अकेलापन किसी व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करता है वे इसके बारे में क्या कर सकते हैं?...


user
1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रिटायर्ड लोग हैं जिनको उनके बच्चे जो हैं जो कि बच्चे बाहर चले गए बाहर अपना नौकरी कर रहे हैं और और पेरेंट्स अकेले हैं वह अकेलेपन की वजह से डिप्रेशन की बीमारी से पीड़ित हो जाते हैं जो कि मानसिक बीमारियों को जन्म देती है आदमी का एक उदाहरण भेजूं मेरे पास एक रिटायर्ड स्कूल की प्रिंसिपल 3 दिन के बच्चे उनके उनके साथ रहते नहीं है अलग रहते हैं उनके पास पैसे रुपए की कोई कमी के कारण मनो रोग से पीड़ित हो गई है और वह भी को डिप्रेशन की बीमारी हो गई है तो अकेलेपन को दूर करने के लिए अपने आप को एक सोसाइटी में नवाब सोसाइटी में निबंध रखना से आप किसी स्प्रिचुअल और लाइट अध्यात्मिकता में जा सकते हैं एक ही क्लास में जा सकते हैं किसी भी तरह से अपने आप व्यस्त रखना बहुत जरूरी है धन्यवाद

retired log hain jinako unke bacche jo hain jo ki bacche bahar chale gaye bahar apna naukri kar rahe hain aur aur parents akele hain vaah akelepan ki wajah se depression ki bimari se peedit ho jaate hain jo ki mansik bimariyon ko janam deti hai aadmi ka ek udaharan bheju mere paas ek retired school ki principal 3 din ke bacche unke unke saath rehte nahi hai alag rehte hain unke paas paise rupaye ki koi kami ke karan mano rog se peedit ho gayi hai aur vaah bhi ko depression ki bimari ho gayi hai toh akelepan ko dur karne ke liye apne aap ko ek society mein nawab society mein nibandh rakhna se aap kisi sprichual aur light adhyatmikata mein ja sakte hain ek hi class mein ja sakte hain kisi bhi tarah se apne aap vyast rakhna bahut zaroori hai dhanyavad

रिटायर्ड लोग हैं जिनको उनके बच्चे जो हैं जो कि बच्चे बाहर चले गए बाहर अपना नौकरी कर रहे है

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  119
WhatsApp_icon
21 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Shweta Sharma

Clinical Psychologist

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेला पन जब अकेलेपन में हम लोग जब एक सोशलाइजेशन में रहते हैं एक समाज में रहते हैं तो हमारे जो पर्सनैलिटी है उसे क्या कोडिंग डिवेलप होती है ठीक है तुम एक्सपीरियंस नहीं होंगे तो हम जब अकेले अगर रहते हैं इस तो उसकी वजह से जो हमारे लेवल है वह नए एक्सपीरियंस गेनिंग कर पाएगा जिसकी वजह से जो मेंटल हेल्थ है जो हमारी जो कि डेवलपमेंट होता रहना चाहिए सब लोगों के बीच में रहकर वह चीज नहीं हो पाती है चाहे वह health-related हो जाए वह बातचीत करने परिवार में सब लोग रहते हैं जैसे वह भी इफेक्ट करता है क्या करूं परिवार में अकेले रहते हैं जो कि निकले फैमिली से होती है जैसे तू वह भी व्यक्त करती है उन लोगों को नई-नई चीजें नहीं सीख पाते अपने बड़ों से अपने साथ के लोगों से अच्छी चीजें भी होती है खराबी होती है डिपेंड करता है कि वह किस चीज को दिल करता है

akela pan jab akelepan mein hum log jab ek socialization mein rehte hain ek samaj mein rehte hain toh hamare jo personality hai use kya coding develop hoti hai theek hai tum experience nahi honge toh hum jab akele agar rehte hain is toh uski wajah se jo hamare level hai vaah naye experience gaining kar payega jiski wajah se jo mental health hai jo hamari jo ki development hota rehna chahiye sab logo ke beech mein rahkar vaah cheez nahi ho pati hai chahen vaah health related ho jaaye vaah batchit karne parivar mein sab log rehte hain jaise vaah bhi effect karta hai kya karu parivar mein akele rehte hain jo ki nikle family se hoti hai jaise tu vaah bhi vyakt karti hai un logo ko nayi nayi cheezen nahi seekh paate apne badon se apne saath ke logo se achi cheezen bhi hoti hai kharabi hoti hai depend karta hai ki vaah kis cheez ko dil karta hai

अकेला पन जब अकेलेपन में हम लोग जब एक सोशलाइजेशन में रहते हैं एक समाज में रहते हैं तो हमारे

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  148
WhatsApp_icon
user

Dr Arti Gupta

Yoga Trainer and Life Coach (instra Id-artipaharia135)

3:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेलापन किसे कहते हैं जो खुद पर विश्वास नहीं करता तो सहन को जानता नहीं है यह नहीं जानता कि मुझे किस चीज में रुचि है किस में नहीं है वह मैं को सरेंडर कर देता है कि आई एम लुल्ली लुल्ली हर इंसान आया है और हर इंसान चाहेगा अकेलापन उपयोग करने के लिए होता है शाम को जानने के लिए होता है कि जाने अपने आप को आप अपने लिए क्या रुचि रखते हैं किस में आपका मन खुश रहता है क्या क्या ऐसा काम कर सकते हैं जिससे कि मैं खुश रहूं हो सकता है वह सोशलिज्म फ्री हो हो सकता है कि आपके कुछ पर्सनल होगी है कि आपकी पर्सनल एक्टिविटी का केंद्र तो टेंशन है आपकी जो पूछा है वह किस जगह उपयोग हो रही है उसका सही इस्तेमाल नहीं कर पा रही भी हो सकता है तो जजमेंट स्वयं के लिए तो हम कर सकते हैं हमें दूसरों के लिए जजमेंट करने का राइट नहीं है लेकिन हम खुद की ऊंचा का जजमेंट अगर ढंग से कर लेते हैं तो अकेलेपन को हम कम महसूस करते हैं अगर आपका इंटरेस्ट नेतागिरी में है तो आप घर से बाहर निकलिए तो उसमें किसी व कीजिए ऑर्गेनाइजिंग में आप ज्वाइन कीजिए थैंक्यू को ज्वाइन कीजिए आपके पास और पोस्ट की थी मिलेंगे अगर आपको नीचे से प्यार है तो गाड़ी कीजिए अगर आपको घर में टीवी व्हाट्सएप कुछ मीडिया सेल रिलेटेड पार्क और उस समय आप होश में रहिए कि यह चीज देखने से मुझे कैसा फील हो रहा है क्योंकि मीडिया एक ऐसी चीज है जिसमें मल्टीपल सीजन होते हैं और कौन सी चीज से आपका मूड अच्छा होता है अकेलेपन को कम करता है तो उस तरह से हम अपने अकेलेपन को कम कर सकते हैं उसका सही उपयोग कीजिए अपने शरीर को प्यार कीजिए कहिए कि आई आई लव माय आई आई लव माय फेस आई लव माय हार्ट आई लव माय लव चमक डाइजेशन सिस्टम एक सेटिंग सिस्टम मसल सिस्टम सभी को प्यार कीजिए कुछ देर रुके हैं वह अकेलापन महसूस करते क्योंकि आप उनके साथ नहीं छोड़ते स्वयं से जुड़ने की कोशिश करेंगे स्वयं को जानने की कोशिश करेंगे तो आपका अकेलापन हंड्रेड परसेंट दूर होगा खुद को जानने लगते हैं वह अकेलापन हमें खुशी देने लगता है बस अकेलेपन कारण नहीं है तो खोने का सिकुड़ना जानना दूसरों के दोष देखना सुख की चाहत करना ही अकेलेपन का दोस्त मानना है थैंक यू सो मच

