शिक्ष कौन को उन छात्रों के साथ कैसे व्यवहार करना चाहिए जो उन्हें लगता है कि कुछ मानसिक स्वास्थ्य मुद्दे हो सकते हैं?...


play
user

Snehalata Patnaik

Senior Career Counselor

1:34

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेले में क्या करती थी जो अलग फूल बनाया जाता है आज के बताइए दुनिया में आप सुधार ला सकते सिर्फ आपसे प्यार करना है कि बच्चे किस चीज से आग्रह रखता है ट्रैफिक में कुछ लाइन चित्र है किसी ने किसी तरीके से करना चाहिए बनेगा काम नहीं कर रहे सोच रहे थे इसी नाम का लड़का को दबाने नहीं पड़ता है और किसी काम को ज्ञान देना किसी चीज में ज्यादा जान तेरा अगर आपको जाना नहीं बल्कि हम क्या करते क्या हमारा ड्यूटी का है इस सप्ताह के बच्चे को इस चैनल को सोचना है

akele mein kya karti thi jo alag fool banaya jata hai aaj ke bataiye duniya mein aap sudhaar la sakte sirf aapse pyar karna hai ki bacche kis cheez se agrah rakhta hai traffic mein kuch line chitra hai kisi ne kisi tarike se karna chahiye banega kaam nahi kar rahe soch rahe the isi naam ka ladka ko dabane nahi padta hai aur kisi kaam ko gyaan dena kisi cheez mein zyada jaan tera agar aapko jana nahi balki hum kya karte kya hamara duty ka hai is saptah ke bacche ko is channel ko sochna hai

अकेले में क्या करती थी जो अलग फूल बनाया जाता है आज के बताइए दुनिया में आप सुधार ला सकते सि

Romanized Version
Likes  117  Dislikes    views  1519
WhatsApp_icon
27 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Karishma

Psychologist

2:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगरबत्ती को तेरी याद जो पहले तो बच्चे की भर्तियों के बारे में है उसको जाना खोया में प्रॉब्लम हो रही है या फिर कोई वजह से चल नहीं पा रहा है या फिर उसमें कोई प्रॉब्लम है उसको किन किन चीजों में टिकट किसको मिली तो क्या होता है कि कल एक बार में कितनी बार होता है कि उस में बच्चा नहीं पड़ने पर पड़ता उसके आजू बाजू में लोग मतलब उसको कोई पढ़ाने वाला नहीं है या तो फिर फैमिली इतनी नहीं है बच्चे की बेसिक जो होती है ना आंख होते हैं की हड्डी में प्रॉब्लम है एनवायरमेंटल इश्यूज है दिल से तुम सब कोई घर लेकर के बाद में आप डिसाइड करो कि बच्ची को किस लेवल पर प्रॉब्लम कृष्णा के पास जा सकते हो उसका मैटर चेक करवाओ अब चेक करो एक फरियाद करके की बच्ची को एक्शन में प्रॉब्लम किस चीज से हो रही है उसको लेबल मत करो कि की वजह से या फिर कोई ऐसे ही सीधे सीधे ऐसे ही मोटिवेट मत किया करो जी की वजह से बचा खुल जा फिर भी कुलदीप को ओपन करो काम करते हैं जिसकी वजह से

agarbatti ko teri yaad jo pehle toh bacche ki bhartiyo ke bare mein hai usko jana khoya mein problem ho rahi hai ya phir koi wajah se chal nahi pa raha hai ya phir usme koi problem hai usko kin kin chijon mein ticket kisko mili toh kya hota hai ki kal ek baar mein kitni baar hota hai ki us mein baccha nahi padane par padta uske aaju baju mein log matlab usko koi padhane vala nahi hai ya toh phir family itni nahi hai bacche ki basic jo hoti hai na aankh hote hain ki haddi mein problem hai environmental issues hai dil se tum sab koi ghar lekar ke baad mein aap decide karo ki bacchi ko kis level par problem krishna ke paas ja sakte ho uska matter check karwao ab check karo ek fariyaad karke ki bacchi ko action mein problem kis cheez se ho rahi hai usko lebal mat karo ki ki wajah se ya phir koi aise hi sidhe seedhe aise hi motivate mat kiya karo ji ki wajah se bacha khul ja phir bhi kuldeep ko open karo kaam karte hain jiski wajah se

अगरबत्ती को तेरी याद जो पहले तो बच्चे की भर्तियों के बारे में है उसको जाना खोया में प्रॉब्

Romanized Version
Likes  60  Dislikes    views  2374
WhatsApp_icon
user

Deepinder Sekhon

Mental Health Care

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

से पहले तो टीचर को अपने आप को एजुकेट करना चाहिए उस प्रॉब्लम के बारे में दूसरा टीचर जब खुद को एजुकेट करेगी कि एक बच्चे को डिसऑर्डर है तो उसको खुद सपोर्टिव होना पड़ेगा क्या उसमें बच्चे के साथ वान वान वान रखो बनानी पड़ेगी नॉट ओनली बट एक कम्युनिटी बट करनी पड़ेगी स्कूल में जिसमें सब इकट्ठे उस बच्चे को सपोर्ट कर सके यह बहुत कॉमन सी चीज है बड़े सारे स्कूल में एक चीज होती है सफलता इन उसमें क्या होता है कि सुबह बैठ के सारे बच्चे अपनी अपनी प्रॉब्लम डिस्कस करते हैं और फिर टीचर के साथ ही उसकी सलूशन निकालने की कोशिश करते हैं तो एक बच्चा जिसको डिसऑर्डर है वह तो निकल कर आएगा प्रॉब्लम के साथ टीचर सीनियर ग्रुप क्रिएट करें और टीचर खुद उसमें इन बोल्ड होती है कि आई एम देर कि मैं हूं जब आपको जरूरत है आप कभी भी आओ उसने स्कूल काउंसिल रिनुअल होगा उसमें साइकॉलजिस्ट अनमोल होगा

se pehle toh teacher ko apne aap ko educate karna chahiye us problem ke bare mein doosra teacher jab khud ko educate karegi ki ek bacche ko disorder hai toh usko khud Supportive hona padega kya usme bacche ke saath i i i rakho banani padegi not only but ek community but karni padegi school mein jisme sab ikatthe us bacche ko support kar sake yah bahut common si cheez hai bade saare school mein ek cheez hoti hai safalta in usme kya hota hai ki subah baith ke saare bacche apni apni problem discs karte hain aur phir teacher ke saath hi uski salution nikalne ki koshish karte hain toh ek baccha jisko disorder hai vaah toh nikal kar aayega problem ke saath teacher senior group create kare aur teacher khud usme in bold hoti hai ki I M der ki main hoon jab aapko zarurat hai aap kabhi bhi aao usne school council renewal hoga usme psychologist anmol hoga

से पहले तो टीचर को अपने आप को एजुकेट करना चाहिए उस प्रॉब्लम के बारे में दूसरा टीचर जब खुद

