अगर मेरे परिवार में कोई आत्महत्या करने की बात करता हैं, तो इस बारे में मुझे क्या करना चाहिए?...


user

Dr.kamar Ansari

Psychologist & Electro homeopathic DOCTOR

4:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर कोई परिवार में आत्महत्या की बात करता है तो इसका सीधा सा अर्थ तो नहीं कह सकते कि उसको डिप्रेशन है लेकिन हां काफी हद तक का हो सकता है कि वह कहीं ना कहीं डिप्रेशन या अवसाद कह सकते हैं उसका शिकार है और मैं यह कहूंगा कि उसके साथ परामर्श करें काउंसलिंग करें उसकी अगर आपको दोस्ती काउंसलिंग नहीं कर सकते या पुरुष के साथ परामर्श नहीं कर सकते बैठकर तो किसी साइकोलॉजिस्ट या साइकोथैरेपिस्ट या साइकेट्रिस्ट को वगैरह को दिखाना चाहिए और डिप्रेशन एक ऐसा रोग इसकी स्थिति स्थितियां अलग अलग होती है ऐसे ही होता है दीदी - डिप्रेशन डिसऑर्डर तू अगर - डिप्रेशन डिसऑर्डर है तो उसमें तो आत्महत्या के विचार बहुत ही कम आते हैं ना के बराबर और अगर बार-बार वही इस बात को बोलता है कि वह आत्महत्या कर लेगा या कर सकता है तो मैं समझता हूं कि वह डिप्रेशन के जो गहराई होती है उसमें चला गया है लेकिन सिर्फ इसी बात पर के वह डिप्रेशन की गहराई में चला गया है खाली इस बात को आधार मानते हुए कि वह आत्महत्या करना चाहता है करने की कोशिश करता है कोशिश करना एक अलग चीज है और बात कहना है कल की कोशिश करता है तो हंड्रेड परसेंट यह शोर है कि वह डिप्रेशन का मरीज है और 7 का मरीज है और कहता है हो सकता है वह आपको डराने के लिए या अपनी बात को मनवाने के लिए इस तरह के शब्दों का प्रयोग करें उसके चेतन और अवचेतन मन को समझने की जरूरत है कि उसके अवचेतन मन में क्या चल रहा है यह अगर आपको समझ सके तो ज्यादा अच्छा है और अगर आप नहीं समझ पा रहे हैं तो विधाता 6 के आपसी सहयोग की आशा कर यह ठीक रहेगा पूजा था कि मैंने अपने लिए कहा था मैंने कि अगर वह कह रहा है कि अलग चीज है और कर रहा है तो वह एक अलग चीज है अगर वह कोशिश कर चुका है यह बार-बार कोशिश करता है तो इसका अर्थ होता है कि वह हंड्रेड परसेंट डिप्रेशन का शिकार है इसके लिए बहुत सी अलग अलग दवाएं होती हैं आप किसी एलोपैथिक डॉक्टर को दिखाएंगे कि मतलब उसे किसको दिखाएंगे तो एलोपैथिक दवा होगी आप किसी आयुर्वेदा 4 को दिखाएंगे तो आयुर्वेदिक होगी आप कैसे हो पैथिक डॉक्टर को दिखाएंगे तो वह सिम्टम्स के आधार पर एक होम्योपैथिक दवाएं बहुत सारी होती है वह दे सकते ऑफिस इलेक्ट्रोपैथी को दिखाएंगे तो बाय लैपटॉप्स बहुत सी दवाई होती है और आप किसी प्राकृतिक चिकित्सक को दिखाया जो इलाज प्राकृतिक तरीके से बताएगा मैं आपसे यही कहना चाहूंगा कि आप सबसे पहले काउंसलिंग करें उसके मन को टटोला यह पता लगाएं कि वह आपको सिर्फ ऐसा तो नहीं है कोई खास बात हो जिस को मनवाने के लिए बात को स्वीकार करवाने के लिए इस तरह से धमकी दे रहा है हां एक चीज और इसमें विचारणीय पक्ष है कि अगर कोई भी व्यक्ति सुसाइड करने की बात अगर बार-बार कहता है तो यह संभव है कि यह थोड़े यह विचार उसके कॉन्शियस माइंड से सब कौशल साइड में पहुंच जाएं चेतन मन से अवचेतन मन में पहुंचे और अवचेतन बंदर रोड पर पहुंच जाता है और काफी गहराई में चले जाते काफी हद तक चांस बनते कि वह सुसाइड कर ले या आत्महत्या कर ले मेरी आपसे निवेदन है मेरा आप से गुजारिश है कि आप उसको पहले समझे और उसके जो बाकी के सबसे ज्यादा अच्छा रहेगा शुक्रिया

agar koi parivar me atmahatya ki baat karta hai toh iska seedha sa arth toh nahi keh sakte ki usko depression hai lekin haan kaafi had tak ka ho sakta hai ki vaah kahin na kahin depression ya avsad keh sakte hain uska shikaar hai aur main yah kahunga ki uske saath paramarsh kare kaunsaling kare uski agar aapko dosti kaunsaling nahi kar sakte ya purush ke saath paramarsh nahi kar sakte baithkar toh kisi psychologist ya saikothairepist ya psychiatrist ko vagera ko dikhana chahiye aur depression ek aisa rog iski sthiti sthitiyan alag alag hoti hai aise hi hota hai didi depression disorder tu agar depression disorder hai toh usme toh atmahatya ke vichar bahut hi kam aate hain na ke barabar aur agar baar baar wahi is baat ko bolta hai ki vaah atmahatya kar lega ya kar sakta hai toh main samajhata hoon ki vaah depression ke jo gehrai hoti hai usme chala gaya hai lekin sirf isi baat par ke vaah depression ki gehrai me chala gaya hai khaali is baat ko aadhar maante hue ki vaah atmahatya karna chahta hai karne ki koshish karta hai koshish karna ek alag cheez hai aur baat kehna hai kal ki koshish karta hai toh hundred percent yah shor hai ki vaah depression ka marij hai aur 7 ka marij hai aur kahata hai ho sakta hai vaah aapko darane ke liye ya apni baat ko manvane ke liye is tarah ke shabdon ka prayog kare uske chetan aur avachetan man ko samjhne ki zarurat hai ki uske avachetan man me kya chal raha hai yah agar aapko samajh sake toh zyada accha hai aur agar aap nahi samajh paa rahe hain toh vidhata 6 ke aapasi sahyog ki asha kar yah theek rahega puja tha ki maine apne liye kaha tha maine ki agar vaah keh raha hai ki alag cheez hai aur kar raha hai toh vaah ek alag cheez hai agar vaah koshish kar chuka hai yah baar baar koshish karta hai toh iska arth hota hai ki vaah hundred percent depression ka shikaar hai iske liye bahut si alag alag davayain hoti hain aap kisi allopathic doctor ko dikhayenge ki matlab use kisko dikhayenge toh allopathic dawa hogi aap kisi ayurveda 4 ko dikhayenge toh ayurvedic hogi aap kaise ho paithik doctor ko dikhayenge toh vaah Symptoms ke aadhar par ek homeopathic davayain bahut saari hoti hai vaah de sakte office ilektropaithi ko dikhayenge toh bye laiptaps bahut si dawai hoti hai aur aap kisi prakirtik chikitsak ko dikhaya jo ilaj prakirtik tarike se batayega main aapse yahi kehna chahunga ki aap sabse pehle kaunsaling kare uske man ko tatola yah pata lagaye ki vaah aapko sirf aisa toh nahi hai koi khas baat ho jis ko manvane ke liye baat ko sweekar karwane ke liye is tarah se dhamki de raha hai haan ek cheez aur isme vicharniya paksh hai ki agar koi bhi vyakti suicide karne ki baat agar baar baar kahata hai toh yah sambhav hai ki yah thode yah vichar uske kanshiyas mind se sab kaushal side me pohch jayen chetan man se avachetan man me pahuche aur avachetan bandar road par pohch jata hai aur kaafi gehrai me chale jaate kaafi had tak chance bante ki vaah suicide kar le ya atmahatya kar le meri aapse nivedan hai mera aap se gujarish hai ki aap usko pehle samjhe aur uske jo baki ke sabse zyada accha rahega shukriya

अगर कोई परिवार में आत्महत्या की बात करता है तो इसका सीधा सा अर्थ तो नहीं कह सकते कि उसको ड

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  65
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आमिर सिंह जी मैंने आपका सवाल पड़ा है कि अगर आप के परिवार के बारे में परिवार में कोई सदस्य आत्महत्या के बारे में बात करता है तो मैं उसको जवाब दे रही हूं कि आपको एक तो उससे अधिक से अधिक संपर्क में रहना चाहिए हो सकता उसकी कोई समस्या हो उस समस्या का पता लगाना चाहिए आप उसके बिहेवियर पर ध्यान रखें और उसे अकेला बिल्कुल ना छोड़े इसके साथ ही साथ आप उसको किसी मनोचिकित्सक के पास ले जाएं और मनोचिकित्सक को अवश्य दिखा दे

aamir Singh ji maine aapka sawaal pada hai ki agar aap ke parivar ke bare me parivar me koi sadasya atmahatya ke bare me baat karta hai toh main usko jawab de rahi hoon ki aapko ek toh usse adhik se adhik sampark me rehna chahiye ho sakta uski koi samasya ho us samasya ka pata lagana chahiye aap uske behaviour par dhyan rakhen aur use akela bilkul na chode iske saath hi saath aap usko kisi manochikitsak ke paas le jayen aur manochikitsak ko avashya dikha de

आमिर सिंह जी मैंने आपका सवाल पड़ा है कि अगर आप के परिवार के बारे में परिवार में कोई सदस्य

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  97
WhatsApp_icon
play
user

Dr Ashwin Arora

Holistic healer & Naturopath

2:33

Likes  2  Dislikes    views  95
WhatsApp_icon
user

Sunila Nirmal

Lifestyle Coach ,Yoga Therapist,Astrologer,Motivational Speaker ,English Trainer .