akelapan kise kehte hain jo khud par vishwas nahi karta toh sahan ko jaanta nahi hai yah nahi jaanta ki mujhe kis cheez me ruchi hai kis me nahi hai vaah main ko surrender kar deta hai ki I M lulli lulli har insaan aaya hai aur har insaan chahega akelapan upyog karne ke liye hota hai shaam ko jaanne ke liye hota hai ki jaane apne aap ko aap apne liye kya ruchi rakhte hain kis me aapka man khush rehta hai kya kya aisa kaam kar sakte hain jisse ki main khush rahun ho sakta hai vaah socialism free ho ho sakta hai ki aapke kuch personal hogi hai ki aapki personal activity ka kendra toh tension hai aapki jo poocha hai vaah kis jagah upyog ho rahi hai uska sahi istemal nahi kar paa rahi bhi ho sakta hai toh judgement swayam ke liye toh hum kar sakte hain hamein dusro ke liye judgement karne ka right nahi hai lekin hum khud ki uncha ka judgement agar dhang se kar lete hain toh akelepan ko hum kam mehsus karte hain agar aapka interest netagiri me hai toh aap ghar se bahar nikliye toh usme kisi va kijiye argenaijing me aap join kijiye thainkyu ko join kijiye aapke paas aur post ki thi milenge agar aapko niche se pyar hai toh gaadi kijiye agar aapko ghar me TV whatsapp kuch media cell related park aur us samay aap hosh me rahiye ki yah cheez dekhne se mujhe kaisa feel ho raha hai kyonki media ek aisi cheez hai jisme multiple season hote hain aur kaun si cheez se aapka mood accha hota hai akelepan ko kam karta hai toh us tarah se hum apne akelepan ko kam kar sakte hain uska sahi upyog kijiye apne sharir ko pyar kijiye kahiye ki I I love my I I love my face I love my heart I love my love chamak digestion system ek setting system masal system sabhi ko pyar kijiye kuch der ruke hain vaah akelapan mehsus karte kyonki aap unke saath nahi chodte swayam se judne ki koshish karenge swayam ko jaanne ki koshish karenge toh aapka akelapan hundred percent dur hoga khud ko jaanne lagte hain vaah akelapan hamein khushi dene lagta hai bus akelepan karan nahi hai toh khone ka sikudana janana dusro ke dosh dekhna sukh ki chahat karna hi akelepan ka dost manana hai thank you so match

अकेलापन किसे कहते हैं जो खुद पर विश्वास नहीं करता तो सहन को जानता नहीं है यह नहीं जानता कि

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  96
WhatsApp_icon
user

Jyoti Gupta

Clinical, Counseling & Rehabilitation Psychologist, Mindfulness Teacher, Compassion Teacher, Meditation Teacher, Psychotherapist

5:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

स्टेटस शायरी डिस्ट्रॉय द पॉलिटिकल जब आप अकेले होते हैं तो आप अपनी बातें जैसे भी मैंने पहले वाले क्वेश्चन में भी यही बात थी किंतु कम पैसे में कहीं नहीं मिलता और सारी चीजें हमारे अंदर ही है लेकिन उनको भी टाइप करने के लिए उनको उनके बारे में भी जाने के लिए हमें अपने बारे में जानना होते हैं और कई बड़ी अगर हम टीनेजर्स की बात नहीं अभी भी हद नेवर बीन शॉट हाउ टू हैंडल और इमोशन आपके घर में भी हुआ होगा या अपने अपने बचपन में भी देखा होगा कि जब लड़की रोते हम बोल देते हैं गुस्सा आ रहा है कि व्हाट वी आर टीचिंग और कैसा इनडायरेक्टली बृजेश आस्किंग हिम टो सुप्प्रेस वटेवर देसी रिंगटोन इज अ वेरी वेरी नाइस लुकिंग एंड रिसोर्ट विल टॉक अबाउट इट ओके यू गेटिंग एंग्री एंग्री हाउ वी कैन यू टेल मी द स्टोरी व्हाट इज नॉट फेयर ऑफ दिस काइंड ऑफ माइंड एंड वेरी वेरी वेरी B.Ed आई कैन से स्टार्ट कंट्रोलिंग यू ऑल रेलवे स्टेशन जंक्शन से संबंधित को पसंद करते हो आपके साथ में आपकी मम्मी पापा के साथ में हो या आपके ग्रैंडपेरेंट्स आपके साथ में हो जो अनफॉर्चूनेटली अब नहीं रहे हैं तो हम उनको अपनी कल्पना में देखना शुरु कर देते हैं और कई बारी हमारी लाइफ ही वही हो जाती तो प्लीज दिस इज ऑल अबाउट की आंटी लाल ने जो हमारा अगर ह्यूमन टचिंग बॉन्डिंग ह्यूमन कनेक्शन नहीं है तुम कहां से लाएंगे और अकेलापन डिप्रेशन इन द साहू ऑल द थिंग्स स्टार्टिंग ऑफ इन द मॉर्निंग एडिटिंग गोपाल पटेल संतोष पाउंडिंग स्टार्टल्ड थे इंडस्ट्री एंड स्वेटी पाम्स आपकी शुरू हो जाती है कि आपकी जब आप अकेले सोते हो आपकी बॉडी आपको बहुत मैसेज तक नहीं सिखाया गया हमें नहीं बताया जाता इन जनरल नहीं बताते आंटी रिलेशन इन चीजों की जरूरत नहीं होती क्योंकि उसकी बॉडी इज हैविंग डिस्पर्टी कलर का हेड ऑफिस व्हाट इज द टाइम इज मनी विच वे रियली नीड टू शॉप अकेलेपन में यह सारी चीजें आंख भर जाती है और भी ज्यादा हो जाती हैं आप अकेले रहते हैं आपका खाने कम फिर आपका खाना खाना पीना भी वैसे ही हो जाता है आपका एक जो रूटीन होता है यू स्टार्ट मिसिंग योर रूटीन एसे ओं र कॉलेज ब्वॉय ओर उनकी लाइक गोइंग कॉलेज बिकॉज यू थिंक दैट इज नॉट एंड और इस देयर आर एफ फाइल गोदे नॉट गोइंग टू टॉक टू मी भी तो अकेले ही आपने क्या दिमाग नहीं तो नहीं स्टोरी आपके दिमाग में क्या रेट कर रखी हैं कि स्टार्ट लिविंग इन साइड 2 स्टोरीज यू दूध नॉरेटिव दूध स्टोरीज आर यू लाइक हाउ इंटरेस्टिंग अवे फ्रॉम द रियलिटी बिकॉज यू आर नॉट इन ह्यूमन टीजिंग मे बिहार में बीजेपी जोगिंग व्हाट वी शुड बे इन टच विद ईच अदर 14 कौन और मिठाई ने दूसरी तरीके से भी चीजें होती हैं कई बारी हम साथ में रहते हैं तब हमें दिक्कत होती है सो अलोन एंड लोनली इन्फेक्शन नॉट गिव योर सेल्फ एंड क्वालिटी टाइम विद योर सेल्फ में भी जस्ट बाय वाचिंग मूवीज बाय डूइंग योगा और मेरे भाई तू इंसान प्राणायाम और शंकर लाइक दैट कंफ्यूज अकेलापन एन अकाउंट रंगीन फॉर यू आर लुकिंग फॉर संभवत थिस ब्लॉग एंड इन एकांत यू डोंट वांट यू योरसेल्फ एंड योर कंफर्टेबल

status shaayari destroy the political jab aap akele hote hain toh aap apni batein jaise bhi maine pehle waale question mein bhi yahi baat thi kintu kam paise mein kahin nahi milta aur saree cheezen hamare andar hi hai lekin unko bhi type karne ke liye unko unke bare mein bhi jaane ke liye hamein apne bare mein janana hote hain aur kai badi agar hum teenagers ki baat nahi abhi bhi had never bin shot how to handle aur emotion aapke ghar mein bhi hua hoga ya apne apne bachpan mein bhi dekha hoga ki jab ladki rote hum bol dete hain gussa aa raha hai ki what va R teaching aur kaisa indirectly brijesh asking him toe suppres vatevar desi ringtone is a very very nice looking and resort will talk about it ok you getting angry angry how va can you tell me the story what is not fair of this chahinde of mind and very very very B Ed I can se start controlling you all railway station junction se sambandhit ko pasand karte ho aapke saath mein aapki mummy papa ke saath mein ho ya aapke graindaperents aapke saath mein ho jo anafarchunetli ab nahi rahe hain toh hum unko apni kalpana mein dekhna shuru kar dete hain aur kai baari hamari life hi wahi ho jaati toh please this is all about ki aunty laal ne jo hamara agar human touching bonding human connection nahi hai tum kahaan se layenge aur akelapan depression in the sahu all the things starting of in the morning editing gopal patel santosh pounding startald the industry and sweti palms aapki shuru ho jaati hai ki aapki jab aap akele sote ho aapki body aapko bahut massage tak nahi sikhaya gaya hamein nahi bataya jata in general nahi batatey aunty relation in chijon ki zarurat nahi hoti kyonki uski body is having disparti color ka head office what is the time is money which ve really need to shop akelepan mein yah saree cheezen aankh bhar jaati hai aur bhi zyada ho jaati hain aap akele rehte hain aapka khane kam phir aapka khana khana peena bhi waise hi ho jata hai aapka ek jo routine hota hai you start missing your routine essay on r college bway aur unki like going college because you think that is not and aur is there R f file gode not going to talk to me bhi toh akele hi aapne kya dimag nahi toh nahi story aapke dimag mein kya rate kar rakhi hain ki start living in side 2 stories you doodh naretiv doodh stories R you like how interesting away from the reality because you R not in human teasing mein bihar mein bjp jogging what va should be in touch with each other 14 kaun aur mithai ne dusri tarike se bhi cheezen hoti hain kai baari hum saath mein rehte hain tab hamein dikkat hoti hai so alone and lonely infection not give your self and quality time with your self mein bhi just bye vaching movies bye doing yoga aur mere bhai tu insaan pranayaam aur shankar like that confuse akelapan N account rangeen for you R looking for sambhavat this blog and in ekant you dont want you yourself and your Comfortable

स्टेटस शायरी डिस्ट्रॉय द पॉलिटिकल जब आप अकेले होते हैं तो आप अपनी बातें जैसे भी मैंने पहले

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  92
WhatsApp_icon
play
user

Manisha Jethwani

Psychologist

1:34

Likes  14  Dislikes    views  180
WhatsApp_icon
user

Yogesh Kumar

Psychologist

0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेले प्रभावित करता है क्या तेरा बंदा होगा तो क्या-क्या नई नई चीजों को सोचा था कुछ पुरानी चीजों से टोकरी है वह बिजी नहीं है यह टाइमपास है रात 7:00 रहेगा या जिस तरह बच्चा हो बढ़ा हुए कोई भी हो उसके साथ तो हमेशा से नेगेटिव तुम खाली हो जाएंगे

akele prabhavit karta hai kya tera banda hoga toh kya kya nayi nayi chijon ko socha tha kuch purani chijon se tokri hai vaah busy nahi hai yah timepass hai raat 7 00 rahega ya jis tarah baccha ho badha hue koi bhi ho uske saath toh hamesha se Negative tum khaali ho jaenge

