मुस्लिम बोर्ड के मुताबिक़ ट्रिपल तालाक बिल खतरनाक है और इसे हटा दिया जाना चाहिए, इस पर आपकी क्या राय है?...


play
user

Awdhesh Singh

Former IRS, Top Quora Writer, IAS Educator

1:30

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब एक बार सुप्रीम कोर्ट ने ट्रिपल तलाक को अवैध डिक्लेयर कर दिया है तो उसके बाद में मैं समझता हूं कि भारत सरकार द्वारा कोई भी कानून बनाना बहुत जरूरी है क्योंकि अगर कोई भी अवैध काम है तो सफ़ेद काम को कर रही है कोई न कोई सजा तो होनी ही चाहिए और भाई जी मामला कानून की किताबों में रह जाएगा जो मुस्लिम बोर्ड का जो दावा है कि जो इस ट्रिपल तलाक है अगर वह गैरकानूनी है तो उस पर अमल नहीं होना चाहिए वह सही नहीं है क्योंकि अगर मान लिया कि किसी व्यक्ति ने अपनी पत्नी को यह ट्रिपल तलाक दे दिया देख साथी तो अगर वह सोसाइटी जो हां की है उसने यह मामला चला जाता है कि उसको जाए समझती है कि नहीं जाया समझती है उसके बारे में दहेज देना है वह सोसाइटी को समझती है उसको उचित है कि नहीं है अगर आप उसके निर्णय पर छोड़ने वाली कहने की दहेज इल्लीगल है तो उसे कोई फायदा नहीं होगा जब तक कि आप दहेज के खिलाफ में कोई कानून ना बनाएं ताकि अगर कोई व्यक्ति दहेज मांगता है जबरदस्ती तो उसके खिलाफ में एक्शन लिया जा सके तो कोई भी व्यक्ति ट्रिपल तलाक दे रहा है तो उसके खिलाफ एक्शन होना चाहिए और इस विचार से मेरे ख्याल से जो भारत सरकार कानून लाने जा रही हो बिल्कुल उचित है और इसका हमें सम्मान करना चाहिए

jab ek bar SUPREME court ne triple talak co awaidh dikleyar car diya hai to uske baad mein main samajhataa hoon qi bharat sarkar dwara koi bhi kanun banana bahut zaroori hai kyonki agar koi bhi awaidh kama hai to safed kama co car rahi hai koi na koi saja to honi hea chahie aur bhai g mamla kanun ki kitabon mein rah jaaegaa joe muslim board ka joe daava hai qi joe is triple talak hai agar wah gairkanuni hai to oosh per amal nahi hona chahie wah sahi nahi hai kyonki agar maan liya qi kisi vyakti ne apni patni co yeh triple talak they diya dekh sathi to agar wah society joe han ki hai usne yeh mamla challa jaata hai qi usko jae samjhti hai qi nahi jaya samjhti hai uske baare mein dahej dena hai wah society co samjhti hai usko uchit hai qi nahi hai agar aap uske nirnay per chodne wali kahane ki dahej illegal hai to usse koi fayda nahi hoga jab tak qi aap dahej K khilaf mein koi kanun na banaen taki agar koi vyakti dahej mangata hai jabardasti to uske khilaf mein action liya ja skye to koi bhi vyakti triple talak they raha hai to uske khilaf action hona chahie aur is vichaar se mere khyala se joe bharat sarkar kanun lane ja rahi ho bilkool uchit hai aur iska human samman krna chahie

जब एक बार सुप्रीम कोर्ट ने ट्रिपल तलाक को अवैध डिक्लेयर कर दिया है तो उसके बाद में मैं समझ

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  317
KooApp_icon
WhatsApp_icon
14 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!