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  408
WhatsApp_icon
user

Pratishtha Trivedi

Clinical Psychologist

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बच्चों में उम्र के हिसाब से अलग-अलग तरह की मानसिक परेशानियां हो सकती है अगर उसको लगता है तो बातें हैं जो उसकी कोई परेशानी हो बच्चे को वह उसके साथ कर सकती है पहली बात तो बच्चों में भेदभाव ना करें कि अगर कि आप उसको वॉल स्ट्रीट कर रहे हैं प्वाइंट आउट कर रहे हैं कि तुम कमजोर को क्या तुम ही नहीं समझ आएगा छोड़ दो तुम्हारे बस की बात नहीं है क्या तुम तो हमेशा रोते रहते हो या इस तरह की चीजें ना करें और मैसेज करूं कि अगेन आपके स्कूल में कोई काम है तो आप उन काउंसलर को बताइए या उस बच्चे को अकेले ने प्यार से कहिए पूछिए कि उनको क्या कोई परेशानी लग रही है और अगर वह बात करना चाहे तो वह हमसे बात करती तो उनके जो भी उनके स्कूल में काम सुंदर है उनसे बात करें और यह सकते हैं अगेन अरे बच्चों में और उनको नेगेटिव लेना ट्रीट करें

bacchon mein umr ke hisab se alag alag tarah ki mansik pareshaniya ho sakti hai agar usko lagta hai toh batein hai jo uski koi pareshani ho bacche ko vaah uske saath kar sakti hai pehli baat toh baccho mein bhedbhav na kare ki agar ki aap usko wall street kar rahe hai point out kar rahe hai ki tum kamjor ko kya tum hi nahi samajh aayega chod do tumhare bus ki baat nahi hai kya tum toh hamesha rote rehte ho ya is tarah ki cheezen na kare aur massage karu ki again aapke school mein koi kaam hai toh aap un counselor ko bataye ya us bacche ko akele ne pyar se kahiye puchiye ki unko kya koi pareshani lag rahi hai aur agar vaah baat karna chahen toh vaah humse baat karti toh unke jo bhi unke school mein kaam sundar hai unse baat kare aur yah sakte hai again are baccho mein aur unko Negative lena treat karen

बच्चों में उम्र के हिसाब से अलग-अलग तरह की मानसिक परेशानियां हो सकती है अगर उसको लगता है त

Romanized Version
Likes  35  Dislikes    views  552
WhatsApp_icon
user

Raj Alampur

Psychologist and Career counsellor(मनोविज्ञानी और परामर्शदाता)

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां सबसे पहले तो आप यह समझिए कि तुम मेंटल एबिलिटी इंग्लिश कॉमन बात करूं तो आप को सबसे जरूरी गाती है कि अपने बच्चों को आप टाइम टू टाइम मैसेज सेट करिए क्योंकि इन बच्चों में सबसे बड़ी समस्या जरा सोचिए कि आप के आस पास कोई ऐसा बच्चा है जो मेन की सैलरी सही है यह अभी उसको ठीक से खाना नहीं खाना आ रहा है या फिर थोड़ा तो उसको कहीं हमारा ज्ञान का दोस्त है वह सोशलिस्ट करने में मदद करता है उनको एक शेतकरी बच्चों को जेसीबी नो डाउट भगवान हमको जैसा भी बनाया है इतना ज्यादा से ज्यादा अमीर को हाथ लगा दिया था स्कूल में नए बच्चों को मोटिवेट करना चाहता अपनी कॉपी और पिता भी टाइम नहीं मिलता हूं तो फिर भी काम करते थे आज भी अच्छा डांस करते हैं आज मच्छी कई लोग तो अपनी आजीविका कमाते हैं और कई लोग पता ही नहीं देते कि हैप्पी सेट करें उनको ठीक से मोटिवेट करें

haan sabse pehle toh aap yah samjhiye ki tum mental ability english common baat karu toh aap ko sabse zaroori gaatee hai ki apne baccho ko aap time to time massage set kariye kyonki in baccho mein sabse badi samasya zara sochiye ki aap ke aas paas koi aisa baccha hai jo main ki salary sahi hai yah abhi usko theek se khana nahi khana aa raha hai ya phir thoda toh usko kahin hamara gyaan ka dost hai vaah socialist karne mein madad karta hai unko ek shetkari baccho ko JCB no doubt bhagwan hamko jaisa bhi banaya hai itna zyada se zyada amir ko hath laga diya tha school mein naye baccho ko motivate karna chahta apni copy aur pita bhi time nahi milta hoon toh phir bhi kaam karte the aaj bhi accha dance karte hain aaj macchi kai log toh apni aajiwika kamate hain aur kai log pata hi nahi dete ki happy set kare unko theek se motivate karen

हां सबसे पहले तो आप यह समझिए कि तुम मेंटल एबिलिटी इंग्लिश कॉमन बात करूं तो आप को सबसे जरूर

Romanized Version
Likes  119  Dislikes    views  1653
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अमृत तू प्यार से रखना चाहिए अगर बच्चे उसको परेशान करते हैं तो फिर उसको बोलो बच्चों को भी और उनके लैंग्वेज में थोड़ा हिसाब से समझाना चाहिए ताकि लोगों को परेशान ना करें तो वहां तेरी पर करना चाहिए

amrit tu pyar se rakhna chahiye agar bacche usko pareshan karte hain toh phir usko bolo baccho ko bhi aur unke language mein thoda hisab se samajhana chahiye taki logo ko pareshan na karein toh wahan teri par karna chahiye

अमृत तू प्यार से रखना चाहिए अगर बच्चे उसको परेशान करते हैं तो फिर उसको बोलो बच्चों को भी औ

Romanized Version
Likes  94  Dislikes    views  4229
WhatsApp_icon
user

Ayushi Madaan

Clinical Psychologist

2:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर कोई बच्चा है तहे दिल से आजकल रिकेट्सिया एक ऐसी लर्निंग डिसेबिलिटी आ चुकी है जो बहुत कम होती जा रही है तो उसने तो टीचर्स कोटेशन सके तो हमारे हर कोई ना कोई चाहिए क्योंकि अभी भी बहुत सारे उसको उसने नहीं है जबकि यह सीडीएसपी करूं वो आ चुका है कि हर स्कूल में कैसे लड्डू के दर्द होना चाहिए क्योंकि जो बच्चे थोड़े भी दिमाग से कमजोर होते हैं जिनका एक्यू तब तक से कम होता है निकली रिटारडेड है याद इक्लेक्टिक है यह प्रशंसा की है उनकी पढ़ाई तुम को पढ़ाने का तरीका बाकी मोरनी बच्चों से थोड़ा अलग होता है अगर अमित पैक करें कि वह भी उतना ही अच्छा परफॉर्म करें कृष्णा बाकी सब से तो यह उनके लिए नाइंसाफी होगी तो हर कोई प्रश्न हो चुके थे होना बहुत जरूरी है काउंसलर होना बहुत जरूरी है और अगर नार्मल टीचरों की बात करें तो अगर एक भी चेक है तो उसको ही समझना जरूरी है कि दिनभर टीचर जैसे हमारी हाथ की सारी उंगलियां जैसी नहीं हूं हर बच्चा एक जैसा नहीं होता है यह ध्यान रखना चाहिए कि कौन सा बच्चा कितना समझदार है कौन सा बच्चा कितने आईटीओ की क्षमता रखता है हर बच्चे को उसकी मां के कोडिंग में जज नहीं करना चाहिए यह बहुत देखा जा रहा है कि चौक बच्चा टॉपर होता है टीचर उसको ही ज्यादा फेवरेट अंडे देती है कई बार जाते टीचर नहीं देते हैं तो कभी भी कुछ टीचर से पूछ में जो यह करती है कि दादा नंबर अगर है जिसकी बच्चे की तो उनकी तरफ दादा उनका ध्यान चला जाता है जबकि उनको खोलो टेंशन थे तो मुझे यह समझना चाहिए कि हर एक जैसी अफेक्टेशंस रखना ठीक नहीं है और बच्चे को बेस्ट आउट दूध देने के लिए उनको मोटिवेट करने के लिए उनकी प्ले करना 4:10 पर्सेंट वोट पड़े पदों पर परसेंट को भी अभिषेक करना चाहिए और उनकी आई क्यू लेवल कॉलिंग भी उनसे उनसे