1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर परिवार में कोई भी आत्महत्या करने की बात कर रहा है तो उसके पीछे कोई ना कोई कारण तो अवश्य होगा वह इंसान डिप्रेशन में है किसी परेशानी में उलझा हुआ है और उसको कोई रास्ता नहीं मिल रहा होगा तभी कोई इंसान ऐसा सोचता है उसकी परेशानी को दूर करने की कोशिश करिए उसको कोई हल या कोई सलूशन दीजिए उस परेशानी का जिससे वह इंसान सपोर्ट दिल करे आपके साथ में अगर उसे आपके आपने सहारा मिलेगा तो उसको एक बल मिलेगा उसका मानसिक बल और ज्यादा मजबूत हो जाएगा और जब भी मानसिक स्थिति थोड़ी सी मजबूत हो जाती है तो इंसान कभी भी सुसाइड की तरफ नहीं जाता यह आत्महत्या करने की कोशिश नहीं करता या बात ही नहीं करता है मानसिक बल की जरूरत है उसको उसको सबसे पहले मानसिक बंद कीजिए उसको सपोर्ट करिए जो भी वह चाहता है और फिर जब वह आपकी बात सुनने एचडी में आ जाए तो उसे सलूशन दीजिए फिर आप उसे उस तिथि के बारे में समझाइए

agar parivar me koi bhi atmahatya karne ki baat kar raha hai toh uske peeche koi na koi karan toh avashya hoga vaah insaan depression me hai kisi pareshani me uljha hua hai aur usko koi rasta nahi mil raha hoga tabhi koi insaan aisa sochta hai uski pareshani ko dur karne ki koshish kariye usko koi hal ya koi salution dijiye us pareshani ka jisse vaah insaan support dil kare aapke saath me agar use aapke aapne sahara milega toh usko ek bal milega uska mansik bal aur zyada majboot ho jaega aur jab bhi mansik sthiti thodi si majboot ho jaati hai toh insaan kabhi bhi suicide ki taraf nahi jata yah atmahatya karne ki koshish nahi karta ya baat hi nahi karta hai mansik bal ki zarurat hai usko usko sabse pehle mansik band kijiye usko support kariye jo bhi vaah chahta hai aur phir jab vaah aapki baat sunne hd me aa jaaye toh use salution dijiye phir aap use us tithi ke bare me samjhaiye

अगर परिवार में कोई भी आत्महत्या करने की बात कर रहा है तो उसके पीछे कोई ना कोई कारण तो अवश्

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  94
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आपके परिवार में कोई आत्महत्या करने की बात करता है तो सबसे पहले आत्महत्या का सबसे ज्यादा जो इंडिया में कारण है वह डिप्रेशन डिप्रेशन किसी न किसी वजह से होता है तो आप उसकी डिप्रेशन की खोज को जाने उसको अच्छे एक साइकिल से उसका दिखाएं और वह जो चाहता है उसके बारे में आप सोचो उसके बारे में जाने और फिर उसको धीरे-धीरे और सोसाइटी के अनुसार डॉक्टर के अनुसार उसका उसको मोटिवेट कीजिए

agar aapke parivar me koi atmahatya karne ki baat karta hai toh sabse pehle atmahatya ka sabse zyada jo india me karan hai vaah depression depression kisi na kisi wajah se hota hai toh aap uski depression ki khoj ko jaane usko acche ek cycle se uska dikhaen aur vaah jo chahta hai uske bare me aap socho uske bare me jaane aur phir usko dhire dhire aur society ke anusaar doctor ke anusaar uska usko motivate kijiye

अगर आपके परिवार में कोई आत्महत्या करने की बात करता है तो सबसे पहले आत्महत्या का सबसे ज्याद

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  77
WhatsApp_icon
user

dr Avnindra kumar upadhyay

Physiotherapist & Yoga Instructor

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उनको कोई भी डिप्रेशन नहीं देना चाहिए तथा उनको अकेला नहीं छोड़ना चाहिए उनको ऐसा लगे कि परिवार मिलकर अहमियत है उनके बिना परिवार नहीं चल पाता इस तरीके से भावना जब उनके मन में आएगा तो सुसाइड की भावना छोड़ देंगे और उनको खुश रहने की कोशिश करें खुश रहेंगे तो विभावना धीरे-धीरे धीरे-धीरे खत्म हो जाएगी आप भी प्रॉब्लम से निकल जाएंगे जो व्यक्ति खुश रहता है कभी नशा और साइट के बारे में कभी सोच नहीं सकता

unko koi bhi depression nahi dena chahiye tatha unko akela nahi chhodna chahiye unko aisa lage ki parivar milkar ahamiyat hai unke bina parivar nahi chal pata is tarike se bhavna jab unke man me aayega toh suicide ki bhavna chhod denge aur unko khush rehne ki koshish kare khush rahenge toh vibhavana dhire dhire dhire dhire khatam ho jayegi aap bhi problem se nikal jaenge jo vyakti khush rehta hai kabhi nasha aur site ke bare me kabhi soch nahi sakta

उनको कोई भी डिप्रेशन नहीं देना चाहिए तथा उनको अकेला नहीं छोड़ना चाहिए उनको ऐसा लगे कि परिव

Romanized Version
Likes  33  Dislikes    views  546
WhatsApp_icon
user

Sheram Zaidi

Marketing specialist

2:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आपके परिवार में कोई आत्महत्या करना चाहता है सबसे पहले एक मुद्दा दीजिएगा जो कि जिसकी वजह से हो आप मुझे करना चाहते हैं उस मुद्दे को भी अगर हमारे सामने रखते तो कहीं ना कहीं हम और अच्छे से अब बस प्लेन करना चाहते दूसरा चला दिया है कि अगर कोई भी आत्महत्या करना चाहता है तो उसे बताओ कि दुनिया जो है वह बहुत खूबसूरत पेड़ पौधे हवा पानी आपसे दुनिया को बताइए दुनिया में एक नए तरीके से जीने का हौसला होना चाहिए और उसे कह देना चाहिए कि आप चलोगे घुमाने ले जाओ कहीं ना कहीं आप उसे घुमाने ले जा सकते हो यहां तो कुछ अच्छे लोग रहते हो पॉजिटिव हो गए तुम किसी गुरु के पास भेजा वो मुसलमान है तो किसी मौलवी के पास ले जाओ यह कुछ अच्छी जगह लेकर जाओ उससे क्यों नहीं सुकून और जो भी सबसे पहली परेशानी वह वजह नदी आप करोगे किस वजह से वह आत्महत्या करना चाहते हैं अगर वह आत्महत्या इसी वजह से गाना चाहते हैं तो उस वजह को जो है ना अब शुरू होंगे उस वजह के दो रूप होंगे एक होकर नेगेटिव वर्क होगा पॉजिटिव वह जो सोच रहे होंगे कहीं ना कहीं नेगेटिव वजह पर ध्यान दे रहे होंगे आपको जो है ना उसका पॉजिटिव सोचना है और पॉजिटिव बता रहा है बस आपको यह कहना है कि शिक्षिका होता है उसके दो रूप होते हैं तो जो बात उन्हें परेशान कर रही है ना उसकी भी दो पहलू होंगे तो आपको जो है ना उसको नेगेटिव 1 को तो पकड़ कर बैठे हैं बस आपको उस बात का पॉजिटिव पहलो ढूंढ के उनके सामने रखना और जैसे आप रखोगे कहीं ना कहीं आप जो है ना उन्हें बचा सकते हैं

agar aapke parivar me koi atmahatya karna chahta hai sabse pehle ek mudda dijiyega jo ki jiski wajah se ho aap mujhe karna chahte hain us mudde ko bhi agar hamare saamne rakhte toh kahin na kahin hum aur acche se ab bus plane karna chahte doosra chala diya hai ki agar koi bhi atmahatya karna chahta hai toh use batao ki duniya jo hai vaah bahut khoobsurat ped paudhe hawa paani aapse duniya ko bataiye duniya me ek naye tarike se jeene ka hausla hona chahiye aur use keh dena chahiye ki aap chaloge ghumaane le jao kahin na kahin aap use ghumaane le ja sakte ho yahan toh kuch acche log rehte ho positive ho gaye tum kisi guru ke paas bheja vo musalman hai toh kisi maulavi ke paas le jao yah kuch achi jagah lekar jao usse kyon nahi sukoon aur jo bhi sabse pehli pareshani vaah wajah nadi aap karoge kis wajah se vaah atmahatya karna chahte hain agar vaah atmahatya isi wajah se gaana chahte hain toh us wajah ko jo hai na ab shuru honge us wajah ke do roop honge ek hokar Negative work hoga positive vaah jo soch rahe honge kahin na kahin Negative wajah par dhyan de rahe honge aapko jo hai na uska positive sochna hai aur positive bata raha hai bus aapko yah kehna hai ki shikshika hota hai uske do roop hote hain toh jo baat unhe pareshan kar rahi hai na uski bhi do pahaloo honge toh aapko jo hai na usko Negative 1 ko toh pakad kar baithe hain bus aapko us baat ka positive pahalo dhundh ke unke saamne rakhna aur jaise aap rakhoge kahin na kahin aap jo hai na unhe bacha sakte hain

अगर आपके परिवार में कोई आत्महत्या करना चाहता है सबसे पहले एक मुद्दा दीजिएगा जो कि जिसकी वज

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  61
WhatsApp_icon
user

Dr Suneet upadhyaya

Psychiatrist, Sexologist, Deaddiction Specialist , Counseller मानसिक रोग, नशामुक्ति व यौन रोग विशेषज्ञ

