मैं सिविल सेवाओं के लिए निबंध विषय का अभ्यास कैसे करूँ?...


user

Sunita Chahar

Special Educator

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप निबंध लिखना चाहते हैं उसके लिए आपको भाषा का ज्ञान होना चाहिए अभिषेक आपको ज्ञान होना चाहिए तभी आप जो है वह अच्छा निबंध लिख सकते हैं इसके लिए जरूरी है कि आप कोई भी अखबार है उसका संपादकीय जो प्रश्न है उसको जरुर पढ़े उससे आपको लिखने का अभ्यास होगा और जो उसमें जो भाषिक शब्दावली है उसका आपको ज्ञान होगा जिसका आप निबंध विषय लिखने में कर सकते हैं आशा करती हूं कि आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी धन्यवाद

agar aap nibandh likhna chahte hain uske liye aapko bhasha ka gyaan hona chahiye abhishek aapko gyaan hona chahiye tabhi aap jo hai vaah accha nibandh likh sakte hain iske liye zaroori hai ki aap koi bhi akhbaar hai uska sampadakiy jo prashna hai usko zaroor padhe usse aapko likhne ka abhyas hoga aur jo usme jo bhashik shabdavli hai uska aapko gyaan hoga jiska aap nibandh vishay likhne mein kar sakte hain asha karti hoon ki aapko yah jaankari achi lagi hogi dhanyavad

अगर आप निबंध लिखना चाहते हैं उसके लिए आपको भाषा का ज्ञान होना चाहिए अभिषेक आपको ज्ञान होना

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  148
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Dr Atul Kumar Mishra

Director, BRAHM IAS

1:18

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अभी अपना वाली पिक्चर पूरी तरह तपना जारी कर दिया है अब कुछ बचा तो गेट नॉलेज बहुत ज्यादा ध्यान देता था कि हाउस कोलकाता का झांकी देखने के बाद उड़ा एग्जाम की किताबें उड़े रे मारो 1 साल तक पूरा पढ़ना पड़ता है तो तैयारी की बात एक पाठ से ज्यादा वॉलपेपर कैसे टूट के लिए होता है शाम तक 7 साल 2012 12 13 14 15 16 साल की

abhi apna wali picture puri tarah tepna jaari kar diya hai ab kuch bacha toh gate knowledge bahut zyada dhyan deta tha ki house kolkata ka jhanki dekhne ke baad uda exam ki kitaben ude ray maaro 1 saal tak pura padhna padta hai toh taiyari ki baat ek path se zyada wallpaper kaise toot ke liye hota hai shaam tak 7 saal 2012 12 13 14 15 16 saal ki

अभी अपना वाली पिक्चर पूरी तरह तपना जारी कर दिया है अब कुछ बचा तो गेट नॉलेज बहुत ज्यादा ध्य

Romanized Version
Likes  81  Dislikes    views  1310
WhatsApp_icon
user

U K Agrawal

Indian Forest Services

0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लक्ष्मी को मिली पढ़ना चाहिए उसमें एक चलाता है कि अल्टीमेटली ऐसे में आपको साइट ब्लीडिंग करिए

laxmi ko mili padhna chahiye usme ek chalata hai ki altimetli aise mein aapko site bleeding kariye

लक्ष्मी को मिली पढ़ना चाहिए उसमें एक चलाता है कि अल्टीमेटली ऐसे में आपको साइट ब्लीडिंग करि