अकेले प्रभावित करता है क्या तेरा बंदा होगा तो क्या-क्या नई नई चीजों को सोचा था कुछ पुरानी

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  153
WhatsApp_icon
user

Kankan Sarmah

Psychologist

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेलेपन डिफ्लेशन कब मैसेज होते हैं सब कुछ आपके पास बहुत कुछ है लेकिन करने के लिए कुछ भी नहीं है यानी कि आप कुछ करने जा रहे हो लेकिन उसने आपका कोई शहीद प्लेस time-space टाइम के अकॉर्डिंग तो सही नहीं होते तो हम क्या करें रहने दो अब कुछ करने जा रहे हो और हो कुछ और है यानी कि आपका जो फिजिकल बॉडी है और आपका तो मेंटल स्टेटस है कोई प्रिया में नहीं रहते तो क्या होता इंबैलेंस हो जाते हैं इन बैलेंस होने के बावजूद क्या होता है जो आपका एक्सपेक्टशंस है एक तो है क्या पिकुली पेमेंट नहीं कर पा रहे हो तो उसे क्या होते हैं ना हम तो कभी करते कि मुझे क्या लेना है मुझे डिस्टर्ब करने वाला कोई नहीं है तो यह क्या होते हैं अल्टीमेटली टेंपल्स ग्रोथ एंड डेवलपमेंट ऑफ एयर मॉडल

akelepan difleshan kab massage hote hain sab kuch aapke paas bahut kuch hai lekin karne ke liye kuch bhi nahi hai yani ki aap kuch karne ja rahe ho lekin usne aapka koi shaheed place time space time ke according toh sahi nahi hote toh hum kya kare rehne do ab kuch karne ja rahe ho aur ho kuch aur hai yani ki aapka jo physical body hai aur aapka toh mental status hai koi priya mein nahi rehte toh kya hota imbailens ho jaate hain in balance hone ke bawajud kya hota hai jo aapka eksapektashans hai ek toh hai kya pikuli payment nahi kar paa rahe ho toh use kya hote hain na hum toh kabhi karte ki mujhe kya lena hai mujhe disturb karne vala koi nahi hai toh yah kya hote hain altimetli temples growth and development of air model

अकेलेपन डिफ्लेशन कब मैसेज होते हैं सब कुछ आपके पास बहुत कुछ है लेकिन करने के लिए कुछ भी नह

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  1693
WhatsApp_icon
user

Dr. PRAVINA MISHRA

REHABILITATION PSYCHOLOGIST

0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेले हैं वह जो लोग अकेलापन महसूस करते हैं वह लोग जो आजकल फेसबुक व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़ सकते हैं प्रोफेशनल के साथ जुड़ सकते हैं और पॉजिटिव हुए मेक क्रिएटिव और कंस्ट्रक्टिव और कर सकते हैं ऐसा वर्ड जिसमे उनको इंटरेस्ट हो ऐसे लोगों से मिल सकते हैं जिनके पास उनको अच्छा फील होता हो ऐसे लोगों से मिल सकते हैं

akele hain wah jo log akelapan mehsus karte hain wah log jo aajkal facebook whatsapp group mein jud sakte hain professional ke saath jud sakte hain aur positive hue make creative aur kanstraktiv aur kar sakte hain aisa word jisme unko interest ho aise logo se mil sakte hain jinke paas unko accha feel hota ho aise logo se mil sakte hain

अकेले हैं वह जो लोग अकेलापन महसूस करते हैं वह लोग जो आजकल फेसबुक व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  484
WhatsApp_icon
user
1:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

और देखो ऐसा है कि जो ना यू मीन बाय लव यू एक सामाजिक प्राणी है जो उसका परिवार चाहिए उसको लोग चाहिए आस-पास लेकिन कुछ लोगों को सर अकेला रहना पड़ता है तू इसलिए मजबूरी है कि उनको अकेले सामाजिक व समाज में उनको वह ज्वाइन कर सकता है जहां भी उनकी रुचि हो ऐसे किसी को अगर सोशल वर्क में इंटरेस्ट है तो वह रोटरी क्लब ज्वाइन करें लायंस क्लब ज्वाइन करेंगे कोई आवश्यकता है उसको फ्रेंड चाहिए तो आप देखो आजकल हर शहर में लेडीस की किटी चलती है मैं उनको बहुत अच्छा मांगती हूं अगर आपके पास ऐसा कोई है ग्रुप यहां कोई लेडी जाए उसको अपनी उमर हमउम्र लोगों के साथ समय बिताने का सिटी मिले पता क्या कुछ गेम खेले जाते हैं आप अपनी टॉपिक क्या बात कर सकते हो तो मैंने देखा कि महिलाएं बहुत खुश हो जाती है कितनी से आने के बाद मेरा मतलब यह है कि जैसे किसी को दूसरे लोगों से जुड़कर हो अपना अकेलापन दूर कर सकता है किसी को भजन में किसी को सत्संग में जाना अच्छा लगता है भजन ग्रुप ज्वाइन करें सत्संग जो ग्रुप ज्वाइन करें उसके हाथ में है ना

aur dekho aisa hai ki jo na you meen bye love you ek samajik prani hai jo uska parivar chahiye usko log chahiye aas paas lekin kuch logo ko sir akela rehna padta hai tu isliye majburi hai ki unko akele samajik va samaj mein unko vaah join kar sakta hai jaha bhi unki ruchi ho aise kisi ko agar social work mein interest hai toh vaah Rotary club join kare lions club join karenge koi avashyakta hai usko friend chahiye toh aap dekho aajkal har shehar mein ladies ki kiti chalti hai unko bahut accha mangati hoon agar aapke paas aisa koi hai group yahan koi lady jaaye usko apni umar hamaumra logo ke saath samay bitane ka city mile pata kya kuch game khele jaate hain aap apni topic kya baat kar sakte ho toh maine dekha ki mahilaye bahut khush ho jaati hai kitni se aane ke baad mera matlab yah hai ki jaise kisi ko dusre logo se judakar ho apna akelapan dur kar sakta hai kisi ko bhajan mein kisi ko satsang mein jana accha lagta hai bhajan group join kare satsang jo group join kare uske hath mein hai na

और देखो ऐसा है कि जो ना यू मीन बाय लव यू एक सामाजिक प्राणी है जो उसका परिवार चाहिए उसको लो