agar koi baccha hai tahe dil se aajkal riketsiya ek aisi learning disability aa chuki hai jo bahut kam hoti ja rahi hai toh usne toh teachers quotation sake toh hamare har koi na koi chahiye kyonki abhi bhi bahut saare usko usne nahi hai jabki yah CDSP karu vo aa chuka hai ki har school mein kaise laddu ke dard hona chahiye kyonki jo bacche thode bhi dimag se kamjor hote hain jinka Acu tab tak se kam hota hai nikli ritarded hai yaad eclectic hai yah prashansa ki hai unki padhai tum ko padhane ka tarika baki morni baccho se thoda alag hota hai agar amit pack kare ki vaah bhi utana hi accha perform kare krishna baki sab se toh yah unke liye nainsafi hogi toh har koi prashna ho chuke the hona bahut zaroori hai counselor hona bahut zaroori hai aur agar normal ticharon ki baat kare toh agar ek bhi check hai toh usko hi samajhna zaroori hai ki dinbhar teacher jaise hamari hath ki saree ungaliyan jaisi nahi hoon har baccha ek jaisa nahi hota hai yah dhyan rakhna chahiye ki kaun sa baccha kitna samajhdar hai kaun sa baccha kitne ITO ki kshamta rakhta hai har bacche ko uski maa ke coding mein judge nahi karna chahiye yah bahut dekha ja raha hai ki chauk baccha topper hota hai teacher usko hi zyada favourite ande deti hai kai baar jaate teacher nahi dete hain toh kabhi bhi kuch teacher se puch mein jo yah karti hai ki dada number agar hai jiski bacche ki toh unki taraf dada unka dhyan chala jata hai jabki unko kholo tension the toh mujhe yah samajhna chahiye ki har ek jaisi afekteshans rakhna theek nahi hai aur bacche ko best out doodh dene ke liye unko motivate karne ke liye unki play karna 4 10 percent vote pade padon par percent ko bhi abhishek karna chahiye aur unki I kyu level Calling bhi unse unse

अगर कोई बच्चा है तहे दिल से आजकल रिकेट्सिया एक ऐसी लर्निंग डिसेबिलिटी आ चुकी है जो बहुत कम

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  507
WhatsApp_icon
user

DR SURI

Rehabilitation Psychologist

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उसको जो भी बच्चा बोलता है उसको कैसे सुने ने उसको पूरी अटेंशन देंगे और उसमें ही बेचेंगे के चैनल पर बिहार में प्रॉब्लम है क्या आईसी प्रॉब्लम है अगर के बच्चा छुट्टी करने में ठीक है उसका आइक्यू लेवल ठीक है लेकिन कुछ दूसरी है जो कि जैसे कभी कभी सच बताना स्लेटेड होता है या सेमी मिल पाती है तो इसमें जाता है और बच्चे का पूरा मैं घर से एडमिशन कराना पड़ेगा अगर उसमें कोई नहीं आ रहे हो वैसे ही पूरा उसकी खेती होगी

usko jo bhi baccha bolta hai usko kaise sune ne usko puri attention denge aur usme hi bechenge ke channel par bihar mein problem hai kya IC problem hai agar ke baccha chhutti karne mein theek hai uska IQ level theek hai lekin kuch dusri hai jo ki jaise kabhi kabhi sach batana sleted hota hai ya semi mil pati hai toh ismein jata hai aur bacche ka pura main ghar se admission karana padega agar usme koi nahi aa rahe ho waise hi pura uski kheti hogi

उसको जो भी बच्चा बोलता है उसको कैसे सुने ने उसको पूरी अटेंशन देंगे और उसमें ही बेचेंगे के

Romanized Version
Likes  97  Dislikes    views  1211
WhatsApp_icon
user

Dr HITESH KUMAR PATEL

Consultant Psychologist

1:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एजुकेशन साइकोलॉजी पूरी ब्रांच है जहां और टीचर्स को के सड़क विवरण टीचिंग सर्टिफिकेट टीचर्स पोस्ट तो एक बार आता है कि बच्चे की एक बच्चे के बैकग्राउंड में बच्चे की कैपेबिलिटी को जानना चाहिए स्टाइलिश चाहिए बहुत बार हमने सुना है बार बार बताया जाए कि हर बच्चे को बहुत रहता था क्लास में या फिर आप बहुत ही 9 बीपी वीडियो में बीपी स्कूल के आजू-बाजू कहीं देखे गए व्हिच इज नॉट कंसीडर्ड एंटी सोशल एक्टिविटी तो वैसे अगर डिटेक्ट हो रहा है उसके मतलब आप पहले परफॉर्मेंस बहुत अच्छा था पर कुछ काम पूरा कर पाते हैं तो दिन दिन रे फोटो तो स्कूल सु काम चला उसको स्कूल जोशी रहती है ऐसे तो एजुकेशन डिपार्टमेंट के रूल के हिसाब से स्कूल में काम होता है

education psychology puri branch hai jaha aur teachers ko ke sadak vivran teaching certificate teachers post toh ek baar aata hai ki bacche ki ek bacche ke background mein bacche ki capability ko janana chahiye stylish chahiye bahut baar humne suna hai baar baar bataya jaye ki har bacche ko bahut rehta tha class mein ya phir aap bahut hi 9 BP video mein BP school ke aaju baju kahin dekhe gaye which is not kansidard anti social activity toh waise agar detect ho raha hai uske matlab aap pehle performance bahut accha tha par kuch kaam pura kar paate hain toh din din ray photo toh school su kaam chala usko school joshi rehti hai aise toh education department ke rule ke hisab se school mein kaam hota hai

एजुकेशन साइकोलॉजी पूरी ब्रांच है जहां और टीचर्स को के सड़क विवरण टीचिंग सर्टिफिकेट टीचर्स

Romanized Version
Likes  33  Dislikes    views  469
WhatsApp_icon
user

Dr. PRAVINA MISHRA

REHABILITATION PSYCHOLOGIST

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पहले तुमको यह व्यंग बहुत जरूरी है टीचर को कि मेंटली मेंटली डिस्टर्ब दिया जिनको मेंटल प्रॉब्लम है ऐसे बच्चे को कि फैंटम क्या क्या बोलूं फील कर रहा है यह जल्दी जल्दी हो उसको रोना आ रहा है या हम जो कुछ बोल रहे हैं उसको समझ पा रहा है या नहीं पा रहा है यह वह यदि फाइंड आउट कर लेते हैं उसके बाद उनको अलग से करना पड़ेगा हम को समझते हुए और उनके साथ एकदम खास नहीं होना पड़ेगा और हो सके तो पैरंट्स नेम कि उनके जो उनके जो फाइल बनाकर डाउनलोड करते हैं डील करना पड़ेगा

pehle tumko yeh vyang bahut zaroori hai teacher ko ki mentally mentally disturb diya jinako mental problem hai aise bacche ko ki phantom kya kya bolu feel kar raha hai yeh jaldi jaldi ho usko rona aa raha hai ya hum jo kuch bol rahe hain usko samajh pa raha hai ya nahi pa raha hai yeh wah yadi find out kar lete hain uske baad unko alag se karna padega hum ko samajhte hue aur unke saath ekdam khaas nahi hona padega aur ho sake toh Parents name ki unke jo unke jo file banakar download karte hain deal karna padega

