प्रेजेंस ऑफ माइंड (दिमाग की उपस्थिति) का सबसे बड़ा उदाहरण बताये?...


user

Kavita Panyam

Certified Award Winning Counseling Psychologist

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन प्रशंसक माइंड तभी आप उसका उपयोग कर सकते हैं जब वह आप में है और वह आप में कब होगा जब आप मेंटली और फिजिकली उस सिचुएशन में उपस्थित होंगे इन टोटलिटी अगर आप उस प्रश्न के बगल में नहीं है उसके बारे में सोच रहे हैं कहीं और रहकर तो भी शायद उतना इंपैक्ट ना हो और अगर आप उसके साथ बैठकर कहीं और सोच रहे हैं तो भी उतना इंपैक्ट नहीं होगा अगर आपको प्रसेंस ऑफ माइंड यूज़ करना है तो यू हेल्प भी प्रेजेंट इन टोटलिटी मेंटली और फिजिकली और अगर आपके सामने कोई सिचुएशन आती है तो उसको राशनली आपको सोचना होता है राशनल बिलीफ जो होते हैं हमारे कि ऐसा नहीं होना चाहिए ऐसा ही होना चाहिए मेरे साथ क्यों इसके बजाय कौन सोल्यूशन जो होता है जो अपनी उसको निकालते हैं जो एकदम न्यूट्रल होता है जो किसी को तकलीफ दिए बगैर आप की नैया पार करवा देता है उसको हम बोलते यू सिंग प्रसेंस ऑफ माइंड थैंक यू आर वेरी स्मार्ट आप अपनी फीलिंग्स और स्मार्टनेस को अगर न्यूट्रल भव्य में सही वक्त पर और सही समय पर अगर आप सकते हैं तो उसका उससे बड़ा और कोई तरीका नहीं हो सकता अपने आप को आगे पहुंचाने का और अपने प्रॉब्लम्स को रिकॉर्ड करना दूसरों की मदद भी करने का हो सकता है कि आपकी फैमिली में कोई शिवाया हो और लोग सोच रहे हो क्या करना है बिकॉज़ पहले उनके मोशंस आ जाते हैं आपको चाहिए कि आप इमोशनल ना हो किसी भी सिचुएशन को न्यूट्रल होकर इस रैशनल राशनल ब्रिज को निकाल दें और एकदम बिना डरे बिना किसी गलत विचारों के रंग बली सिस्टम के अप राष्ट्रपति सोचे और एक सलूशन को लेकर आएं जल्द ही जल्द से जल्द हमें ना ले उसके लिए आपको चाहिए कि आप ही एंट्री एंड 24 सेंटेंसेस ऑन द प्रॉब्लम

lekin prasanshak mind tabhi aap uska upyog kar sakte hain jab vaah aap mein hai aur vaah aap mein kab hoga jab aap mentally aur physically us situation mein upasthit honge in totliti agar aap us prashna ke bagal mein nahi hai uske bare mein soch rahe hain kahin aur rahkar toh bhi shayad utana impact na ho aur agar aap uske saath baithkar kahin aur soch rahe hain toh bhi utana impact nahi hoga agar aapko prasens of mind use karna hai toh you help bhi present in totliti mentally aur physically aur agar aapke saamne koi situation aati hai toh usko rashanali aapko sochna hota hai rashanal belief jo hote hain hamare ki aisa nahi hona chahiye aisa hi hona chahiye mere saath kyon iske bajay kaun solution jo hota hai jo apni usko nikalate hain jo ekdam neutral hota hai jo kisi ko takleef diye bagair aap ki naiya par karva deta hai usko hum bolte you sing prasens of mind thank you R very smart aap apni feelings aur smartness ko agar neutral bhavya mein sahi waqt par aur sahi samay par agar aap sakte hain toh uska usse bada aur koi tarika nahi ho sakta apne aap ko aage pahunchane ka aur apne problems ko record karna dusro ki madad bhi karne ka ho sakta hai ki aapki family mein koi shivaya ho aur log soch rahe ho kya karna hai because pehle unke moshans aa jaate hain aapko chahiye ki aap emotional na ho kisi bhi situation ko neutral hokar is rational rashanal bridge ko nikaal de aur ekdam bina dare bina kisi galat vicharon ke rang bali system ke up rashtrapati soche aur ek salution ko lekar aaen jald hi jald se jald hamein na le uske liye aapko chahiye ki aap hi entry and 24 sentenses on the problem