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  328
WhatsApp_icon
user

DR SURI

Rehabilitation Psychologist

0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उसने कहकर वीडियो फिल्म चाहिए पिक्चर है और उनको जो मैसेज टाइप के साथ था जो हमको पुरानी है उनको देखना है जीत सकती वीडियो सोशल काकडे पाटिल ने

usne kehkar video film chahiye picture hai aur unko jo massage type ke saath tha jo hamko purani hai unko dekhna hai jeet sakti video social kakade patil ne

उसने कहकर वीडियो फिल्म चाहिए पिक्चर है और उनको जो मैसेज टाइप के साथ था जो हमको पुरानी है उ

Romanized Version
Likes  65  Dislikes    views  933
WhatsApp_icon
user

Dr. Sanjeev Tripathi

Clinical Psychologist

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेलापन के लोगों को लोगों में जो सोशल बिहेवियर है वह बहुत कम देखने में आता है अपनी दुनिया में रहते हैं और कई बार निरीक्षण के दौरान भी अकेला पानी लोगों से हमेशा को बाहर आने की कोशिश करना चाहिए लोगों से मिलना चाहिए अपनी लाइफ स्टाइल अच्छी अच्छी लाइफ पैटर्न लाइफ़स्टाइल को

akelapan ke logo ko logo mein jo social behaviour hai wah bahut kam dekhne mein aata hai apni duniya mein rehte hain aur kai baar nirikshan ke dauran bhi akela pani logo se hamesha ko bahar aane ki koshish karna chahiye logo se milna chahiye apni life style acchi acchi life pattern lifestyle ko

अकेलापन के लोगों को लोगों में जो सोशल बिहेवियर है वह बहुत कम देखने में आता है अपनी दुनिया

Romanized Version
Likes  34  Dislikes    views  467
WhatsApp_icon
user

Dr. Mrignayani Agarwal

Clinical Psychologist

2:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेलापन जो है वह अपने आप में एक समस्या है अकेलेपन के कारण हम जगह डिप्रेशन आजकल बहुत ज्यादा फैल रहा है सुनने में आते हैं तो छोटे-छोटे बच्चे भी डिप्रेशन का शिकार हो रहे हैं किसी को नहीं कर पाते और अकेले ही अकेले उसे अपने मन में घुमाकर रहते हैं ना कि हम क्या करें यह भी अकेलापन तो है और जो व्यक्ति का मतलब स्वरूप ही बदल जाता है वह अकेला रहना पसंद करता है किस से बातचीत करना पसंद नहीं करता है इससे भी ज्यादा दिक्कत होती है किसी ना किसी से बात जरूर करनी है कि हमारे भी बचपन में दोस्त होते हैं चाहे वह कोई भी हो रिश्तेदार फागन सोते हैं ज्यादातर बच्चे मां-बाप से बहुत ज्यादा डरते हैं कि हम आपको अगर यह चीज बता देते हैं इससे क्या होता है कई बार जून के दोस्त होते हैं उनके पास तो उसका समाधान नहीं है तो वहां दान देंगे अगर बात करें उनका अकेलापन दूर होगा दादा दादी से बात करें उनकी एक्सपीरियंस शेयर करें वह भी बच्चों के लिए कम से कम आधा एक घंटा निकाले बात करने के लिए क्या चल रहा है ऐसी कौन सी बातें हैं जो उन्हें परेशान करते हैं

akelapan jo hai vaah apne aap mein ek samasya hai akelepan ke karan hum jagah depression aajkal bahut zyada fail raha hai sunne mein aate hain toh chote chhote bacche bhi depression ka shikaar ho rahe hain kisi ko nahi kar paate aur akele hi akele use apne man mein ghumakar rehte hain na ki hum kya kare yah bhi akelapan toh hai aur jo vyakti ka matlab swaroop hi badal jata hai vaah akela rehna pasand karta hai kis se batchit karna pasand nahi karta hai isse bhi zyada dikkat hoti hai kisi na kisi se baat zaroor karni hai ki hamare bhi bachpan mein dost hote hain chahen vaah koi bhi ho rishtedar fagan sote hain jyadatar bacche maa baap se bahut zyada darte hain ki hum aapko agar yah cheez bata dete hain isse kya hota hai kai baar june ke dost hote hain unke paas toh uska samadhan nahi hai toh wahan daan denge agar baat kare unka akelapan dur hoga dada dadi se baat kare unki experience share kare vaah bhi baccho ke liye kam se kam aadha ek ghanta nikale baat karne ke liye kya chal raha hai aisi kaun si batein hain jo unhe pareshan karte hain

अकेलापन जो है वह अपने आप में एक समस्या है अकेलेपन के कारण हम जगह डिप्रेशन आजकल बहुत ज्यादा

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  458
WhatsApp_icon
user

Mr. Ravi Shankar Raina

Clinical Psychologist

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अंतोदय अकेलापन सबकी लाइफ में होता है और वह मेंटल हेल्थ को बहुत ज्यादा करता है अकेलेपन में व्यक्ति हमेशा अपने अधिकतर लोक देवता अपने मैट्रिक के लिंक को अपने नेगेटिव फीलिंग को ही क्रिएट करते हैं कि मेरे साथ फास्ट फास्ट में उनके साथ जो चीजें हुई है उनको याद करता है और हैप्पीनेस को बहुत कम लोग याद करते कि हां बहुत अच्छा भी हुआ है मेरे पास है लेकिन अधिकतर नेगेटिव फिल्म को याद करके हमें कि हां ऐसा हो गया मेरे साथ ही ऐसा क्यों हुआ मेरे साथ है और इसके क्या है कि उसके अंदर तेरे अकेलापन लगेगा अपने दोस्तों से कटने लगेगा नेगेटिव फिल्म चूत के अंदर आएगी तो

antoday akelapan sabki life mein hota hai aur vaah mental health ko bahut zyada karta hai akelepan mein vyakti hamesha apne adhiktar lok devta apne metric ke link ko apne Negative feeling ko hi create karte hain ki mere saath fast fast mein unke saath jo cheezen hui hai unko yaad karta hai aur Happiness ko bahut kam log yaad karte ki haan bahut accha bhi hua hai mere paas hai lekin adhiktar Negative film ko yaad karke hamein ki haan aisa ho gaya mere saath hi aisa kyon hua mere saath hai aur iske kya hai ki uske andar tere akelapan lagega apne doston se katane lagega Negative film chut ke andar aayegi toh

