ऐसी कौन सी बातें हैं जो हमें कभी अपने सायकॉलिजस्ट या साईकैटरिस्ट से नहीं करनी चाहिए?...


play
user

Ruchi Garg

Counsellor and Psychologist(Gold MEDALIST)

1:27

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए और अपनी खुशी नहीं पूछा कि ऐसी कौन सी बातें हैं जो हमेशा ए पॉलीटिशियन साइकाइट्रिक से नहीं करनी चाहिए तो मैं कहूं कि ऐसी कोई बात नहीं है जो किसी को आपको साइकॉलजिस्ट ऐसा का एड्रेस को अपना बता पाए साइकॉलजिस्ट को स्पेशली आपको सारी बातें बतानी चाहिए क्योंकि यह जो लोग होते हैं साईं कॉलेज साइकेट्रिस्ट रूप ट्रेंड होते हैं जीवन आपके दुखों को आपके गहरे रहस्य को सुनने के लिए ऑपरेशन लगेगा अब मैं आऊंगा तो क्या प्रभाव पड़ेगा ऐसी बात तो उसने कभी सुनी ही नहीं होंगी लेकिन साइकॉलजिस्ट साइकाइट्रिक ऐसी बातें जो आपको लगता है कि बहुत गोपनीय हैं आपके लिए बहुत प्राइवेट है हजारों लोगों से सुन चुके हैं उनका काम ही होता है उन्हें ट्रेनिंग यह दी जाती है कि आप लोगों के दिल की बात जो है वह सुन पाए तो जैसे कहते हैं कि वकील डॉक्टर से कुछ नहीं छुपाना चाहिए तो वैसे ही साइकॉलजिस्ट साइकाइट्रिक से कुछ नहीं छुपाना चाहिए क्यों हम किसी सहाय कॉलेज के पास जाते हैं कि हम अपने परिवार वालों से यह दोस्तों से ही सब कुछ डिस्कस कर क्यों नहीं कर लेते क्योंकि साइकॉलजिस्ट्स को ट्रेन किया जाता है कि वह पूजा जो नहीं करेंगे वह आपके बारे में एक बुरी राय नहीं बनाएंगे आपकी पत्नी

dekhiye aur apni khushi nahi poocha ki aisi kaun si batein hain jo hamesha a politician saikaitrik se nahi karni chahiye toh main kahun ki aisi koi baat nahi hai jo kisi ko aapko psychologist aisa ka address ko apna bata paye psychologist ko speshli aapko saree batein batani chahiye kyonki yah jo log hote hain sai college psychiatrist roop trend hote hain jeevan aapke dukhon ko aapke gehre rahasya ko sunne ke liye operation lagega ab main aaunga toh kya prabhav padega aisi baat toh usne kabhi suni hi nahi hongi lekin psychologist saikaitrik aisi batein jo aapko lagta hai ki bahut gopaniya hain aapke liye bahut private hai hazaro logo se sun chuke hain unka kaam hi hota hai unhe training yah di jaati hai ki aap logo ke dil ki baat jo hai vaah sun paye toh jaise kehte hain ki vakil doctor se kuch nahi chupana chahiye toh waise hi psychologist saikaitrik se kuch nahi chupana chahiye kyon hum kisi sahaye college ke paas jaate hain ki hum apne parivar walon se yah doston se hi sab kuch discs kar kyon nahi kar lete kyonki saikaljists ko train kiya jata hai ki vaah puja jo nahi karenge vaah aapke bare mein ek buri rai nahi banayenge aapki patni

देखिए और अपनी खुशी नहीं पूछा कि ऐसी कौन सी बातें हैं जो हमेशा ए पॉलीटिशियन साइकाइट्रिक से

Romanized Version
Likes  753  Dislikes    views  9793
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

3:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका स्टेशन है ऐसी कौन सी बातें हैं जो हमें कभी अपने साइकोलॉजिस्ट या साइकैटरिस्ट से नहीं करनी चाहिए ऐसी कोई भी बात नहीं है जो हमेशा कॉलेज में रहकर बात एक्स वाई जेड हर बात में साइकिल और साइकिल साइकिल से करनी चाहिए क्योंकि प्रॉब्लम होगी तब जाकर वह पोलूशन लाइक अच्छी बात करोगे बुरी बात करोगे वह आपको कभी अच्छे गुड में या बेड में नहीं डालेंगे सीधा निर्णय करेंगे ठीक नहीं करेगा इंसान अच्छा है बुरा है और अगर इसने अपनी साइकिल प्लीज सब जग में पढ़ाई की होती है और वह सब तैयार किए होते हैं फ्रेंड होते हैं कभी बात नहीं छुपानी चाहिए एग्जांपल दो तो लोग कहते हैं कि पुलिस वकील और डॉक्टर से कभी कुछ नहीं छुपाना चाहिए वरना आपको ही प्रॉब्लम हो सकता क्योंकि आप उनसे सलूशन बाद में आए हो ओके अपनी अपनी चिंता बढ़ाने नहीं आयो चिंता का सलूशन लेने आए हो ठीक है तू बस यही चीज गलत मत समझिए कि मैं इनको यह कहूंगा तो यह बुरा लगेगा कैसा लगेगा ऐसा कुछ नहीं है भाई को बुरा नहीं लगेगा और एक महत्वपूर्ण है कि आप अपने दिल की बात जब टाइप करो सारी बातें कर लीजिए और फैमिली से जब बातचीत नहीं शेयर कर सकते हो तब उसके पास आ सकते हो ठीक है भरोसा रखिए कहीं भी शेयर नहीं करेंगे वह अपने पास ही रखें क्योंकि उनका काम है सब की प्रॉब्लम का सलूशन लाना और उन लोगों के पास इतने सारे कैसे जाते हैं तो वह अपने केस की बात कहीं भी शेयर नहीं करते ना ही अपने फैमिली में नहीं अपने फ्रेंड लोगों में कभी भी कहीं भी शेयर नहीं करते कि कोई परेशान किया था आया क्या यार कुछ भी सेंड नहीं करते ओके तब भी चीजें किसी से कॉलेज के पास जा सकते हो आपके प्रॉब्लम का सलूशन ले सकते हो ठीक है और अपने दिल की बात कह सकते हैं जो स्पेशली लोग अपने दिल की बात करने के लिए साइकोलॉजिस्ट के पास आते हैं और हर रोज या अपने में एक दो बार उनसे बातचीत करके और अपने मन का सलूशन लेकर रिलैक्स हो कर चले जाते हैं ओके यार यह भी ऐसा भी नहीं समझना चाहिए कि कोई पागल इंसान है यह कोई मानसिक बीमार है तो ही साइकिल के पास जा सकते हैं नहीं ऐसा नहीं है जब आप अपनी फैमिली में नहीं कर सकते हो जब आपके पास अच्छी शेयर कर सकते हो सकते हो ठीक है में होता है कि लोग अपने गुनाह कबूल करने के लिए पादरी के पास जाते हैं और सारी बातें बोल देते हैं वैसे ही लोग के पास जाते हैं अपने दिल की बात बोल देते हैं और उनको सुकून मिलता है और परमिशन भी मिलता है

