तीन तलाक का मुद्दा राजनैतिक है या आज के समाज की ज़रूरत?...


user

vivek sharma

BANK PO| Astrologer | Mutual Fund Advisor। Career Counselor

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तीन तलाक का मुद्दा राजनीतिक है या आज के समाज की जरूरत है तीन तलाक महिलाओं के साथ एक काला अध्याय और इसको खत्म होना बहुत ही जरूरी था इससे की कई महिलाएं इनका जीवन अंधेरे में था और आगे भी वह अपना जीवन सिक्योर नहीं कर पा रही थी उनके लिए तीन तलाक खत्म होना एक आशा की किरण है और उनके जिनके जीवन खराब है उनके लिए तो इससे बड़ा पूरी दुनिया में कुछ हो ही नहीं सकता धन्यवाद

teen talak ka mudda raajnitik hai ya aaj ke samaj ki zarurat hai teen talak mahilaon ke saath ek kaala adhyay aur isko khatam hona bahut hi zaroori tha isse ki kai mahilaye inka jeevan andhere me tha aur aage bhi vaah apna jeevan secure nahi kar paa rahi thi unke liye teen talak khatam hona ek asha ki kiran hai aur unke jinke jeevan kharab hai unke liye toh isse bada puri duniya me kuch ho hi nahi sakta dhanyavad

तीन तलाक का मुद्दा राजनीतिक है या आज के समाज की जरूरत है तीन तलाक महिलाओं के साथ एक काला अ

Romanized Version
Likes  37  Dislikes    views  346
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

महेश सेठ

रेकी ग्रैंडमास्टर,लाइफ कोच

0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तीन तलाक का मुद्दा समाज की जरूरत है बाकी लोग राजनीति कर रहे हैं वो अलग बात है कि अपने अपने वोट बैंक है सबकी अपनी-अपनी समझ है तो उनको करने दीजिए और जो उसके लाभ हैं वो अनंत हैं धन्यवाद

teen talak ka mudda samaj ki zarurat hai baki log raajneeti kar rahe hain vo alag baat hai ki apne apne vote bank hai sabki apni apni samajh hai toh unko karne dijiye aur jo uske labh hain vo anant hain dhanyavad

तीन तलाक का मुद्दा समाज की जरूरत है बाकी लोग राजनीति कर रहे हैं वो अलग बात है कि अपने अपने

Romanized Version
Likes  117  Dislikes    views  2666
WhatsApp_icon
user

Suraj Shaw

Entrepreneur, Career Counsellor

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स देखिए तीन तलाक का जो मुद्दा है वह तो पूरी तरीके से समाज की जरूरत थी हाय से पॉलीटिकल लीडर्स को फायदा होगा लेकिन उससे ज्यादा अच्छी बात यह है कि इससे हमारे समाज को भी काफी फायदा होगा जो मुस्लिम सेक्शन ए सोसायटी का उस सेक्शन ने आज भी फीमेल्स को इतने राइट्स नहीं दे रखे तो यह अच्छी चीज है कि भारत की सरकार ने उनके बारे में सोचा ऐसे नियम बनाए जिससे उनकी लाइफ में कुछ तो बैटर बैटर होगा जिसे समाज के लिए बहुत अच्छा है और समाज के लिए किया गया अगर उनको फायदा हो रहे टेबलेट इसको तो अच्छी बात है एक तीर से दो निशाने हो रहे तो क्या दिक्कत है

hello friends dekhiye teen talak ka jo mudda hai vaah toh puri tarike se samaj ki zarurat thi hi se political leaders ko fayda hoga lekin usse zyada achi baat yah hai ki isse hamare samaj ko bhi kaafi fayda hoga jo muslim section a sociaty ka us section ne aaj bhi fimels ko itne rights nahi de rakhe toh yah achi cheez hai ki bharat ki sarkar ne unke bare mein socha aise niyam banaye jisse unki life mein kuch toh better better hoga jise samaj ke liye bahut accha hai aur samaj ke liye kiya gaya agar unko fayda ho rahe tablet isko toh achi baat hai ek teer se do nishane ho rahe toh kya dikkat hai

हेलो फ्रेंड्स देखिए तीन तलाक का जो मुद्दा है वह तो पूरी तरीके से समाज की जरूरत थी हाय से

Romanized Version
Likes  63  Dislikes    views  920
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तीन तलाक का मुद्दा राजनीतिक है या आज के समाज की जरूरत है कि तीन तलाक का मुद्दा राजनीतिक है बन गया है ठीक है लेकिन वह आज के समाज की जरूरत भी है ओके और बहुत जरूरत है ठीक है धन्यवाद

teen talak ka mudda raajnitik hai ya aaj ke samaj ki zarurat hai ki teen talak ka mudda raajnitik hai ban gaya hai theek hai lekin vaah aaj ke samaj ki zarurat bhi hai ok aur bahut zarurat hai theek hai dhanyavad

तीन तलाक का मुद्दा राजनीतिक है या आज के समाज की जरूरत है कि तीन तलाक का मुद्दा राजनीतिक है

