मुस्लिम बोर्ड के मुताबिक़ ट्रिपल तालाक बिल खतरनाक है और इसे हटा दिया जाना चाहिए, इस पर आपकी क्या राय है?...


play
user

Awdhesh Singh

Former IRS, Top Quora Writer, IAS Educator

1:30

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब एक बार सुप्रीम कोर्ट ने ट्रिपल तलाक को अवैध डिक्लेयर कर दिया है तो उसके बाद में मैं समझता हूं कि भारत सरकार द्वारा कोई भी कानून बनाना बहुत जरूरी है क्योंकि अगर कोई भी अवैध काम है तो सफ़ेद काम को कर रही है कोई न कोई सजा तो होनी ही चाहिए और भाई जी मामला कानून की किताबों में रह जाएगा जो मुस्लिम बोर्ड का जो दावा है कि जो इस ट्रिपल तलाक है अगर वह गैरकानूनी है तो उस पर अमल नहीं होना चाहिए वह सही नहीं है क्योंकि अगर मान लिया कि किसी व्यक्ति ने अपनी पत्नी को यह ट्रिपल तलाक दे दिया देख साथी तो अगर वह सोसाइटी जो हां की है उसने यह मामला चला जाता है कि उसको जाए समझती है कि नहीं जाया समझती है उसके बारे में दहेज देना है वह सोसाइटी को समझती है उसको उचित है कि नहीं है अगर आप उसके निर्णय पर छोड़ने वाली कहने की दहेज इल्लीगल है तो उसे कोई फायदा नहीं होगा जब तक कि आप दहेज के खिलाफ में कोई कानून ना बनाएं ताकि अगर कोई व्यक्ति दहेज मांगता है जबरदस्ती तो उसके खिलाफ में एक्शन लिया जा सके तो कोई भी व्यक्ति ट्रिपल तलाक दे रहा है तो उसके खिलाफ एक्शन होना चाहिए और इस विचार से मेरे ख्याल से जो भारत सरकार कानून लाने जा रही हो बिल्कुल उचित है और इसका हमें सम्मान करना चाहिए

jab ek bar SUPREME court ne triple talak co awaidh dikleyar car diya hai to uske baad mein main samajhataa hoon qi bharat sarkar dwara koi bhi kanun banana bahut zaroori hai kyonki agar koi bhi awaidh kama hai to safed kama co car rahi hai koi na koi saja to honi hea chahie aur bhai g mamla kanun ki kitabon mein rah jaaegaa joe muslim board ka joe daava hai qi joe is triple talak hai agar wah gairkanuni hai to oosh per amal nahi hona chahie wah sahi nahi hai kyonki agar maan liya qi kisi vyakti ne apni patni co yeh triple talak they diya dekh sathi to agar wah society joe han ki hai usne yeh mamla challa jaata hai qi usko jae samjhti hai qi nahi jaya samjhti hai uske baare mein dahej dena hai wah society co samjhti hai usko uchit hai qi nahi hai agar aap uske nirnay per chodne wali kahane ki dahej illegal hai to usse koi fayda nahi hoga jab tak qi aap dahej K khilaf mein koi kanun na banaen taki agar koi vyakti dahej mangata hai jabardasti to uske khilaf mein action liya ja skye to koi bhi vyakti triple talak they raha hai to uske khilaf action hona chahie aur is vichaar se mere khyala se joe bharat sarkar kanun lane ja rahi ho bilkool uchit hai aur iska human samman krna chahie

जब एक बार सुप्रीम कोर्ट ने ट्रिपल तलाक को अवैध डिक्लेयर कर दिया है तो उसके बाद में मैं समझ

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  317
WhatsApp_icon
14 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Chandraprakash Joshi

Ex-AGM RBI & CEO@ixamBee.com

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसमें कुछ भी आई थिंग नई बात नहीं है मुस्लिम बोर्ड जो है वह अपने पॉलिटिक्स कर रहा है क्योंकि उसको पता है आम मुस्लिम जनता जो है सपोर्ट करता की ट्रिपल तलाक चलते रहे इसके जीमेल कम्युनिटी तो बस पॉलिटिक्स करने के लिए यह बातें बोल रहा है और अगर वह उनको भी पता है जब दूसरे देशों में बड़े देशों में जहां मुस्लिम पापुलेशन हमसे ज्यादा है डेंसिटी में निकले मुस्लिम देश भी है जैसे कि पाकिस्तान और इंडोनेशिया वहां पर भी जब ट्रिपल तलाक नहीं है तो कौन सा शरियत और कौन सा वह बात करते हैं धार्मिक ग्रंथों की की यह जस्टिफाई है उधर समय लेकिन यह सब पॉलिटिक्स

