क्या आयुर्वेद इलाज से पहले लक्षणों को बढ़ाता है?...


play
user

Dr Snehal Kadam

Ayurvedic Consultant

0:21

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एगजैक्टली बढ़ाता है ऐसा नहीं कह सकते स्टमक में आते हैं ताकि वह बॉडी में से बाहर निकाले जा सकते तो थोड़े साइन सिम्टम्स में फ्लकचुएशंस होते हैं

egajaiktali badhata hai aisa nahi keh sakte stomach mein aate hain taki vaah body mein se bahar nikale ja sakte toh thode sign Symptoms mein flakachueshans hote hain

एगजैक्टली बढ़ाता है ऐसा नहीं कह सकते स्टमक में आते हैं ताकि वह बॉडी में से बाहर निकाले जा

Romanized Version
Likes  336  Dislikes    views  3664
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Shyam Kumar

Ayurvedic Doctor

1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई भी चीज पड़ता है लखन हर्षित आता है जैसे कि भाई गाता था कि हम दुनिया में आए हैं तो मेरा नाम लेंगे याद करेंगे ऐसे में खराब कर दिए तो आप लेकिन अभी भी क्या करता है तब किस टाइम पास कर लेता है जब नहीं है कृपया ध्यान देता है दांत बनवा लिया दांत तोड़ दिए साक्षात्कार लेते चले जाएंगे लेकिन लास्ट में क्या होता है थोड़ा सा ध्यान दे मैं तो पता चलता है गाड़ी खराब होने से पहले कुछ लाता है सबका ध्यान रखने से पता चल रहा था कि होने वाला है

koi bhi cheez padta hai lakhan harshit aata hai jaise ki bhai gaata tha ki hum duniya mein aaye hain toh mera naam lenge yaad karenge aise mein kharab kar diye toh aap lekin abhi bhi kya karta hai tab kis time paas kar leta hai jab nahi hai kripya dhyan deta hai dant banwa liya dant tod diye sakshatkar lete chale jaenge lekin last mein kya hota hai thoda sa dhyan de main toh pata chalta hai gaadi kharab hone se pehle kuch lata hai sabka dhyan rakhne se pata chal raha tha ki hone vala hai

कोई भी चीज पड़ता है लखन हर्षित आता है जैसे कि भाई गाता था कि हम दुनिया में आए हैं तो मेरा

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  530
WhatsApp_icon
user

Drmehul_rajgor

Ayurvedic Doctor

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अक्कासर वाली आयुर्वेदिक रात से पहले लक्षणों को बढ़ाता है आप कुछ भी बताया है वह विच टाइप कर रहा है आपको कृपया इसके बारे में तो हंड्रेड परसेंट बरसे इलाज करता है ऐसा नहीं है कि लाख से पहले बोतल को

akkasar wali ayurvedic raat se pehle lakshano ko badhata hai aap kuch bhi bataya hai wah which type kar raha hai aapko kripya iske bare mein toh hundred percent barase ilaj karta hai aisa nahi hai ki lakh se pehle bottle ko

अक्कासर वाली आयुर्वेदिक रात से पहले लक्षणों को बढ़ाता है आप कुछ भी बताया है वह विच टाइप कर