Romanized Version
Likes  420  Dislikes    views  4125
WhatsApp_icon
user

Ravi Sharma

Advocate

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे विचार से तीन तलाक का जो होता है वह ज्यादा राजनीतिक है और कम सामाजिक परंतु इसकी आवश्यकता थी और बहुत लंबे समय से थी अगर हम इस्लामिक राष्ट्रों की एक सूची उठाकर देखें तो हमें पाएंगे कि बहुत ही कम राष्ट्रीय से रह गए हैं इस्लामिक राष्ट्र जिसमें तीन तलाक का प्रवेशन दिया गया है जिसके आधार पर तीन बार तलाक कहने से एक आदमी औरत को घर से निकाल सकता है और से बेघर कर सकता है भारत में यह जो कुप्रथा है वह बहुत समय से चली आ रही है और इसका कोई औचित्य मुझे आज के युग में नजर नहीं आता जब आधुनिकता का दौर है विकासवादी राजनीति का दौर है उस समय में इस प्रकार के मुद्दे चलाए जा रहे हैं सामने यह शुद्ध रूप से राजनीतिक है परंतु इसका एक सामाजिक और चित्र भी है और समाज को इससे निजात दिलाने के लिए बीजेपी की सरकार ने बहुत ही ईमानदार प्रयास किया लेकिन मैं भी मानता हूं कि कुछ लीगल पेज है जो की कुश्ती ले छूट गए और जिसके बिना इस कानून को पास करना किसी भी प्रकार से उचित नहीं है उदाहरण के तौर पर अगर हम भारतीय दंड संहिता की धारा 498 ए यानी 498ए उठाकर देखें जिसमे बिना किसी सबूत के और गवाह के घरेलू हिंसा के घरेलू हिंसा के आरोप में एक व्यक्ति को फसाया जाता था और उसके बाद उसके कुप्रभाव और उसका दुरूपयोग था को भारतीय समाज में देखने को मिला है इसी प्रकार से तीन तलाक के मामले में भी बिना किसी सबूत का गवाह के महल एक सूचना के आधार पर व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया जाएगा वह उसे बेल नहीं मिलेगी तो मैं मानता हूं कि इस को संवैधानिक समिति को सौंप देना चाहिए और सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में ही इस विधेयक को पास होना चाहिए धन्यवाद

mere vichar se teen talak ka jo hota hai vaah zyada raajnitik hai aur kam samajik parantu iski avashyakta thi aur bahut lambe samay se thi agar hum islamic rashtro ki ek suchi uthaakar dekhen toh hamein payenge ki bahut hi kam rashtriya se reh gaye hain islamic rashtra jisme teen talak ka praveshan diya gaya hai jiske aadhaar par teen baar talak kehne se ek aadmi aurat ko ghar se nikaal sakta hai aur se beghar kar sakta hai bharat mein yah jo kupratha hai vaah bahut samay se chali aa rahi hai aur iska koi auchitya mujhe aaj ke yug mein nazar nahi aata jab adhunikata ka daur hai vikasvadi raajneeti ka daur hai us samay mein is prakar ke mudde chalaye ja rahe hain saamne yah shudh roop se raajnitik hai parantu iska ek samajik aur chitra bhi hai aur samaj ko isse nijat dilaane ke liye bjp ki sarkar ne bahut hi imaandaar prayas kiya lekin main bhi manata hoon ki kuch legal page hai jo ki kushti le chhut gaye aur jiske bina is kanoon ko paas karna kisi bhi prakar se uchit nahi hai udaharan ke taur par agar hum bharatiya dand sanhita ki dhara 498 a yani a uthaakar dekhen jisme bina kisi sabut ke aur gavah ke gharelu hinsa ke gharelu hinsa ke aarop mein ek vyakti ko phasaya jata tha aur uske baad uske kuprabhav aur uska duroopayog tha ko bharatiya samaj mein dekhne ko mila hai isi prakar se teen talak ke mamle mein bhi bina kisi sabut ka gavah ke mahal ek soochna ke aadhaar par vyakti ko giraftar kar liya jaega vaah use bell nahi milegi toh main manata hoon ki is ko samvaidhanik samiti ko saunp dena chahiye aur supreme court ki nigrani mein hi is vidhayak ko paas hona chahiye dhanyavad

मेरे विचार से तीन तलाक का जो होता है वह ज्यादा राजनीतिक है और कम सामाजिक परंतु इसकी आवश्यक