पहले तुमको यह व्यंग बहुत जरूरी है टीचर को कि मेंटली मेंटली डिस्टर्ब दिया जिनको मेंटल प्रॉब

Romanized Version
Likes  33  Dislikes    views  443
WhatsApp_icon
user

Pushpendra Sharma

Clinical Psychologist

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उसको सोशल इंटरेक्शन के लिए यूज करना चाहिए सबसे पहले उसको कम से कम वह कुछ ना करें तो उसे लगता है कि कुछ माइल्डेन की प्रॉब्लम है

usko social interaction ke liye use karna chahiye sabse pehle usko kam se kam vaah kuch na kare toh use lagta hai ki kuch mailden ki problem hai

उसको सोशल इंटरेक्शन के लिए यूज करना चाहिए सबसे पहले उसको कम से कम वह कुछ ना करें तो उसे लग

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  624
WhatsApp_icon
user

YACHANA KADIYA

REHABILITATION PSYCHOLOGIST

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा होता है कि सब बच्चे के साथ काम करते हैं वहां स्पेशल टीचर काम करते हैं जिन लोगों ने यह बताइए और उसका कोड क्या होता है और दूसरों को भी इंटरेस्ट हो वर्ग मतलब जवाब दिए और नींद तो उसके साथ बहुत परेशन से काम करना है और बहुत 2 साल की सेवा करना नहीं आता है तो उस पर गुस्सा करो उस को मारो ऐसा कुछ नहीं करना बेटा ऐसे-ऐसे लोगों को सभी सामान सभी लोगों ने उसको दिखाइए अपना काम करवाओ की रातों डेफिनेशन और बच्चे के साथ वह भी बच्चा बहुत आगे आता है

aisa hota hai ki sab bacche ke saath kaam karte hain wahan special teacher kaam karte hain jin logo ne yeh bataye aur uska code kya hota hai aur dusro ko bhi interest ho varg matlab jawab diye aur neend toh uske saath bahut pareshan se kaam karna hai aur bahut 2 saal ki seva karna nahi aata hai toh us par gussa karo us ko maaro aisa kuch nahi karna beta aise aise logo ko sabhi saamaan sabhi logo ne usko dikhaaiye apna kaam karwao ki raatoon definition aur bacche ke saath wah bhi baccha bahut aage aata hai

ऐसा होता है कि सब बच्चे के साथ काम करते हैं वहां स्पेशल टीचर काम करते हैं जिन लोगों ने यह

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  501
WhatsApp_icon
user

Mr. SANJAY KUMAR TIWARI

REHABILITATION PSYCHOLOGIST

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक तो सबसे पहले बैठना चाहिए उसको बातचीत करनी चाहिए उसे लिख नहीं करना चाहिए तो प्रॉब्लम क्या है और उसके साथ कुछ टाइम होते हैं बच्चा अकेला रहना शुरू कर दिया चिड़चिड़ापन शुरू कर दिया अटेंशन

ek toh sabse pehle baithana chahiye usko batchit karni chahiye use likh nahi karna chahiye toh problem kya hai aur uske saath kuch time hote hain baccha akela rehna shuru kar diya chidachidaapan shuru kar diya attention

एक तो सबसे पहले बैठना चाहिए उसको बातचीत करनी चाहिए उसे लिख नहीं करना चाहिए तो प्रॉब्लम क्य

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  644
WhatsApp_icon
user

SANJAY PRAJAPATI

REHABILITATION PSYCHOLOGIST

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेंटल इलनेस प्रॉब्लम वाले बच्चे हैं तो उसके साथ सोशल बिहेवियर करके उसको सोच समझ के साथ बर्ताव करना चाहिए यह कॉमेंट देना चाहिए कि आपको प्रोत्साहित करना चाहिए कि आप अच्छा कर रहे हो कि सिटी में आपका ध्यान बहुत अच्छा ज्यादा है तो चल

mental illness problem wale bacche hain toh uske saath social behaviour karke usko soch samajh ke saath bartaav karna chahiye yeh comment dena chahiye ki aapko protsahit karna chahiye ki aap accha kar rahe ho ki city mein aapka dhyan bahut accha zyada hai toh chal

मेंटल इलनेस प्रॉब्लम वाले बच्चे हैं तो उसके साथ सोशल बिहेवियर करके उसको सोच समझ के साथ बर्

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  755
WhatsApp_icon
user

Archana Chaudhary

Rehabilitation Psychologist

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शिक्षकों को जिन बच्चों को मानसिक प्रॉब्लम है क्या बीमारियां हैं उनके साथ बहुत ही एमपी के बाद गाने को समझते हुए खुद को अपने अपने आप को उनकी जगह रखते हुए उनके साथ व्यवहार करना चाहिए और उसे व्यवहार में बहुत ज्यादा देखना चाहिए उनको जितना उनको प्रॉब्लम सॉल्विंग हो कर सके उनके लिए एक बेहतर तरीके से वह कुछ सीख सके ऐसे तरीकों पर ध्यान तरीके अपनाने से उन्हें कुछ भी सिखाने के लिए एक नार्मल सेक्स तरीके के होते हैं प्रधान ने किया कुछ भी सिखाने के उनसे अलग कुछ नया जो कि उस परेशानी में दूसरे पति के लिए बहुत बढ़िया ना दी हो और उसके लिए कोई अच्छा तरीका हो उसको देखते हुए चलन को देखते हुए उनके साथ व्यवहार करना चाहिए

shikshakon ko jin baccho ko mansik problem hai kya bimariyan hain unke saath bahut hi mp ke baad gaane ko samajhte hue khud ko apne apne aap ko unki jagah rakhte hue unke saath vyavhar karna chahiye aur use vyavhar mein bahut zyada dekhna chahiye unko jitna unko problem solving ho kar sake unke liye ek behtar tarike se vaah kuch seekh sake aise trikon par dhyan tarike apnane se unhe kuch bhi sikhane ke liye ek normal sex tarike ke hote hain pradhan ne kiya kuch bhi sikhane ke unse alag kuch naya jo ki us pareshani mein dusre pati ke liye bahut badhiya na di ho aur uske liye koi accha tarika ho usko dekhte hue chalan ko dekhte hue unke saath vyavhar karna chahiye

शिक्षकों को जिन बच्चों को मानसिक प्रॉब्लम है क्या बीमारियां हैं उनके साथ बहुत ही एमपी के ब