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि कोई व्यक्ति आत्महत्या की बात करता है पहली बात तो यह कि उसे पूरी गंभीरता से लें आत्महत्या के बारे में एक मैच है कि जो कहता है वह करता नहीं है सच्चाई यह है कि जो करता है वह कहता जरूर है उसे नजरअंदाज ना करें उसकी भावनाओं को समझने की कोशिश करें कि कारणों को जानने की कोशिश करें और अति शीघ्र उसे एक मनोचिकित्सक के पास ले जाकर दिखाएं आत्महत्या एक बीमारी डिप्रेशन को इंगित करता है और डिप्रेशन की भी सबसे गंभीर अवस्था में आत्महत्या के विचार आते हैं तो मनोचिकित्सक ही आपकी मदद कर सकता है आप अपने नजदीकी मनोचिकित्सक से जाकर संपर्क करें यदि संभव नहीं है तो टेलीकंसल्टेशन द्वारा भी मदद ली जा सकती है इलाज जरूरी है दवाइयां ही उसकी अधिकतम हेल्प कर पाएंगे बेस्ट विशेस

yadi koi vyakti atmahatya ki baat karta hai pehli baat toh yah ki use puri gambhirta se le atmahatya ke bare me ek match hai ki jo kahata hai vaah karta nahi hai sacchai yah hai ki jo karta hai vaah kahata zaroor hai use najarandaj na kare uski bhavnao ko samjhne ki koshish kare ki karanon ko jaanne ki koshish kare aur ati shighra use ek manochikitsak ke paas le jaakar dikhaen atmahatya ek bimari depression ko ingit karta hai aur depression ki bhi sabse gambhir avastha me atmahatya ke vichar aate hain toh manochikitsak hi aapki madad kar sakta hai aap apne najdiki manochikitsak se jaakar sampark kare yadi sambhav nahi hai toh telikansalteshan dwara bhi madad li ja sakti hai ilaj zaroori hai davaiyan hi uski adhiktam help kar payenge best wishes

यदि कोई व्यक्ति आत्महत्या की बात करता है पहली बात तो यह कि उसे पूरी गंभीरता से लें आत्महत्

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  113
WhatsApp_icon
user

Veer Bhupinder Singh Ji

The Visionary, www.thelivingtreasure.org

3:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आत्महत्या डूब चुकी होती है एक होती है और सीधे तौर पर जो की लास्ट रिजॉर्ट और एक होती है जो हम रोज रोज पल-पल में भारी करते हैं तो हमने इसके ऊपर एक सेमिनार बिके हुए उसका नाम हमने सजीवन रखा है लेकिन सेमिनार सुसाइड के ऊपर रखा था और उस सेमिनार को सुनने के बाद कई लोग मुझे कॉल भी की थी कि हमने आपका सेंटर सुना और मैंने आत्महत्या कर ली थी और मैंने तो आप करती उसमें हमने यह डिस्कस किया था कि जो शारीरिक तौर पर आत्महत्या करते हैं उस दिन का नाम रख लो शोभा दिन रख लो हंड्रेड के लिए रख दें जब से पैदा हुए लेकर हंड्रेड तक दिल्ली जो सोचते सोचते यार वह गर्म नकारात्मक सोच है वह दूसरों को बुरा समझते हैं और हम दूसरों से लोग मांगते रहते हैं और दूसरों के आरक्षण मांगते रहते हैं और समझते हैं कि मैंने सबको प्यार किया मुझे किसी ने प्यार नहीं किया मैंने बात की थी मेरे साथ लोगों में दोहा किया ऐसी कर करती हो अपने अपने हाथों से किस दुनिया में रहते हो परिवार में देहाती सिविक्स बुक डब्ल्यूएचओ में मैंने सुना था कि उन्होंने वर्ल्ड फ्री फॉर स्टैटिसटिक्स है उसको खोजा तो पता लगा कि शरीर को आत्महत्या करते हैं कुछ कर एक नेचुरल डेटशीट बढ़ गया तब भी हमने यह सेमिनार किया था कि वह हमको श्री गणेश आत्महत्या होने का कारण ढूंढना चाहिए हमने वही सारे कारण अपने सेमिनार में डिस्कस किए थे हमारी वेबसाइट में दलितों और उसमें से एक आर्डर करके वह पेनड्राइव सीरिया ऑडियो हिंदी में बनती है लेकिन आपके क्वेश्चन का आंसर नहीं करता हूं कि हमको जो हम पल-पल आत्महत्या करते हैं उसको बोलते हैं नाम ना जो पैसे आत्मघाती नाम ना जपे का मतलब होता है जो गुड क्वालिटी शुड आई पी एल सूची को प्रेक्टिस नहीं करते हैं वह अपनी आत्मा का सुसाइड करते रहते हैं देली बेली करने के कारण उनका सोचने का ढंग कितना पैर एडिंग उलटी दिशा में बदमाशी करते करते हैं जो इंसान आत्महत्या किस करनी पड़ेगी पॉजिटिव एटीट्यूड

atmahatya doob chuki hoti hai ek hoti hai aur sidhe taur par jo ki last resort aur ek hoti hai jo hum roj roj pal pal mein bhari karte hain toh humne iske upar ek seminar bikey hue uska naam humne sajivan rakha hai lekin seminar suicide ke upar rakha tha aur us seminar ko sunne ke baad kai log mujhe call bhi ki thi ki humne aapka center suna aur maine atmahatya kar li thi aur maine toh aap karti usme humne yah discs kiya tha ki jo sharirik taur par atmahatya karte hain us din ka naam rakh lo shobha din rakh lo hundred ke liye rakh de jab se paida hue lekar hundred tak delhi jo sochte sochte yaar vaah garam nakaratmak soch hai vaah dusro ko bura samajhte hain aur hum dusro se log mangate rehte hain aur dusro ke aarakshan mangate rehte hain aur samajhte hain ki maine sabko pyar kiya mujhe kisi ne pyar nahi kiya maine baat ki thi mere saath logo mein doha kiya aisi kar karti ho apne apne hathon se kis duniya mein rehte ho parivar mein dehati civics book WHO mein maine suna tha ki unhone world free for statistic hai usko khoja toh pata laga ki sharir ko atmahatya karte hain kuch kar ek natural detshit badh gaya tab bhi humne yah seminar kiya tha ki vaah hamko shri ganesh atmahatya hone ka karan dhundhana chahiye humne wahi saare karan apne seminar mein discs kiye the hamari website mein dalito aur usme se ek order karke vaah pendrive syria audio hindi mein banti hai lekin aapke question ka answer nahi karta hoon ki hamko jo hum pal pal atmahatya karte hain usko bolte hain naam na jo paise aatmghaati naam na jape ka matlab hota hai jo good quality should I p el suchi ko practice nahi karte hain vaah apni aatma ka suicide karte rehte hain deli beli karne ke karan unka sochne ka dhang kitna pair aiding ulti disha mein badmaashee karte karte hain jo insaan atmahatya kis karni padegi positive attitude

आत्महत्या डूब चुकी होती है एक होती है और सीधे तौर पर जो की लास्ट रिजॉर्ट और एक होती है जो

Romanized Version
Likes  89  Dislikes    views  3718
WhatsApp_icon
user

Deapti Mishra

Clinica Psychologist

4:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरी आपको बहुत अच्छा लगा ले क्योंकि आजकल ने आत्महत्या बहुत ज्यादा बढ़ रही हैं और ऐसा बोला जाता है कि सुसाइड करने के पहले आत्महत्या करने के पहले आदमी एक बार कॉल फॉर हेलीकॉप्टर होती है क्या बहुत ज्यादा कर कैसे जा बजे पार्क बाबा करेंगे तो देखेंगे कि वह अलग अलग अलग रहने लग गया तो एकदम शांत रहेंगे किसी को कुछ पता चलेगा ज्यादा केयर करने लगेंगे लोगों का अपने मरने के पहले जितनी जिंदगी जीना चाहते हैं वह सब एंजॉयमेंट बहुत ज्यादा करेंगे सब से मिलेंगे जो लेंगे जरूरत से ज्यादा करने लगे लेकिन ऐसे चुपचाप रहेंगे तो वह भी होता है और यह वाले समझना थोड़ा खत्म मतलब मुश्किल हो जाता है इस तरह के लोगों को लेकिन दूसरे लोग डिप्रेशन वाला व्यवहार कर रहे हैं अपने आप में रह रहे हैं या नशा कर रहे हैं किसी तरह का आंखें लाल रहती है अकेले कमरे में रहने लग गए व्यवहार बदल गया चेक चिढ़ाने लगे बात-बात पर किसी से बात करना पसंद नहीं कर रहे हैं खाना पीना कम कर दिया है तो इस तरह के लक्षण या बोल रहे हैं तो सतर्क हो जाना चाहिए कि क्यों हो रहा है क्या वह नशा कर रहा है इसलिए ऐसा कर रहा है या डिप्रेशन में चला गया है व्यक्ति किस तरह की बातें कर रहा है नेगेटिव बातें कर रहा है जीने में से कुछ फायदा नहीं है कुछ नहीं होगा कुछ हो ही नहीं सकता अपने बारे में जूनियर के बारे में भविष्य के बारे में सब खाली नकारात्मक बातें अगर व्यक्ति बोलने लगता है तो फिर आदमी को सजग हो जाएगी और कई बार कोशिश की ज्यादा उसका नेट नेट यूज़ कर रहा है बहुत ज्यादा और उसमें फिर सोच कर रहे हैं आत्महत्या से रिलेटेड चीजें बार-बार बोलते मरजानी अच्छा मर जाए तो अच्छा है कुछ नहीं हो सकता किसी तरह बाहर नहीं निकल सकते इस तरीके अग्रवाल बातें हो रही हैं तो बात करने के लिए वेट करना है वैसे व्यक्ति को कभी भी अकेले नहीं छोड़ना है घर में जो भी चीजें हैं जैसे चाकू है ब्लेड है रखती है दुपट्टा है यह सारी चीजों को थोड़ा सा उस व्यक्ति से दूर रखना उसके कमरे में नहीं रखना है कभी भी उसको बहुत देर के लिए अकेले नहीं छोड़ना है आप ज्यादा आप हमेशा पूछते हो क्या सोच रहे हो क्या सोचा तो व्यक्ति इरिटेट हो जाता है लेकिन यह है कि आप ध्यान भी रखो उसके ऊपर और जरा सा भी परेशान लगे तो उसको प्रेरित करना होता कि आप बात करो आपके मन में जो भी चल रहा है हमसे शेयर करो घरवाले उनसे बात करें ज्यादा से लोग जो दूसरों के ऊपर विश्वास नहीं करते जिनकी कोई दोस्त नहीं होता है या कोई भी ऐसा रिलेशन कम से कम की एक ऐसा संबंध होना चाहिए जिम में क्या कंप्लीट कर सकूं कि अपनी बातें आप उनसे शेयर कर सकूं मैं बिल्कुल कोई नहीं होता मैं सुसाइड के ज्यादा चांस होते हैं लोग कभी अकेला ज्यादा रह रहे हैं तो उनको मोटिवेट करना है कि वह लोगों के बीच में नहीं है बात करें ध्यान देना है साथ में खाना खाएं साथ में बातें करें ऐसे ही दिल्ली की बातें करेगी क्या कर रहे हो क्या नहीं कर रहे हो हमेशा बीमारी के बारे में इस तरह की बातें नहीं करते उसको ऑन पॉलिटिक्स करना है म्यूजिक से रिलेटेड गार्डनिंग या जो भी हॉबीज रही हो पहले उस व्यक्ति ने उनमें या जो करना चाहता था जो नहीं पंजों में उसको इंगेज करने की कोशिश करनी है बेसिकली ए है कि खतरे वाली चीजों से दूर रखना है उससे ज्यादा से अकेला नहीं छोड़ना है और ध्यान रखना है कि वह किसी तरह के नशे में मोरनी रहे और किस तरह का कंटेंट देख रहा अपनी बातें शेयर करने के लिए उसे प्रेरित करना है मोटिवेट करना है और फिर अगर बहुत सीरियल हो रहा है तो डॉक्टर से कंसल्ट करना है तो चुकी अगर होते हैं तो उनको फिर रिप्लाई करना पड़ता पिटल में भर्ती करना पड़ता है घर में अगर लोग नहीं उनको नियंत्रण रख सकते हैं तो जब तक यह मन में जो मरने की इच्छा है वह शांत नहीं हो जाती है तो उसके लिए दवाइयां दी जाती हो नरसिंह के सुपर विजन में हॉस्पिटल में रखना पड़ता है अगर बहुत ज्यादा प्रॉब्लम है तो