ismein kuch bhi I thing nai baat nahin hai muslim board joe hai wah apne politics car raha hai kyonki usko patta hai am muslim janta joe hai support karata ki triple talak chalte rahe iske gmail kamyuniti to bus politics karne K lie yeh batein bowl raha hai aur agar wah unko bhi patta hai jab dusre deshon mein bade deshon mein jhan muslim papuleshan humse jyada hai density mein nikale muslim desh bhi hai jaise qi pakistan aur indoneshiya vahan per bhi jab triple talak nahin hai to kaun sa shariyat aur kaun sa wah baat karte hain dharmik grathon ki ki yeh jastifai hai udhar samay lekin yeh sub politics

इसमें कुछ भी आई थिंग नई बात नहीं है मुस्लिम बोर्ड जो है वह अपने पॉलिटिक्स कर रहा है क्योंक

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  377
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

1:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए ट्रिपल तलाक का जो बिल है इसे 2 लोग पास नहीं होने दे रहे हैं पहला कांग्रेस पार्टी दूसरा मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड यह दोनों चाहते हैं कि ट्रिपल तलाक वाला मुद्दा बना रहे कभी बिल पास ना हो और मुस्लिम महिलाओं को इस से प्रताड़ित किया जाए मुस्लिम महिलाओं को तीन बार तलाक बोलकर उनका जिंदगी खराब किया जाए लेकिन मैं यह कांग्रेस पार्टी के लोगों से बोलना चाहता हूं कि 21वीं सदी में सब के पास इंटरनेट है सब के पास फोन है और सब के पास गूगल है गूगल पर सब लोगों को पता चल गया है कि कौन हमारे हित के लिए कार्य करता है और कौन हमारे हमारे वोट बैंक के लिए यूज करता है 2014 के चुनाव जीतने के बाद प्रधानमंत्री जी ने हमारे देश को जागरूक किया है हमारे देश में मोबाइल इंटरनेट का भाव उतना कम कर दिया कि गरीब व्यक्ति भी आज के डेट में इंटरनेट से जुड़ा है और उसे जानकारी है कि उसे सब कुछ पता है कांग्रेस पार्टी ने ट्रिपल तलाक का बिल रुका हुआ है राज्यसभा में लटकाया है इसका इसका खामियाजा कांग्रेस पार्टी को 2019 के चुनाव में भुगतना पड़ेगा इसमें कोई दो राय नहीं है इस बार भारतीय जनता पार्टी की 400 से 5 सीट आएगी 400 से अधिक सीटें आएगी इसमें भी कोई दो राय नहीं है तो मुस्लिम महिलाओं से मुस्लिम समुदाय के सभी लोगों से मैं विकास सिंह निवेदन करना चाहता हूं आप लोगों को भ्रमित होने की जरूरत नहीं है 70 साल तक कांग्रेस पार्टी ने आपको भ्रमित किया है और देखिए आपका तीन तलाक का बिल भी है राज्यसभा में लटकाए हुए हैं तो आप अपना महत्वपूर्ण वोट कमल के फूल पर दीजिए ताकि तीन तलाक का बिल पास किया जा सके और आप उससे राहत मिल सके धन्यवाद

dekhie triple talak ka jo bill hai ise 2 log paas nahi hone de rahe hain pehla congress party doosra muslim personal la board yeh dono chahte hain ki triple talak vala mudda bana rahe kabhi bill paas na ho aur muslim mahilaon ko is se pratarit kiya jaye muslim mahilaon ko teen baar talak bolkar unka zindagi kharab kiya jaye lekin main yeh congress party ke logo se bolna chahta hoon ki vi sadi mein sab ke paas internet hai sab ke paas phone hai aur sab ke paas google hai google par sab logo ko pata chal gaya hai ki kaun hamare hit ke liye karya karta hai aur kaun hamare hamare vote bank ke liye use karta hai 2014 ke chunav jitne ke baad Pradhanmantri ji ne hamare desh ko jagruk kiya hai hamare desh mein mobile internet ka bhav utana kam kar diya ki garib vyakti bhi aaj ke date mein internet se jinko hai aur use jankari hai ki use sab kuch pata hai congress party ne triple talak ka bill ruka hua hai rajya sabha mein latakaaya hai iska iska khamiyaja congress party ko 2019 ke chunav mein bhugatna padega ismein koi do rai nahi hai is baar bharatiya janta party ki 400 se 5 seat aayegi 400 se adhik seaten aayegi ismein bhi koi do rai nahi hai toh muslim mahilaon se muslim samuday ke sabhi logo se main vikas Singh nivedan karna chahta hoon aap logo ko bharmit hone ki zarurat nahi hai 70 saal tak congress party ne aapko bharmit kiya hai aur dekhie aapka teen talak ka bill bhi hai rajya sabha mein latakae hue hain toh aap apna mahatvapurna vote kamal ke fool par dijiye taki teen talak ka bill paas kiya ja sake aur aap usse rahat mil sake dhanyavad