अंतोदय अकेलापन सबकी लाइफ में होता है और वह मेंटल हेल्थ को बहुत ज्यादा करता है अकेलेपन में

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  499
WhatsApp_icon
user

Archana Chaudhary

Rehabilitation Psychologist

1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेलापन मानचित्र काफी हद तक प्रभावित करता है जो कि हम कहीं ना कहीं एक सामाजिक एनिमल एनिमल कहा जाता है कि लोग जुड़े रहते हैं लेकिन अगर कोई बिल्कुल अकेला है तो वह अपनी भावना के पास शेयर करता था लेकिन वह भी एक लिमिटेशन है कि किताबें उसकी सुन तो लेंगे पर अपना कुछ नहीं दे पाएंगे किताब है कि वह डायरी बाय टू इसीलिए अकेला मन काफी हद तक प्रभावित करता है सपना मानचित्र किसी को और को शशि भूषण बहुत इंपॉर्टेंट है भाई हम सब जब दुनिया में आए हैं तो हमें पढ़ते हैं अपनी लाइफ का जो सामाजिक व्यक्ति का है उसमें जब हम एक दूसरे के लिए कुछ कर पाते हैं तो हमें एक टेंपो का चीज में आता है कि हमने कुछ किया

akelapan manchitra kaafi had tak prabhavit karta hai jo ki hum kahin na kahin ek samajik animal animal kaha jata hai ki log jude rehte hain lekin agar koi bilkul akela hai toh vaah apni bhavna ke paas share karta tha lekin vaah bhi ek limitation hai ki kitaben uski sun toh lenge par apna kuch nahi de payenge kitab hai ki vaah diary bye to isliye akela man kaafi had tak prabhavit karta hai sapna manchitra kisi ko aur ko shashi bhushan bahut important hai bhai hum sab jab duniya mein aaye hain toh hamein padhte hain apni life ka jo samajik vyakti ka hai usme jab hum ek dusre ke liye kuch kar paate hain toh hamein ek tempo ka cheez mein aata hai ki humne kuch kiya

अकेलापन मानचित्र काफी हद तक प्रभावित करता है जो कि हम कहीं ना कहीं एक सामाजिक एनिमल एनिमल

Romanized Version
Likes  37  Dislikes    views  542
WhatsApp_icon
user

Pratishtha Trivedi

Clinical Psychologist

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए हम इंसान जो है एक सोशल एनिमल है कैसे बोलते हैं तो हमें अपनी लाइफ में बहुत चीजों में साथ ही बरकत होती है चाहे वह जिंदगी में आगे बढ़ने का कोई उतार-चढ़ाव से डील करने के लिए हो तो हमें हमेशा चाहे कि हमारी जिंदगी में कोई हमारी बात सुनने के लिए हमारा साथ देने के लिए अच्छी बात खुशी के मौकों पर चाहे दुख लेकिन कभी-कभी क्या होता है कि अगर इंसान के पास कोई बात करने के लिए नहीं होता है या किसी व्यक्ति को ऐसा लगता है कि कोई उसकी बात नहीं समझ रहा है हम किसी से बात नहीं कर सकते उनके पास लेकिन किसी भी कारण से उनको लगता है कि बात नहीं कर सकते हैं तो इस सिचुएशन में अकेलापन लंबे समय तक लगता है तू उस पर मानसिक अभी हो सकती है क्योंकि एक उम्मीद होती है जैसे हमारी नीड होती है खाना खाने की पानी पीने की वैसे ही लोगों से इंतजार करने की या अपनी बातें पानी की भी

dekhiye hum insaan jo hai ek social animal hai kaise bolte hain toh hamein apni life mein bahut chijon mein saath hi barkat hoti hai chahen vaah zindagi mein aage badhne ka koi utar chadhav se deal karne ke liye ho toh hamein hamesha chahen ki hamari zindagi mein koi hamari baat sunne ke liye hamara saath dene ke liye achi baat khushi ke maukon par chahen dukh lekin kabhi kabhi kya hota hai ki agar insaan ke paas koi baat karne ke liye nahi hota hai ya kisi vyakti ko aisa lagta hai ki koi uski baat nahi samajh raha hai hum kisi se baat nahi kar sakte unke paas lekin kisi bhi karan se unko lagta hai ki baat nahi kar sakte hain toh is situation mein akelapan lambe samay tak lagta hai tu us par mansik abhi ho sakti hai kyonki ek ummid hoti hai jaise hamari need hoti hai khana khane ki paani peene ki waise hi logo se intejar karne ki ya apni batein paani ki bhi

देखिए हम इंसान जो है एक सोशल एनिमल है कैसे बोलते हैं तो हमें अपनी लाइफ में बहुत चीजों में

Romanized Version
Likes  39  Dislikes    views  499
WhatsApp_icon
user

Anuja Kulkarni

Co-Fouder, Jidnyasa Assessment & Counselling

1:40
Play

Likes  17  Dislikes    views  220
WhatsApp_icon
user

Ms. Kamna Yadav

Clinical Psychologist

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेलापन की वजह अलग-अलग बजे होती है कईयों का घर में फैमिली सुजल रहे होते हैं कईयों का रिलेशनशिप ऐसे होते हैं कईयों के गानों को जो डिप्रेशन होता है उसकी वजह से भी अकेलापन महसूस होता है कि 1 लोगों के हाथ पर सारे लोग होते हैं सपोर्ट ए होते फिर भी उनको अकेलापन लगता है तो उसकी वजह से जो हमारा जो मानसिक तौर है जो हमारा इफेक्ट उसकी वैसे बहुत ज्यादा होता दुख और जब अकेलापन होता तो हमेशा लगता है कि कोई भी हमारा साथ नहीं है कोई हमें समझ नहीं पा रहा है कि हम किस दौर से गुजर रहे हैं और काफी नेगेटिव विचार आने लग जाते हैं जिसकी वजह से कहीं लोगों को अपने बारे में व्हाट्सएप पर भी फ्री होता है कई लोगों को अपने ही फील होता है कई लोग हेल्पलेस जीतन करते हैं जो अगेन एक डिप्रेशन का कारण हो सकता है तो उसके लिए अगर उसकी वजह से जो किला पढ़ने में डिप्रेशन का एक क्वेश्चन है अगर उस यह है और उसके साइड में और भी जो सिम्टम्स होते डिप्रेशन के वह भी होते हैं तो एडमिन कि आप कोई कंडीशन की छूट जा रहे हैं नार्मल दुनिया में हर दूसरे इंसान डिप्रेशन के तू जाता है अकेलापन महसूस करता है कहीं बार अंडर-19 चला जाता है यह और वह सही हो जाता है तो उसके लिए हमें फिर से प्रोफेशनल हेल्प की जरूरत पड़ेगी और हमको जाना पड़ेगा दुकान थी वैसे हम से ज्यादा लेंगे और हमारी जो day-to-day एक्टिविटीज है जो हमारा वह है जो हमारा प्रोफेशनल लाइफ हो गई रिप्लाई तो कोई पर्सनल लाइफ होता है तो बेस्ट फिगर प्रोफेशनल हैंडसेट आपकी जो प्रॉब्लम है वह सॉर्ट आउट हो जाए अंजू अकेलापन अशोक कारण है या नहीं भी है जो भी है वह आपको हेल्प करता क्यों गाए कर सकें