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  494
WhatsApp_icon
user

Govind Saraf

Entrepreneur

1:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी तीन तलाक का मुद्दा राजनीति नहीं जरूरत है जहां पर मुस्लिम बहनों के साथ एंड मुस्लिम महिलाओं के साथ बहुत ही गलत व्यवहार होता है जो सिर्फ तीन तलाक के नाम पर कभी भी कहीं भी उन्हें तलाक दे दिया जाता है जिसकी जब मेरा मानना है कि इसके कार्रवाई होनी चाहिए सिर्फ ओसीडी और होना चाहिए सिर्फ आप तीन तलाक बोलने पर आपको तलाक नहीं मरना चाहिए डेफिनिटी को डस द राइट टू डिसाइड कि कब आप को तैयार मिलना चाहिए कब और डेंगू से मुक्त होते हैं स्टाफ कमिटी इसका कर दे कर दे कर उन्हें तलाक लेना है तो कोर्ट में जाकर आप अपील करते हैं फिर का निगम ने 6 महीने की मोहलत दी जाती है कि वह अपनी शादी को बचा सके इसके बाद हुआ गैर राजी होते हैं तलाक लेने के लिए दोनों तरफ से तब ने तलाक दिया जाता है उल्टी होना चाहिए उसका कोई रीजन होना चाहिए कि ताला कहना चाह रहे हैं बेवजह बेबुनियाद सिर्फ तीन तलाक बोलने से तलाक नहीं होना चाहिए कि से कितने महिलाओं महिलाओं की जिंदगी भर बात होती है कितने महिलाओं को जस्ट घर से निकाल दिया जाता है तीन तलाक के बाद अब बहुत ही दुष्कर्म किया जाता है

ji teen talak ka mudda raajneeti nahi zarurat hai jaha par muslim bahnon ke saath and muslim mahilaon ke saath bahut hi galat vyavhar hota hai jo sirf teen talak ke naam par kabhi bhi kahin bhi unhe talak de diya jata hai jiski jab mera manana hai ki iske karyawahi honi chahiye sirf OCD aur hona chahiye sirf aap teen talak bolne par aapko talak nahi marna chahiye definiti ko ds the right to decide ki kab aap ko taiyar milna chahiye kab aur dengue se mukt hote hain staff committee iska kar de kar de kar unhe talak lena hai toh court mein jaakar aap appeal karte hain phir ka nigam ne 6 mahine ki mohalat di jaati hai ki vaah apni shadi ko bacha sake iske baad hua gair raji hote hain talak lene ke liye dono taraf se tab ne talak diya jata hai ulti hona chahiye uska koi reason hona chahiye ki tala kehna chah rahe hain bewajah bebuniyad sirf teen talak bolne se talak nahi hona chahiye ki se kitne mahilaon mahilaon ki zindagi bhar baat hoti hai kitne mahilaon ko just ghar se nikaal diya jata hai teen talak ke baad ab bahut hi dushkarm kiya jata hai

जी तीन तलाक का मुद्दा राजनीति नहीं जरूरत है जहां पर मुस्लिम बहनों के साथ एंड मुस्लिम महिला

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  138
WhatsApp_icon
play
user

Rahul Bharat

राजनैतिक विश्लेषक

1:59

Likes  4  Dislikes    views  442
WhatsApp_icon
user
0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जरूरत है क्या टाइम पर्सन टू पर्सन वहां सिचुएशन पर कि किस तरीके का है आज मुस्लिम है या हिंदू के साथ ऐसा कभी मतलब इस टाइप का हो जाए तो बहुत ठीक नहीं होता है आप देखें कहां जाकर वह बच्चों को कैसे पाले हम ने बोल दिया उसे काम तो नहीं हो गया कि आप से मेरा कोई रिलेशन नहीं रहा कुछ भी नहीं कोई मतलब मैं तो कहूंगा उसमें इनोसेंट के साथ जस्टिफिकेशन होना चाहिए तभी तो जस्टिफिकेशन होता है इसलिए मैं समझता हूं कि जरूर

zaroorat hai kya time person to person wahan situation par ki kis tarike ka hai aaj muslim hai ya hindu ke saath aisa kabhi matlab is type ka ho jaye toh bahut theek nahi hota hai aap dekhen kahaan jaakar wah baccho ko kaise pale hum ne bol diya use kaam toh nahi ho gaya ki aap se mera koi relation nahi raha kuch bhi nahi koi matlab main toh kahunga usme Innocent ke saath jastifikeshan hona chahiye tabhi toh jastifikeshan hota hai isliye main samajhata hoon ki zaroor

जरूरत है क्या टाइम पर्सन टू पर्सन वहां सिचुएशन पर कि किस तरीके का है आज मुस्लिम है या हिंद

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  244
WhatsApp_icon
user

Ashok Kumar

Journalist

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं राजनीति की कोई जरूरत नहीं है लेकिन एक पब्लिक के लिए ऐसे तीन तलाक वाला मामला है यह बिल्कुल गलत है इसको नहीं होना चाहिए था तीन तलाक बिल्कुल नहीं होनी चाहिए और अपना परिवार

nahi rajneeti ki koi zarurat nahi hai lekin ek public ke liye aise teen talak vala maamla hai yeh bilkul galat hai isko nahi hona chahiye tha teen talak bilkul nahi honi chahiye aur apna parivar

नहीं राजनीति की कोई जरूरत नहीं है लेकिन एक पब्लिक के लिए ऐसे तीन तलाक वाला मामला है यह बिल