Romanized Version
Likes  35  Dislikes    views  563
WhatsApp_icon
user

Dr. Mrignayani Agarwal

Clinical Psychologist

1:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां आधा टीचर को लगता है कि वह किसी भी बच्चे को कोई मानसिक समस्या है और उसको दिक्कत आ रही है तो तुरंत सबसे पहले तू उसको उनके पेरेंट्स से बात करके मां बाप से बात करके उसका सही इलाज और बच्चों के सामने और बच्चों के सामने उसका मजाक नहीं हो रहा है बच्चे को ना चाहे तो इसको किसी के साथ दिखाएं ऐसी जगह अपने सामने बिठा कर रखें या कहीं बाहर करना और बच्चों के सामने उसका मजाक उड़ाया और बच्चों को भी इस बात के लिए प्रेरणा लेनी चाहिए कि नहीं यह तो एक चीज है अगर उनको पता भी चलता है तो बीमारी का इलाज संभव है इसको इसका आपको मजाक वगैरह कुछ नहीं बोलना है नहीं बोलना है पागल हो गया है और इसको भी भावनात्मक में कमी आती है

haan aadha teacher ko lagta hai ki vaah kisi bhi bacche ko koi mansik samasya hai aur usko dikkat aa rahi hai toh turant sabse pehle tu usko unke parents se baat karke maa baap se baat karke uska sahi ilaj aur baccho ke saamne aur baccho ke saamne uska mazak nahi ho raha hai bacche ko na chahen toh isko kisi ke saath dikhaen aisi jagah apne saamne bitha kar rakhen ya kahin bahar karna aur baccho ke saamne uska mazak udaya aur baccho ko bhi is baat ke liye prerna leni chahiye ki nahi yah toh ek cheez hai agar unko pata bhi chalta hai toh bimari ka ilaj sambhav hai isko iska aapko mazak vagera kuch nahi bolna hai nahi bolna hai Pagal ho gaya hai aur isko bhi bhavnatmak mein kami aati hai

हां आधा टीचर को लगता है कि वह किसी भी बच्चे को कोई मानसिक समस्या है और उसको दिक्कत आ रही ह

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  426
WhatsApp_icon
user

Shovana Ray

Project Scientist, Wildlife Institute of India

1:40
Play

Likes  14  Dislikes    views  220
WhatsApp_icon
user

SWETA SUREKA

Life Coach

1:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अटेली टू गो टीशर्ट विंडो क्वालिफाइड होना चाहिए अगर कोई टीचर स्टूडेंट को हैंडल करने के लिए समर्थ नहीं होते हैं बट नॉट वेल ट्रेन एंड स्टूडेंट पढ़ाई करने के लिए बर्थडे ओवरऑल भी कोई भी बच्चों से डिलीट करने के लिए इंपोर्टेंट है हम लोग में बहुत भारी होना चाहिए टेशन सोना चाहिए हम लोगों को हमेशा पॉजिटिव में बात करना चाहिए बिकॉज हम लोग जैसे पर बात कर रहे हैं और उनके बच्चे भी पीते हैं अगर हम लोग कंटीन्यूअसली बच्चों को यह बोलेंगे कि देखो तुम तो कुछ कर ही नहीं सकते हो तुम यह करने लायक ही हो तुम कौशल कि हम लोग बच्चों के दिमाग में भी वही चीज को एकदम दिल्ली में कन्वर्ट कर देते हैं यह तो क्वालिटी अर्थिंग सबसे ज्यादा जरूरी है पेशंट लखनऊ एंड यू टॉक टू सूर्य हॉस्पिटल में

ateli to go Tshirt window qualified hona chahiye agar koi teacher student ko handle karne ke liye samarth nahi hote hain but not well train end student padhai karne ke liye birthday overall bhi koi bhi baccho se delete karne ke liye important hai hum log mein bahut bhari hona chahiye tension sona chahiye hum logo ko hamesha positive mein baat karna chahiye because hum log jaise par baat kar rahe hain aur unke bacche bhi peete hain agar hum log kantinyuasali baccho ko yeh bolenge ki dekho tum toh kuch kar hi nahi sakte ho tum yeh karne layak hi ho tum kaushal ki hum log baccho ke dimag mein bhi wahi cheez ko ekdam delhi mein convert kar dete hain yeh toh quality earthing sabse zyada zaroori hai patient lucknow end you talk to surya hospital mein

अटेली टू गो टीशर्ट विंडो क्वालिफाइड होना चाहिए अगर कोई टीचर स्टूडेंट को हैंडल करने के लिए

Romanized Version
Likes  112  Dislikes    views  1186
WhatsApp_icon
user

Ms. Sonu Pandey

Rehabilitation Personnel

1:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि टीचर का पालन करते हैं किसी बच्चे में मेंटल डिसऑर्डर है किसी प्रकार का मेंटल डिसऑर्डर है तो उसके मेंटल डिसऑर्डर को देखते हुए उसने किस प्रकार का डिसऑर्डर है और किस प्रकार से उसको सपोर्ट किया जा सकता है यह चीजों को यह बातों को ध्यान में रखते हुए उस बच्चे के साथ व्यवहार किया जाना चाहिए और बाकी जो साथ में उसके साथ ही बच्चे उनको टीचर समझा सकते हैं कि इस बच्चे में इस तरह की अभी डिसऑर्डर है जिसको अगर आप इस तरह से सपोर्ट करेंगे तो उसका डिसऑर्डर भी कम है मेंटल प्रॉब्लम से कभी भी किसी को भी जिंदगी के किसी भी पड़ाव पर हो सकती हम मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है जो समाज में सपोर्ट करना चाहिए तो यह बात टीचर तो है बच्चों को समझा सकते हैं कि हम अपने साथी हैं जो सूजन थे उनके साथ में उसको कैसे सपोर्ट करें ताकि मंडल सपोर्ट समाज का सपोर्ट रहेगा तो वह बच्चा जल्दी ठीक हो जाएगा

yadi teacher ka palan karte hain kisi bacche mein mental disorder hai kisi prakar ka mental disorder hai toh uske mental disorder ko dekhte hue usne kis prakar ka disorder hai aur kis prakar se usko support kiya ja sakta hai yah chijon ko yah baaton ko dhyan mein rakhte hue us bacche ke saath vyavhar kiya jana chahiye aur baki jo saath mein uske saath hi bacche unko teacher samjha sakte hain ki is bacche mein is tarah ki abhi disorder hai jisko agar aap is tarah se support karenge toh uska disorder bhi kam hai mental problem se kabhi bhi kisi ko bhi zindagi ke kisi bhi padav par ho sakti hum manushya ek samajik prani hai jo samaj mein support karna chahiye toh yah baat teacher toh hai baccho ko samjha sakte hain ki hum apne sathi hain jo sujan the unke saath mein usko kaise support kare taki mandal support samaj ka support rahega toh vaah baccha jaldi theek ho jaega

यदि टीचर का पालन करते हैं किसी बच्चे में मेंटल डिसऑर्डर है किसी प्रकार का मेंटल डिसऑर्डर ह