Romanized Version
Likes  77  Dislikes    views  1538
WhatsApp_icon
user

Dr. Mitramahesh

Ayurvedic Doctors

3:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने उसके उपचार से पहले लक्षणों को बढ़ाने की जो बात पर किए किस अर्थ में लिखी है उसका कोई स्पष्टीकरण नहीं है मैं यह समझता हूं कि कोई रोग की चिकित्सा आप करते हैं उससे पहले रोगी के लक्षण बढ़ते हैं वह लोग का रोग का प्रकोप बढ़ता है और वह भी के अंदर हुए और प्रगति होती है जिसकी योगी योगी ज्यादा रॉकी पंचायत में करना चाहते हैं ऐसा नहीं जागरण के अनुसार समझ सकता हूं परंतु कोई भी व्यक्ति है उसके शरीर में 49% तक 49 परसेंटेज तक के उसके बॉडी हेल्थ ही रहेगा तब तो कुछ ठीक है कि आएगा और छुट्टी पर होगा तो औरों की परिस्थिति में आ जाएगा और अच्छा हो करके प्रोटीन आएगा तो वह महल की परिस्थिति में आ जाएगा तो धर्म और अधर्म के बारे में इस प्रकार से चलता है आप जो मानते हैं कि इससे पहले हुए ट्रीटमेंट से पहले कोई लक्षण तो रोग रोग होता है उसके लक्षण की क्या पोस्ट हीरो बीपी क्या प्रॉब्लम क्या है क्या परिस्थिति है क्या पोजीशन है उसके ऊपर यह बातें याद रहती है लेकिन आयुर्वेद विज्ञान के अनुसार जब रोग शरीर में प्रकट होता है शुरुआत का समय होता है उसके बाद एक कुछ 510 15 दिन के बाद कुछ वजन बढ़ने लगता है तो उसको उसी समय में जब शरीर में अंकल को शक्ति लगी सभी के अंदर बेचैनी लगे मानसिक रूप से उसको बहुत ही उसको मनोविकार और मानसिक के नियंत्रण से बाहर की परिस्थिति होती लगे तो व्यक्ति को तुरंत चिकित्सा करवाकर केसरी का शुद्धिकरण कर लेना चाहिए एक बात और दूसरा यह भी है कि मैं जाओ सर आप लेते हैं और सदस्य अच्छे होने के बाद आप लोग अपने सभी की दिनचर्या में पड़कर ये आयुर्वेद के अनुसार सभी को सुबह सूर्योदय से पहले पूछिए आप मल मूत्र त्याग करिए आप दांतों की शुद्धि करेंजित की शुद्धि करिए स्नान करिए यह सारी बात है कुछ योग व्यायाम करिए योगी भाषण करिए और आप घर के अंदर नीचे झज्जर करिए कोरोनावायरस होरी होने के बाद दिए इतना भयंकर दुर्घटना और यह सारी बातों की हुई हो रही है और इसे और व्यक्ति के स्वास्थ्य दिए गए जो बदबू आती है या तो जो इसके के जीव जंतु खेलते हैं और जो परिस्थिति होती है उससे बचने के लिए एक ही बात है कि आपका शरीर के अंदर कोई कमजोर होना नहीं चाहिए कोई गलती होनी नहीं चाहिए आपके पेट में कब्ज ज्यादा होगा आपके जीत से चूक वाली है आपकी हथेली करेंगे या तो हथेली के पीछे वाला हिस्सा और खूब मारेंगे तो आपको टॉयलेट से दुर्गंध आएगी वापस आ रे लक्ष्मण के अनुसार आपके शरीर को अच्छा पवित्र बनाइए सभी को अच्छे नियमों से डाल दिए जायं करिए उपासना करिए तो आपके शरीर के अंदर किसी प्रकार का रोग नहीं होगा और किसी भी प्रकार का कोई प्रॉब्लम नहीं है का धन्यवाद

aapne uske upchaar se pehle lakshano ko badhane ki jo baat par kiye kis arth me likhi hai uska koi spashteekaran nahi hai main yah samajhata hoon ki koi rog ki chikitsa aap karte hain usse pehle rogi ke lakshan badhte hain vaah log ka rog ka prakop badhta hai aur vaah bhi ke andar hue aur pragati hoti hai jiski yogi yogi zyada rocky panchayat me karna chahte hain aisa nahi jagran ke anusaar samajh sakta hoon parantu koi bhi vyakti hai uske sharir me 49 tak 49 percentage tak ke uske body health hi rahega tab toh kuch theek hai ki aayega aur chhutti par hoga toh auron ki paristhiti me aa jaega aur accha ho karke protein aayega toh vaah mahal ki paristhiti me aa jaega toh dharm aur adharma ke bare me is prakar se chalta hai aap jo maante hain ki isse pehle hue treatment se pehle koi lakshan toh rog rog hota hai uske lakshan ki kya post hero BP kya problem kya hai kya paristhiti hai kya position hai uske upar yah batein yaad rehti hai lekin ayurveda vigyan ke anusaar jab rog sharir me prakat hota hai shuruat ka samay hota hai uske baad ek kuch 510 15 din ke baad kuch wajan badhne lagta hai toh usko usi samay me jab sharir me uncle ko shakti lagi sabhi ke andar bechaini lage mansik roop se usko bahut hi usko manovikar aur mansik ke niyantran se bahar ki paristhiti hoti lage toh vyakti ko turant chikitsa karvakar kesari ka shuddhikaran kar lena chahiye ek baat aur doosra yah bhi hai ki main jao sir aap lete hain aur sadasya acche hone ke baad aap log apne sabhi ki dincharya me padhkar ye ayurveda ke anusaar sabhi ko subah suryoday se pehle puchiye aap mal mutra tyag kariye aap danton ki shudhi karenjit ki shudhi kariye snan kariye yah saari baat hai kuch yog vyayam kariye yogi bhashan kariye aur aap ghar ke andar niche jhajjar kariye coronavirus hori hone ke baad diye itna bhayankar durghatna aur yah saari baaton ki hui ho rahi hai aur ise aur vyakti ke swasthya diye gaye jo badbu aati hai ya toh jo iske ke jeev jantu khelte hain aur jo paristhiti hoti hai usse bachne ke liye ek hi baat hai ki aapka sharir ke andar koi kamjor hona nahi chahiye koi galti honi nahi chahiye aapke pet me kabz zyada hoga aapke jeet se chuk wali hai aapki hatheli karenge ya toh hatheli ke peeche vala hissa aur khoob marenge toh aapko toilet se durgandh aayegi wapas aa ray lakshman ke anusaar aapke sharir ko accha pavitra banaiye sabhi ko acche niyamon se daal diye jayan kariye upasana kariye toh aapke sharir ke andar kisi prakar ka rog nahi hoga aur kisi bhi prakar ka koi problem nahi hai ka dhanyavad

आपने उसके उपचार से पहले लक्षणों को बढ़ाने की जो बात पर किए किस अर्थ में लिखी है उसका कोई स

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  215
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!