche kaam kara dete hain koi mujhse paisa laga dete toh hamara desh aage badh sakta hai kyonki bjp neta hota nahi hai vaah karodo karodo kharch kar dete isliye modi ji aap apne desh ka paisa apne kam desh ki company unity unity mein lagayi aur desh ke yuva ko aage badhayen

बात सही अगर मोदी जी विदेश ना जाकर और अंतरिक्ष पर ना करके हमारे भारत देश की छोटी मोटी कंपनि

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  141
WhatsApp_icon
user

Shalu

Financial Expert

0:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां अगर वह तो छोटी मोटी कंपनियों में अपने पैसे इन्वेस्ट करते तो जरूर किसी भी चीज की लाइफ में आदमी को परेशानी की जरूरत नहीं हो वह अपना पालन पोषण कर सकता है आत्महत्या करने को मजबूर नहीं हो सकता

ji haan agar vaah toh choti moti companion mein apne paise invest karte toh zaroor kisi bhi cheez ki life mein aadmi ko pareshani ki zaroorat nahi ho vaah apna palan poshan kar sakta hai atmahatya karne ko majboor nahi ho sakta

जी हां अगर वह तो छोटी मोटी कंपनियों में अपने पैसे इन्वेस्ट करते तो जरूर किसी भी चीज की लाइ

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  77
WhatsApp_icon
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी जी के विदेश दौरों में जितना पैसा खर्च हुआ है देश का अगर उसका कुछ परसेंटेज भी बचाया जाता सरकार के द्वारा और उसे छोटी कंपनियों को आगे बढ़ाने में लगाया जाता यानी कि उन्हें फंडिंग की जाती तो कई ऐसी छोटी कंपनियां है जो कि आगे बढ़ सकती थी और जिसकी वजह से कई लोगों को रोजगार प्राप्त हो सकता था हमारे देश में नए-नए Idea आप लोग लेकर के आते हैं कंपनी खोलने के लिए लेकिन पैसे की कमी की वजह से वह आगे नहीं बढ़ पाते हैं तो सरकार को यह मत सोचना चाहिए कि अगर आज जो पैसा विदेशी दौरों पर खर्च हो रहा है उसे बचाया जाए और ऐसे छोटे बिजनेस को दिया जाए ताकि वह आगे बढ़ सके तो यह लोगों के लिए काफी अच्छा होगा

modi ji ke videsh dauron mein jitna paisa kharch hua hai desh ka agar uska kuch percentage bhi bachaya jata sarkar ke dwara aur use choti companion ko aage badhane mein lagaya jata yani ki unhe funding ki jaati toh kai aisi choti companiyan hai jo ki aage badh sakti thi aur jiski wajah se kai logon ko rojgar prapt ho sakta tha hamare desh mein naye naye Idea aap log lekar ke aate hain company kholne ke liye lekin paise ki kami ki wajah se vaah aage nahi badh paate hain toh sarkar ko yah mat sochna chahiye ki agar aaj jo paisa videshi dauron par kharch ho raha hai use bachaya jaaye aur aise chhote business ko diya jaaye taki vaah aage badh sake toh yah logon ke liye kafi accha hoga

मोदी जी के विदेश दौरों में जितना पैसा खर्च हुआ है देश का अगर उसका कुछ परसेंटेज भी बचाया जा

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  222
WhatsApp_icon
user

amitkul

CA student,pursuing bcom too

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी जी दो अलग-अलग देश के दौरे कर रहे हैं इससे जो है मैं क्या बोलूं यह कहूंगा कि इनडायरेक्ट लिए जो है कंपनी स्कोर छोटी कंपनी इस को रोजगार मिलेगा क्योंकि जो है मेरे हिसाब से तो अगर मैं फॉरेन इन्वेस्टमेंट होगा तो बड़ी-बड़ी बाहर बाहर देशों में जो बड़ी कंपनियां है वह यहां पर आएंगे अपना काम जमाएंगे अपने स्टेटस बनाएंगे लेकिन उनका मैन्युफैक्चरिंग थे वह लोग बाहर से कर ख़रीद कर नहीं सकते अगर वह करेंगे भी तो टैक्स लगेगा तो भूल का प्रोडक्ट है पर महंगा बिकेगा तुम अपना पेट नहीं कमा पाएंगे तू मेरे हिसाब से तो वह जो है इन्वेस्टमेंट है जो बाहर की कंपनियां है वह अपना सामान का जो प्रोडक्शन का कॉन्ट्रैक्ट है वह यही के छोटे-मोटे कंपनियां को ही देंगे लेकिन उन बड़ी कंपनियों के नाम पर वह बिकेगा तो वह थोड़ा बहुत तो नुकसान जरूर होगा इसमें लेकिन अगर सरकार ने उन्हें बड़ी-बड़ी कंपनियों पर यह टेक्स इस लगाएंगे तो वह तो वह तो जरूर संभव होगा कि कि जो रवि न्यूज़ हो है जो कमाई जो है वह हर देश से बाहर जा रही है उसमें से थोड़ी बहुत तो टैक्स इसके द्वारा भारत में ही रह रिटर्न हो जाए

modi ji do alag alag desh ke daure kar rahe hain isse jo hai main kya bolun yah kahunga ki indirect liye jo hai company score choti company is ko rojgar milega kyonki jo hai mere hisab se toh agar main foreign investment hoga toh badi badi bahar bahar deshon mein jo badi companiyan hai vaah yahan par aayenge apna kaam jamaenge apne status banayenge lekin unka manufacturing the vaah log bahar se kar kharid kar nahi sakte agar vaah karenge bhi toh tax lagega toh bhool ka product hai par mehnga bikega tum apna pet nahi kama payenge tu mere hisab se toh vaah jo hai investment hai jo bahar ki companiyan hai vaah apna saamaan ka jo production ka contracts hai vaah yahi ke chhote mote companiyan ko hi denge lekin un badi companion ke naam par vaah bikega toh vaah thoda bahut toh nuksan zaroor hoga isme lekin agar sarkar ne unhe badi badi companion par yah tax is lgaenge toh vaah toh vaah toh zaroor sambhav hoga ki ki jo ravi news ho hai jo kamai jo hai vaah har desh se bahar ja rahi hai usmein se thodi bahut toh tax iske dwara bharat mein hi reh return ho jaaye

मोदी जी दो अलग-अलग देश के दौरे कर रहे हैं इससे जो है मैं क्या बोलूं यह कहूंगा कि इनडायरेक्

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  151
WhatsApp_icon
user

अमन टेस्ट

Android Developer

0:11
Play

Likes  11  Dislikes    views  359
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!