मुख्यमंत्री योगी ने बताया कि 2022 तक सिर पर छत के बिना कोई नहीं होगा, क्या आपको लगता है कि यह सफल होगा?...


play
user

Sa Sha

Journalist since 1986

1:06

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दर्शनीय प्रधानमंत्री आवास योजना है जिसके तहत 2022 तक सबको आवास मुहैया कराने का वादा मोदी सरकार ने किया है घोषणा के अनुसार इसके लिए सरकार 2000000 घरों का निर्माण करवाएगी जिसमें 1800000 घर झुग्गी झोपड़ी वाले इलाकों में बाकी दो लाख शहर के गरीब इलाके में होगा इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने सबके लिए आवास योजना शुरू कर दी है या योजना बीपीएल कार्ड धारकों के लिए चलाई गई है क्योंकि सरकार ने 8 महीने के भीतर गरीबों के लिए आवास उपलब्ध कराने का वादा किया है माना जा रहा है कि उत्तर प्रदेश में अगर या योजना बगैर किसी भेदभाव के लागू हो गई तो इसका असर 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में पड़ सकता है पर आशंका यह भी है कि स्वच्छ भारत के तहत सजा निर्माण की तरह यह आवास कागजों तक ही सीमित ना रह जाए

darshaneey pradhanmantri aawas yojana hai jiske tahat 2022 tak sabko aawas muhaiya karane ka vada modi sarkar ne kiya hai ghoshana ke anusaar iske liye sarkar 2000000 gharon ka nirmaan karavaegi jisme 1800000 ghar jhuggi jhopdi waale ilako mein baki do lakh shehar ke garib ilaake mein hoga is yojana ke tahat uttar pradesh mein yogi sarkar ne sabke liye aawas yojana shuru kar di hai ya yojana BPL card dharakon ke liye chalai gayi hai kyonki sarkar ne 8 mahine ke bheetar garibon ke liye aawas uplabdh karane ka vada kiya hai mana ja raha hai ki uttar pradesh mein agar ya yojana bagair kisi bhedbhav ke laagu ho gayi toh iska asar 2019 mein hone waale lok sabha chunav mein pad sakta hai par ashanka yah bhi hai ki swachh bharat ke tahat saza nirmaan ki tarah yah aawas kagazo tak hi simit na reh jaaye

दर्शनीय प्रधानमंत्री आवास योजना है जिसके तहत 2022 तक सबको आवास मुहैया कराने का वादा मोदी स

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  24
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!