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  217
WhatsApp_icon
user
0:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राजनीति कर रहे हैं

raajneeti kar rahe hain

राजनीति कर रहे हैं

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  584
WhatsApp_icon
user
0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो मुस्लिम महिलाएं हैं वह कब तक के शिकागो के हिंदी उर्दू की पुरुष की छवि उसने कह दिया तलाक तलाक तलाक तीन बार तलाक हो गया उसके बाद फिर से उन दोनों को फिर से पति पत्नी के रूप में यदि साथ रहना है तो फिर जो लड़ाई होती हो बहुत ही क्या कहूं मैं उसके लिए फनी बहुत ही दयनीय स्थिति होती उस महिला की तो कहीं ना कहीं यह राइट महिलाओं को मिलने चाहिए और वैसे भी देश की औरत एक काम की उन्नति तभी होती जब महिला को सम्मान मिले प्रिय जरूरत

jo muslim mahilaye hain wah kab tak ke chicago ke hindi urdu ki purush ki chhavi usne keh diya talak talak talak teen baar talak ho gaya uske baad phir se un dono ko phir se pati patni ke roop mein yadi saath rehna hai toh phir jo ladai hoti ho bahut hi kya kahun main uske liye Funny bahut hi dayaniye sthiti hoti us mahila ki toh kahin na kahin yeh right mahilaon ko milne chahiye aur waise bhi desh ki aurat ek kaam ki unnati tabhi hoti jab mahila ko sammaan mile priya zaroorat

जो मुस्लिम महिलाएं हैं वह कब तक के शिकागो के हिंदी उर्दू की पुरुष की छवि उसने कह दिया तलाक

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  243
WhatsApp_icon
user

Rani Silotia

Indian Politician

0:13
Play

Likes  17  Dislikes    views  583
WhatsApp_icon
user

Kinnari Raval

Singer-Artist

1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां यह तो अभी उन्होंने बनाया मगर जो लेडीस के लिए है बहुत अच्छा है क्योंकि अभी तक व्हाट्सएप में बोल बोल रहे थे कि आरक्षण देने के बाद क्या हो रहा है

haan yah toh abhi unhone banaya magar jo ladies ke liye hai bahut accha hai kyonki abhi tak whatsapp mein bol bol rahe the ki aarakshan dene ke baad kya ho raha hai

हां यह तो अभी उन्होंने बनाया मगर जो लेडीस के लिए है बहुत अच्छा है क्योंकि अभी तक व्हाट्सएप

Romanized Version
Likes  157  Dislikes    views  2723
WhatsApp_icon
user
0:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जरूरत है राजनीति अलग अलग की बात है लेकिन तीन तलाक का मुद्दा जरूरी है

zaroorat hai rajneeti alag alag ki baat hai lekin teen talak ka mudda zaroori hai

जरूरत है राजनीति अलग अलग की बात है लेकिन तीन तलाक का मुद्दा जरूरी है

Romanized Version
Likes  71  Dislikes    views  1937
WhatsApp_icon
user

Prateek Mishra

Journalist

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी क्या है कि महिला जो है वह केवल महिला रहे महिला महिला होती है ना वह हिंदू होती है वह मुसलमान होती है ना वह सी होती है ना इकाई होती है मन की बात करते हैं हमें सभी महिलाओं को जो है समान अधिकार देना होंगे उसके लिए कहीं ना कहीं यह भी आवश्यक है कि जिस तरीके से पूरा परिदृश्य दो जो देश के सामने चल रहा है उसमें कहीं ना कहीं ट्रिपल तलाक किसी से विसंगतियां है समय के साथ-साथ अपने नियमों में सुधार करना होंगे जैसे हिंदू समाज में अगर देखा जाए तो प्राचीन समय में विधवा विवाह पर प्रतिबंध था सती प्रथा जैसी कुप्रथा 40 को उस समय के विचार रखे हैं उन लोगों ने समझा कर खत्म किया उसी प्रकार से हर तबके की महिलाओं को अधिकार मिलना चाहिए

vicky kya hai ki mahila jo hai vaah keval mahila rahe mahila mahila hoti hai na vaah hindu hoti hai vaah muslim hoti hai na vaah si hoti hai na ikai hoti hai man ki baat karte hain hamein sabhi mahilaon ko jo hai saman adhikaar dena honge uske liye kahin na kahin yah bhi aavashyak hai ki jis tarike se pura paridrishya do jo desh ke saamne chal raha hai usme kahin na kahin triple talak kisi se visangatiyan hai samay ke saath saath apne niyamon mein sudhaar karna honge jaise hindu samaj mein agar dekha jaaye toh prachin samay mein vidva vivah par pratibandh tha sati pratha jaisi kupratha 40 ko us samay ke vichar rakhe hain un logo ne samjha kar khatam kiya usi prakar se har tabke ki mahilaon ko adhikaar milna chahiye

विकी क्या है कि महिला जो है वह केवल महिला रहे महिला महिला होती है ना वह हिंदू होती है वह म