meri aapko bahut accha laga le kyonki aajkal ne atmahatya bahut zyada badh rahi hain aur aisa bola jata hai ki suicide karne ke pehle atmahatya karne ke pehle aadmi ek baar call for helicopter hoti hai kya bahut zyada kar kaise ja baje park baba karenge toh dekhenge ki vaah alag alag alag rehne lag gaya toh ekdam shaant rahenge kisi ko kuch pata chalega zyada care karne lagenge logo ka apne marne ke pehle jitni zindagi jeena chahte hain vaah sab enjoyment bahut zyada karenge sab se milenge jo lenge zarurat se zyada karne lage lekin aise chupchap rahenge toh vaah bhi hota hai aur yah waale samajhna thoda khatam matlab mushkil ho jata hai is tarah ke logo ko lekin dusre log depression vala vyavhar kar rahe hain apne aap me reh rahe hain ya nasha kar rahe hain kisi tarah ka aankhen laal rehti hai akele kamre me rehne lag gaye vyavhar badal gaya check chidhane lage baat baat par kisi se baat karna pasand nahi kar rahe hain khana peena kam kar diya hai toh is tarah ke lakshan ya bol rahe hain toh satark ho jana chahiye ki kyon ho raha hai kya vaah nasha kar raha hai isliye aisa kar raha hai ya depression me chala gaya hai vyakti kis tarah ki batein kar raha hai Negative batein kar raha hai jeene me se kuch fayda nahi hai kuch nahi hoga kuch ho hi nahi sakta apne bare me junior ke bare me bhavishya ke bare me sab khaali nakaratmak batein agar vyakti bolne lagta hai toh phir aadmi ko sajag ho jayegi aur kai baar koshish ki zyada uska net net use kar raha hai bahut zyada aur usme phir soch kar rahe hain atmahatya se related cheezen baar baar bolte marjani accha mar jaaye toh accha hai kuch nahi ho sakta kisi tarah bahar nahi nikal sakte is tarike agrawal batein ho rahi hain toh baat karne ke liye wait karna hai waise vyakti ko kabhi bhi akele nahi chhodna hai ghar me jo bhi cheezen hain jaise chaku hai blade hai rakhti hai dupatta hai yah saari chijon ko thoda sa us vyakti se dur rakhna uske kamre me nahi rakhna hai kabhi bhi usko bahut der ke liye akele nahi chhodna hai aap zyada aap hamesha poochhte ho kya soch rahe ho kya socha toh vyakti irritate ho jata hai lekin yah hai ki aap dhyan bhi rakho uske upar aur zara sa bhi pareshan lage toh usko prerit karna hota ki aap baat karo aapke man me jo bhi chal raha hai humse share karo gharwale unse baat kare zyada se log jo dusro ke upar vishwas nahi karte jinki koi dost nahi hota hai ya koi bhi aisa relation kam se kam ki ek aisa sambandh hona chahiye gym me kya complete kar sakun ki apni batein aap unse share kar sakun main bilkul koi nahi hota main suicide ke zyada chance hote hain log kabhi akela zyada reh rahe hain toh unko motivate karna hai ki vaah logo ke beech me nahi hai baat kare dhyan dena hai saath me khana khayen saath me batein kare aise hi delhi ki batein karegi kya kar rahe ho kya nahi kar rahe ho hamesha bimari ke bare me is tarah ki batein nahi karte usko on politics karna hai music se related gardening ya jo bhi Hobbies rahi ho pehle us vyakti ne unmen ya jo karna chahta tha jo nahi panjon me usko engage karne ki koshish karni hai basically a hai ki khatre wali chijon se dur rakhna hai usse zyada se akela nahi chhodna hai aur dhyan rakhna hai ki vaah kisi tarah ke nashe me morni rahe aur kis tarah ka content dekh raha apni batein share karne ke liye use prerit karna hai motivate karna hai aur phir agar bahut serial ho raha hai toh doctor se Consult karna hai toh chuki agar hote hain toh unko phir reply karna padta pital me bharti karna padta hai ghar me agar log nahi unko niyantran rakh sakte hain toh jab tak yah man me jo marne ki iccha hai vaah shaant nahi ho jaati hai toh uske liye davaiyan di jaati ho narsingh ke super vision me hospital me rakhna padta hai agar bahut zyada problem hai toh

मेरी आपको बहुत अच्छा लगा ले क्योंकि आजकल ने आत्महत्या बहुत ज्यादा बढ़ रही हैं और ऐसा बोला

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  140
WhatsApp_icon
user

Dr Diksha Gupta

Homeopathic Doctor

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आपके परिवार में अगर आपके परिवार में कोई आत्महत्या करना चाहता है तो इसमें आपको क्या करना चाहिए आपको उससे बात करनी चाहिए 7 तरीक शांत तरीके से और समझना चाहिए कि उसने यह बात क्यों करी है और उसके पीछे की गहराई को समझो फिर उसका निवारण निकाले

agar aapke parivar mein agar aapke parivar mein koi atmahatya karna chahta hai toh isme aapko kya karna chahiye aapko usse baat karni chahiye 7 tarik shaant tarike se aur samajhna chahiye ki usne yah baat kyon kari hai aur uske peeche ki gehrai ko samjho phir uska nivaran nikale

अगर आपके परिवार में अगर आपके परिवार में कोई आत्महत्या करना चाहता है तो इसमें आपको क्या करन

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  131
WhatsApp_icon
user

Dr. Anju Sharma

Founder Of Aura Accupunture And Wellness Clinic

2:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई भी व्यक्ति आत्महत्या की बात तक करता है जब वह मेंटली डिप्रेशन में हो आजकल की आपाधापी की जिंदगी में मानसिक रोगों को खासकर मानसिक अवसाद बहुत ज्यादा बढ़ता जा रहा है बहुत सारी सुनते हैं इसके पहले को यह मालूम करना होगा इसका रीजन क्या है कई बार कंपटीशन में बैठते हैं आईएस पीसीएस की कंपटीशन में बैठे और पास नहीं हुए तो उसमें आवाज आती है वह शूटिंग नहीं कर पाते कोई जॉब कई बार गर्ल्स में ऐसा होता है कि उनमें पीएम की प्रॉब्लम होती है उसकी वजह से डिप्रेशन आ जाता है कि वोल्टेज में डिप्रेशन आ जाता है विक्रेता जाती है बॉडी साथ नहीं देती है केवल लेडीस में मनोज की कंडीशन में डिप्रेशन आ जाता है छोटे बच्चों में केवल बहुत ज्यादा डांटने मारने की वजह से भी डिप्रेशन हो जाता है कई बार लोगों में आपस में सामान्य से नहीं बैठ पाता है तब भी डिप्रेशन हो जाता है बहुत सारे डिप्रेशन के पहले तू सूट कॉस्को हमें ढूंढना पड़ेगा डिप्रेशन के लिए है आत्महत्या के बाद कोई भी व्यक्ति तभी करता है जब उसे डिप्रेशन होता है ऑपरेशन भी कई तरह के होते हैं जैसे कि एसिडिटी डिप्रेशन म्यूजिक डिप्रेशन रिएक्टिव डिप्रेशन बोलिंग कॉलेज डिप्रेशन आत्महत्या का जो आता है कैटेगरी वह मेनिक डिप्रेशन तुम्हारी डिप्रेशन होता है तो वह कई बार होता है कि आयुर्वेद मे माना गया है कि जब के बाद चंद्रमा फुल मून होता है उस टाइम पर मेनिक डिप्रेशन बहुत ज्यादा होता है लोगों को ऐसी आत्महत्या की बातें ज्यादा करते हैं ऐसे टाइम पर यूपी में मानसिक अवसाद का बहुत अच्छा ट्रीटमेंट विदाउट मेडिसिन और रूट कॉस इसका ट्रीटमेंट होता है पहले कॉल को ढूंढा जाता है इसका कॉल किया है और रूट आउट किया जाता है उसको और जोगी ठीक हो जाता है

