जब हमें भूख लगती है तो क्या हमारा शरीर वास्तव में वसा को जलाता है?...


play
user

Yog Guru Gyan Ranjan Maharaj

Founder & Director - Kashyap Yogpith

2:10

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका क्वेश्चन है जब हमें भूख लगती है तो हमारा शरीर वास्तव में बसा खुजलाता है हां यह सच्चाई है उसमें हमारा हमारे शरीर के अंदर जो अग्नि प्रज्वलित होती है जो खाना पचाने में विशेष तौर से बात करती है जिसे हम अग्न्याशय होते हैं अग्न्याशय के अंदर जब भूख बहुत ज्यादा मात्रा में लगे तारक मेहता के अंदर आंसू बहा जमा रहता है उससे शरीर अपना काम चलाने लगता है यह वास्तविकता है तो इसलिए थोड़ा सा भूख गुजरी नहीं है कि बहुत ज्यादा जब भूख लगे तभी खाना खाना चाहिए ना कि दिन भर खातिर है इस टाइप का कुछ भी नहीं होना चाहिए क्योंकि इस टाइप का जो व्यक्ति करता है वही बैठी और काफी ऋतिक दिखती हो जाता है तो आपको जब काफी भूख लगे तभी खाएं और मेरा मानना है कि इस लायक समझा और लिक्विड का ज्यादा अगर प्रयोग किया जाए तो व्यक्ति सॉलिड रहेगा चावल का प्रयोग कम से कम करना चाहिए रोटी भी उतना ही खाएं जितना से है आपका और क्या बना रहा है और दूसरी बात है कि सब्जी सलाद और लिक्विड का ज्यादा प्रयोग करें चाय कप चाय कोई बात करें और दूध भी पीना आप चाहते हैं तो ठंडा दूध पिया और उसमें हल्दी झुकते दूध पिया कर पीते हैं आप उसको गम करते समय ही हल्दी एक चम्मच डाल दें और उसको मोबाइल होने दो फिर गुस्से और दूध का सेवन करें आपका शरीर बिल्कुल स्वस्थ रहेगा धन्यवाद

aapka question hai jab hamein bhukh lagti hai toh hamara sharir vaastav mein basa khujlata hai haan yah sacchai hai usme hamara hamare sharir ke andar jo agni prajwalit hoti hai jo khana pachane mein vishesh taur se baat karti hai jise hum agnyashay hote hain agnyashay ke andar jab bhukh bahut zyada matra mein lage taarak mehta ke andar aasu baha jama rehta hai usse sharir apna kaam chalane lagta hai yah vastavikta hai toh isliye thoda sa bhukh gujari nahi hai ki bahut zyada jab bhukh lage tabhi khana khana chahiye na ki din bhar khatir hai is type ka kuch bhi nahi hona chahiye kyonki is type ka jo vyakti karta hai wahi baithi aur kaafi ritik dikhti ho jata hai toh aapko jab kaafi bhukh lage tabhi khayen aur mera manana hai ki is layak samjha aur liquid ka zyada agar prayog kiya jaaye toh vyakti solid rahega chawal ka prayog kam se kam karna chahiye roti bhi utana hi khayen jitna se hai aapka aur kya bana raha hai aur dusri baat hai ki sabzi salad aur liquid ka zyada prayog kare chai cup chai koi baat kare aur doodh bhi peena aap chahte hain toh thanda doodh piya aur usme haldi jhukate doodh piya kar peete hain aap usko gum karte samay hi haldi ek chammach daal de aur usko mobile hone do phir gusse aur doodh ka seven kare aapka sharir bilkul swasthya rahega dhanyavad

आपका क्वेश्चन है जब हमें भूख लगती है तो हमारा शरीर वास्तव में बसा खुजलाता है हां यह सच्चाई

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  1020
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!