akelapan ki wajah alag alag baje hoti hai kaiyon ka ghar mein family sujal rahe hote hain kaiyon ka Relationship aise hote hain kaiyon ke gaano ko jo depression hota hai uski wajah se bhi akelapan mehsus hota hai ki 1 logo ke hath par saare log hote hain support a hote phir bhi unko akelapan lagta hai toh uski wajah se jo hamara jo mansik taur hai jo hamara effect uski waise bahut zyada hota dukh aur jab akelapan hota toh hamesha lagta hai ki koi bhi hamara saath nahi hai koi hamein samajh nahi paa raha hai ki hum kis daur se gujar rahe hain aur kaafi Negative vichar aane lag jaate hain jiski wajah se kahin logo ko apne bare mein whatsapp par bhi free hota hai kai logo ko apne hi feel hota hai kai log helpless jeetan karte hain jo again ek depression ka karan ho sakta hai toh uske liye agar uski wajah se jo kila padhne mein depression ka ek question hai agar us yah hai aur uske side mein aur bhi jo Symptoms hote depression ke vaah bhi hote hain toh admin ki aap koi condition ki chhut ja rahe hain normal duniya mein har dusre insaan depression ke tu jata hai akelapan mehsus karta hai kahin baar under 19 chala jata hai yah aur vaah sahi ho jata hai toh uske liye hamein phir se professional help ki zarurat padegi aur hamko jana padega dukaan thi waise hum se zyada lenge aur hamari jo day to day activities hai jo hamara vaah hai jo hamara professional life ho gayi reply toh koi personal life hota hai toh best figure professional haindaset aapki jo problem hai vaah sort out ho jaaye Anju akelapan ashok karan hai ya nahi bhi hai jo bhi hai vaah aapko help karta kyon gaayen kar sakein

अकेलापन की वजह अलग-अलग बजे होती है कईयों का घर में फैमिली सुजल रहे होते हैं कईयों का रिलेश

Romanized Version
Likes  33  Dislikes    views  516
WhatsApp_icon
user

Deepinder Sekhon

Mental Health Care

1:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेलापन बहुत ज्यादा प्रभावित कर सकता है क्योंकि आपको लगता है आप बिल्कुल ओन्ली हो कोई दोस्त नहीं है किसी से बात नहीं कर रहे हो और वह सबसे बहुत बड़ा कारण है डिप्रेशन में जब आपको बिल्कुल लोनलीनेस की फीलिंग है कि मेरा कोई है ही नहीं है प्लीज क्यों डिप्रेशन ना इसके लिए मेरे मेरे हिसाब से सबसे पहले एक इंसान को खुद के साथ प्यार करना बहुत जरूरी है आप लोग भी कब सीख गए तो आप लोग भी तब्दील करते हो जब आपको किसी की बहुत ज्यादा जरूरत है मान लीजिए कि मैं भी एक इंसान हूं मैं जॉब करने के लिए आई हूं 1 मिनट रुको लेटर यहां पर मेरा कोई दोस्त नहीं है अब मेरे को यह जरूरत है ऑफिस से मैं अगर घर आई हूं तो मुझे लगता है मैं किसी को मिलो मैं किसी से बात करो फिर मैं फेसबुक पर देख रही हूं वह मेरे तू जो कॉलीग है कोई कौन सी पार्टी पर जा रहा है कोई कहां जा रहा है और मेरे को तो किसी ने इनवाइट नहीं किया तो सबसे पहले तो यह आपको डिप्रेशन हो जाएगी कि आई एम ऑन पॉपुलर से प्यार करने लगेंगे तो आपको खुद के साथ कंफर्टेबल हो ना ठीक रहेगा और फिर आप लोगों के साथ कंफर्ट जोन बढ़ा सकते हो तो जब खुद के साथ कंफर्टेबल हो तो मैं अपने लिए कितनी सारी एक्टिविटी प्लान कर सकती हूं कि मैं ऑफिस से घर आई हूं मैं मूवी देख रही हूं मैंने अपने लिए कुकिंग कर रही है मैंने किसी को बुला लिया स्टार्ट लविंग और सेल्फी कंप्यूटर

akelapan bahut zyada prabhavit kar sakta hai kyonki aapko lagta hai aap bilkul only ho koi dost nahi hai kisi se baat nahi kar rahe ho aur vaah sabse bahut bada karan hai depression mein jab aapko bilkul lonlines ki feeling hai ki mera koi hai hi nahi hai please kyon depression na iske liye mere mere hisab se sabse pehle ek insaan ko khud ke saath pyar karna bahut zaroori hai aap log bhi kab seekh gaye toh aap log bhi tabdil karte ho jab aapko kisi ki bahut zyada zarurat hai maan lijiye ki main bhi ek insaan hoon main job karne ke liye I hoon 1 minute ruko letter yahan par mera koi dost nahi hai ab mere ko yah zarurat hai office se main agar ghar I hoon toh mujhe lagta hai kisi ko milo main kisi se baat karo phir main facebook par dekh rahi hoon vaah mere tu jo colleague hai koi kaun si party par ja raha hai koi kahaan ja raha hai aur mere ko toh kisi ne invite nahi kiya toh sabse pehle toh yah aapko depression ho jayegi ki I M on popular se pyar karne lagenge toh aapko khud ke saath Comfortable ho na theek rahega aur phir aap logo ke saath comfort zone badha sakte ho toh jab khud ke saath Comfortable ho toh main apne liye kitni saree activity plan kar sakti hoon ki main office se ghar I hoon main movie dekh rahi hoon maine apne liye coocking kar rahi hai maine kisi ko bula liya start loving aur selfie computer