देखिए ट्रिपल तलाक का जो बिल है इसे 2 लोग पास नहीं होने दे रहे हैं पहला कांग्रेस पार्टी दूस

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  444
WhatsApp_icon
user

Raj Shah

Aspiring engineer

0:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लगता है यह ट्रिपल तलाक का केस जो गवर्नमेंट में अभी बहुत चल रहा है हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट निवेश पर फैसला सुना दिया है ट्रिपल तलाक खत्म हो जाना चाहिए

mujhe lagta hai yeh triple talak ka case joe govt mein abhi bahut chal raha hai haikort aur SUPREME court nivesh per faisla suna diya hai triple talak khatma ho jaana chahie

मुझे लगता है यह ट्रिपल तलाक का केस जो गवर्नमेंट में अभी बहुत चल रहा है हाईकोर्ट और सुप्रीम

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  25
WhatsApp_icon
user

Sa Sha

Journalist since 1986

1:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए ऐसा है कि इस बिल का विरोध केवल मुसलमान पुरुष कर रहे हैं मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड में पुरुषों का ही बोल बाला है पर्सनल लॉ के नाम पर यह इस बिल का विरोध कर रहे हैं दरअसल यह भी मुस्लिम महिलाओं के पक्ष का है बल्कि बहुत सारे मुस्लिम महिला संगठनों ने लंबे समय से ऐसे दिल की मांग की है खासतौर पर मुस्लिम महिला फाउंडेशन ने इस मुद्दे पर बाकायदा एक मुहिम चलाई थी और इसके पक्ष में ऑनलाइन महिलाओं की राय मांगी गई थी देखा गया शुरुआती दौर में ही ऑनलाइन याचिका पर 50000 महिलाओं ने हस्ताक्षर किए मुस्लिम महिलाओं ने तीन तलाक के मुद्दे पर उन उलेमाओं और मौलवियों को समय समय पर आड़े हाथों लेती रही है और अब वह इस बिल का विरोध कर रहे हैं मुस्लिम महिलाओं ने उन्हें फिर से आड़े हाथों लिया है उसे महिलाओं की मांग की उन्हें भी बराबरी का हक मैंने तीन तलाक बिल्कुल सही है इसे कानून बनना चाहिए आज संसद में विधेयक पेश होने वाला है इस मुद्दे पर मोदी सरकार की तारीख़ जरूर की जानी चाहिए

dekhiye aisa hai qi is bill ka virodh keval musalman purush car rahe hain muslim personal law board mein purushon ka hea bowl bala hai chahiye personal law K naam per yeh is bill ka virodh car rahe hain darasal yeh bhi muslim mahilao K pax ka hai walkie bahut saare muslim mahila sangathanon ne lanbe samay se aise dil ki mang ki hai khaastaur per muslim mahila foundation ne is mudde per bakayada ek muhim chalai thi aur iske pax mein online mahilao ki ray MANGI gi thi dekha gaya shuruaati daur mein hea online yachika per 50000 mahilao ne hastakshar kiye muslim mahilao ne tin talak K mudde per un ulemaon aur maulviyon co samay samay per ade hatho leti rahi hai aur aba wah is bill ka virodh car rahe hain muslim mahilao ne unhein phir se ade hatho liya hai usse mahilao ki mang ki unhein bhi barabari ka haq maine tin talak chahiye bilkool sahi hai isse kanun banana chahie chahiye aj sansad mein vidheyak pesh hone wala hai is mudde per modi sarkar ki tarikh jarur ki jani chahie

देखिए ऐसा है कि इस बिल का विरोध केवल मुसलमान पुरुष कर रहे हैं मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड में

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  22
WhatsApp_icon
user

Rahul

Dil Se Bhartiya

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए हटा देना चाहिए लेकिन यह जो है वह बहुत खतरनाक है इसे हटा देने में ही बहुत की भलाई होगी बहुत ऐसे हैं जो तीन तलाक दे देती है इसे हटा देना ही अच्छा रहेगा मारी है

dekhiye hata dena chahie lekin yeh joe hai wah bahut khatarnaak hai isse hata dane mein hea bahut ki bhalai hogi bahut aise hain joe tin talak they deti hai isse hata dena hea accha rahega mary hai

देखिए हटा देना चाहिए लेकिन यह जो है वह बहुत खतरनाक है इसे हटा देने में ही बहुत की भलाई होग

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  320
WhatsApp_icon
user

.