Romanized Version
Likes  81  Dislikes    views  1857
WhatsApp_icon
user

प्रवीण दुबे

शिक्षक - सिविल सर्विसेज परीक्षा

5:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखो आपका प्रश्न है कि मैं सिविल सेवा के लिए निबंध का अभ्यास कैसे करूं देखो सबसे पहली बार जब भी आपको किसी विषय पर निबंध लिखना हो तो उस विषय के संदर्भ में कुछ चीजों का ज्ञान होना अनिवार्य हो जाता है जैसे मैं एक उदाहरण देकर समझाता हूं कि मान लीजिए वर्तमान में हमको निबंध लिखना है कि भारतीय अर्थव्यवस्था एवं करो ना यह जो कोरोनावायरस फैली है यह महामारी भारत और विश्व की अर्थव्यवस्था को किस प्रकार प्रभावित करती है तो अब यहां पर जिस जो निबंध है इसमें आपसे दो चीजों की उम्मीद की जा रही है प्रथम दृष्टया एक पहली उम्मीद आपसे यह की जा रही है कि क्या आपको यह ज्ञान है कि अर्थव्यवस्था की स्थिति क्या है दूसरी आपको यह ज्ञान है कि यह करो ना महामारी क्या अब इन दोनों के बारे में आपको परिचय वाले कॉलम में लिखना होगा उसके बाद अब आपको लिखना है यह जो महामारी है यह किस तरह से विश्व में प्रभावी अब आप क्योंकि जो आप की अर्थव्यवस्था है उसको कौन प्रभावित कर रहा है यह महामारी इसके विभिन्न का लिखेंगे फिल लाख 27 डाउन चल रहा है इसके चलते किस तरह से इकोनामी पंग हो रही है उसके संदर्भ में लिखेंगे कहने का मतलब है कि आपको किसी भी क्षेत्र में निबंध लिखने के लिए सबसे पहले एक रेखाचित्र तैयार करना होगा रेखा चित्र में हम सबसे पहले परिचय लिखते हैं परिचय के बाद विषय वस्तु क्या है उसको लिखते हैं उसकी गंभीरता चाहे लिखते हैं और फिर गंभीरता के बाद जो सरकार के प्रयास है उनको लिखते हैं फिर हम अपने सुझाव को लिखते हुए निष्कर्ष की तरफ आगे बढ़ते हैं निबंध लेखन के समय हमको इस बात का ध्यान देना चाहिए कि अगर हमने उसमें किसी शब्द का भी प्रयोग किया है का केक इन कुकर इन शब्दों का भी प्रयोग किया है तो इनका एक उचित अर्थ लिखिए अकारण एक शब्द भी हम उसमें नहीं लिखें और सिविल सर्विसेज के लिए जवाब निबंध लिखेंगे तो आप उसमें इस बात का ध्यान रखेंगे कि किसी तथ्य का बार-बार दोहराव ना किसी तथ्य को जहां पर जरूरत हो वहीं पर प्रदर्शित किया जाए दूसरी सबसे बड़ी बात सरकार कभी गलत नहीं होती हां क्रियान्वयन में गलतियां हो जाती हैं और जब भी आप सरकार की आलोचना कर रहे हो तो आप इस बात को अवश्य ध्यान में रखेंगे कि आपको गवर्नमेंट सर्वेंट बनना है ना कि एंटी गवर्नमेंट जाता है इसलिए भी जो सच्चाई है उस वास्तविकता को जाकर हमको इसके लिए सहायक सामग्री के रूप में दा हिंदू है टाइम्स आफ इंडिया है दैनिक जागरण है हिंदुस्तान है जनसत्ता है यह तमाम समाचार पत्र हैं इनकी संपादकीय का अध्ययन करें किंतु आप यह ध्यान रखते हैं सबसे पहले कि कोई व्यक्ति अगर किसी संदर्भ में कुछ बोल रहा है तो किस विचारधारा से ग्रसित होकर बोल रहा है जैसे भी एक प्रश्न था वर्तमान में की जो प्रधानमंत्री ने पीएम केयर्स फंड स्थापित किया है इसकी क्या आवश्यकता थी जब हमारे पास राष्ट्रीय प्रधानमंत्री आपदा राहत को पहले से सृजित है तो यहां पर आपको आपदा राहत कोष के संदर्भ में भी जानना होगा और पीएम केयर्स फंड के भी संदर्भ में जानना होगा आपदा राहत कोष के नाप अदाओं के लिए है पीएम केयर्स फंड हमारी जैसी बीमारियों के लिए है इन दोनों के संदर्भ में आपको जानता हूं और गवर्नमेंट ने अगर इस का सृजन किया है उसके कुछ तथ्य होंगे हां हो सकता है किस में एक कमी पारदर्शिता की आ सकती है तो हम अपने सुझाव में यह लिख देंगे किसके पारदर्शिता को बढ़ाने के अन्य उपाय किए जाएं ताकि उसमें डोनेट की जाने वाली राशि का गलत प्रयोग ना होने पाए या भ्रष्टाचार जैसा कोई कदम इसमें ना ठीक है सरकार की आलोचनाओं को नहीं लिखे आलोचना करेंगे तो तार्किक होगी राजनैतिक आलोचना नहीं करेंगे कि राजनीति बस क्योंकि आप सिविल सर्विस में जा रहे हैं आप सीधे गवर्नमेंट की सेवा में जा रहे हैं निबंध लिखने के लिए सबसे पहले आप विषय का चयन करें और ऐसे विषयों का चयन करें जो तत्काल में चर्चा में और फिर उसके संदर्भ में आप एक रेखा चित्र बनाएं रेखा चित्र के लिए आप क्या कर सकते हैं कि परिचय फिर उसके विषय वस्तु उसके संदर्भ में जानकारियां इन सब को व्यवस्थित ढंग से रखें और व्यवस्थित ढंग से रखने के बाद आप क्या करें उनको पहले रेखा चित्र बना ले फिर क्या करें उनको लिखने का प्रयास करें किसी ऐसे शब्द का उसमें प्रयोग ना करें जो अकारण हो एक ही बात का दोहराव ना हो इन सारी बातों को ध्यान में रखकर आप निबंध का लेखक कर सकते हैं