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  550
WhatsApp_icon
user

Ms. Kamna Yadav

Clinical Psychologist

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इको बच्चों में अलग-अलग तरीके की प्रॉब्लम पाए जाते हैं कहीं ऑटिस्टिक होते हैं कोई मेंटली डिसेबल्ड होते हैं कहीं लोगों को ईडीएसडी होता है तो हर बच्चे का अलग-अलग एरिया होता है जैसे अगर ऑटिस्टिक है तो उसमें उसकी सोशल इंटरेक्शन सोशल डेवलपमेंट बहुत कम होती है उसको उस तरीके से टीचर को डिलीट करना पड़ता है उसके साथ बैठकर को एक्स्ट्रा टाइम देखे उसको समझ के बच्चों बाकी बच्चों से पटक कर के किसी कहीं बच्चे जो इनको स्पेशली डिपिपुल्ड होते हैं उनको भूल ही करते हैं उनका मजाक उड़ाते हैं तो टीचरस्पोर्न चीजों का ध्यान रखना पड़ता है उनके साथ एक्स्ट्रा टाइम देकर उनको हर चीज समझा नहीं पड़ती है दूसरा अगर किसी को एडीएसडी है तो उसमें हाइपरएक्टिविटी और इन अटेंशन का प्रॉब्लम था तो उसमें टीचर को उनकी बातों को समझ कर उनकी एग्जांपल पर आते हैं तो काउंसलर की मदद लेते हुए टीचर को स्कूल में उसके साथ वही छोटा भीम एंड देखे उसको एक्स्ट्रा केयर देखें उस क्लास में असाइनमेंट बना करके सारे बच्चे उसको सपोर्ट करें उसके साथ को मोटिवेट करें उसमें पोस्टमैन दी जा सकती है

iko baccho mein alag alag tarike ki problem paye jaate hain kahin atistik hote hain koi mentally disabled hote hain kahin logo ko EDSD hota hai toh har bacche ka alag alag area hota hai jaise agar atistik hai toh usme uski social interaction social development bahut kam hoti hai usko us tarike se teacher ko delete karna padta hai uske saath baithkar ko extra time dekhe usko samajh ke baccho baki baccho se patak kar ke kisi kahin bacche jo inko speshli dipipuld hote hain unko bhool hi karte hain unka mazak udate hain toh ticharasporn chijon ka dhyan rakhna padta hai unke saath extra time dekar unko har cheez samjha nahi padti hai doosra agar kisi ko ADSD hai toh usme haiparaektiviti aur in attention ka problem tha toh usme teacher ko unki baaton ko samajh kar unki example par aate hain toh counselor ki madad lete hue teacher ko school mein uske saath wahi chota bhim and dekhe usko extra care dekhen us class mein assignment bana karke saare bacche usko support kare uske saath ko motivate kare usme postman di ja sakti hai

इको बच्चों में अलग-अलग तरीके की प्रॉब्लम पाए जाते हैं कहीं ऑटिस्टिक होते हैं कोई मेंटली डि

Romanized Version
Likes  49  Dislikes    views  599
WhatsApp_icon
user

Pratima Nayak

Counseling Psychologist || Microsoft Educator Expert 2015

1:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

टीचर करेंगे उनको देना चाहिए कि क्या प्रॉब्लम है 14 चाहिए ऐसे दूसरों से अलग क्यों है क्योंकि देखा जाता है जो बच्चे बहुत होता है या बच्चा जो घर में लोन लिटिल करता है या फिजिकल पनिशमेंट जिसको घर में जाना है कोई बच्चा का बहुत ही एंबिशन है लेकिन मन में बहुत चलने का है या बोल दो कुछ बनने का है लेकिन उसको वह गाइडेंस या फुल खिलो नहीं कर पा रहा कोई उसको मदद नहीं कर रहा करना चाहिए उसके बाद तो हर स्कूल में थोड़ा थोड़ा काम चला गया तो उसको थोड़ा टाइम ज्यादा भेज सकता है या कोई बात नहीं करोगे तो उसके साथ खाओ तो फिर उसका तो कोई दोस्त नहीं होता है तो वही बच्चों का नहीं रहेगा

teacher karenge unko dena chahiye ki kya problem hai 14 chahiye aise dusro se alag kyon hai kyonki dekha jata hai jo bacche bahut hota hai ya baccha jo ghar mein loan little karta hai ya physical punishment jisko ghar mein jana hai koi baccha ka bahut hi embishan hai lekin man mein bahut chalne ka hai ya bol do kuch banne ka hai lekin usko vaah guidance ya full khilo nahi kar paa raha koi usko madad nahi kar raha karna chahiye uske baad toh har school mein thoda thoda kaam chala gaya toh usko thoda time zyada bhej sakta hai ya koi baat nahi karoge toh uske saath khao toh phir uska toh koi dost nahi hota hai toh wahi baccho ka nahi rahega

टीचर करेंगे उनको देना चाहिए कि क्या प्रॉब्लम है 14 चाहिए ऐसे दूसरों से अलग क्यों है क्योंक

Romanized Version
Likes  121  Dislikes    views  1556
WhatsApp_icon
user

Dr. Sarwat Jabeen

Career Counselor

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आशिक बताने से यह पता करना उसी बच्चे किस चीज में इंटरेस्ट रेट है उनका इंटरेस्टेड होते हैं उन्हीं चीजों पर फोकस करें और उसके दूध एंड डोंट्स को बताएं क्या अच्छा है क्या बुरा है उसको उनको क्लेरिफाई करना बहुत जरूरी है जब तक वह बताएंगे नहीं कि हां इसको अच्छी है कितनी अच्छी है इस प्रकार से अच्छी है या बुरी है तो क्यों बुरी है किस कंटक्ट में बुरी है और टीचर के लिए यह स्पेशल एडिशन है यह जानना जरूरी है कि इनको तो बताना है क्या अच्छा है और क्या बुरा मैं आपको फॉलो कर लेना

aashik batane se yah pata karna usi bacche kis cheez mein interest rate hai unka interested hote hain unhi chijon par focus kare aur uske doodh and donts ko bataye kya accha hai kya bura hai usko unko klerifai karna bahut zaroori hai jab tak vaah batayenge nahi ki haan isko achi hai kitni achi hai is prakar se achi hai ya buri hai toh kyon buri hai kis kantakt mein buri hai aur teacher ke liye yah special edition hai yah janana zaroori hai ki inko toh bataana hai kya accha hai aur kya bura main aapko follow kar lena

आशिक बताने से यह पता करना उसी बच्चे किस चीज में इंटरेस्ट रेट है उनका इंटरेस्टेड होते हैं उ

Romanized Version
Likes  114  Dislikes    views  1498
WhatsApp_icon
user

Anuja Kulkarni

Co-Fouder, Jidnyasa Assessment & Counselling

2:33
Play

Likes  17  Dislikes    views  234
WhatsApp_icon
user

ASHOKBHAI METALIYA

REHABILITATION PSYCHOLOGIST

1:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

टीचर ने मेंटल इलनेस वाले बंदे के साथ जो भी स्टूडेंट है उसके साथ कैसा बर्ताव करना चाहिए बियर करना चाहिए तो उसके लिए सिंपल सा जाओगे मैं देना चाहूंगा कि वह भी स्टूडेंट है आपका मेंटल इलनेस उसकी जो दैनिक क्रिया है दैनिक जो जरूरत है स्कूल में आता है स्कूल के साथ लड़की दूसरे लड़कों के साथ शेयर करता है अपने जो भी काम के लिए वह को भी पूरी करता है और नहीं कर पाता तो उसके लिए अप्रैल फूल बनो और जो भी उसकी समझ से उसको आप ध्यान से सुनो और उसमें क्या है कि जो भी चीज नहीं कर पाता है उसके लिए आपको कौन-कौन से सुझाव देना पड़ेगी को क्या-क्या चीज करने से बैटर होगा उसके लिए आप उसको काम करने के लिए प्रेरित करो तो अपने आप ठीक उसके इश्यू पूरे ठीक है

teacher ne mental illness wale bande ke saath jo bhi student hai uske saath kaisa bartaav karna chahiye beer karna chahiye toh uske liye simple sa jaoge main dena chahunga ki wah bhi student hai aapka mental illness uski jo dainik kriya hai dainik jo zarurat hai school mein aata hai school ke saath ladki dusre ladko ke saath share karta hai apne jo bhi kaam ke liye wah ko bhi puri karta hai aur nahi kar pata toh uske liye april fool bano aur jo bhi uski samajh se usko aap dhyan se suno aur usme kya hai ki jo bhi cheez nahi kar pata hai uske liye aapko kaun kaunsi sujhaav dena padegi ko kya kya cheez karne se better hoga uske liye aap usko kaam karne ke liye prerit karo toh apne aap theek uske issue poore theek hai