Hhhgnbhh

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह जो बिल बनाया गया है, यह औरतों के फायदे के लिए बनाया गया है| ऐसे तीन बार तलाक बोलने से अगर तलाक होने लग जाएंगे, तो ऐसे औरतों का औरतों को न्याय नहीं मिल पाएगा, ऐसे कोई भी कभी भी तलाक कर सकता है| तो उसी को रोकने के लिए यह बिल बनाया गया है |यह जो बिल है इसे औरतों को फायदा होगा इससे, उन्हें न्याय मिल पाएगा,ऐसा नहीं कि आदमियों की आजादी पर कोई पद बंधन लगा रहा है| पर यह एक न्यायपूर्ण जीवन जीने की आजादी दे रहा है औरतों को| तो मेरे हिसाब से यह बिल औरतों के बहुत फायदे का है और यह बनना चाहिए |

yeh joe bill banaya gaya hai yeh orton K fayde K lie banaya gaya hai aise tin bar talak bolne se agar talak hone lag jaenge to aise orton ka orton co nyaya nahin mill paega aise koi bhi kabhi bhi talak car sakta hai to ussi co rokne K lie yeh bill banaya gaya hai yeh joe bill hai isse orton co fayda hoga issase unhein nyaya mill paega aisa nahin qi aadamiyo ki aazadi per koi pad badhan laga raha hai per yeh ek nyaypurn jeevan jeene ki aazadi they raha hai orton co to mere hisaab se yeh bill orton K bahut fayde ka hai aur yeh banana chahie |

यह जो बिल बनाया गया है, यह औरतों के फायदे के लिए बनाया गया है| ऐसे तीन बार तलाक बोलने से अ

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  25
WhatsApp_icon
user

Vatsal

Engineering Student

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए सबसे पहले तो मैं आपको बता दूं की जो फैसला है ट्रिपल तलाक का यह बहुत ही अच्छा फैसला है बहुत ही बहुत ही मतलब जो महिलाओं के प्रति जो रवैया अपनाया जाता था उसके लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद बहुत ही अच्छा तरीका है लेकिन मुस्लिम बोर्ड जो है उसमें कौन आता है मुस्लिम वोटों में जो भी मुस्लिम आम आदमी लोग हैं वह आते मेल चाहते हैं जो भी तो भेजो ट्रिपल तलाक की चीज थी यह आदमियों के पक्ष में थी जब मौका चाहा जब मर्जी हुई तो उन्होंने तीन बार तलाक बोल दिया और उसे तलाक हो गया है सो कर उठ रहे हैं चाहे कभी भी अपने WhatsApp पर मैसेज कर दिया या कॉल पर बोल दिया इस तरीके की जो चीजें हैं जो इतनी पुराने रिश्ते होते हैं वह 3 शब्दों के सिर्फ मैसेज बोलने से नहीं खत्म हो जाते हैं तो उनको तो बहुत आसान एक तरीका लग रहा था कि उन्होंने जब मर्जी चाहे जब कभी गुस्सा आया तो बोल दिया और लेकिन अब जो ट्रिपल तलाक का बिल आ गया इसके तहत सजा होगी सजा होगी और गैरजमानती सदा ऐसा जमानत भी नहीं मिलेगी तो इसलिए उन्हें डर लग रहा है कि जो वह अपना रवैया अपनाते थे और अपने हाथ में डोमिनेटिंग होते थे अपने हाथ पावर लेकर घूमते थे जो महिलाएं थी वह धक्के देनी पड़ती थी तो इसलिए वह तो विरोध करेंगे लेकिन यह बिलकुल सही फैसला है बहुत अच्छा बिल है और इसको बिलकुल भी नहीं हटा मैच