koi bhi vyakti atmahatya ki baat tak karta hai jab vaah mentally depression mein ho aajkal ki apadhapi ki zindagi mein mansik rogo ko khaskar mansik avsad bahut zyada badhta ja raha hai bahut saree sunte hain iske pehle ko yah maloom karna hoga iska reason kya hai kai baar competition mein baithate hain ias pcs ki competition mein baithe aur paas nahi hue toh usme awaaz aati hai vaah shooting nahi kar paate koi job kai baar girls mein aisa hota hai ki unmen pm ki problem hoti hai uski wajah se depression aa jata hai ki voltage mein depression aa jata hai vikreta jaati hai body saath nahi deti hai keval ladies mein manoj ki condition mein depression aa jata hai chote baccho mein keval bahut zyada dantane maarne ki wajah se bhi depression ho jata hai kai baar logo mein aapas mein samanya se nahi baith pata hai tab bhi depression ho jata hai bahut saare depression ke pehle tu suit cosco hamein dhundhana padega depression ke liye hai atmahatya ke baad koi bhi vyakti tabhi karta hai jab use depression hota hai operation bhi kai tarah ke hote hain jaise ki acidity depression music depression riektiv depression bowling college depression atmahatya ka jo aata hai category vaah menik depression tumhari depression hota hai toh vaah kai baar hota hai ki ayurveda mein mana gaya hai ki jab ke baad chandrama full moon hota hai us time par menik depression bahut zyada hota hai logo ko aisi atmahatya ki batein zyada karte hain aise time par up mein mansik avsad ka bahut accha treatment without medicine aur root cos iska treatment hota hai pehle call ko dhundha jata hai iska call kiya hai aur root out kiya jata hai usko aur jogi theek ho jata hai

कोई भी व्यक्ति आत्महत्या की बात तक करता है जब वह मेंटली डिप्रेशन में हो आजकल की आपाधापी की

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  136
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

का प्रश्न है अगर मेरे परिवार में कोई आत्महत्या करने की बात करता है तो इस बारे में मुझे क्या करना चाहिए आपको उनको समझाना चाहिए फिर क्यों करनी है आत्महत्या ठीक है और उस प्रॉब्लम का सलूशन मिलता है तो कर लीजिए ताकि वह आत्महत्या करने पर मजबूर ना हो ठीक है अगर उसने आत्महत्या कर ली और एक चिट्ठी पर्ची में उसके नाम लिख दिए तो दूसरे लोग भी जेल जा सकते ठीक है और उन पर भी कार्यवाही उनका प्रॉब्लम का सलूशन ला दीजिए

ka prashna hai agar mere parivar mein koi atmahatya karne ki baat karta hai toh is bare mein mujhe kya karna chahiye aapko unko samajhana chahiye phir kyon karni hai atmahatya theek hai aur us problem ka salution milta hai toh kar lijiye taki vaah atmahatya karne par majboor na ho theek hai agar usne atmahatya kar li aur ek chitthi parchi mein uske naam likh diye toh dusre log bhi jail ja sakte theek hai aur un par bhi karyavahi unka problem ka salution la dijiye

का प्रश्न है अगर मेरे परिवार में कोई आत्महत्या करने की बात करता है तो इस बारे में मुझे क्य

Romanized Version
Likes  216  Dislikes    views  7091
WhatsApp_icon
user

Sandhya Kumari

Psychologist/MSW

1:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर परिवार में कोई भी इस तरीके की बात करने की कोशिश इस बात पर आत्महत्या की बात करता है तो सबसे पहले हमें उसके बारे में जानना होगा कि उसकी एक्टिविटी क्या है वह क्या कर रहा है जिससे वह किसी से बात नहीं करना चाहता अकेली रहना चाहता है और उन पर ध्यान देना होगा कि क्या प्रॉब्लम होती है उसकी बातों को जानना होगा कि कोई कुछ और इसमें प्रॉब्लम तो नहीं हो रही है तो उसके बाद चलेंगे किसी से मिलने इंटरेक्शन नहीं करेगा तो

agar parivar mein koi bhi is tarike ki baat karne ki koshish is baat par atmahatya ki baat karta hai toh sabse pehle humein uske bare mein janana hoga ki uski activity kya hai wah kya kar raha hai jisse wah kisi se baat nahi karna chahta akeli rehna chahta hai aur un par dhyan dena hoga ki kya problem hoti hai uski baaton ko janana hoga ki koi kuch aur ismein problem toh nahi ho rahi hai toh uske baad chalenge kisi se milne interaction nahi karega toh

अगर परिवार में कोई भी इस तरीके की बात करने की कोशिश इस बात पर आत्महत्या की बात करता है तो

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  503
WhatsApp_icon
user

Dr. Aman Kumar Giri

Dentist, Motivator

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो आपका सर वाले अगर मेरे परिवार में कोई आत्महत्या करने की बात करता है तो इस बारे में मुझे क्या करना चाहिए सबसे पहले तो उसको अपने कॉन्फिडेंस ले लेना है कि अब पता करना कि वह अपना क्या बजा है उसकी हत्या की क्या वजह है जिसके कारण जिसके कारण वह मजबूर हो रहा है तू आत्महत्या कर ले और उसे समझाएं अपने फैमिली बैठ के उसको समझाया कि नहीं जो आप तुम्हारा प्रॉब्लम है वह हमारा भी प्रॉब्लम है जो तुम्हारे समस्या है वह हमारा भी समस्या है उसको साथ मिलकर खत्म करेंगे और हमेशा जो प्रॉब्लम खत्म करने की कोशिश कुछ नया करने के लिए भेजते उसको जस्टिन में टेस्ट करने के लिए उसको पता है उसको सेट करें ताकि वह उस नेगेटिव विचारधारा उस नकारात्मक सोच अलग हो उस जो भी उसका नकारात्मक सोच हो जिसके कारण हत्या करना चाह रहा हो तो उसको दूर रखें बहुत दूर ले जा

hello aapka sir waale agar mere parivar mein koi atmahatya karne ki baat karta hai toh is bare mein mujhe kya karna chahiye sabse pehle toh usko apne confidence le lena hai ki ab pata karna ki vaah apna kya baja hai uski hatya ki kya wajah hai jiske karan jiske karan vaah majboor ho raha hai tu atmahatya kar le aur use samjhayen apne family baith ke usko samjhaya ki nahi jo aap tumhara problem hai vaah hamara bhi problem hai jo tumhare samasya hai vaah hamara bhi samasya hai usko saath milkar khatam karenge aur hamesha jo problem khatam karne ki koshish kuch naya karne ke liye bhejate usko justin mein test karne ke liye usko pata hai usko set kare taki vaah us Negative vichardhara us nakaratmak soch alag ho us jo bhi uska nakaratmak soch ho jiske karan hatya karna chah raha ho toh usko dur rakhen bahut dur le ja

हेलो आपका सर वाले अगर मेरे परिवार में कोई आत्महत्या करने की बात करता है तो इस बारे में मुझ

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  155
WhatsApp_icon
play
user

Naina Gupta

Rehabilitation Psychologist

0:40

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

की बात करता नहीं है क्या पूरा इमोशनल सपोर्ट दीजिए उसको यह बताइए कि हां यह कि वह जो फास्ट हो पाते हो चुका है आगे को फिर से रखना देखें कि हां एक बार एक बार और ट्राई करके देखें कि हम हां सक्सेस मिल सकती है मिलेगी जरूर मिलेगी तो अच्छा लगता है देखा जाए

ki baat karta nahi hai kya pura emotional support dijiye usko yeh bataiye ki haan yeh ki wah jo fast ho paate ho chuka hai aage ko phir se rakhna dekhen ki haan ek baar ek baar aur try karke dekhen ki hum haan success mil sakti hai milegi zaroor milegi toh accha lagta hai dekha jaye

की बात करता नहीं है क्या पूरा इमोशनल सपोर्ट दीजिए उसको यह बताइए कि हां यह कि वह जो फास्ट ह

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  568
WhatsApp_icon
user

Mr. Ravi Shankar Raina

Clinical Psychologist

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई अगर हमारे सामने सुसाइड की बात कर रहा है तो सबसे पहले हम को सपोर्ट किया है देने की जरूरत है प्लीज सपोर्ट क्योंकि उस वक्त दिमाग में जो चलते हो एकदम हेलो नीलेश को एकदम अपने को अकेला फील करता है अपने आप को तुम इतनी नेगेटिव जाती हैं मेरा कोई नहीं है मेरा दुनिया में कोई नहीं मेरा फैमिली मेंबर सपोर्ट नहीं कर रही है मेरे फ्रेंड कोचिंग करके सोसाइटी कोई सपोर्ट नहीं कर रही है तो फ्रेंड की तरह एक बार फ्रेंड की तरह करके बात करनी चाहिए

koi agar hamare saamne suicide ki baat kar raha hai toh sabse pehle hum ko support kiya hai dene ki zarurat hai please support kyonki us waqt dimag mein jo chalte ho ekdam hello nilesh ko ekdam apne ko akela feel karta hai apne aap ko tum itni Negative jaati hain mera koi nahi hai mera duniya mein koi nahi mera family member support nahi kar rahi hai mere friend coaching karke society koi support nahi kar rahi hai toh friend ki tarah ek baar friend ki tarah karke baat karni chahiye

कोई अगर हमारे सामने सुसाइड की बात कर रहा है तो सबसे पहले हम को सपोर्ट किया है देने की जरूर

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  547
WhatsApp_icon
user

Anuja Kulkarni

Co-Fouder, Jidnyasa Assessment & Counselling

2:03
Play

Likes  16  Dislikes    views  222
WhatsApp_icon
user

DR SURI

Rehabilitation Psychologist

0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले उसका की ट्यूशन करना पड़ेगा जो बिल्कुल पॉइंट्स है रिजर्वेशन सेंटर किसी के पास लग जाए

sabse pehle uska ki tuition karna padega jo bilkul points hai reservation center kisi ke paas lag jaye

सबसे पहले उसका की ट्यूशन करना पड़ेगा जो बिल्कुल पॉइंट्स है रिजर्वेशन सेंटर किसी के पास लग