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  273
WhatsApp_icon
user

Vinod Tiwari

Journalist

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या होता है तीन तलाक तो जुदा हो रहा है इस पर राजनीति में यूज किया जा रहा है सुना जा रहा है किसी महिला को क्या परेशानी है

kya hota hai teen talak toh juda ho raha hai is par rajneeti mein use kiya ja raha hai suna ja raha hai kisi mahila ko kya pareshani hai

क्या होता है तीन तलाक तो जुदा हो रहा है इस पर राजनीति में यूज किया जा रहा है सुना जा रहा ह

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  426
WhatsApp_icon
user

Amit Chamaria

Journalist/Professor

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई जरूरत नहीं है पूरी तरह से राजनीति है देखेंगे तो हिंदू में डिवोर्स का परसेंटेज ज्यादा है होता क्या है हमें लगता है कि मैं ठीक है

koi zarurat nahi hai puri tarah se rajneeti hai dekhenge toh hindu mein divorce ka percentage zyada hai hota kya hai humein lagta hai ki main theek hai

कोई जरूरत नहीं है पूरी तरह से राजनीति है देखेंगे तो हिंदू में डिवोर्स का परसेंटेज ज्यादा ह

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  490
WhatsApp_icon
user

Vimal Srivastav

Journalist

1:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह राजनीति नहीं है सर डिमांड है और यह भी पहले एक बात की एक यह जो यह बताया था यह अलग बात है कि विगत दिनों से नहीं किया जा सकता क्योंकि हमारे ग्रुप में जितने को जाति या धर्म से अलग नहीं बनाया जा सकता है किसी भी हालत पर यह तीन तलाक को याद में यह ख्याल क्यों था इसको नहीं रखना चाहिए था 3 तलाक आज इस स्तर पर नहीं होता जहां पर हुआ

yeh rajneeti nahi hai sar demand hai aur yeh bhi pehle ek baat ki ek yeh jo yeh bataya tha yeh alag baat hai ki vigat dinon se nahi kiya ja sakta kyonki hamare group mein jitne ko jati ya dharm se alag nahi banaya ja sakta hai kisi bhi halat par yeh teen talak ko yaad mein yeh khayal kyon tha isko nahi rakhna chahiye tha 3 talak aaj is sthar par nahi hota jaha par hua

यह राजनीति नहीं है सर डिमांड है और यह भी पहले एक बात की एक यह जो यह बताया था यह अलग बात है

Romanized Version
Likes  49  Dislikes    views  694
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्लीज जवाब तो कोई भी आदमी को तो मुस्लिम महिलाओं का जो तलाक का जो भी समझ में आता है और वर्षों से मुस्लिम महिलाओं का काफी नुकसान हुआ है 3:00 पर यह घटना चाहिए और यही पर किया है सरकार का इसको लागू होना ही चाहिए मुख्य महिला और समाज के बुद्धिजीवी लोग हैं उन लोग को ही चाहिए ताकि इसको समाज में शिकारी था

please jawab toh koi bhi aadmi ko toh muslim mahilaon ka jo talak ka jo bhi samajh mein aata hai aur varshon se muslim mahilaon ka kaafi nuksan hua hai 3:00 par yeh ghatna chahiye aur yahi par kiya hai sarkar ka isko laagu hona hi chahiye mukhya mahila aur samaj ke buddhijeevi log hain un log ko hi chahiye taki isko samaj mein shikaaree tha

प्लीज जवाब तो कोई भी आदमी को तो मुस्लिम महिलाओं का जो तलाक का जो भी समझ में आता है और वर्ष

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  743
WhatsApp_icon
user
0:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक बंदा है यह तीन तलाक का मुद्दा जरूरत है क्योंकि पहले सती प्रथा होती थी कुछ बंद करने का विरोध किया था और विद्या का विवादित मुद्दे समाज सुधार का एक आंदोलन के रूप में जाना जाएगा तीन तलाक जो भी नेता अभिनेता जो भी बैंक में शाम को भी तीन तलाक मुद्दा का मुद्दा कटर तीन तलाक का मामला

ek banda hai yeh teen talak ka mudda zarurat hai kyonki pehle sati pratha hoti thi kuch band karne ka virodh kiya tha aur vidya ka vivaadit mudde samaj sudhaar ka ek andolan ke roop mein jana jayega teen talak jo bhi neta abhineta jo bhi bank mein shaam ko bhi teen talak mudda ka mudda Cutter teen talak ka maamla

एक बंदा है यह तीन तलाक का मुद्दा जरूरत है क्योंकि पहले सती प्रथा होती थी कुछ बंद करने का व

Romanized Version
Likes  67  Dislikes    views  1157
WhatsApp_icon
user

Aamir Saleem Khan

Chief Reporter/News editor

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ट्रिपल तलाक का मुद्दा में सपा सरकार में तीन तलाक का मुद्दा है क्या हां मैं इस बात से सहमत हूं तीन तलाक के मामले में एक्सीडेंट जो है लेकिन मैं समझता हूं कि तू इतनी रात 20 दिन बहुत सारे और जैसा टोटके भरना हमारा देश तो यह मामला

triple talak ka mudda mein sapa sarkar mein teen talak ka mudda hai kya haan main is baat se sahmat hoon teen talak ke mamle mein accident jo hai lekin main samajhata hoon ki tu itni raat 20 din bahut saare aur jaisa totake bharna hamara desh toh yeh maamla