dekhiye sabse pehle to main aapko bata dun ki joe faisla hai triple talak ka yeh bahut hea accha faisla hai bahut hea bahut hea matlab joe mahilao K prati joe ravaiyaa apnaaya jaata thaa uske lie bahut hea jyada faydemand bahut hea accha tarika hai lekin muslim board joe hai usme kaun aata hai muslim voton mein joe bhi muslim am aadmi log hain wah aate male chahte hain joe bhi to bhejo triple talak ki chij thi yeh aadamiyo K pax mein thi jab mauka chaha jab marji hue to unhonne tin bar talak bowl diya aur usse talak ho gaya hai so car uth rahe hain chahe kabhi bhi apne WhatsApp per maisej car diya ya call per bowl diya is tarike ki joe chijen hain joe itni purane rishte hote hain wah 3 shabdon K sirf maisej bolne se nahin khatma ho jaate hain to unko to bahut aasan ek tarika lag raha thaa qi unhonne jab marji chahe jab kabhi gussa yaya to bowl diya aur lekin aba joe triple talak ka bill aa gaya iske tahat saja hogi saja hogi aur gairajamanti sada aisa jamanat bhi nahin milegi to eeslie unhein dar lag raha hai qi joe wah apna ravaiyaa apnaate the aur apne hatha mein dominating hote the apne hatha power lycra ghoomte the joe mahilaye thi wah dhakke DENNY padati thi to eeslie wah to virodh karenge lekin yeh bilakul sahi faisla hai bahut accha bill hai aur isko bilakul bhi nahin hata match

देखिए सबसे पहले तो मैं आपको बता दूं की जो फैसला है ट्रिपल तलाक का यह बहुत ही अच्छा फैसला ह

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  29
WhatsApp_icon
user

Ridhima

Mass Communications Student

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो हाईकोर्ट ने बोला है कि ट्रिपल तलाक कीजिए जो लो है या खुली सही है कि इसको जब यह कर दिया था बंद कर दिया था कि इसको देख ले कर खराब है अगर मुस्लिम बोर्ड बोले तो असली रॉन्ग रहेगा किसी फर्स्ट फोन फ्रेंड नहीं रहा था कि वहां मुस्लिम मेन लोग जिस से भी शादी कर ले कहीं पर भी शादी कर ली जो पहली बीवी है उसको बस फोन करके या लेटर लिखकर कैसे भी करके लोग बस तलाक तलाक बोलकर बस डिवोर्स हो जाता है इंसान तब देखे हो तो जो लेडी से 322 रहती उनको सफरिंग मिलता है तो यह जो बोल रहे की खतरनाक है वह लग उनको लग रहा है कि उनके मर्द लोग के लिए हस्बैंड के लिए शायद खतरनाक ओलो को लगाए पेट लेडीज के लिए यहां क्लिक सेफ्टी प्रिकॉशन हो गया है

joe haikort ne bolla hai qi triple talak kiijiye joe low hai ya khulii sahi hai qi isko jab yeh car diya thaa band car diya thaa qi isko dekh le car kharab hai agar muslim board bole to asli rang rahega kisi first phone friend nahin raha thaa qi vahan muslim men log jisha se bhi shadi car le kahin per bhi shadi car li joe pehli beevee hai usko bus phone karake ya letter likhakar kaise bhi karake log bus talak talak bowlekar bus divorce ho jaata hai insaan taba dekhe ho to joe lady se 322 rehti unko suffering milta hai to yeh joe bowl rahe ki khatarnaak hai wah lag unko lag raha hai qi unke marda log K lie hasbaind K lie shayad khatarnaak olo co lagae pet ladies K lie yahaan click safety precaution ho gaya hai

जो हाईकोर्ट ने बोला है कि ट्रिपल तलाक कीजिए जो लो है या खुली सही है कि इसको जब यह कर दिया

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  20
WhatsApp_icon
user

Anukrati

Journalism Graduate

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लगता है कि आपके सवाल में ही कुछ कंफ्यूजन है मुस्लिम वोट के मुताबिक ट्रिपल तलाक बिल खतरनाक है या नहीं जो कानून बना है तीन तलाक के विरोध में मुस्लिम वोट की नजर में बसरिया और औरतों के अधिकार के खिलाफ है बोर्ड की एक महिला सदस्य जरा ने कहा कि यह महिलाओं के खिलाफ एक साजिश है अगर पति जेल चला जाता है तो महिला और बच्चों का पालन पोषण कैसे होगा 3 साल तक उनका सार-संभाल कौन करेगा हालांकि ऐसा नहीं है क्योंकि प्रपोज ब्लॉक के मुताबिक महिलाएं मजिस्ट्रेट के पास जाकर अपने माइनर बच्चों की कस्टडी और घर खर्च की मांग रख सकती हैं तो मुझे लगता है कि मुस्लिम बोर्ड की मांग गलत है और ट्रिपल तलाक औरतों के लिए मुस्लिम औरतों के लिए लाभदायक रहेगा

mujhe lagta hai qi aapke sawal mein hea kuch kamfyujan hai muslim voot K mutabik triple talak bill khatarnaak hai ya nahin joe kanun banna hai tin talak K virodh mein muslim voot ki nazar mein basriya aur orton K adhikar K khilaf hai board ki ek mahila sadasya zara ne kaha qi yeh mahilao K khilaf ek sajish hai agar pati gel challa jaata hai to mahila aur bachcho ka palan pooshan kaise hoga 3 saul tak unka saar sambhaala kaun karega halaki aisa nahin hai kyonki propose block K mutabik mahilaye majistret K pass jaakar apne minor bachcho ki custody aur ghar kharcha ki mang rakh sakti hain to mujhe lagta hai qi muslim board ki mang galat hai aur triple talak orton K lie muslim orton K lie laabhdayak rahega