dekho aapka prashna hai ki main civil seva ke liye nibandh ka abhyas kaise karu dekho sabse pehli baar jab bhi aapko kisi vishay par nibandh likhna ho toh us vishay ke sandarbh me kuch chijon ka gyaan hona anivarya ho jata hai jaise main ek udaharan dekar samajhaata hoon ki maan lijiye vartaman me hamko nibandh likhna hai ki bharatiya arthavyavastha evam karo na yah jo coronavirus faili hai yah mahamari bharat aur vishwa ki arthavyavastha ko kis prakar prabhavit karti hai toh ab yahan par jis jo nibandh hai isme aapse do chijon ki ummid ki ja rahi hai pratham drishtaya ek pehli ummid aapse yah ki ja rahi hai ki kya aapko yah gyaan hai ki arthavyavastha ki sthiti kya hai dusri aapko yah gyaan hai ki yah karo na mahamari kya ab in dono ke bare me aapko parichay waale column me likhna hoga uske baad ab aapko likhna hai yah jo mahamari hai yah kis tarah se vishwa me prabhavi ab aap kyonki jo aap ki arthavyavastha hai usko kaun prabhavit kar raha hai yah mahamari iske vibhinn ka likhenge fill lakh 27 down chal raha hai iske chalte kis tarah se economy pang ho rahi hai uske sandarbh me likhenge kehne ka matlab hai ki aapko kisi bhi kshetra me nibandh likhne ke liye sabse pehle ek rekhaachitr taiyar karna hoga rekha chitra me hum sabse pehle parichay likhte hain parichay ke baad vishay vastu kya hai usko likhte hain uski gambhirta chahen likhte hain aur phir gambhirta ke baad jo sarkar ke prayas hai unko likhte hain phir hum apne sujhaav ko likhte hue nishkarsh ki taraf aage badhte hain nibandh lekhan ke samay hamko is baat ka dhyan dena chahiye ki agar humne usme kisi shabd ka bhi prayog kiya hai ka cake in cooker in shabdon ka bhi prayog kiya hai toh inka ek uchit arth likhiye akaran ek shabd bhi hum usme nahi likhen aur civil services ke liye jawab nibandh likhenge toh aap usme is baat ka dhyan rakhenge ki kisi tathya ka baar baar dohrao na kisi tathya ko jaha par zarurat ho wahi par pradarshit kiya jaaye dusri sabse badi baat sarkar kabhi galat nahi hoti haan kriyanvayan me galtiya ho jaati hain aur jab bhi aap sarkar ki aalochana kar rahe ho toh aap is baat ko avashya dhyan me rakhenge ki aapko government servant banna hai na ki anti government jata hai isliye bhi jo sacchai hai us vastavikta ko jaakar hamko iske liye sahayak samagri ke roop me the hindu hai times of india hai dainik jagran hai Hindustan hai jansatta hai yah tamaam samachar patra hain inki sampadakiy ka adhyayan kare kintu aap yah dhyan rakhte hain sabse pehle ki koi vyakti agar kisi sandarbh me kuch bol raha hai toh kis vichardhara se grasit hokar bol raha hai jaise bhi ek prashna tha vartaman me ki jo pradhanmantri ne pm keyars fund sthapit kiya hai iski kya avashyakta thi jab hamare paas rashtriya pradhanmantri aapda rahat ko pehle se srijit hai toh yahan par aapko aapda rahat kosh ke sandarbh me bhi janana hoga aur pm keyars fund ke bhi sandarbh me janana hoga aapda rahat kosh ke naap adaon ke liye hai pm keyars fund hamari jaisi bimariyon ke liye hai in dono ke sandarbh me aapko jaanta hoon aur government ne agar is ka srijan kiya hai uske kuch tathya honge haan ho sakta hai kis me ek kami pardarshita ki aa sakti hai toh hum apne sujhaav me yah likh denge kiske pardarshita ko badhane ke anya upay kiye jayen taki usme donate ki jaane wali rashi ka galat prayog na hone paye ya bhrashtachar jaisa koi kadam isme na theek hai sarkar ki aalochanaon ko nahi likhe aalochana karenge toh tarkik hogi rajnaitik aalochana nahi karenge ki raajneeti bus kyonki aap civil service me ja rahe hain aap sidhe government ki seva me ja rahe hain nibandh likhne ke liye sabse pehle aap vishay ka chayan kare aur aise vishyon ka chayan kare jo tatkal me charcha me aur phir uske sandarbh me aap ek rekha chitra banaye rekha chitra ke liye aap kya kar sakte hain ki parichay phir uske vishay vastu uske sandarbh me jankariyan in sab ko vyavasthit dhang se rakhen aur vyavasthit dhang se rakhne ke baad aap kya kare unko pehle rekha chitra bana le phir kya kare unko likhne ka prayas kare kisi aise shabd ka usme prayog na kare jo akaran ho ek hi baat ka dohrao na ho in saari baaton ko dhyan me rakhakar aap nibandh ka lekhak kar sakte hain

देखो आपका प्रश्न है कि मैं सिविल सेवा के लिए निबंध का अभ्यास कैसे करूं देखो सबसे पहली बार

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  65
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!