टीचर ने मेंटल इलनेस वाले बंदे के साथ जो भी स्टूडेंट है उसके साथ कैसा बर्ताव करना चाहिए बिय

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  374
WhatsApp_icon
user

ANUBHA JAIN

REHABILITATION COUNSELLORS

2:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आतंकी जो हमारी शिक्षक हैं उनके ऊपर भी बहुत ज्यादा वर्क प्रेशर है क्योंकि एक क्लास लिपि 40 बच्चे होते हैं और उनको एक टीचर को सबसे बड़ा बड़ी क्लासेज मैसेज पढ़िए की कृपा सब बच्चे के ऊपर ध्यान देना होता है उनके लिए बहुत मुश्किल हो जाती है यह देखना कि किसी की प्रॉब्लम आ रही है क्या जैसे प्रॉब्लम होती एडीएजी के बच्चे क्लास में जो भी मिल सकते हैं एक ईमेल सकते हैं लेकिन अगर बहुत शैतानी कर रहा है तू तो प्रॉब्लम ही प्रॉब्लम निकल कर के इलाज क्लास अटेंड के साथ पेपर प्रतीत होता है और अपनी जिंदगी अपने तरीके से चलाते हैं जो कुछ इसमें निकलते हैं बच्चे क्या कर रहे हैं क्लास में थोड़ा सा उनको ध्यान रखना चाहिए तुमको प्रॉब्लम दिखती है तो उसको अपने आप रेक्टिफाई करने की जगह स्कूल के काउंसलर के साथ अजीत और धूम-3 करते हैं क्या तब फिर आगे बात करनी थी उसके माता-पिता के पास

aatanki jo hamari shikshak hain unke upar bhi bahut zyada work pressure hai kyonki ek class lipi 40 bacche hote hain aur unko ek teacher ko sabse bada badi classes massage padhiye ki kripa sab bacche ke upar dhyan dena hota hai unke liye bahut mushkil ho jaati hai yah dekhna ki kisi ki problem aa rahi hai kya jaise problem hoti ADAG ke bacche class mein jo bhi mil sakte hain ek email sakte hain lekin agar bahut shaitani kar raha hai tu toh problem hi problem nikal kar ke ilaj class attend ke saath paper pratit hota hai aur apni zindagi apne tarike se chalte hain jo kuch isme nikalte hain bacche kya kar rahe hain class mein thoda sa unko dhyan rakhna chahiye tumko problem dikhti hai toh usko apne aap rektifai karne ki jagah school ke counselor ke saath ajit aur dhoom 3 karte kya tab phir aage baat karni thi uske mata pita ke paas

आतंकी जो हमारी शिक्षक हैं उनके ऊपर भी बहुत ज्यादा वर्क प्रेशर है क्योंकि एक क्लास लिपि 40

Romanized Version
Likes  123  Dislikes    views  1544
WhatsApp_icon
user

Swati Sharma

Psychologist

4:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो माय एंड स्वाति शर्मा आई लव यू करेंटली गोइंग अकाउंट स्कूल क्वेश्चन था कि अगर किसी तरह बच्चे को पेंट निशुल्क है मेंटल समितियां कुत्ते कहीं भी कोई सूरत टू टीचर क्या करें तो पहली बात तो यह है हमारे यहां पर की कोई टीचर या कोई भी पैन सोएक सकती करना चाहते हैं कल बात की ताकि से बच्चे में या उनके इंसुरेंस में कोई इशू है तो पहली बात कि यहां पर जो सबसे ज्यादा हेल्प एक्सेप्टेड सामने वाला बच्चा मेरा स्टूडेंट या मेरा बच्चा इस तकलीफ से स्पेशल से गुजर रहा है तो उसमें की शक्ति आती लगता है कि हम क्या करें दूसरी कि हम कोई भी जो भी साइकोलॉजिकल प्रॉब्लम्स एंड फ्रस्ट्रेशन कोई भी सर्दी बुखार नहीं है कि हम अगर दवाई दे देंगे वह ठीक हो जाएगा तो करना क्या है ऐसा पेरेंट्स टीचर बच्चे को सपोर्ट करें समझे उसके बचपन को नजरिया नजरिया बहुत मायने रखता है चाहे वह बच्चा के बच्चे के तरफ से हो या पेरेंट्स टीचर की तरफ से पीछे भी बच्चों की स्थिति को समाज के पढ़ाई पढ़ाई पढ़ाई मार्क्स अपने स्कूल के डेकोरेशन के लिए मार्क्स के पीछे भागते हैं कहीं से हमारे को सीबीएसई से कंप्लेंट दसवीं बोर्ड में हमारे स्कूल में जहां से कंप्लेंट कि हम आपके यहां पर रिजल्ट अच्छा नहीं हो रहा है जो भी तो हमें सबसे पहले यह देखना होगा कि कैसे हम अपने बच्चे को समझ रहे हैं हम उसे कठिन तो नहीं कर रहे हैं यह साल क्योंकि अगर कोई बच्चा वहां पर है जिसकी और मानसिक स्थिति को कमजोर है वह उतना सक्षम नहीं है तो वहां पर यह डिफिकल्टी बहुत आती है कि वह बाकी बच्चों के साथ कैसे कंपैटिबल जो तू हमें पहली बार उसको सपोर्ट करेगी प्रोवाइड करनी है सपोर्ट ठेर फिजिकल मेंटल हम उस पर क्या करेंगे क्या इस तरह के होते हैं तो बच्चे के तो हम ट्राई करेंगे उसको उसी को परगाइट करेगी हां आपको भी हैंड वॉश करना आपको ऐसे करना चाहिए आपको ऐसी भी होती हैं जो अपने आप को ना किसी टीचर के रोल में तू बहुत ही बेनिफिशियल होता है लेकिन मैं ऐसा काम किया करते हैं कि मैं अपने बच्चों को सिर्फ इसलिए कि मुझे जाना है वहां पर उनको उनकी प्रॉब्लम का सलूशन काउंसलर टाइगर श्रॉफ कुछ सलूशन कभी नहीं देना है आपको सलूशन पहले सेट कर आना मतलब बच्चों से ही सलूशन निकलवाना है आपकी प्रॉब्लम सॉल्व नहीं हो सकता कोलफील्ड नो एजुकेशन तो आप किसको बिजनेस ना बनाओ को बच्चों के लिए प्रॉफिटेबल जो चाहे उसको मां से कोई परेशानी हो आपको ऐसा कुछ करना होगा सपोर्ट में इमोशनली ठीक है मामा ने कोई बात नहीं अगली बार आएंगे क्योंकि हमने बिल्कुल बच्चों को यह करके रखा है की मानता ने जरूरी है तू अगर वह बच्चा मार्क्स नहीं ला पा रहा है तो हम उसे बिल्कुल डांटे ना उसके और तो सब से बात करनी है बड़ी बात यहां पर बहुत इंपॉर्टेंट को भी समझाना आप टाइम टाइम रखो कैसे आपको घर पर क्या स्टेप्स लेनी चाहिए यह सारी चीज से बात करो प्लीज ट्राय टू अंडरस्टैंड कि अगर वह बच्चा मार्क्स नहीं मिला रहा है वह बचाओ बहुत ही जल्द ही नहीं एंटी सोशल वर्क कितनी देर होगी या कुछ भी कहा जब तुम उसको सपोर्ट नहीं करेंगे या बाहर बाद में आपको सपोर्ट करनी है आपको समझाना एप्लिकेशन पैशनफ्रूट बहुत जरूरी है और किसी भी तरह से करके आपको सलूशन पहले सेट कराना आपको सलूशन देना नहीं है