मुझे लगता है कि आपके सवाल में ही कुछ कंफ्यूजन है मुस्लिम वोट के मुताबिक ट्रिपल तलाक बिल खत

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  51
WhatsApp_icon
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तिची सबसे पहले तो मैं यह कहना चाहूंगी कि मुस्लिम जो पोस्टर मैंने यह नहीं कहा कि ट्रिपल तलाक खतरनाक है उन्होंने कहा कि तीन तलाक बिल जो है वह खतरनाक है उन्होंने कहा कि तीन तलाक बिल को महिला अधिकार महिला के अधिकारों के खिलाफ है उन्हें दावा किया कि इसे कई परिवार बर्बाद हो जाएंगे बोर्ड ने कहा कि मुस्लिम पुरुषों से तलाक का अधिकार छीनने की बहुत बड़ी साजिश है मुस्लिम महिला विवाह अधिकार संरक्षण विधेयक नाम के इस दिल में एक साथ तीन तलाक देना अपराध माना गया है अगले हफ्ते संसद में पास होगा रविवार को बैठक के बाद बोर्ड के प्रवक्ता सज्जाद नोमानी ने कहा बोर्ड के अध्यक्ष मौलाना राबे हसन नदी पीएम से मिलकर बिल्कुल रोकने की मांग करेंगे उनके मुताबिक की और जो यह तीन तलाक का जो सिस्टम था वह महिलाओं की सुरक्षा के लिए था और इसे महिलाओं के का ही फायदा था ताकि अगर डाइवोर्स हो जाता तो उसके बाद जो पुरुष है वह जो महिला एवं पुरुष के गाइडेंस में गार्डन बन कर रहे उन का काजल बन के रहेंगे पुरुषों की वह मेरे साथ बहुत ही दोस्त है कोई भी पति अपनी पत्नी को किसी छोटी सी भी बात पर 3 महीने के अंदर तीन बार तलाक तलाक तलाक बोलकर तलाक दे दे यह बहुत ही गलत है आज हम थोड़ी फर्स्ट सेंचुरी में हम इतने प्रगतिशील देश में रह रहे हैं तो इस तरह के पुराने रुढ़ीवादी और जो सोच लिया जो कसम चले आ रहे हैं मेरे हिसाब से अपने बंद करें और तीन तलाक बिल पास होना चाहिए और महिलाओं की सुरक्षा और उनके अधिकारों को भी प्रेफरेंस देनी चाहिए

tichi sabse pehle to main yeh kahuna chahungi qi muslim joe poster maine yeh nahin kaha qi triple talak khatarnaak hai unhonne kaha qi tin talak bill joe hai wah khatarnaak hai unhonne kaha qi tin talak bill co mahila adhikar mahila K adhikaaro K khilaf hai unhein daava kiya qi isse kai parivar barbad ho jaenge board ne kaha qi muslim purushon se talak ka adhikar chinne ki bahut badi sajish hai muslim mahila vivah adhikar sarakshan vidheyak naam K is dil mein ek sathe tin talak dena aparadh mana gaya hai agale hafte sansad mein pass hoga raviwar co baithak K baad board K pravakta sajjad nomani ne kaha board K adhyaksh maulana roby hasan nadi PM se milkar bilkool rokne ki mang karenge unke mutabik ki aur joe yeh tin talak ka joe system thaa wah mahilao ki suraksha K lie thaa aur isse mahilao K ka hea fayda thaa taki agar daivors ho jaata to uske baad joe purush hai wah joe mahila even purush K gaidens mein garden bun car rahe un ka kajal bun K rahenge purushon ki wah mere sathe bahut hea dost hai koi bhi pati apni patni co kisi choti C bhi baat per 3 mahine K andorra tin bar talak talak talak bowlekar talak they they yeh bahut hea galat hai aj hum thodi first CENTURY mein hum itne pragatisheel desh mein rah rahe hain to is turha K purane rudhivadi aur joe soch liya joe kasam chale aa rahe hain mere hisaab se apne band karein aur tin talak bill pass hona chahie aur mahilao ki suraksha aur unke adhikaaro co bhi prefarens DENNY chahie

