मानसिक रूप से बीमार कितने लोग बेघर और सड़ कौन पर खत्म हो गए?...


user

Poornima Katyal

Psychologist

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेंटली इल को शिक्षा में क्या है हमारे देश में अभी भी ना जो लोगों में नॉलेज है जो चाहिए फैक्ट्री क्या मेंटल पेशेंट के लिए उसकी आज भी कमी है और लोग अभी भी ज्यादातर हम लोग यहां पेश करते हैं कि तो हमारे पास आने से पहले लोग जो गांव में जो पैदा होते हैं जो बात कराना पहले पेपर करते हैं फिर लास्ट में हमारे पास आते तो आज भी मेरे को लगता है कि लोगों में जो एजुकेशन कैंसर है वह अभी भी पुअर क्वालिटी का है और लोगों को यह सीखना पड़ेगा एजुकेट करना पड़ेगा उसके लिए सोशल लेबल में बहुत सारी कम्युनिकेशन आजकल चालू है आने में चला रहा है डिस्टिक खेलते बॉडी चला रही है अलग से मेंटल हेल्थ की टीम काम कर रही है जिसे क्या है कुछ फायदा हुआ लोगों को उसे जागरूकता बढ़ी है

mentally ila ko shiksha mein kya hai hamare desh mein abhi bhi na jo logo mein knowledge hai jo chahiye factory kya mental patient ke liye uski aaj bhi kami hai aur log abhi bhi jyadatar hum log yahan pesh karte hain ki toh hamare paas aane se pehle log jo gaon mein jo paida hote hain jo baat krana pehle paper karte hain phir last mein hamare paas aate toh aaj bhi mere ko lagta hai ki logo mein jo education cancer hai vaah abhi bhi poor quality ka hai aur logo ko yah sikhna padega educate karna padega uske liye social lebal mein bahut saree communication aajkal chaalu hai aane mein chala raha hai district khelte body chala rahi hai alag se mental health ki team kaam kar rahi hai jise kya hai kuch fayda hua logo ko use jagrukta badhi hai

मेंटली इल को शिक्षा में क्या है हमारे देश में अभी भी ना जो लोगों में नॉलेज है जो चाहिए फैक

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  131
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Karishma

Psychologist

0:51

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर कोई नौकरी में या पी रहे थे तो आप हमारे समाज में बहुत सारी चीजों के लिए काम करते करते हैं उनको भी हॉस्पिटल हॉस्पिटल की क्या कमजोरी होती है और गवर्नमेंट हेल्पलाइन

agar koi naukri mein ya p rahe the toh aap hamare samaj mein bahut saree chijon ke liye kaam karte karte hain unko bhi hospital hospital ki kya kamzori hoti hai aur government helpline

अगर कोई नौकरी में या पी रहे थे तो आप हमारे समाज में बहुत सारी चीजों के लिए काम करते करते ह

Romanized Version
Likes  183  Dislikes    views  2289
WhatsApp_icon
user

Samridhi

Psychologist

1:29
Play

Likes  16  Dislikes    views  225
WhatsApp_icon
user

Sarah Kurian

CLINICAL PSYCHOLOGIST

1:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चली चली इंडिया में जो कि मैंने कम्युनिटी हॉस्पिटल में काम किया है बाकी डॉक्टर ने कहा है कि अभी भी गोष्टी तुम्हारा हमारी सोसाइटी में है कि नैतिकता की भूत प्रेत हमारी आत्मा में जुट गया है अभी तो इसका कोई रक्षा नहीं हो सकता जिंदगी भर वैसे आपको रखते तो दिखते हैं उनके परिवार कब चली पढ़े लिखे हैं और काफी पैसे वाले भी हैं लेकिन उन्हें बहुत होगी के लिए मेंटल हॉस्पिटल में ले जाते दिमाग में जगह है जहां सिंह ने स्पष्ट कर लिया जाता है ससीकला दिवस में जाएंगे इसलिए नहीं है क्योंकि जो बिल्कुल मुफ्त जो खून निकलता है नाश्ता क्या कॉमेडी हॉस्पिटल में भर्ती करते हैं आप ठीक हो जाते हो गया हो नहीं लग गई बस वही तो इन सब की वजह से मैं वजन नहीं है हमारा होना पड़ता है

chali chali india mein jo ki maine community hospital mein kaam kiya hai baki doctor ne kaha hai ki abhi bhi goshti tumhara hamari society mein hai ki naitikta ki bhoot pret hamari aatma mein jut gaya hai abhi toh iska koi raksha nahi ho sakta zindagi bhar waise aapko rakhte toh dikhte hain unke parivar kab chali padhe likhe hain aur kaafi paise waale bhi hain lekin unhe bahut hogi ke liye mental hospital mein le jaate dimag mein jagah hai jaha Singh ne spasht kar liya jata hai sasikala divas mein jaenge isliye nahi hai kyonki jo bilkul muft jo khoon nikalta hai nashta kya comedy hospital mein bharti karte hain aap theek ho jaate ho gaya ho nahi lag gayi bus wahi toh in sab ki wajah se main wajan nahi hai hamara hona padta hai

चली चली इंडिया में जो कि मैंने कम्युनिटी हॉस्पिटल में काम किया है बाकी डॉक्टर ने कहा है कि

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  148
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!