ट्रिपल तलाक का मुद्दा में सपा सरकार में तीन तलाक का मुद्दा है क्या हां मैं इस बात से सहमत

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  556
WhatsApp_icon
user

Shimla Bawri

Indian Politician

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्योंकि ना मुस्लिम जो महिलाएं हम के साथ में आपने देखा है कि वह सारी महिलाएं भी लाती जनप्रतिनिधि रही थी मेरे पास में महिलाओं महिलाएं कितनी फीस होती है तो उनको कई बार ऐसी महिला की शादी कर लेना

kyonki na muslim jo mahilaye hum ke saath mein aapne dekha hai ki wah saree mahilaye bhi lati janapratinidhi rahi thi mere paas mein mahilaon mahilaye kitni fees hoti hai toh unko kai baar aisi mahila ki shadi kar lena

क्योंकि ना मुस्लिम जो महिलाएं हम के साथ में आपने देखा है कि वह सारी महिलाएं भी लाती जनप्रत

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  498
WhatsApp_icon
user

धर्मदेव सिंह भाटी

कुश्ती प्रशिक्षक

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे विचार से तीन तलाक का मुद्दा आज के समय की जरूरत है क्योंकि यह उन करोड़ों महिलाओं के अधिकारों की लड़ाई है जो वर्षों से तीन तलाक रूपी कुप्रथा का शिकार होती चली आ रही है और कुछ लोग इस मुद्दे का राजनीतिक फायदा उठाने के लिए राजनीतिक राजनीतिक कारण कर रहे हैं अन्यथा तो यह बंदा सिर्फ और सिर्फ मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों की लड़ाई है उसके अलावा कुछ नहीं

mere vichar se teen talak ka mudda aaj ke samay ki zarurat hai kyonki yeh un karodo mahilaon ke adhikaaro ki ladai hai jo varshon se teen talak rupee kupratha ka shikaar hoti chali aa rahi hai aur kuch log is mudde ka raajnitik fayda uthane ke liye raajnitik raajnitik kaaran kar rahe hain anyatha toh yeh banda sirf aur sirf muslim mahilaon ke adhikaaro ki ladai hai uske alava kuch nahi

मेरे विचार से तीन तलाक का मुद्दा आज के समय की जरूरत है क्योंकि यह उन करोड़ों महिलाओं के अध

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  419
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

1:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रसिद्ध तीन तलाक का जो मैटर उसको राजनीतिक बना दिया गया है जबकि राजनीतिक है नहीं देश के हर पार्टी जो है वह चाहती है कि इस मंत्र के द्वारा इस्लामपुर टो को ले सकते जबकि इस्लाम धर्म की समाज का मैटर है इस्लाम धर्म में महिलाओं को बहुत आदर हिंदू धर्म में भी यह सभी धर्मों में होता है किंतु और यह समय की एक बहुत बड़ी आवश्यकता भी है क्योंकि मातृशक्ति है उसको सम्मान दिया जाना बहुत आवश्यक है कि हमारा कर्तव्य प्रत्येक मानव का कर्तव्य है और तीन तलाक जहां तक का बंद है कि तीन तलाक का मुद्दा जल्दी सॉल्व किया जाना चाहिए क्योंकि इस्लाम धर्म की जड़ नारियों का शोषण हो रहा है वह सब बंद होना चाहिए वह भी देश की एक अविभाज्य अंग है इसलिए इसका जितनी जल्दी हो सके चाहे वह सामाजिक रूप से हो चाहे वह राजनीतिक रूप से उसका समाधान आवश्यक है और वैसे मेरे चर्चे गैर राजनीतिक है नहीं किंतु स्कोर बना दिया गया आज के समाज की बात बढ़िया पता है कि उन नारियों को भी सम्मान मिलना चाहिए जो इस समाज को पुनर्जीवित कर ली है इस समाज को पहुंचती है पालन करती है इसलिए उनको सम्मान आवश्यक है और उनकी कॉपी भी रक्षा की जानी चाहिए

prasiddh teen talak ka jo matter usko raajnitik bana diya gaya hai jabki raajnitik hai nahi desh ke har party jo hai wah chahti hai ki is mantra ke dwara islampur to ko le sakte jabki islam dharm ki samaj ka matter hai islam dharm mein mahilaon ko bahut aadar hindu dharm mein bhi yeh sabhi dharmon mein hota hai kintu aur yeh samay ki ek bahut badi avashyakta bhi hai kyonki maatrishakti hai usko sammaan diya jana bahut aavashyak hai ki hamara kartavya pratyek manav ka kartavya hai aur teen talak jaha tak ka band hai ki teen talak ka mudda jaldi solve kiya jana chahiye kyonki islam dharm ki jad nariyon ka shoshan ho raha hai wah sab band hona chahiye wah bhi desh ki ek avibhaajy ang hai isliye iska jitni jaldi ho sake chahe wah samajik roop se ho chahe wah raajnitik roop se uska samadhan aavashyak hai aur waise mere charche gair raajnitik hai nahi kintu score bana diya gaya aaj ke samaj ki baat badhiya pata hai ki un nariyon ko bhi sammaan milna chahiye jo is samaj ko punarjeevit kar li hai is samaj ko pohchti hai palan karti hai isliye unko sammaan aavashyak hai aur unki copy bhi raksha ki jani chahiye

