अपने करियर में एक IPS अधिकारी को कितने तबादलों का सामना करना पड़ता है?...


user

Anil Kumar Jha

Director, RA Institute,Gwalior

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं इसका तो कोई क्राइटेरिया नहीं है ट्रांसफर तो स्टेट बाय गवर्नमेंट है तो वह ट्रांसफर अपने हिसाब से करती रहती है केंद्र को जब जरूरत होती है तो केंद्र उनको अपने पास बुला लेता है या स्टेट से मान लीजिए किसी आईएएस की नहीं बन पा रही है तो वह केंद्र को वापस भी कर देते हैं ऐसा कुछ तो नहीं है कि जीवन काल में कोई निश्चित टाइम आओगे हम इतनी बार ट्रांसफर ले सकते हैं या फिर से ट्रांसफर को गवर्नमेंट के ऊपर होते हैं

main iska toh koi criteria nahi hai transfer toh state by government hai toh wah transfer apne hisab se karti rehti hai kendra ko jab zarurat hoti hai toh kendra unko apne paas bula leta hai ya state se maan lijiye kisi IAS ki nahi ban pa rahi hai toh wah kendra ko wapas bhi kar dete hain aisa kuch toh nahi hai ki jeevan kaal mein koi nishchit time aaoge hum itni baar transfer le sakte hain ya phir se transfer ko government ke upar hote hain

मैं इसका तो कोई क्राइटेरिया नहीं है ट्रांसफर तो स्टेट बाय गवर्नमेंट है तो वह ट्रांसफर अपने

Romanized Version
Likes  63  Dislikes    views  1167
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!