लेकिन प्रशंसक माइंड तभी आप उसका उपयोग कर सकते हैं जब वह आप में है और वह आप में कब होगा जब

Romanized Version
Likes  118  Dislikes    views  2975
WhatsApp_icon
9 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
1:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भजंस ऑफ माइंड से मतलब है आपका ब्रेन या आपका माइंड कितना तेज है कितना स्मार्ट है कितना सांप और इन टेंस है इस पर डिपेंड करता है किसी यीशु या कितना किसी प्रॉब्लम पर किसी एडवांस कंडीशन विपरीत हालातों में अलग-अलग सिचुएशंस में आपका माइंड किस तरह से परफॉर्म करता है तो अगर किसी प्रॉब्लम है क्राइसिस कि वह सलूशन फाइंड आउट एनी तुरंत फाइंड आउट कर लेता है तो कहते हैं कि उसका प्रेजेंस ऑफ माइंड बहुत तेज है आपसे कोई प्रॉब्लम का सलूशन मांगा गया है आपसे कोई प्रॉब्लम खड़ी हुई है कोई क्वेश्चन आप से पूछा गया कि सी ई सुपर बात करने के लिए आपको बोला गया है और आप उसे यीशु का सलूशन देने के बजाय आप इधर उधर की चारों तरफ की बातें करें यह कहे वह कहें लेकिन उस पर टू द प्वाइंट बात ना करें एग्जाम में कैसे क्वेश्चन है तो उसमें आप जो क्वेश्चन पूछा गया है उसे टू द प्वाइंट टू द क्वेश्चन ना आप बता कर इधर-उधर की बातें करें तो आप से यही कहा जाएगा कि आपके अंदर प्रेजेंस आफ माइंड नहीं तो अगर आप टू द प्वाइंट किसी चीज का रोशन देते हैं उसी जो पॉइंट पर बहुत पूछा बात की गई है उस पर बात करते हैं तो उसे ही प्रजेंट ऑफ माइंड कहते हैं आपकी लाइफ से जुड़ी हुई कोई प्रॉब्लम से ना तो उसमें कोई सरकमस्टेंसस इस तरह के पंक्तियां आ गई हैं तो उन परिस्थितियों में आप कैसे किस तरह की सलूशन अपने लाइफ में दे पाते हैं यहां भी प्रेजेंस ऑफ माइंड की स्क्रीन काम आती है कि अगर आपका बिजनेस ऑफ माइंड अच्छा है तो आप बुरी से बुरी कंडीशन में भी उसका सलूशन उस प्रॉब्लम को ओवरटेक उस प्रॉब्लम को ओवर कम कर पाएंगे

bhajans of mind se matlab hai aapka brain ya aapka mind kitna tez hai kitna smart hai kitna saap aur in tense hai is par depend karta hai kisi yeshu ya kitna kisi problem par kisi advance condition viprit halaton mein alag alag sichueshans mein aapka mind kis tarah se perform karta hai toh agar kisi problem hai crisis ki vaah salution find out any turant find out kar leta hai toh kehte hain ki uska presence of mind bahut tez hai aapse koi problem ka salution manga gaya hai aapse koi problem khadi hui hai koi question aap se poocha gaya ki si ee super baat karne ke liye aapko bola gaya hai aur aap use yeshu ka salution dene ke bajay aap idhar udhar ki charo taraf ki batein kare yah kahe vaah kahein lekin us par to the point baat na kare exam mein kaise question hai toh usme aap jo question poocha gaya hai use to the point to the question na aap bata kar idhar udhar ki batein kare toh aap se yahi kaha jaega ki aapke andar presence of mind nahi toh agar aap to the point kisi cheez ka roshan dete hain usi jo point par bahut poocha baat ki gayi hai us par baat karte hain toh use hi present of mind kehte hain aapki life se judi hui koi problem se na toh usme koi sarakamastensas is tarah ke panktiyan aa gayi hain toh un paristhitiyon mein aap kaise kis tarah ki salution apne life mein de paate hain yahan bhi presence of mind ki screen kaam aati hai ki agar aapka business of mind accha hai toh aap buri se buri condition mein bhi uska salution us problem ko overtake us problem ko over kam kar payenge

