क्या भारत में संगठनों को अपने कर्मचारियों को काम से मानसिक स्वास्थ्य दिवस देना शुरू करना चाहिए?...


play
user

Shovana Ray

Project Scientist, Wildlife Institute of India

0:27

Likes  14  Dislikes    views  230
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Samridhi

Psychologist

0:35
Play

Likes  15  Dislikes    views  246
WhatsApp_icon
user

Dr. Sanjeev Tripathi

Clinical Psychologist

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैडम हेल्दी बिल्कुल कंपलसरी होना चाहिए तभी लोगों पर भरोसा किया था

madam healthy bilkul compulsory hona chahiye tabhi logo par bharosa kiya tha

मैडम हेल्दी बिल्कुल कंपलसरी होना चाहिए तभी लोगों पर भरोसा किया था

Romanized Version
Likes  44  Dislikes    views  503
WhatsApp_icon
user

Ayushi Madaan

Clinical Psychologist

2:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हर किसी को बहुत-बहुत बहुत आवश्यकता है कि वह उनका स्वास्थ्य सही रहे मानसिक और शारीरिक रूप से वह स्वस्थ रहें क्योंकि जब हम अपने ऑर्गेनाइजेशंस में अपनी वाइफ को ठीक तरह से काम लेते हैं उनकी वजह से ही तो फिर चलता है सारे और कंपनी को तो यह बहुत जरूरी है कि कमी कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों को अपने परिवार की तरह ठीक करें मिक्स आंधी की तरह चेक करें और उस टाइम पर उनको एक के प्रेग्नेंट होने चाहिए कहती थी उनका हक है कि जैसे हम छोटे छोटे डीजे बनाते हैं और और और जितनी मदद से वाड्रफनगर डेट जो हम बनाते हैं वैलेंटाइन डेट में बड़े लेवल पर सेलिब्रेट करते हैं जो कि वेस्टर्न कल्चर शेयर्ड ऑफ कर आ गया है लेकिन जो बहुत हमारी हेल्थ के लिए जरूरी है मेंटल हेल्थ डे वह मनाने के लिए हमें ऑफ कई बार कंपनी उसमें कोई सेलिब्रेशंस नहीं होता है स्कूल में फिर भी आजकल देखा जा रहा है कि मेंटल हेल्थ को थोड़ा प्रमोट करने के लिए कुछ फंक्शन सकेगा रही है या फिर ऑफ दिए जा रहे हैं तो मेरे साथ पर उस दिन एक तू कुछ भी कर सकती फोन में या तो ऑफ रखा जाए तो उनके लिए उनको भी थोड़ा मेंटल प्लीज प्रोवाइड हो तुमको भी लगे कि हां यह भी जरूरी है एंड ताकि लोगों को यह पता लगे कि मेंटल हेल्थ को प्रमोट करना बहुत जरूरी है हम शारीरिक तौर पर हर चीज को इंपॉर्टेंट देते हैं लेकिन तो सबसे जरूरी है आज की डेट में जो कि मेंटल इलनेस आजकल बहुत ज्यादा लोगों में फैल गई है डिप्रेशन में हमारा जो भारत में टॉप टॉप हाईएस्ट मोस्ट और सक्रिय में आ चुका है जिसकी वजह से आज भी यह बोला जाता है कि हमारी कंट्री में और डिप्रेशन भी प्रेरित कर आ गया है कि और ज्यादा बनने वाला है और कुछ सालों में नंबर वन कंट्री में कन्वर्ट हो जाएगा तरीके से डिप्रेशन से कैसे दौड़ और मानसिक रोगों के कैसे बढ़ रहे हैं तो मेरे हिसाब से यह कंपनी का बहुत बड़ा योगदान होगा अगर वो छोटा सा ही अपनी तरफ सेट करें कि एंपलॉयर्स को ऐसे पेपर और प्रमोशन की तौर पर या ओं मेंटल हेल्थ को प्रमोट करने के लिए भी ऑफ दिया जाए या कुछ भी ऐसा किया जाए जिससे कि उनको खुशी मिले उनको कोई औरत रिकॉग्नाइज तरह धर्म के मैया के डंडे और ड्रिप काया डे आउट का प्लान किया जाए ऐसा कुछ किया जाए जिससे कि कंपनीज नहीं तो रहने वाले लोग हैं उनको यह तीनों केदारनाथ प्लेस वेयर नॉट मशीन और उनको भी इंपॉर्टेंट इन करें

har kisi ko bahut bahut bahut avashyakta hai ki vaah unka swasthya sahi rahe mansik aur sharirik roop se vaah swasthya rahein kyonki jab hum apne argenaijeshans mein apni wife ko theek tarah se kaam lete hai unki wajah se hi toh phir chalta hai saare aur company ko toh yah bahut zaroori hai ki kami company mein kaam karne waale karmachariyon ko apne parivar ki tarah theek kare mix aandhi ki tarah check kare aur us time par unko ek ke pregnant hone chahiye kehti thi unka haq hai ki jaise hum chote chhote DJ banate hai aur aur aur jitni madad se vadrafanagar date jo hum banate hai valentine date mein bade level par celebrate karte hai jo ki western culture sheyard of kar aa gaya hai lekin jo bahut hamari health ke liye zaroori hai mental health day vaah manne ke liye hamein of kai baar company usme koi selibreshans nahi hota hai school mein phir bhi aajkal dekha ja raha hai ki mental health ko thoda promote karne ke liye kuch function sakega rahi hai ya phir of diye ja rahe hai toh mere saath par us din ek tu kuch bhi kar sakti phone mein ya toh of rakha jaaye toh unke liye unko bhi thoda mental please provide ho tumko bhi lage ki haan yah bhi zaroori hai and taki logo ko yah pata lage ki mental health ko promote karna bahut zaroori hai hum sharirik taur par har cheez ko important dete hai lekin toh sabse zaroori hai aaj ki date mein jo ki mental illness aajkal bahut zyada logo mein fail gayi hai depression mein hamara jo bharat mein top top highest most aur sakriy mein aa chuka hai jiski wajah se aaj bhi yah bola jata hai ki hamari country mein aur depression bhi prerit kar aa gaya hai ki aur zyada banne vala hai aur kuch salon mein number van country mein convert ho jaega tarike se depression se kaise daudh aur mansik rogo ke kaise badh rahe hai toh mere hisab se yah company ka bahut bada yogdan hoga agar vo chota sa hi apni taraf set kare ki empalayars ko aise paper aur promotion ki taur par ya on mental health ko promote karne ke liye bhi of diya jaaye ya kuch bhi aisa kiya jaaye jisse ki unko khushi mile unko koi aurat rikagnaij tarah dharm ke maiya ke dande aur drip kaaya day out ka plan kiya jaaye aisa kuch kiya jaaye jisse ki companies nahi toh rehne waale log hai unko yah tatvo kedarnath place where not machine aur unko bhi important in karen

हर किसी को बहुत-बहुत बहुत आवश्यकता है कि वह उनका स्वास्थ्य सही रहे मानसिक और शारीरिक रूप स

Romanized Version
Likes  42  Dislikes    views  476
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!