तिची सबसे पहले तो मैं यह कहना चाहूंगी कि मुस्लिम जो पोस्टर मैंने यह नहीं कहा कि ट्रिपल तला

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  50
WhatsApp_icon
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

1:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखो दोस्तों हाल ही की कुछ महीनों में जिस तरह से सुप्रीम कोर्ट ने ट्रिपल तलाक को अवैध घोषित कर दिया तो मुझे लगता है कि अब बहस नहीं होनी चाहिए कि मुस्लिम बोर्ड के मुताबिक एक खतरनाक है या नहीं अब सरकार की नैतिक जिम्मेदारी बन जाती है कि पार्लियामेंट से कानून बनाकर स्कोर कि जितना जल्दी हो सके उतनी लागू किया जाए दूसरा में इस बात को या मैसेज करना चाहूंगा जैसे कि हमारे कॉन्स्टिट्यूशन में बात कही गई है कि कॉन्स्टिट्यूशन देश हमारा कॉन्स्टिट्यूशन की रिकॉर्डिंग चलेगा ना कि किसी धर्म के कोडिंग कि दूसरी चीज यह है कि अगर हम और मुस्लिम कंट्रीज की बात करते हैं तो वहां पर भी इस ट्रिपल तलाक को खत्म कर दिया क्या है जिस तरह से मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड का है यह कहना है कि उनकी हमारे उनके कुरान में यह नहीं दिया गया ट्रिपल तलाक की बात नहीं की गई है तो मुझे लगता है कि अगर जो हमारा देश है वह कॉन्स्टिट्यूशन केक कुरान की रिकॉर्डिंग नहीं चलेगा दूसरा मुंह सारे मुस्लिम कंट्री जो है वहां उन्होंने भी ट्रिपल तलाक को खत्म कर दिया गया दूसरा अगर हम इस तरह से दूसरे तरीके से देखेंगे तो जिस तरह से टूट ट्रिपल तलाक के नाम पर महिलाओं के साथ अत्याचार किया जाता है दहेज प्रताड़ना की जाती है तो उस सारे मैसेज को कंफर्म करके जो सुप्रीम कोर्ट फैसला दिया बहुत ही अच्छा बहुत ही सराहनीय है

dekho doston haal hea ki kuch mahino mein jisha turha se SUPREME court ne triple talak co awaidh ghosit car diya to mujhe lagta hai qi aba bahes nahi honi chahie qi muslim board K mutabik ek khatarnaak hai ya nahi aba sarkar ki naitik jimmedari bun jaati hai qi parliament se kanun banakar skore qi jitna jaldi ho skye utni laghu kiya jae doosra mein is baat co ya maisej krna chahunga jaise qi hamare kanstityushan mein baat kahii gi hai qi kanstityushan desh hamara kanstityushan ki rikarding chalega na qi kisi dharm K coding qi dusri chij yeh hai qi agar hum aur muslim countries ki baat karte hain to vahan per bhi is triple talak co khatma car diya kya hai jisha turha se muslim personal law board ka hai yeh kahuna hai qi unki hamare unke quran mein yeh nahi diya gaya triple talak ki baat nahi ki gi hai to mujhe lagta hai qi agar joe hamara desh hai wah kanstityushan CAKE quran ki rikarding nahi chalega doosra munh saare muslim country joe hai vahan unhonne bhi triple talak co khatma car diya gaya doosra agar hum is turha se dusre tarike se dekhenge to jisha turha se toot triple talak K naam per mahilao K sathe atyachar kiya jaata hai dahej pratadana ki jaati hai to oosh saare maisej co conform karake joe SUPREME court faisla diya bahut hea accha bahut hea sarahniya hai

देखो दोस्तों हाल ही की कुछ महीनों में जिस तरह से सुप्रीम कोर्ट ने ट्रिपल तलाक को अवैध घोषि