भजंस ऑफ माइंड से मतलब है आपका ब्रेन या आपका माइंड कितना तेज है कितना स्मार्ट है कितना सांप

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  456
WhatsApp_icon
play
user

Dr. KRISHNA CHANDRA

Rehabilitation Psychologist

1:57

Likes  89  Dislikes    views  2514
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रेजेंस आफ माइंड का मतलब होता है आपसे कोई सवाल पूछा गया और आप ने तुरंत उसका जवाब दिया उसी को कहते हैं प्रेजेंस आफ माइंड जैसे आईएस का जो इंटरव्यू देने जाते हैं सारा क्लियर करके फ्री में उनकी स्टूडेंट के पास तो जींस ऑफ माइंड होता है वही क्लियर कर पाते हैं क्योंकि वहां पर ऐसा क्वेश्चन पूछा जाता है जो शायद हमारे कैपेसिटी से भी ज्यादा इंटेलिजेंट रीजेंसी वाली क्वेश्चन होती है लेकिन जो लोग इंटेलिजेंट होते हैं उसका तुरंत रिप्लाई करते हैं और वह सिलेक्ट भी हो जाते हैं व्हो आईएस बन जाते हैं तो उसी को कहते हैं प्रजेंट सपना हिट धन्यवाद

presence of mind ka matlab hota hai aapse koi sawaal poocha gaya aur aap ne turant uska jawab diya usi ko kehte hain presence of mind jaise ias ka jo interview dene jaate hain saara clear karke free mein unki student ke paas toh jeans of mind hota hai wahi clear kar paate hain kyonki wahan par aisa question poocha jata hai jo shayad hamare capacity se bhi zyada Intelligent regency wali question hoti hai lekin jo log Intelligent hote hain uska turant reply karte hain aur vaah select bhi ho jaate hain vo ias ban jaate hain toh usi ko kehte hain present sapna hit dhanyavad

प्रेजेंस आफ माइंड का मतलब होता है आपसे कोई सवाल पूछा गया और आप ने तुरंत उसका जवाब दिया उसी

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  439
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रजेंट ऑफ माइंड किया का सबसे बड़ा उदाहरण है जब हम मूवी देखने तो दीजिए कितना कंसंट्रेट टो कंसंट्रेट हो जाते हैं कि अगर हमारे पास से कोई निकल जाता है अगर हम कंसंट्रेट हो जाते हैं तो हमारे पास भी कोई नहीं पता नहीं पड़ता अगर कोई हमसे कुछ कहता है कि मिटेगी काम कर दो तो वह भी हमें पता नहीं चलता उस समय हम सबसे ज्यादा कंसंट्रेट होते हैं यही सबसे बड़ा उदाहरण है कि जब आप कोई मूवी देख रहे हो उस समय आप बहुत ज्यादा कंसंट्रेट होते हैं वैसे ही कंसलटेंसी यही कंसंट्रेशन का सबसे बड़ा होता है और इसी प्रकार आप अपनी रियल लाइफ में भी कंसंट्रेट होना सीखिए

present of mind kiya ka sabse bada udaharan hai jab hum movie dekhne toh dijiye kitna concentrate toe concentrate ho jaate hain ki agar hamare paas se koi nikal jata hai agar hum concentrate ho jaate hain toh hamare paas bhi koi nahi pata nahi padta agar koi humse kuch kahata hai ki mitegi kaam kar do toh vaah bhi hamein pata nahi chalta us samay hum sabse zyada concentrate hote hain yahi sabse bada udaharan hai ki jab aap koi movie dekh rahe ho us samay aap bahut zyada concentrate hote hain waise hi kansalatensi yahi kansantreshan ka sabse bada hota hai aur isi prakar aap apni real life mein bhi concentrate hona sikhiye