aapka station hai aisi kaun si batein hai jo hamein kabhi apne psychologist ya saikaitrist se nahi karni chahiye aisi koi bhi baat nahi hai jo hamesha college mein rahkar baat x why z har baat mein cycle aur cycle cycle se karni chahiye kyonki problem hogi tab jaakar vaah pollution like achi baat karoge buri baat karoge vaah aapko kabhi acche good mein ya bed mein nahi daalenge seedha nirnay karenge theek nahi karega insaan accha hai bura hai aur agar isne apni cycle please sab jag mein padhai ki hoti hai aur vaah sab taiyar kiye hote hai friend hote hai kabhi baat nahi chhupani chahiye example do toh log kehte hai ki police vakil aur doctor se kabhi kuch nahi chupana chahiye varna aapko hi problem ho sakta kyonki aap unse salution baad mein aaye ho ok apni apni chinta badhane nahi aayo chinta ka salution lene aaye ho theek hai tu bus yahi cheez galat mat samjhiye ki main inko yah kahunga toh yah bura lagega kaisa lagega aisa kuch nahi hai bhai ko bura nahi lagega aur ek mahatvapurna hai ki aap apne dil ki baat jab type karo saree batein kar lijiye aur family se jab batchit nahi share kar sakte ho tab uske paas aa sakte ho theek hai bharosa rakhiye kahin bhi share nahi karenge vaah apne paas hi rakhen kyonki unka kaam hai sab ki problem ka salution lana aur un logo ke paas itne saare kaise jaate hai toh vaah apne case ki baat kahin bhi share nahi karte na hi apne family mein nahi apne friend logo mein kabhi bhi kahin bhi share nahi karte ki koi pareshan kiya tha aaya kya yaar kuch bhi send nahi karte ok tab bhi cheezen kisi se college ke paas ja sakte ho aapke problem ka salution le sakte ho theek hai aur apne dil ki baat keh sakte hai jo speshli log apne dil ki baat karne ke liye psychologist ke paas aate hai aur har roj ya apne mein ek do baar unse batchit karke aur apne man ka salution lekar relax ho kar chale jaate hai ok yaar yah bhi aisa bhi nahi samajhna chahiye ki koi Pagal insaan hai yah koi mansik bimar hai toh hi cycle ke paas ja sakte hai nahi aisa nahi hai jab aap apni family mein nahi kar sakte ho jab aapke paas achi share kar sakte ho sakte ho theek hai mein hota hai ki log apne gunah kabool karne ke liye paadri ke paas jaate hai aur saree batein bol dete hai waise hi log ke paas jaate hai apne dil ki baat bol dete hai aur unko sukoon milta hai aur permission bhi milta hai

आपका स्टेशन है ऐसी कौन सी बातें हैं जो हमें कभी अपने साइकोलॉजिस्ट या साइकैटरिस्ट से नहीं क

Romanized Version
Likes  259  Dislikes    views  7324
WhatsApp_icon
user

Priyanka

Psychologist

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आशिक वैसे भी बात नहीं है जो अपने साइकॉलजिस्ट से या फिर सेटट्स पर नहीं बता सकते आपको सारी बातें क्लीयरली पता नहीं चाहिए जैसे कि आपकी प्रॉब्लम को सॉल्व करने के लिए वह आपका पर्सनल हो जाए आप नार्मल पब्लिक नहीं बता सकते हो कोई सी भी बात हो आपको क्लीयरली पता नहीं चाहिए कि डॉक्टर से कोई बात छुपाने का मतलब है कि आप अपने को बीमारी छुपा रहे हैं और डॉक्टर के पास जाने का मतलब ही यही है कि आप अपनी को बीमारी का इलाज कराना चाहते हैं तो क्लीयरली सब कुछ बताएं कुछ भी ना छुपाए थैंक यू

aashik waise bhi baat nahi hai jo apne psychologist se ya phir setats par nahi bata sakte aapko saree batein kliyarali pata nahi chahiye jaise ki aapki problem ko solve karne ke liye vaah aapka personal ho jaaye aap normal public nahi bata sakte ho koi si bhi baat ho aapko kliyarali pata nahi chahiye ki doctor se koi baat chhupaane ka matlab hai ki aap apne ko bimari chupa rahe hain aur doctor ke paas jaane ka matlab hi yahi hai ki aap apni ko bimari ka ilaj krana chahte hain toh kliyarali sab kuch bataye kuch bhi na chupaye thank you

आशिक वैसे भी बात नहीं है जो अपने साइकॉलजिस्ट से या फिर सेटट्स पर नहीं बता सकते आपको सारी ब

Romanized Version
Likes  56  Dislikes    views  1117
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
ऐसी कौन सी बात ; सी बातें ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!