Romanized Version
Likes  82  Dislikes    views  1042
WhatsApp_icon
user

Dr. Sanjeev Tripathi

Clinical Psychologist

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आ तो सही बात करता है तो उसका मतलब यह है कि वह डिप्रेशन में हो सकता है उसको अकेला नहीं छोड़ना सबसे पहले तो उससे बातचीत करना है जानना है कि क्या कारण है

aa toh sahi baat karta hai toh uska matlab yeh hai ki wah depression mein ho sakta hai usko akela nahi chhodna sabse pehle toh usse batchit karna hai janana hai ki kya kaaran hai

आ तो सही बात करता है तो उसका मतलब यह है कि वह डिप्रेशन में हो सकता है उसको अकेला नहीं छोड़

Romanized Version
Likes  39  Dislikes    views  512
WhatsApp_icon
user

Minnie Chopra

Rehabilitation Psychologist

2:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी ने प्लान बनाया हुआ है और अगर वह आपसे कई बार ऐसा होता भी है कि वह 9:00 मस्त चिट्टियां लिखते हैं कि हम सुसाइड करने जा रहे हैं सिंगल लास्ट थिंग जो आप सबसे आखिर में चीज होने की बात मत करो आई नहीं करता बेसिकली आपको उस पर्सन को इंग्लिश करना है और यह नहीं बताना कि वह जो कर रहा है वह गलत कर रहा है तो खुद की सोच वैसे ही है जो पशु जो इंसान करने जा रहे हो कि यही सोचा कि दुनिया को नहीं समझती कोई नहीं समझता अगर आप गलत कर रहे हो कि कहीं काम नहीं है तू तो बिल्कुल भी सही नहीं होगा उस इंसान के लिए तू तो उनको बहुत ही स्मार्ट करना चाहिए मीडिया ध्यान हटाने के लिए कुछ मोमेंट में अगर वह सुसाइड करने जा रहे हैं या मॉर्निंग भेजी है एंड एक एक दूसरे की एमपी दिखानी है और शायद इतनी टाइम तक आपने आप को कोई समझ नहीं पाया इसी वजह से आप फिर से प्ले रही हैं आप शायद अब एक मौका हम आपको दे रहे हैं कि आप अपनी बात आधी रखिए खुल कर बात करिए फिर देखेंगे की हम आगे कैसे बढ़ सकते हैं थैंक यू टो वकआउट बटर कि हमारे लिए बहुत आसान हो जाता है ना उस टाइम पर गलत हो रहा है गलत है लेकिन उस इंसान जो करना चाह रहा है इतने सालों से इनमें और अगर उनको बोलेंगे तुम गलत कर रहे हो और वह शायद फिर इतना इतना कुड बी मौका वीडियो भूत इंसान को एक डायलॉग रखने का क्या रेट में पहुंचे हुए हैं तो उसकी उसके बारे में वह बात करें

kisi ne plan banaya hua hai aur agar wah aapse kai baar aisa hota bhi hai ki wah 9:00 mast chittiyan likhte hain ki hum suicide karne ja rahe hain singles last thing jo aap sabse aakhir mein cheez hone ki baat mat karo I nahi karta basically aapko us person ko english karna hai aur yeh nahi batana ki wah jo kar raha hai wah galat kar raha hai toh khud ki soch waise hi hai jo pashu jo insaan karne ja rahe ho ki yahi socha ki duniya ko nahi samajhti koi nahi samajhata agar aap galat kar rahe ho ki kahin kaam nahi hai tu toh bilkul bhi sahi nahi hoga us insaan ke liye tu toh unko bahut hi smart karna chahiye media dhyan hatane ke liye kuch moment mein agar wah suicide karne ja rahe hain ya morning bheji hai end ek ek dusre ki mp dikhaani hai aur shayad itni time tak aapne aap ko koi samajh nahi paya isi wajah se aap phir se play rahi hain aap shayad ab ek mauka hum aapko de rahe hain ki aap apni baat aadhi rakhiye khul kar baat kariye phir dekhenge ki hum aage kaise badh sakte hain thank you to vakaaut butter ki hamare liye bahut aasaan ho jata hai na us time par galat ho raha hai galat hai lekin us insaan jo karna chah raha hai itne salon se inmein aur agar unko bolenge tum galat kar rahe ho aur wah shayad phir itna itna could b mauka video bhoot insaan ko ek dialogue rakhne ka kya rate mein pahuche hue hain toh uski uske bare mein wah baat karein

किसी ने प्लान बनाया हुआ है और अगर वह आपसे कई बार ऐसा होता भी है कि वह 9:00 मस्त चिट्टियां

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  426
WhatsApp_icon
user

Ms. Kamna Yadav

Clinical Psychologist

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आपके घर में कोई भी आत्महत्या करने की बात करता है तो सबसे पहले आपको उस इंसान से बात करने की कोशिश करनी चाहिए एंड उसको कौन सुनील लेकर उसको किसी डॉक्टर के पास लेकर जाना चाहिए फैमिली मेंबर से जो अदरक अगर आपके हाथ में डिसीजन नहीं ले सकते आप तो आपके घर में जो बड़े हैं उनके साथ डिस्कस करके उनको कौन उनको किसी मेंटल हेल्थ प्रोफेशनल के पास लेकर जाना चाहिए उसके बाद वह करेंगे कि अगर आपकी जो एक और आ रहे हैं वह किस वजह से नहीं करेंगे अगर उसके साथ कुछ एकाउंटिंग

agar aapke ghar mein koi bhi atmahatya karne ki baat karta hai toh sabse pehle aapko us insaan se baat karne ki koshish karni chahiye and usko kaun sunil lekar usko kisi doctor ke paas lekar jana chahiye family member se jo adrak agar aapke hath mein decision nahi le sakte aap toh aapke ghar mein jo bade hain unke saath discs karke unko kaun unko kisi mental health professional ke paas lekar jana chahiye uske baad vaah karenge ki agar aapki jo ek aur aa rahe hain vaah kis wajah se nahi karenge agar uske saath kuch accounting

अगर आपके घर में कोई भी आत्महत्या करने की बात करता है तो सबसे पहले आपको उस इंसान से बात करन

Romanized Version
Likes  44  Dislikes    views  565
WhatsApp_icon
user

Pushpendra Sharma

Clinical Psychologist

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहला सबसे पहला पट्टे के बाद हमें क्या करना है कि उसको सिर्फ हमको आने की कोई बच्चा है सोशल एंजाइटी उपयोगी सोशल जस्टिस प्रश्न उत्तर

sabse pehla sabse pehla patte ke baad hamein kya karna hai ki usko sirf hamko aane ki koi baccha hai social anxiety upyogi social justice prashna uttar

सबसे पहला सबसे पहला पट्टे के बाद हमें क्या करना है कि उसको सिर्फ हमको आने की कोई बच्चा है

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  645
WhatsApp_icon
user

Pratishtha Trivedi

Clinical Psychologist

1:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आपकी फैमिली में या किसी के भी फैमिली में कोई आत्महत्या करने की बात करता है तो उसको सीरियसली लेना चाहिए अगर वह बात किसी मोशन में आकर भी कही जा रही है कि मुझ से नाराजगी है या कोई चीज लाइफ में कोई परेशान है और इंसान इतनी प्रोफेशनल हेल्प की जरूरत है उसको आप डरा धमकाकर डांट के या समझाते या ब्राइट करके उस चीज को अपग्रेड करने की कोशिश ना करें उससे बेहतर है क्या प्रोफेशनल हेल्प ले साइकॉलजिस्ट काउंसलिंग क्योंकि यह जरूरी नहीं है कि मुझे बहुत दुख है और वह अपनी जिंदगी खत्म करना चाहता है हाय होता है और यह अगर एक प्रोफेशनल उनको देखेंगे तो वह जज कर पाएंगे कि उसके आगे क्या करते हैं कि क्या उनको डिप्रेशन है यह सिचुएशन की वजह से हुआ था उसमें कितना रेट है यह आप भले ही उनका भला चाहते हैं लेकिन फिर भी यह जो आत्महत्या करने की बात ना करें ना कि मैं इतनी धमकी है उसको हमेशा ही देती है

agar aapki family mein ya kisi ke bhi family mein koi atmahatya karne ki baat karta hai toh usko seriously lena chahiye agar vaah baat kisi motion mein aakar bhi kahi ja rahi hai ki mujhse se narajgi hai ya koi cheez life mein koi pareshan hai aur insaan itni professional help ki zarurat hai usko aap dara dhamakakar dant ke ya smajhate ya bright karke us cheez ko upgrade karne ki koshish na kare usse behtar hai kya professional help le psychologist kaunsaling kyonki yah zaroori nahi hai ki mujhe bahut dukh hai aur vaah apni zindagi khatam karna chahta hai hi hota hai aur yah agar ek professional unko dekhenge toh vaah judge kar payenge ki uske aage kya karte hain ki kya unko depression hai yah situation ki wajah se hua tha usme kitna rate hai yah aap bhale hi unka bhala chahte hain lekin phir bhi yah jo atmahatya karne ki baat na kare na ki main itni dhamki hai usko hamesha hi deti hai

अगर आपकी फैमिली में या किसी के भी फैमिली में कोई आत्महत्या करने की बात करता है तो उसको सीर