प्रजेंट ऑफ माइंड किया का सबसे बड़ा उदाहरण है जब हम मूवी देखने तो दीजिए कितना कंसंट्रेट टो

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  435
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिल्ली जब का सवाल है कि दिमाग की उपस्थिति का एक बेहतर उदाहरण दें हमारे अनुसार इसका एक तो बेहतर उदाहरण होगा चित्र में जो हर एक परिस्थिति में हर एक सिचुएशन में हमारे दिमाग में मत रंगों की तरह भक्ति रहती है चिकनाई जो होती है वह हमारे दिमाग में सिचुएशन की सिचुएशन के अनुसार हमेशा बदलती रहती को यह जो चेतना होती है वह हमारे दिमाग की उपस्थिति की सबसे अच्छा उदाहरण है जो आप समझ सकते हैं कि आपके पास कोई एक बहुत ही इंपॉर्टेंट चीज है इंपॉर्टेंट मतलब कोई ऑर्गन है जो कि अन्य प्राणियों में नहीं है मनुष्य को छोड़कर किसी भी ऐसे अन्य प्राणी में इतना ताकतवर कोई और गम नहीं है जो कि हर एक परिस्थिति यहां तक कि जो नहीं है उसके बारे में भी हो मुजरा उसके पर देखने के बीच की क्षमता है कितने 1 म्यूजिक कितने विज्ञान आज आगे गया है यह तो चेन्नई की बस दिमाग में इतनी चेतना जाती रहती है और उस व्यक्ति काम करते जाता है तो सबसे मुख्य उदाहरण ही होगा जिससे हमें पता चलता है कि हमारे पास कितनी अमूल्य सकती इसका यूज कर रहे हैं हम लोग आज हमारे ब्रेन परिसर चल रहा है खुद वैज्ञानिक ब्रेन पर ही मन खुद ही मंदिर परिसर चल रहा है कि उसमें क्या होता है ऐसा किचन आए इतने उसमें भंडार चित्रों का भंडार है इस पर चल रहा है पापा सबसे मुख्य उदाहरण ही होगा

delhi jab ka sawaal hai ki dimag ki upasthitee ka ek behtar udaharan de hamare anusaar iska ek toh behtar udaharan hoga chitra mein jo har ek paristithi mein har ek situation mein hamare dimag mein mat rangon ki tarah bhakti rehti hai chiknai jo hoti hai vaah hamare dimag mein situation ki situation ke anusaar hamesha badalti rehti ko yah jo chetna hoti hai vaah hamare dimag ki upasthitee ki sabse accha udaharan hai jo aap samajh sakte hain ki aapke paas koi ek bahut hi important cheez hai important matlab koi organ hai jo ki anya praniyo mein nahi hai manushya ko chhodkar kisi bhi aise anya prani mein itna takatwar koi aur gum nahi hai jo ki har ek paristithi yahan tak ki jo nahi hai uske bare mein bhi ho mujra uske par dekhne ke beech ki kshamta hai kitne 1 music kitne vigyan aaj aage gaya hai yah toh Chennai ki bus dimag mein itni chetna jaati rehti hai aur us vyakti kaam karte jata hai toh sabse mukhya udaharan hi hoga jisse hamein pata chalta hai ki hamare paas kitni amuly sakti iska use kar rahe hain hum log aaj hamare brain parisar chal raha hai khud vaigyanik brain par hi man khud hi mandir parisar chal raha hai ki usme kya hota hai aisa kitchen aaye itne usme bhandar chitron ka bhandar hai is par chal raha hai papa sabse mukhya udaharan hi hoga

दिल्ली जब का सवाल है कि दिमाग की उपस्थिति का एक बेहतर उदाहरण दें हमारे अनुसार इसका एक तो ब

