क्या भारतीय विदेश सेवा आजकल बेहतर विकल्प है क्योंकि IAS / IPS / IRS में बहुत अधिक राजनीतिक हस्तक्षेप है?...


play
user

Manoranjan Behera (IRS)

IRS (INCOME TAX) -2018

1:39

Likes  420  Dislikes    views  4511
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Rajiv Mishra

MD at Kautilya Study Circle

0:26
Play

Likes  150  Dislikes    views  1500
WhatsApp_icon
user
3:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत सारे ऐसे आईपीएस और आईएएस है जो कभी भी किसी दबाव में नहीं आते क्योंकि आदमी दबाव में तभी आता है जब वह अच्छी जगह पोस्टिंग चाहता है हर प्रकार की सुख सुविधा चाहता है लेकिन जब हम देश सेवा को चुनते हैं तो कुछ अफसर ऐसे हैं हरियाणा के ही उस अफसर का आईएएस अफसर अशोक खेमका उनका साल भर में ही 1010 ट्रांसफर होते हैं लेकिन उन्होंने कभी भी अपने सिद्धांतों से समझौता नहीं किया आप आए थे इसमें भी जाते हैं इंडियन फॉरेन सर्विस में भी जाते हैं तो वहां भी आपको अगर दबने वाले हैं आप तो किसी न किसी दबाव में काम करना पड़ता है हम किसी भी पद पर रहे अगर हम अपने कर्तव्य को पूरी ईमानदारी से करते हैं तो हमारा नैतिक साहस इतना अधिक हो जाता है कि बड़ा से बड़ा आदमी भी दबाव डालने के पहले कई बार सोचता है क्योंकि अगर हमको राजनीतिक दबाव या किसी और दबाव में किसी ईमानदार अफसर को दबाने का प्रयास किया जाता है तो यह मत भूलिए कि जनता खुद सड़कों पर आकर उसका विरोध करने लगती है अगर हम राजनीतिक दबाव या बड़े-बड़े जो कारपोरेट घराने के दबाव हैं उससे निपटने की क्षमता नहीं रहते तो मेरी तो सलाह यह है कि हमको यह यूपीएससी के एग्जामिनेशन में बैठना ही नहीं चाहिए और संत बनकर सन्यास मार चुनकर चुपचाप अकेले आराम से जिंदगी बितानी चाहिए लेकिन मैं यह मानता हूं कि आईएएस और आईपीएस दोनों देश सेवा के सबसे बड़े साधन है राजनीति के बाद क्योंकि राजनीति में भी ऐसे लोग हुए हैं जिन्होंने केवल और केवल देश सेवा को ही प्राथमिकता दी है इसी समय फिलामेंट में डॉक्टर नेहरू जैसे प्रधानमंत्री थे और डॉक्टर राम मनोहर लोहिया जैसे विपक्ष के नेता को दोनों अपने अपने सिद्धांतों से कभी नहीं भूखे यह उदाहरण है कि आज भी राजनीति में जाकर आप देश की सेवा

bahut saare aise ips aur IAS hai jo kabhi bhi kisi dabaav mein nahi aate kyonki aadmi dabaav mein tabhi aata hai jab vaah achi jagah posting chahta hai har prakar ki sukh suvidha chahta hai lekin jab hum desh seva ko chunte hain toh kuch officer aise hain haryana ke hi us officer ka IAS officer ashok khemka unka saal bhar mein hi 1010 transfer hote hain lekin unhone kabhi bhi apne siddhanto se samjhauta nahi kiya aap aaye the isme bhi jaate hain indian foreign service mein bhi jaate hain toh wahan bhi aapko agar dabane waale hain aap toh kisi na kisi dabaav mein kaam karna padta hai hum kisi bhi pad par rahe agar hum apne kartavya ko puri imaandaari se karte hain toh hamara naitik saahas itna adhik ho jata hai ki bada se bada aadmi bhi dabaav dalne ke pehle kai baar sochta hai kyonki agar hamko raajnitik dabaav ya kisi aur dabaav mein kisi imaandaar officer ko dabane ka prayas kiya jata hai toh yah mat bhuliye ki janta khud sadkon par aakar uska virodh karne lagti hai agar hum raajnitik dabaav ya bade bade jo karporet gharane ke dabaav hain usse nipatane ki kshamta nahi rehte toh meri toh salah yah hai ki hamko yah upsc ke examination mein baithana hi nahi chahiye aur sant bankar sanyas maar chunkar chupchap akele aaram se zindagi bitani chahiye lekin main yah manata hoon ki IAS aur ips dono desh seva ke sabse bade sadhan hai raajneeti ke baad kyonki raajneeti mein bhi aise log hue hain jinhone keval aur keval desh seva ko hi prathamikta di hai isi samay filament mein doctor nehru jaise pradhanmantri the aur doctor ram manohar lohiya jaise vipaksh ke neta ko dono apne apne siddhanto se kabhi nahi bhukhe yah udaharan hai ki aaj bhi raajneeti mein jaakar aap desh ki seva

बहुत सारे ऐसे आईपीएस और आईएएस है जो कभी भी किसी दबाव में नहीं आते क्योंकि आदमी दबाव में तभ

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  91
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!