अकेलापन बहुत ज्यादा प्रभावित कर सकता है क्योंकि आपको लगता है आप बिल्कुल ओन्ली हो कोई दोस्त

Romanized Version
Likes  37  Dislikes    views  421
WhatsApp_icon
user

Ayushi Madaan

Clinical Psychologist

1:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सही बात करने की अकेलापन जिंदगी में हर किसी के लिए बहुत ज्यादा घातक हो सकता है क्योंकि लोनलीनेस एक ऐसी चीज है जो बंदे को अंदर से तोड़ते हैं हम इंसान बने हैं इस तरीके के होते हैं कि बिहार की उम्र भी पतिया सोशल भी अकेले में रहना हर किसी के लिए उतना ही मुश्किल है जैसे जानवरों के लिए एक सहारा होता है कि हर एक को चाहिए कि अपनी कंपनी के लोग आसपास होने चाहिए कैसे हैं हम लोगों को भी रिक्वायर्ड होता है कि कोई हो जो हमारी पूरी टीम की दिनचर्या के प्रतिज्ञा मन का हाल जान सके अगर फिर भी आपको कहीं ना कहीं लगता है कि आप लोगों के साथ इतना घुलमिल कर नहीं रह पाते हैं आप थोड़े इंट्रोवर्ट हैं या आपके आसपास वह लोग नहीं हैं जो आपको समझ सके तो अपने अंडरटेकर की रानी चाहिए जो आपको खुशी देती हैं हम हमेशा डिप्रेशन में आए लोगों को बोलते हैं कि अगर आप लोगों को नहीं मिल सकते बाहर जाकर तो आप कोशिश करें कि वह चीजें ढूंढे जो आपको खुश गढ़ फाइंडिंग जोर शोर से दो खाते में किसी को चाय पीना अच्छा लगता है किसी को गाने सुनना अच्छा लगता है आपको पता होना चाहिए कि क्या चीजें हैं जो आपके चेहरे पर मुस्कुराहट लाती हैं यह चीजें बहुत जरूरी है जो हर किसी को आजकल डालने की जरूरत है लेकिन लोग इतने बिजी हो चुके हैं अपने वह के मन में भी नहीं लोगों के लिए क्योंकि पास अपने लिए दो कल नहीं हूं इसी में कई बार लोग भीड़ में होते हुए भी अकेलापन महसूस कर सकते हो तो पहले यह जानना जरूरी है कि आपकी खुशी की कौन सी चीज है जो आपको खुशी देती हैं पूरे दिन में एक बार ऐसा समय जरुर निकालना चाहिए जो आपको खुशी देता है वह काम करना चाहिए

sahi baat karne ki akelapan zindagi mein har kisi ke liye bahut zyada ghatak ho sakta hai kyonki lonlines ek aisi cheez hai jo bande ko andar se todte hain hum insaan bane hain is tarike ke hote hain ki bihar ki umr bhi patiya social bhi akele mein rehna har kisi ke liye utana hi mushkil hai jaise jaanvaro ke liye ek sahara hota hai ki har ek ko chahiye ki apni company ke log aaspass hone chahiye kaise hain hum logo ko bhi required hota hai ki koi ho jo hamari puri team ki dincharya ke pratigya man ka haal jaan sake agar phir bhi aapko kahin na kahin lagta hai ki aap logo ke saath itna ghulmil kar nahi reh paate hain aap thode introvert hain ya aapke aaspass vaah log nahi hain jo aapko samajh sake toh apne undertaker ki rani chahiye jo aapko khushi deti hain hum hamesha depression mein aaye logo ko bolte hain ki agar aap logo ko nahi mil sakte bahar jaakar toh aap koshish kare ki vaah cheezen dhundhe jo aapko khush garh Finding jor shor se do khate mein kisi ko chai peena accha lagta hai kisi ko gaane sunana accha lagta hai aapko pata hona chahiye ki kya cheezen hain jo aapke chehre par muskurahat lati hain yah cheezen bahut zaroori hai jo har kisi ko aajkal dalne ki zarurat hai lekin log itne busy ho chuke hain apne vaah ke man mein bhi nahi logo ke liye kyonki paas apne liye do kal nahi hoon isi mein kai baar log bheed mein hote hue bhi akelapan mehsus kar sakte ho toh pehle yah janana zaroori hai ki aapki khushi ki kaun si cheez hai jo aapko khushi deti hain poore din mein ek baar aisa samay zaroor nikalna chahiye jo aapko khushi deta hai vaah kaam karna chahiye

सही बात करने की अकेलापन जिंदगी में हर किसी के लिए बहुत ज्यादा घातक हो सकता है क्योंकि लोनल

Romanized Version
Likes  41  Dislikes    views  480
WhatsApp_icon
user

Mr. SANJAY KUMAR TIWARI

REHABILITATION PSYCHOLOGIST

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिप्रेशन के कारण की बारात है और कंडीशन को समझ नहीं पाते तब भी डॉक्टर से भी कंसल्ट कर सकते हैं लौंडी लैंड बॉर्डर जैसमिन किशन

depression ke kaaran ki baraat hai aur condition ko samajh nahi paate tab bhi doctor se bhi Consult kar sakte hain laundi land border jasmene kishan

डिप्रेशन के कारण की बारात है और कंडीशन को समझ नहीं पाते तब भी डॉक्टर से भी कंसल्ट कर सकते

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  619
WhatsApp_icon
user

Naren khatri

Student And Social Worker

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है कि अकेलेपन किसी व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करता है इसके बारे में क्या कर सकते हैं अकेलेपन किसी व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य को बिगाड़ सकता है और उसका ब्रेन को डैमेज भी कर सकता है और इसके बारे में क्या करें तो इसके बारे में डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए और डॉक्टर की एडवाइज के अनुसार काम करना चाहिए धन्यवाद

aapka sawaal hai ki akelepan kisi vyakti ke mansik swasthya ko kaise prabhavit karta hai iske bare mein kya kar sakte hain akelepan kisi vyakti ke mansik swasthya ko bigad sakta hai aur uska brain ko damage bhi kar sakta hai aur iske bare mein kya kare toh iske bare mein doctor ki salah leni chahiye aur doctor ki edavaij ke anusaar kaam karna chahiye dhanyavad

आपका सवाल है कि अकेलेपन किसी व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करता है इसके बार

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  187
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!