खेल छात्रों के लिए क्यों महत्वपूर्ण हैं?...


user

धर्मदेव सिंह भाटी

कुश्ती प्रशिक्षक

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने बहुत ही शानदार प्रश्न पूछा है खेल छात्रों के लिए क्यों महत्वपूर्ण है मेरे विचार से पढ़ने वाले बच्चों के लिए खेल खेलना बहुत जरूरी है यदि छात्र खेल नहीं खेलेंगे तो अधूरे से रह जाएंगे उनका शारीरिक विकास नहीं होगा और यदि विद्यार्थियों का शारीरिक विकास नहीं होगा तो मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि उनका मानसिक विकास भी नहीं होगा उनका सर्वांगीण विकास तभी होगा जब वह खेलों में रुचि लें और खेलों में बढ़-चढ़कर भाग ले तो हम कह सकते हैं कि छात्रों को खेलों को जरूर खेलना चाहिए जिससे उनका शारीरिक और मानसिक विकास विकास पूर्ण रूप से हो

aapne bahut hi shandar prashna poocha hai khel chhatro ke liye kyon mahatvapurna hai mere vichar se padhne waale baccho ke liye khel khelna bahut zaroori hai yadi chatra khel nahi khelenge toh adhure se reh jaenge unka sharirik vikas nahi hoga aur yadi vidyarthiyon ka sharirik vikas nahi hoga toh main daave ke saath keh sakta hoon ki unka mansik vikas bhi nahi hoga unka Sarvangiṇa vikas tabhi hoga jab vaah khelo mein ruchi le aur khelo mein badh chadhakar bhag le toh hum keh sakte hain ki chhatro ko khelo ko zaroor khelna chahiye jisse unka sharirik aur mansik vikas vikas purn roop se ho

आपने बहुत ही शानदार प्रश्न पूछा है खेल छात्रों के लिए क्यों महत्वपूर्ण है मेरे विचार से पढ

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  556
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Harry JEN

Business Owner

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे खेल तो छात्रों के बहुत महत्वपूर्ण खेल जो है उसको खेलने के पश्चात व्यक्ति को जो है शारीरिक रूप से एक संपूर्णता मिलती है वह फिट होता है उसके अंग कहीं से काम करते हैं आपका शारीरिक व्यायाम जब होता है तो उसका मानसिक संतुष्टि मिलती है तो खेलो तो साथ में बहुत दम हो तो बोलो सही जवाब अच्छा बनेगा तो कहा था कि भागवत गीता को जब छात्र तभी समझ पाएंगे कि वह फुटबॉल अच्छे से देखेंगे इसका मतलब छात्रों में ज्यादा महत्वपूर्ण है विश्व में जितने भी क्रियाकलाप होते हैं जब तक नौकरी करेंगे आपका पसंद होना ही चाहिए और स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क रहता है यह भी कहावत है छात्रों में भूतपूर्व जितेंद्र आ जाएगी तो कहीं ना कहीं भावना हार नहीं मानता खेल खेल खेल

dekhe khel toh chhatro ke bahut mahatvapurna khel jo hai usko khelne ke pashchat vyakti ko jo hai sharirik roop se ek sanpoornataa milti hai vaah fit hota hai uske ang kahin se kaam karte hain aapka sharirik vyayam jab hota hai toh uska mansik santushti milti hai toh khelo toh saath me bahut dum ho toh bolo sahi jawab accha banega toh kaha tha ki bhagwat geeta ko jab chatra tabhi samajh payenge ki vaah football acche se dekhenge iska matlab chhatro me zyada mahatvapurna hai vishwa me jitne bhi kriyakalap hote hain jab tak naukri karenge aapka pasand hona hi chahiye aur swasth sharir me swasth mastishk rehta hai yah bhi kahaavat hai chhatro me bhutpurv jitendra aa jayegi toh kahin na kahin bhavna haar nahi maanta khel khel khel

देखे खेल तो छात्रों के बहुत महत्वपूर्ण खेल जो है उसको खेलने के पश्चात व्यक्ति को जो है शार

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  92
WhatsApp_icon
play
user

Kriti

Volunteer

0:41

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

के छात्रों के लिए क्यों महत्वपूर्ण है टाइम टेबल रहता है बी सी डी सीखेंगे फिर सिखाएंगे छात्र पढ़ाई करते हैं उतना ही अपना मन किसी और चीज में लगाते हैं और मंडला खेल हम जबरदस्ती बोलने पर नहीं करते अपने मन से करते हैं इसीलिए हमारा बहल जाता है और हम अच्छे से और दूसरे काम भी कर पाते हैं

ke chhatro ke liye kyon mahatvapurna hai time table rehta hai be si d sikhenge phir sikhaenge chatra padhai karte hain utana hi apna man kisi aur cheez mein lagate hain aur mandla khel hum jabardasti bolne par nahi karte apne man se karte hain isliye hamara bahal jata hai aur hum acche se aur dusre kaam bhi kar paate hain

के छात्रों के लिए क्यों महत्वपूर्ण है टाइम टेबल रहता है बी सी डी सीखेंगे फिर सिखाएंगे छात्

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  472
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!