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  513
WhatsApp_icon
user

Dr. Priya Shatanjib Jha

Psychologist|Counselor|Dentist

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्ते दोस्तों मेरी जानी डॉक्टर प्रिया झा की तरफ से आप सबको दिन की बहुत सारी शुभकामनाएं प्रिंस ऑफ माइंड के बहुत सारे उदाहरण में बता सकती हूं आपको पर बेसिकली एक अच्छे दिमाग का निशानी मेरे हिसाब से यह होगा और जो प्रेजेंस आफ माइंड के उत्तर में भी काम आए वही है कि जो इंसान जब जो सोच रहा है उस चीज के बारे में दूसरों को बिल्कुल भी महसूस ना होने दें या फिर एहसास ना होने दें जैसे कि अगर आप में सपोज आप किसी इंसान के बारे में बात कर रहे हो और वही आपके पीछे से आकर गुजरने लगे और यह गुजरने वाले हैं और अगर आपको यह चीज की का आभास हो गया है तो आप एकदम से टॉपिक को बदलकर बिल्कुल भी लोगों को महसूस न्यू ने दोगे कि आप उनके बारे में बात कर रहे थे जो पीछे से गुजरे हैं यह तो एक एग्जांपल दे दिया मैंने अभी सपोज आप अंदर से बहुत खुश रहो आप रो रहे हो लेकिन आपको कहीं स्पीच देना है या फिर आपकी पिक अप कोई कमिटमेंट से आपके जो आपको पूरे करने हैं तो आप अपने जो जो आपके टू इमोशन से उसको आप दबा के रखो और दूसरों को बिल्कुल उसका भनक भी नहीं लगने दो यह भी एक प्रिंस ऑफ माइंड का उदाहरण ऐसे बहुत सारी चीजें होती हैं तो बेसिकली ट्रेंस ऑफ माइंड के बहुत एग्जांपल है और जो आपके प्रमोशन से उसको हटाकर जो उस समय जो नेसेसरी चीज है वह आप कर दें तो वह एक अच्छा एग्जांपल आफ सेट करेंगे थैंक यू

namaste doston meri jani doctor priya jha ki taraf se aap sabko din ki bahut saree subhkamnaayain prince of mind ke bahut saare udaharan mein bata sakti hoon aapko par basically ek acche dimag ka nishani mere hisab se yah hoga aur jo presence of mind ke uttar mein bhi kaam aaye wahi hai ki jo insaan jab jo soch raha hai us cheez ke bare mein dusro ko bilkul bhi mehsus na hone de ya phir ehsaas na hone de jaise ki agar aap mein suppose aap kisi insaan ke bare mein baat kar rahe ho aur wahi aapke peeche se aakar guzarne lage aur yah guzarne waale hain aur agar aapko yah cheez ki ka aabhas ho gaya hai toh aap ekdam se topic ko badalkar bilkul bhi logo ko mehsus new ne doge ki aap unke bare mein baat kar rahe the jo peeche se gujare hain yah toh ek example de diya maine abhi suppose aap andar se bahut khush raho aap ro rahe ho lekin aapko kahin speech dena hai ya phir aapki pic up koi commitment se aapke jo aapko poore karne hain toh aap apne jo jo aapke to emotion se usko aap daba ke rakho aur dusro ko bilkul uska bhanak bhi nahi lagne do yah bhi ek prince of mind ka udaharan aise bahut saree cheezen hoti hain toh basically trens of mind ke bahut example hai aur jo aapke promotion se usko hatakar jo us samay jo necessary cheez hai vaah aap kar de toh vaah ek accha example of set karenge thank you

नमस्ते दोस्तों मेरी जानी डॉक्टर प्रिया झा की तरफ से आप सबको दिन की बहुत सारी शुभकामनाएं प्