प्रसिद्ध तीन तलाक का जो मैटर उसको राजनीतिक बना दिया गया है जबकि राजनीतिक है नहीं देश के हर

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  445
WhatsApp_icon
user

SUSHIL LAKRA

Politician

0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बंद होना चाहिए क्योंकि तीन तलाक होने के बाद में जिंदगी जीने का अधिकार है अगर वह करते हैं तो औरत मेरे ख्याल से उनका घर बसा हुआ है परिवार लाइट ऑफ हो जाता है और कुछ भी ना चाहो तो मेरे ख्याल में तलाक तीन तलाक का जो नियम है उसको बंद होना चाहिए

band hona chahiye kyonki teen talak hone ke baad mein zindagi jeene ka adhikaar hai agar wah karte hain toh aurat mere khayal se unka ghar basa hua hai parivar light of ho jata hai aur kuch bhi na chaho toh mere khayal mein talak teen talak ka jo niyam hai usko band hona chahiye

बंद होना चाहिए क्योंकि तीन तलाक होने के बाद में जिंदगी जीने का अधिकार है अगर वह करते हैं त

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  225
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तीन तलाक का मुद्दा राजनीतिक नहीं है और भारतीय जनता पार्टी ने जो तीन तलाक के ऊपर जो बिल पास किया है लोकसभा में पास हुआ राज्यसभा में कांग्रेस ने उसे लटका दिया कांग्रेस ने तो बहुत ही गलत किया क्योंकि कांग्रेस चाहती है कि मुस्लिम महिलाएं तीन तलाक से पीड़ित रहे लेकिन भारतीय जनता पार्टी चाहती है सबका साथ सबका विकास वाले मंत्र से भारतीय जनता पार्टी कार्य कर रही है और बीजेपी चाहती है कि मुस्लिम महिलाओं के साथ नाइंसाफी ना हो इसलिए उसने तीन तलाक का मुद्दा उठाया और यह तीन तलाक का मुद्दा जो भी है मुस्लिम महिलाओं के लिए जरूरत है इसकी इसलिए भारतीय जनता पार्टी ने मुद्दा उठाया यह कोई राजनीतिक मुद्दा नहीं है

teen talak ka mudda raajnitik nahi hai aur bharatiya janta party ne jo teen talak ke upar jo bill paas kiya hai lok sabha mein paas hua rajya sabha mein congress ne use Latka diya congress ne toh bahut hi galat kiya kyonki congress chahti hai ki muslim mahilaye teen talak se peedit rahe lekin bharatiya janta party chahti hai sabka saath sabka vikas waale mantra se bharatiya janta party karya kar rahi hai aur bjp chahti hai ki muslim mahilaon ke saath nainsafi na ho isliye usne teen talak ka mudda uthaya aur yah teen talak ka mudda jo bhi hai muslim mahilaon ke liye zarurat hai iski isliye bharatiya janta party ne mudda uthaya yah koi raajnitik mudda nahi hai

तीन तलाक का मुद्दा राजनीतिक नहीं है और भारतीय जनता पार्टी ने जो तीन तलाक के ऊपर जो बिल पास

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  4
WhatsApp_icon
user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तीन तलाक का मुद्दा राजनीतिक है क्या आज के समाज की जरूरत है तो देखे बताना चाहेंगे कि अगर यूनिफॉर्म सिविल कोड की बात की जाए तो यह मुद्दा सामाजिक है और अगर क्योंकि बाद में यूनिफॉर्म सिविल कोड नहीं है तो यह मुद्दा राजनीति की है धन्यवाद

teen talak ka mudda raajnitik hai kya aaj ke samaj ki zarurat hai toh dekhe bataana chahenge ki agar uniform civil code ki baat ki jaaye toh yah mudda samajik hai aur agar kyonki baad mein uniform civil code nahi hai toh yah mudda raajneeti ki hai dhanyavad

तीन तलाक का मुद्दा राजनीतिक है क्या आज के समाज की जरूरत है तो देखे बताना चाहेंगे कि अगर यू