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  574
WhatsApp_icon
user

Ayushi Madaan

Clinical Psychologist

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले तो अगर आपको लगता है कि मैं अगर कोई ऐसा है तो उनको बैठकर उनसे उनसे बात करनी चाहिए कि क्या समस्याएं आ रही हैं जिसकी वजह से वह ऐसा कुछ सोच रहे हैं करने और अपने साथ-साथ अपने बाकी सामने मेंबर को भी इस बारे में आगाह करना चाहिए कि इस पर्सन के अंदर सुसाइडल आईडिएशन पा रहे हैं क्योंकि हम कई बार हर हर समय के साथ मौजूद होते तो और लोगों को पता होना जरूरी है कि इस क्वेश्चन का एग्जाम सुपरविजन करना बहुत जरूरी है उसके आसपास रहना जरूरी है ताकि वह किसी भी कारण इमोशनली अगर अनस्टेबल है तो वह कोई ऐसा गलत कदम नहीं उठाते और उसके साथ बात जो करते ना सोचना है करने का उसके साथ बैठ कर बात करना बहुत जरूरी है ताकि मुझे पता लग सके कि आखिर क्या कारण है जिसकी वजह से वह यह करने पर मजबूर हो रहा है

sabse pehle toh agar aapko lagta hai ki main agar koi aisa hai toh unko baithkar unse unse baat karni chahiye ki kya samasyaen aa rahi hain jiski wajah se vaah aisa kuch soch rahe hain karne aur apne saath saath apne baki saamne member ko bhi is bare mein agah karna chahiye ki is person ke andar susaidal aidieshan paa rahe hain kyonki hum kai baar har har samay ke saath maujud hote toh aur logo ko pata hona zaroori hai ki is question ka exam suparavijan karna bahut zaroori hai uske aaspass rehna zaroori hai taki vaah kisi bhi karan emotionally agar unstable hai toh vaah koi aisa galat kadam nahi uthate aur uske saath baat jo karte na sochna hai karne ka uske saath baith kar baat karna bahut zaroori hai taki mujhe pata lag sake ki aakhir kya karan hai jiski wajah se vaah yah karne par majboor ho raha hai

सबसे पहले तो अगर आपको लगता है कि मैं अगर कोई ऐसा है तो उनको बैठकर उनसे उनसे बात करनी चाहिए

Romanized Version
Likes  35  Dislikes    views  518
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  168  Dislikes    views  2557
WhatsApp_icon
user

Kankan Sarmah

Psychologist

2:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर मैंने परिवार में कोई आत्महत्या करने की बात करता है तो इस बारे में मुझे क्या करना चाहिए दोस्तों पहले तो आप उनको समझाना चाहिए कि आत्महत्या करना कोई अच्छी बात वह करते हैं जो बिल्कुल आते दिल से कमजोर है दिमाग से कमजोर है साहस नहीं है बिल्कुल एक्स विक पर्सन ठीक है तो आप उनको दुर्बल से सॉन्ग बनाइए मजबूत बनाएं उनकी स्थिति उनकी मानसिकता दुर्बल है विच सॉन्ग बनाइए कुछ दिन के लिए आप उनको छुड़ाने की कोशिश कीजिए कोई ना कोई एक आदमी हमेशा रहना जरूरी है जब तक उनकी स्थिति सही नहीं हो जाता है और उनके दिलो-दिमाग इन बातों को ध्यान देना जरूरी है सही टाइम पर खाना पीना सोना जरूरी होता है एक्सरसाइज करना जरूरी होता है और जितना हो सके एक पॉजिटिव वाइब्रेशन उनके चारों और मेंटेन करना जरूरी होता है ठीक है क्योंकि वह उनके तो दिमाग में यह नहीं है कि मैं क्यों जी रहा है मेरे पास कुछ भी नहीं है सब कुछ खत्म हो गया है लेकिन वह चुपचाप है वह आप लोगों को ही फुल फील करना होता है यानी दोपहर वाले होते हैं दोस्त होते हैं या जो मतलब क्या टेकर होता है ठीक है सब कुछ देखना जरूरी होता है क्योंकि वह भी किसी के ऊपर डिपेंडेंट है और कुछ और भी लोग हैं जो इनके ऊपर डिपेंडेंट है हालांकि वह से ट्यूशन पर हम उन चीजों को देखते नहीं है लेकिन जलेली अगर वह फैमिली मेंबर है तो फैमिली के बाकी मेंबर भी उनके ऊपर डिपेंडेंट होते हैं तुम को समझाइए खुश हो जाए और उनको जितना हो सके मोटिवेट कीजिए धन्यवाद

agar maine parivar mein koi atmahatya karne ki baat karta hai toh is bare mein mujhe kya karna chahiye doston pehle toh aap unko samajhana chahiye ki atmahatya karna koi achi baat vaah karte hain jo bilkul aate dil se kamjor hai dimag se kamjor hai saahas nahi hai bilkul x weak person theek hai toh aap unko durbal se song banaiye majboot banaye unki sthiti unki mansikta durbal hai which song banaiye kuch din ke liye aap unko chudane ki koshish kijiye koi na koi ek aadmi hamesha rehna zaroori hai jab tak unki sthiti sahi nahi ho jata hai aur unke dilo dimag in baaton ko dhyan dena zaroori hai sahi time par khana peena sona zaroori hota hai exercise karna zaroori hota hai aur jitna ho sake ek positive vibration unke charo aur maintain karna zaroori hota hai theek hai kyonki vaah unke toh dimag mein yah nahi hai ki main kyon ji raha hai mere paas kuch bhi nahi hai sab kuch khatam ho gaya hai lekin vaah chupchap hai vaah aap logo ko hi full feel karna hota hai yani dopahar waale hote hain dost hote hain ya jo matlab kya taker hota hai theek hai sab kuch dekhna zaroori hota hai kyonki vaah bhi kisi ke upar dependent hai aur kuch aur bhi log hain jo inke upar dependent hai halaki vaah se tuition par hum un chijon ko dekhte nahi hai lekin jaleli agar vaah family member hai toh family ke baki member bhi unke upar dependent hote hain tum ko samjhaiye khush ho jaaye aur unko jitna ho sake motivate kijiye dhanyavad

अगर मैंने परिवार में कोई आत्महत्या करने की बात करता है तो इस बारे में मुझे क्या करना चाहिए

Romanized Version
Likes  390  Dislikes    views  4985
WhatsApp_icon
user

Dinesh Mishra

Theosophists | Accountant

8:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर मेरे परिवार में कोई आत्महत्या करने की बात करता है तो इस बारे में मुझे क्या करना चाहिए देखिए यह एक पारिवारिक गंभीर मसला है अगर इस तरह की बात है परिवार का कोई सदस्य आत्महत्या करने की बात करता है या या फिर वह धमकी देता है तो आप इसकी मूल समस्या में जाइए और यह कारण ज्ञात करने का की कोशिश करें कि वह है इस प्रकार की बात क्यों किया करता है जो आत्महत्या की बात है या तो वह व्यक्ति अपनी किसी बात को बनवाना चाहता है या फिर उसको कोई परेशानी है कच्चा और यह भी संभव है कि अथवा हो जिसके कारण से उसकी आवश्यकताओं की पूर्ति नहीं हो पा रही है कोई भी कारण हो सकता है और यह भी संभव है कि लोग आत्महत्या की धमकी अभी दिया करते हैं तो यहां पर आप यह जानने का प्रयास करें कि यह व्यक्ति आत्महत्या करने की बात क्यों किया करता है क्यों करता है इसकी आप कारणों की पेमेंट आ जाएं और संभवतः वह सके तो उन कारणों का निदान करने का कष्ट करें और यदि उन कारणों को आप किन्हीं कारणों इन्हीं कारणों बस निदान करने में सक्षम नहीं है क्या निदान नहीं कर पाते हैं तो जो आत्महत्या करने की बात कहता है ऐसे व्यक्ति को आप थोड़ा समझाने का प्रयास करें संभवत वह शायद आपकी बात को मान जाए अन्यथा कोई भी स्थिति आपके परिवार में गंभीर घटित हो सकती है और कोई भी अप्रिय घटना भी घटित हो सकती है कभी-कभी लोग प्रदर्शन के लिए भी इस प्रकार का कार्य कर लिया करते हैं जैसे मिट्टी के मिट्टी का तेल शरीर पर डाल कर के और वह आत्महत्या करना नहीं चाहते हैं लेकिन अपनी बात को मनवाने के लिए या मात्र प्रदर्शन करने के लिए वह इस प्रकार से कार्य करते हैं माचिस की तीली को जला लिया करते हैं लेकिन वह यह नहीं जानते हैं कि मात्र कुछ क्षणों में ही उस व्यक्ति का यह कार्य कर रहा है कांकेर हो जाया करता इसलिए इस बात को भी ध्यान में रखा जाए और जहां चौका दी है गैस सिलेंडर है तुझे देखा यह उस व्यक्ति पर लगा रखी जानी चाहिए कि खाना बनाते समय जो आपका खाना बनाने वाला जो रूम है इसको किया फोन रसोई भी कहते हैं उसके किवाड़ आदि भी बंदना हुआ कर उसे कॉल करके रखें और कभी-कभी धमकी के रूप स्वरूप में लोग अपने जवानों को बंद कर दिया कर कर दिया करते हैं ऐसी कई स्थितियां प्रभार के अंदर निर्मित हो जाया करती हैं यद्यपि आत्महत्या एक क्षणिक आवेश है संभवत व्यक्ति उसको सोच समझकर के करता हो अथवा क्षणिक आवेश में करता हूं वह समय यदि उस व्यक्ति का डाल दिया जाए तो व्यक्ति आत्महत्या नहीं कर पाता है और वह जो क्षण है यदि उसको इन्हीं कारणों से नहीं चल सके अथवा घर परिवार में कोई कोई सदस्य ना हो मात्र वही व्यक्तियों को आत्महत्या के लिए करने के लिए बात किया करते हैं करता है तो कोई भी अप्रिय घटना घटित होने के लिए ज्यादा उस व्यक्ति को अवसर मिला करते हैं यह सारी प्रभु है इस पृष्ठभूमि पर आप नजर रखें और देखें यह इस प्रकार की अप्रिय घटना घटित ना हो इस बारे में उस व्यक्ति को जो यह है आत्महत्या के लिए करने की बात करता है उस पर निगाह रखें उसको समझाएं और यदि आपके सामर्थ में हो तो उसकी आवश्यकता की पूर्ति करना भी सुनिश्चित करें ताकि इस प्रकार की कोई अप्रिय घटना आपके परिवार में घटित ना हो सके जिससे कि उस व्यक्ति जो अपनी लीला को समाप्त कर लेता है वह तो चला जाता है और यदि नहीं भी जाता है तो नाना प्रकार की दिक्कतों का उस व्यक्ति को सामना करना पड़ता है परिवार भी नष्ट हो जाया करते हैं या परिवार को बहुत बड़ी चोट लगा करती है इस प्रकार से शरीर शारीरिक खाली मारवाड़ी खानी आर्थिक हानि और धार्मिक कहानी सारी हानियां ही हानियां है चित्र में इसलिए इस संबंध में आप गंभीरता को समझें और इस गंभीरता को समझें करके कोई निर्णय लेना सुनिश्चित करें और संभव है ऐसे व्यक्ति के पर निगाह रखें और यदि आप निगाह नहीं रख पाते हैं तो घर के प्रत्येक मेंबरों को इस बात की आगाह करते वह सभी लोग उस व्यक्ति पर जो आत्महत्या करने की बात करता है उस पर निगाह रखें और ऐसा कोई कार्य न होने दें जो आत्महत्या के लिए वह व्यक्ति और अपने आपको प्रेषित महसूस करें यह एक पारिवारिक समस्या है एक सामाजिक समस्या है और इसमें सिवाय नुकसान के और कुछ व्यक्ति को हासिल नहीं हुआ करता है घर परिवार की मर्यादा भी जाती है धन भी जाता है और परिवार टूटने के कगार पर आ जाया करता है यह दोनों स्थितियां निर्मित हो सकती है क्या तो व्यक्ति अचानक इसको इससे इस बात को अंजाम देने अथवा सोची-समझी हुई रणनीति के तहत वह आत्महत्या करने का प्रयास किया करता है इसमें कोई भी पर शादी आपके लिए निर्मित हो सकती है इन्हीं सभी बातों का ध्यान में रखते हुए आप पालन करें और इस अप्रिय जो भविष्य में होने वाली अप्रिय घटना है इसको पूर्व में सचेत होकर कि उसको बचाने का प्रयास करें जिससे कि व्यक्ति इस प्रकार के कृत्य न कर सके धन्यवाद

