प्राइवेट नौकरी के साथ गोवर्र्नमेंट की तैयारी हो सकती है क्या?...


play
user

Prity Singh

Relationship N Lifestyle

0:47

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्राइवेट जॉब के साथ में गारमेंट जॉब की तैयारी करने थोड़ी सी ज्यादा मुश्किल हो जाती है क्योंकि हमारे पास इतना टाइम होता नहीं है जितना कि 9:00 बजे फ्रेंड के पास होना चाहिए होता ह बट अगर आप की प्रॉपर्टी नियर है आप का सब्जेक्ट पर आप की कमांड है और आप को प्रैक्टिस करनी है रेगुलर तो आप उसमें एक्स्ट्रा थोड़ा टाइम देकर कर सकते नहीं तो थोड़ा डिफिकल्टीज तो होती है पर अगर आपको कोचिंग भी लगाना पड़ेगा और आपको टॉपिक भी क्लियर करने पड़ेंगे तो आपको 9 बेस्ट फ्रेंड से थोड़ा सा ज्यादा टाइम लगेगा हां बट आप कर सकते अगर आपने अपना एम बना ही लिया है आपने डिटरमिनेशन है उतनी करने की कि आपको करना ही करना है तो रोटी के साथ आप कर सकते हैं थैंक यू

private job ke saath mein garment job ki taiyari karne thodi si zyada mushkil ho jaati hai kyonki hamare paas itna time hota nahi hai jitna ki 9 00 baje friend ke paas hona chahiye hota h but agar aap ki property near hai aap ka subject par aap ki command hai aur aap ko practice karni hai regular toh aap usme extra thoda time dekar kar sakte nahi toh thoda difficulties toh hoti hai par agar aapko coaching bhi lagana padega aur aapko topic bhi clear karne padenge toh aapko 9 best friend se thoda sa zyada time lagega haan but aap kar sakte agar aapne apna M bana hi liya hai aapne ditaramineshan hai utani karne ki ki aapko karna hi karna hai toh roti ke saath aap kar sakte hain thank you

प्राइवेट जॉब के साथ में गारमेंट जॉब की तैयारी करने थोड़ी सी ज्यादा मुश्किल हो जाती है क्यो

Romanized Version
Likes  63  Dislikes    views  1264
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

S.Shaikh

Science graduate,pg

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डेफिनेटली हो सकती है लेकिन इसके लिए आपको आपके जॉब के टाइम को मद्देनजर रखते हुए शेड्यूल बनाना होगा अगर आप सही प्लानिंग और सही शहडोल निजाम उल औकात बनाते हैं तो यकीनन आप तैयारी कर सकते हैं प्लैनिंग विद डेडीकेशन चाहिए

definetli ho sakti hai lekin iske liye aapko aapke job ke time ko maddenajar rakhte hue schedule banana hoga agar aap sahi planning aur sahi shahdol nijam ul aukat banate hain toh yakinan aap taiyari kar sakte hain planning with dedikeshan chahiye

डेफिनेटली हो सकती है लेकिन इसके लिए आपको आपके जॉब के टाइम को मद्देनजर रखते हुए शेड्यूल बना

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  393
WhatsApp_icon
user

Rahul kumar

Junior Volunteer

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्राइवेट जॉब बिहार गवर्नमेंट जॉब की तैयारी करना था कि मुश्किल होगा क्योंकि फुल टाइम जॉब करें तो इसलिए इतना समय नहीं होता है कि नहीं करते हैं मैं बहुत सारे लोग भी हैं डेडीकेशन है उनका सफलता हासिल करते हैं

private job bihar government ki taiyari karna tha ki mushkil hoga kyonki full time job kare toh isliye itna samay nahi hota hai ki nahi karte hain main bahut saare log bhi hain dedikeshan hai unka safalta hasil karte hain

प्राइवेट जॉब बिहार गवर्नमेंट जॉब की तैयारी करना था कि मुश्किल होगा क्योंकि फुल टाइम जॉब कर

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  391
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!