Romanized Version
Likes  608  Dislikes    views  5037
WhatsApp_icon
user

Hariom Chauhan

Pharmacist

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तीन तलाक का मुद्दा राजनीतिक है या आज के समाज की जरूरत है तीन तलाक समाज की बहुत जरूरत है क्योंकि किसी भी लड़की को हम ऐसे बोलता तलाक तलाक तलाक नहीं होता है अपने मां-बाप को छोड़ कर आती है

teen talak ka mudda raajnitik hai ya aaj ke samaj ki zarurat hai teen talak samaj ki bahut zarurat hai kyonki kisi bhi ladki ko hum aise bolta talak talak talak nahi hota hai apne maa baap ko chod kar aati hai

तीन तलाक का मुद्दा राजनीतिक है या आज के समाज की जरूरत है तीन तलाक समाज की बहुत जरूरत है

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  222
WhatsApp_icon
user

Rajesh Pugalia

Health Coach

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तीन तलाक का मुद्दा हो चाहे किसी भी धर्म विशेष पहनावे आदि के अन्य मुद्दे हो यह न तो राजनीतिक होते हैं और ना ही समाज के लिए जरूरी अपने निजी स्वार्थों के लिए पैदा किए हुए कुछ भ्रांतियां हैं जिनसे किसी न किसी का कारोबार चलता है राजनीतिक रोटियां से की जाती है इसके अलावा यह सारे मुद्दे कुछ नहीं है असली मुद्दे हैं विकास रोजगार और आपस में भाईचारा समन्वय आज यही कानून जब पूरी मुस्लिम कंट्रीज में नहीं है और वहां पर सारे धर्मों के लोग आपस में अच्छे संबंध में से रहते हैं उन्हें कोई जरूरत नहीं है इस तरह के फालतू के मुद्दे और बकवास यहां पर उपस्थित करने की बच्चों की भारतीय राजनीति का अभी परिदृश्य बदल चुका है राजनेताओं को अपनी रोटियां सेकने के लिए इस तरह के मुद्दे रचना करने पड़ते हैं और उसी क्रम में यह मुद्दा आया हुआ है इसके अलावा कोरी बकवास

teen talak ka mudda ho chahen kisi bhi dharm vishesh pahnawe aadi ke anya mudde ho yah na toh raajnitik hote hain aur na hi samaj ke liye zaroori apne niji swarthon ke liye paida kiye hue kuch bhrantiyan hain jinse kisi na kisi ka karobaar chalta hai raajnitik rotiyan se ki jaati hai iske alava yah saare mudde kuch nahi hai asli mudde hain vikas rojgar aur aapas mein bhaichara samanvay aaj yahi kanoon jab puri muslim countries mein nahi hai aur wahan par saare dharmon ke log aapas mein acche sambandh mein se rehte hain unhe koi zarurat nahi hai is tarah ke faltu ke mudde aur bakwas yahan par upasthit karne ki baccho ki bharatiya raajneeti ka abhi paridrishya badal chuka hai rajnetao ko apni rotiyan sekne ke liye is tarah ke mudde rachna karne padte hain aur usi kram mein yah mudda aaya hua hai iske alava kori bakwas

तीन तलाक का मुद्दा हो चाहे किसी भी धर्म विशेष पहनावे आदि के अन्य मुद्दे हो यह न तो राजनीति

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
user

IRFAN AKHTAR

Health and Fitness Expert

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ए गुड मॉर्निंग सब ठीक है लेकिन यह समाज की जरूरत नहीं है समाज में आप रहते हैं अगर आप की कितनी बनती बातों से बातचीत करना नहीं पसंद करते चित्र से मसला है मालिक मेरा किसी पाटनर से नहीं बनता तो हम नहीं रहेंगे उसके साथ लेकिन किस को राजनीतिक इतना ज्यादा बनाया गया कि लोग समझ में नहीं बहुत बड़ा मुद्दा है और तो कुछ नहीं आज के वक्त में आप देकर समाज के अंदर लोग को जला तक देते हैं तो कम से कम यहां पर यह तो सीधा है ना कि मैं ठीक है आपको नहीं रहना तो चलो दोनों अलग-अलग लेकिन गवर्नमेंट ने इस तरह की चीजें बनाई है तो होगा क्या वे राजनीति की पूरी तरह से समाज की कोई जरूरत नहीं थी स्कोर

a good morning sab theek hai lekin yah samaj ki zarurat nahi hai samaj mein aap rehte hain agar aap ki kitni banti baaton se batchit karna nahi pasand karte chitra se masala hai malik mera kisi partner se nahi baata toh hum nahi rahenge uske saath lekin kis ko raajnitik itna zyada banaya gaya ki log samajh mein nahi bahut bada mudda hai aur toh kuch nahi aaj ke waqt mein aap dekar samaj ke andar log ko jala tak dete hain toh kam se kam yahan par yah toh seedha hai na ki main theek hai aapko nahi rehna toh chalo dono alag alag lekin government ne is tarah ki cheezen banai hai toh hoga kya ve raajneeti ki puri tarah se samaj ki koi zarurat nahi thi score

ए गुड मॉर्निंग सब ठीक है लेकिन यह समाज की जरूरत नहीं है समाज में आप रहते हैं अगर आप की कित

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  283
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
aaj ka mudda ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!