agar mere parivar mein koi atmahatya karne ki baat karta hai toh is bare mein mujhe kya karna chahiye dekhiye yah ek parivarik gambhir masala hai agar is tarah ki baat hai parivar ka koi sadasya atmahatya karne ki baat karta hai ya ya phir vaah dhamki deta hai toh aap iski mul samasya mein jaiye aur yah karan gyaat karne ka ki koshish kare ki vaah hai is prakar ki baat kyon kiya karta hai jo atmahatya ki baat hai ya toh vaah vyakti apni kisi baat ko banwana chahta hai ya phir usko koi pareshani hai kaccha aur yah bhi sambhav hai ki athva ho jiske karan se uski avashayaktaon ki purti nahi ho paa rahi hai koi bhi karan ho sakta hai aur yah bhi sambhav hai ki log atmahatya ki dhamki abhi diya karte hain toh yahan par aap yah jaanne ka prayas kare ki yah vyakti atmahatya karne ki baat kyon kiya karta hai kyon karta hai iski aap karanon ki payment aa jayen aur sanbhavatah vaah sake toh un karanon ka nidan karne ka kasht kare aur yadi un karanon ko aap kinhi karanon inhin karanon bus nidan karne mein saksham nahi hai kya nidan nahi kar paate hain toh jo atmahatya karne ki baat kahata hai aise vyakti ko aap thoda samjhane ka prayas kare sambhavat vaah shayad aapki baat ko maan jaaye anyatha koi bhi sthiti aapke parivar mein gambhir ghatit ho sakti hai aur koi bhi apriya ghatna bhi ghatit ho sakti hai kabhi kabhi log pradarshan ke liye bhi is prakar ka karya kar liya karte hain jaise mitti ke mitti ka tel sharir par daal kar ke aur vaah atmahatya karna nahi chahte hain lekin apni baat ko manvane ke liye ya matra pradarshan karne ke liye vaah is prakar se karya karte hain machis ki tili ko jala liya karte hain lekin vaah yah nahi jante hain ki matra kuch kshanon mein hi us vyakti ka yah karya kar raha hai kanker ho jaya karta isliye is baat ko bhi dhyan mein rakha jaaye aur jaha chowka di hai gas cylinder hai tujhe dekha yah us vyakti par laga rakhi jani chahiye ki khana banate samay jo aapka khana banane vala jo room hai isko kiya phone rasoi bhi kehte hain uske kivad aadi bhi bandana hua kar use call karke rakhen aur kabhi kabhi dhamki ke roop swaroop mein log apne jawano ko band kar diya kar kar diya karte hain aisi kai sthitiyan parbhar ke andar nirmit ho jaya karti hain yadyapi atmahatya ek kshanik aavesh hai sambhavat vyakti usko soch samajhkar ke karta ho athva kshanik aavesh mein karta hoon vaah samay yadi us vyakti ka daal diya jaaye toh vyakti atmahatya nahi kar pata hai aur vaah jo kshan hai yadi usko inhin karanon se nahi chal sake athva ghar parivar mein koi koi sadasya na ho matra wahi vyaktiyon ko atmahatya ke liye karne ke liye baat kiya karte hain karta hai toh koi bhi apriya ghatna ghatit hone ke liye zyada us vyakti ko avsar mila karte hain yah saree prabhu hai is prishthbhumi par aap nazar rakhen aur dekhen yah is prakar ki apriya ghatna ghatit na ho is bare mein us vyakti ko jo yah hai atmahatya ke liye karne ki baat karta hai us par nigah rakhen usko samjhayen aur yadi aapke samarth mein ho toh uski avashyakta ki purti karna bhi sunishchit kare taki is prakar ki koi apriya ghatna aapke parivar mein ghatit na ho sake jisse ki us vyakti jo apni leela ko samapt kar leta hai vaah toh chala jata hai aur yadi nahi bhi jata hai toh nana prakar ki dikkaton ka us vyakti ko samana karna padta hai parivar bhi nasht ho jaya karte hain ya parivar ko bahut badi chot laga karti hai is prakar se sharir sharirik khaali marwadi khaani aarthik hani aur dharmik kahani saree haniyan hi haniyan hai chitra mein isliye is sambandh mein aap gambhirta ko samajhe aur is gambhirta ko samajhe karke koi nirnay lena sunishchit kare aur sambhav hai aise vyakti ke par nigah rakhen aur yadi aap nigah nahi rakh paate hain toh ghar ke pratyek membaron ko is baat ki agah karte vaah sabhi log us vyakti par jo atmahatya karne ki baat karta hai us par nigah rakhen aur aisa koi karya na hone de jo atmahatya ke liye vaah vyakti aur apne aapko preshit mehsus kare yah ek parivarik samasya hai ek samajik samasya hai aur isme shivaay nuksan ke aur kuch vyakti ko hasil nahi hua karta hai ghar parivar ki maryada bhi jaati hai dhan bhi jata hai aur parivar tutne ke kagar par aa jaya karta hai yah dono sthitiyan nirmit ho sakti hai kya toh vyakti achanak isko isse is baat ko anjaam dene athva sochi samjhi hui rananiti ke tahat vaah atmahatya karne ka prayas kiya karta hai isme koi bhi par shadi aapke liye nirmit ho sakti hai inhin sabhi baaton ka dhyan mein rakhte hue aap palan kare aur is apriya jo bhavishya mein hone wali apriya ghatna hai isko purv mein sachet hokar ki usko bachane ka prayas kare jisse ki vyakti is prakar ke kritya na kar sake dhanyavad

अगर मेरे परिवार में कोई आत्महत्या करने की बात करता है तो इस बारे में मुझे क्या करना चाहिए

Romanized Version
Likes  147  Dislikes    views  1308
WhatsApp_icon
user

Abhay Pratap

Advocate | Social Welfare Activist

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आपके परिवार में कोई आत्महत्या करने की बात करता है तो उसे प्यार से समझाना चाहिए और उसकी समस्याओं को ध्यान देना चाहिए

agar aapke parivar mein koi atmahatya karne ki baat karta hai toh use pyar se samajhana chahiye aur uski samasyaon ko dhyan dena chahiye

अगर आपके परिवार में कोई आत्महत्या करने की बात करता है तो उसे प्यार से समझाना चाहिए और उसकी

Romanized Version
Likes  77  Dislikes    views  752
WhatsApp_icon
user

Dr.Pavan Mishra

Naturopath Doctor | Physician

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत ही सिंपल है अगर कोई इस तरीके की बात कर रहा है तू कहीं ना कहीं अनकंफर्ट है इसलिए 6:00 बजे से भी रीजेंसी हो तो हमें उसके अंदर क्या चल रहा है क्या रीजन क्या है इस तरह की बात करने का हो जाना होगा हो सकता है कि वह अपने काम को लेकर के रिप्लेस हो रहा है क्योंकि यहां पर जमीन कारण दिखाई दे रहा है यह डिप्रेशन जवाबी डिप्रेशन में जाता है तो इस तरह की हो रहा है उसके ऊपर हावी होने लग जाती है आत्महत्या जैसी परेशानियां तो डिप्रेशन का कारण क्या है उसे जानने की कोशिश करें और उस कारण को दूर करें बहुत ही सुंदर है धन्यवाद

bahut hi simple hai agar koi is tarike ki baat kar raha hai tu kahin na kahin anakamfart hai isliye 6 00 baje se bhi regency ho toh hamein uske andar kya chal raha hai kya reason kya hai is tarah ki baat karne ka ho jana hoga ho sakta hai ki vaah apne kaam ko lekar ke replace ho raha hai kyonki yahan par jameen karan dikhai de raha hai yah depression javaabi depression mein jata hai toh is tarah ki ho raha hai uske upar haavi hone lag jaati hai atmahatya jaisi pareshaniya toh depression ka karan kya hai use jaanne ki koshish kare aur us karan ko dur kare bahut hi sundar hai dhanyavad

बहुत ही सिंपल है अगर कोई इस तरीके की बात कर रहा है तू कहीं ना कहीं अनकंफर्ट है इसलिए 6:00

Romanized Version
Likes  158  Dislikes    views  1263
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
suicide karne ke tarike ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!