क्या मेरा अवसाद वास्तव में मुझे अपाहिज बना सकता है?...


user

DR SURI

Rehabilitation Psychologist

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां बिलकुल कभी कभी नहीं होती है लेकिन जो कम हो जाती है

ji haan bilkul kabhi kabhi nahi hoti hai lekin jo kam ho jati hai

जी हां बिलकुल कभी कभी नहीं होती है लेकिन जो कम हो जाती है

Romanized Version
Likes  91  Dislikes    views  1129
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Sanjeev Tripathi

Clinical Psychologist

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिप्रेशन मेटरनिटी के मतलब जो एक्सीडेंट हुआ जाते हैं या आप कहीं ना कहीं तो बात है यह तो शरण लेकर जाते हैं वह भी है

depression metaraniti ke matlab jo accident hua jaate hain ya aap kahin na kahin toh baat hai yeh toh sharan lekar jaate hain wah bhi hai

डिप्रेशन मेटरनिटी के मतलब जो एक्सीडेंट हुआ जाते हैं या आप कहीं ना कहीं तो बात है यह तो शरण

Romanized Version
Likes  34  Dislikes    views  474
WhatsApp_icon
user

Dr. Mrignayani Agarwal

Clinical Psychologist

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपार बिल्कुल बना सकता है मगर हमारे ऊपर हमारे ऊपर है काम-वाम उसे बिल्कुल हमारी इच्छाशक्ति पर निर्भर करता है यह सारी बीमारियों से लड़ने में

apaar bilkul bana sakta hai magar hamare upar hamare upar hai kaam vam use bilkul hamari ichchhaashakti par nirbhar karta hai yah saree bimariyon se ladane mein

अपार बिल्कुल बना सकता है मगर हमारे ऊपर हमारे ऊपर है काम-वाम उसे बिल्कुल हमारी इच्छाशक्ति प

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  392
WhatsApp_icon
play
user

Pratishtha Trivedi

Clinical Psychologist

0:39

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसे लोगों की लाइफ इन डिसेबिलिटी के तौर पर आपकी लाइफ हमेशा कंप्रोमाइज रही थी तभी धीरे चलने लगे

aise logo ki life in disability ke taur par aapki life hamesha compromise rahi thi tabhi dhire chalne lage

ऐसे लोगों की लाइफ इन डिसेबिलिटी के तौर पर आपकी लाइफ हमेशा कंप्रोमाइज रही थी तभी धीरे चलने

Romanized Version
Likes  47  Dislikes    views  534
WhatsApp_icon
user

Ms. Kamna Yadav

Clinical Psychologist

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सोमेरा मेरे हिसाब से डिप्रेशन आपको अब बोल सकते हो एक तरीके से अपाहिज बना देगा क्योंकि आप अपना जो इधर से अपने आप को भूल जाते अपने रियल पूजा पर आपको लगता है कि लाइफ में कुछ भी नहीं पता है जिसकी वजह से वह डिप्रेशन ओवरशैडो कर देता है इंसान की इंसान की तरह सब चीजें समझ में आने लग जाती है और साइकोथेरेपी जो हेल्प करती हो बेटे को उनकी हिमाचल दिखाती है उनकी केक भी दिखाती है कि आप पहले भी यह सब कुछ करते थे तो आप अभी भी कर सकते टेंपल किया जा सकता है

somera mere hisab se depression aapko ab bol sakte ho ek tarike se apahij bana dega kyonki aap apna jo idhar se apne aap ko bhool jaate apne real puja par aapko lagta hai ki life mein kuch bhi nahi pata hai jiski wajah se vaah depression ovarshaido kar deta hai insaan ki insaan ki tarah sab cheezen samajh mein aane lag jaati hai aur psychotherapy jo help karti ho bete ko unki himachal dikhati hai unki cake bhi dikhati hai ki aap pehle bhi yah sab kuch karte the toh aap abhi bhi kar sakte temple kiya ja sakta hai

सोमेरा मेरे हिसाब से डिप्रेशन आपको अब बोल सकते हो एक तरीके से अपाहिज बना देगा क्योंकि आप अ

Romanized Version
Likes  37  Dislikes    views  543
WhatsApp_icon
user

Deepinder Sekhon

Mental Health Care

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपाहिज बना ही रहता है ना जब आपकी सोचने की शक्ति कम हो गई जवाब एक खुश इंसान नहीं हो डिप्रेस्ड आदमी कितनी बार सोसाइटी डिप्रेशन में जो होते हैं कमेंट कर लेते हैं ओबीसी अगर आपको सपोर्ट नहीं मिलेगा तो आप एक डिप्रेस्ड से अपने को तो बढ़ती जाएगी ना आपकी इनसाइटी और डिप्रेशन तो आप ठीक से सोच भी नहीं पा रहे हो अपने लिए एंड यू एंड यू

apahij bana hi rehta hai na jab aapki sochne ki shakti kam ho gayi jawab ek khush insaan nahi ho depressed aadmi kitni baar society depression mein jo hote hain comment kar lete hain obc agar aapko support nahi milega toh aap ek depressed se apne ko toh badhti jayegi na aapki inasaiti aur depression toh aap theek se soch bhi nahi paa rahe ho apne liye and you and you

अपाहिज बना ही रहता है ना जब आपकी सोचने की शक्ति कम हो गई जवाब एक खुश इंसान नहीं हो डिप्रेस

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  417
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!