hello my and swati sharma I love you karentali going account school question tha ki agar kisi tarah bacche ko paint nishulk hai mental samitiyaan kutte kahin bhi koi surat to teacher kya kare toh pehli baat toh yah hai hamare yahan par ki koi teacher ya koi bhi pan soek sakti karna chahte hain kal baat ki taki se bacche mein ya unke insurens mein koi issue hai toh pehli baat ki yahan par jo sabse zyada help eksepted saamne vala baccha mera student ya mera baccha is takleef se special se gujar raha hai toh usme ki shakti aati lagta hai ki hum kya kare dusri ki hum koi bhi jo bhi saikolajikal problems and frustration koi bhi sardi bukhar nahi hai ki hum agar dawai de denge vaah theek ho jaega toh karna kya hai aisa parents teacher bacche ko support kare samjhe uske bachpan ko najariya najariya bahut maayne rakhta hai chahen vaah baccha ke bacche ke taraf se ho ya parents teacher ki taraf se peeche bhi baccho ki sthiti ko samaj ke padhai padhai padhai marks apne school ke decoration ke liye marks ke peeche bhagte hain kahin se hamare ko cbse se complaint dasavi board mein hamare school mein jaha se complaint ki hum aapke yahan par result accha nahi ho raha hai jo bhi toh hamein sabse pehle yah dekhna hoga ki kaise hum apne bacche ko samajh rahe hain hum use kathin toh nahi kar rahe hain yah saal kyonki agar koi baccha wahan par hai jiski aur mansik sthiti ko kamjor hai vaah utana saksham nahi hai toh wahan par yah difficulty bahut aati hai ki vaah baki baccho ke saath kaise kampaitibal jo tu hamein pehli baar usko support karegi provide karni hai support ther physical mental hum us par kya karenge kya is tarah ke hote hain toh bacche ke toh hum try karenge usko usi ko paragait karegi haan aapko bhi hand wash karna aapko aise karna chahiye aapko aisi bhi hoti hain jo apne aap ko na kisi teacher ke roll mein tu bahut hi benifishiyal hota hai lekin main aisa kaam kiya karte hain ki main apne baccho ko sirf isliye ki mujhe jana hai wahan par unko unki problem ka salution counselor tiger Shroff kuch salution kabhi nahi dena hai aapko salution pehle set kar aana matlab baccho se hi salution nikalwana hai aapki problem solve nahi ho sakta kolfild no education toh aap kisko business na banao ko baccho ke liye profitable jo chahen usko maa se koi pareshani ho aapko aisa kuch karna hoga support mein emotionally theek hai mama ne koi baat nahi agli baar aayenge kyonki humne bilkul baccho ko yah karke rakha hai ki manata ne zaroori hai tu agar vaah baccha marks nahi la paa raha hai toh hum use bilkul Dante na uske aur toh sab se baat karni hai badi baat yahan par bahut important ko bhi samajhana aap time time rakho kaise aapko ghar par kya steps leni chahiye yah saree cheez se baat karo please try to understand ki agar vaah baccha marks nahi mila raha hai vaah bachao bahut hi jald hi nahi anti social work kitni der hogi ya kuch bhi kaha jab tum usko support nahi karenge ya bahar baad mein aapko support karni hai aapko samajhana application paishanafrut bahut zaroori hai aur kisi bhi tarah se karke aapko salution pehle set krana aapko salution dena nahi hai

हेलो माय एंड स्वाति शर्मा आई लव यू करेंटली गोइंग अकाउंट स्कूल क्वेश्चन था कि अगर किसी तरह

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  78
WhatsApp_icon
user
2:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे मन में प्रदूषण व चिकित्सकीय देता हूं ऑफ इंडिया में स्कूल मेंटेनेंस एक्ट के तहत एग्रीमेंट एंड डिस्टिक में क्यों होती है वह आपकी स्कूल विजिट करती है और जो बच्चे होते बच्चों में मेंटेनेंस इस तरह के हो सकते हैं एक तो बच्चे जो हैं जो कि गवर्नमेंट स्कूल में बच्चे हो सकते हैं डिस्टेंट में क्यों लेट से बिल्ड बॉर्डर लाइन इंटेलिजेंट होते उनको डिलीट करना क्योंकि बच्चों के एंट्रेंस एग्जाम के टाइम लिस्ट मैनेज करना बच्चों की तस्वीर आते हैं जो कि रात में बच्चे होते हैं चूत को अलग-अलग तरह से चंदेरिया की 1 दिन में चेंज ना रहे हैं पढ़ाई की क्लिप तेरे देश पर की जा रही है या फिर बच्चा बोलता था चुप रहने लगा है शांत रहने लगा है कि नारे लगाए और बच्चा रोता बहुत है जो है और उसके बारे में और उसके पेरेंट्स चंचल चंचल को बच्चे के बताना चाहिए जिससे करना चाहिए और उनको किसी न किसी को दिखाने की बेटी स्कूल में काउंसलर रिपोर्ट पहचान होती है कौन सी चीजें छोटे-छोटे बच्चों में आपस में जॉब रिलेटेड

mere man mein pradushan va chikitsakiya deta hoon of india mein school Maintenance act ke tahat Agreement and district mein kyon hoti hai vaah aapki school visit karti hai aur jo bacche hote baccho mein Maintenance is tarah ke ho sakte hain ek toh bacche jo hain jo ki government school mein bacche ho sakte hain distant mein kyon late se build border line Intelligent hote unko delete karna kyonki baccho ke entrance exam ke time list manage karna baccho ki tasveer aate hain jo ki raat mein bacche hote hain chut ko alag alag tarah se chanderiya ki 1 din mein change na rahe hain padhai ki clip tere desh par ki ja rahi hai ya phir baccha bolta tha chup rehne laga hai shaant rehne laga hai ki nare lagaye aur baccha rota bahut hai jo hai aur uske bare mein aur uske parents chanchal chanchal ko bacche ke bataana chahiye jisse karna chahiye aur unko kisi na kisi ko dikhane ki beti school mein counselor report pehchaan hoti hai kaun si cheezen chote chhote baccho mein aapas mein job related

मेरे मन में प्रदूषण व चिकित्सकीय देता हूं ऑफ इंडिया में स्कूल मेंटेनेंस एक्ट के तहत एग्रीम

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  104
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!