Romanized Version
Likes  96  Dislikes    views  2802
WhatsApp_icon
user

ganesh pazi

Motivator

1:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रेजेंस आफ माइंड दिमाग की उपस्थिति यह निर्भर करती है कि आप कितने प्रीपेड प्रीपेड होने का मतलब यह है हर बात का अनुमान पहले ही लगा लेना और संभावनाओं को खोज लेना जब आप संभावना और पूर्वानुमान के तरफ अग्रसर होते हैं तो आपका दिमाग की उपस्थिति वह बेचारी हो जाती है जैन साहब माई सिर्फ हर विषय पर अपना कंसल्टेशन र कर देखना होम्स पर सूचना पूर्वानुमान की बेहतरीन तकरीर जो जानते हैं वही दिमाग बस इसी का लाभ लेकर आप को पूर्वानुमान जितना अच्छा होगा उसमें ही अच्छा आपका एजेंट्स आफ माइंड होगा मां अपने बच्चे के घर आते ही उसके चेहरे को देखकर जान जाती है उसे भूख लगी है प्यास लगी यह प्रेजेंस आफ माइंड आप कितने बेहतरीन ढंग से पूर्व अनुमान लगा के पहले से सोच कर रखें परिस ध्यान लगाकर

presence of mind dimag ki upasthitee yah nirbhar karti hai ki aap kitne prepaid prepaid hone ka matlab yah hai har baat ka anumaan pehle hi laga lena aur sambhavanaon ko khoj lena jab aap sambhavna aur purvaanuman ke taraf agrasar hote hain toh aapka dimag ki upasthitee vaah bechari ho jaati hai jain saheb my sirf har vishay par apna kansalteshan r kar dekhna homes par soochna purvaanuman ki behtareen takrir jo jante hain wahi dimag bus isi ka labh lekar aap ko purvaanuman jitna accha hoga usme hi accha aapka ejents of mind hoga maa apne bacche ke ghar aate hi uske chehre ko dekhkar jaan jaati hai use bhukh lagi hai pyaas lagi yah presence of mind aap kitne behtareen dhang se purv anumaan laga ke pehle se soch kar rakhen paris dhyan lagakar

प्रेजेंस आफ माइंड दिमाग की उपस्थिति यह निर्भर करती है कि आप कितने प्रीपेड प्रीपेड होने का

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  513
WhatsApp_icon
user

Sanju junier

EDUCATER

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रेजेंट ऑफ माइंड क्वेश्चन पूछा है तो मेरा तो यह मानना है कि हम जिस कंडीशन में जहां पर भी बैठे हैं जैसे लोगों के बीच बैठे हैं हमें हर टाइम उनके आंसर देने के लिए बिल्कुल तैयार रहना चाहिए हमारे माइंड एक्टिवेट होना चाहिए इस तरह से काम करना चाहिए अगले वाले को यह फील ना हो कि वह बोल्ड फील कर रहा है या फिर उसका दिमाग का ही हो रहा है कोई भी एक्टिविटी होती है वहां पर उसके लिए मैं भी अलर्ट पहले से तैयार होना चाहिए आई मीन हमारा जो दिमाग है बिल्कुल उस टाइम जैसे अर्जुन की आंख अर्जुन चिड़िया की आपको देखता है उसी तरह बिल्कुल हमारा दिमाग उसी कंडीशन के कोडिंग कम करना चाहिए

present of mind question poocha hai toh mera toh yah manana hai ki hum jis condition mein jaha par bhi baithe hain jaise logo ke beech baithe hain hamein har time unke answer dene ke liye bilkul taiyar rehna chahiye hamare mind activate hona chahiye is tarah se kaam karna chahiye agle waale ko yah feel na ho ki vaah bold feel kar raha hai ya phir uska dimag ka hi ho raha hai koi bhi activity hoti hai wahan par uske liye main bhi alert pehle se taiyar hona chahiye I meen hamara jo dimag hai bilkul us time jaise arjun ki aankh arjun chidiya ki aapko dekhta hai usi tarah bilkul hamara dimag usi condition ke coding kam karna chahiye

प्रेजेंट ऑफ माइंड क्वेश्चन पूछा है तो मेरा तो यह मानना है कि हम जिस कंडीशन में जहां पर भी

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  495
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!