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  51
WhatsApp_icon
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अमेरिका में मुस्लिम बोर्ड के मुताबिक ट्रिपल तलाक हो बिल्कुल ही खतरनाक नहीं है कि मुस्लिम बोर्ड ने यह कहा था कि ट्रिपल तलाक इसीलिए तो खतरनाक होती है महिलाओं और सरिया के लिए अच्छा नहीं है लेकिन गांव कहने का मतलब यह था कि अगर कोई मुसलमान आदमी को जेल भेजा जाए तो उसकी बीवी का और उसके बच्चे का पालन पालन करेगा जबकि ऐसा कुछ नहीं है ट्रिपल तलाक के मुताबिक हम देखते हैं कि 3 महीनों के अंदर कोई भी मुस्लिम आदमी तलाक तलाक तलाक बोलकर अपनी पत्नी से तलाक ले सकता हे तो सरकार ने उसके खिलाफ कानून बनाया है वह कानून के हिसाब से वह ऐसा नहीं कर सकते हो यह कानून बिल्कुल ही सही है किधर हे कि भारत जैसे देश में इसकी बहुत ही बड़ी जरूरत है दिन भर दिन महिलाओं का तालाब छोटी से छोटी कारण करें असली मिल रहा है और तुम तीन बार तलाक बोलने से ही उनको तलाक मिल पा रहा है जिसकी वजह से उनकी पूरी जिंदगी बर्बाद हो रही है और अगर मंत्री भारत जैसा देश नहीं है जहां पर यह लागू ऐसे कई सारे देश है जहां पर ट्रिपल तलाक लागू है और जहां पर ट्रिपल तलाक से कुछ को तलाक नहीं दे सकती तो मेरे लिए यह बहुत अच्छी बातें मुस्लिम औरतों के लिए मुस्लिम महिलाओं के लिए बहुत ही अच्छी बात है कि ट्रिपल तलाक सरकार ने कानून पास किया है

america mein muslim board K mutabik triple talak ho bilkool hea khatarnaak nahin hai qi muslim board ne yeh kaha thaa qi triple talak isiliye to khatarnaak hoti hai mahilao aur sariya K lie accha nahin hai lekin ganv kahane ka matlab yeh thaa qi agar koi musalman aadmi co gel bheja jae to uski beevee ka aur uske bacche ka palan palan karega jbki aisa kuch nahin hai triple talak K mutabik hum dekhte hain qi 3 mahino K andorra koi bhi muslim aadmi talak talak talak bowlekar apni patni se talak le sakta hey to sarkar ne uske khilaf kanun banaya hai wah kanun K hisaab se wah aisa nahin car sakte ho yeh kanun bilkool hea sahi hai kidhar hey qi bharat jaise desh mein essaki bahut hea badi jarurat hai din bhora din mahilao ka talab choti se choti karan karein asli mill raha hai aur tum tin bar talak bolne se hea unko talak mill PA raha hai jiskee vajaha se unki poori jindagi barbad ho rahi hai aur agar mantri bharat jaisa desh nahin hai jhan per yeh laghu aise kai saare desh hai jhan per triple talak laghu hai aur jhan per triple talak se kuch co talak nahin they sakti to mere lie yeh bahut achchhee batein muslim orton K lie muslim mahilao K lie bahut hea achchhee baat hai qi triple talak sarkar ne kanun pass kiya hai

अमेरिका में मुस्लिम बोर्ड के मुताबिक ट्रिपल तलाक हो बिल्कुल ही खतरनाक नहीं है कि मुस्लिम ब

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  17
WhatsApp_icon
user

amitkul

CA student,pursuing bcom too

1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ट्रिपल तलाक जो ट्रिपल तलाक बिल और उसे खिलाफ मुस्लिम बोर्ड की जो रहे हैं ना मैं इससे सहमत नहीं हो मुस्लिम मुस्लिम महिलाओं के लिए यह का काफी हत्या अत्यधिक आवश्यक दिल है जो महिला अपने पति के लिए अपना घर पर आती है और उसके घर अपने पति के घर आकर अपना नहीं अपने दुनिया बस आती है अगर वह पति सिर्फ तीन बार तलाक का शब्द बोलने से उस पर उस महिला को तलाक देकर उस महिला की पूरी दुनिया उजाड़ सकता है यह बिल्कुल ही गलत है और बहुत बड़ा अन्याय है मुस्लिम महिलाओं के लिए तुम मुस्लिम बोर्ड का जो यह राय है कि ट्रिपल तलाक बिल में मुस्लिम समाज के लिए खतरनाक है मुझे नहीं लगता यह सही है और ऐसा नहीं है कि उसकी मुस्लिम महिला का उत्पति जेल चला जाएगा तो उसके उसके लिए उसे कुछ काम क्या बताऊं कंपनसेशन नहीं मिलेगा मुस्लिम महिला एक मजिस्ट्रेट में जाकर अप्लाई कर सकती है और वहां पर घर कर्ज की मांग के लिए और बच्चों की कस्टडी के लिए भी मांग कर सकती है तो मुस्लिम बोर्ड की जो रहा है वह बिल्कुल गलत है

triple talak joe triple talak bill aur usse khilaf muslim board ki joe rahe hain na main issase sahmat nahin ho muslim muslim mahilao K lie yeh ka kaafi hatya atydhik aavashyak dil hai joe mahila apne pati K lie apna ghar per auti hai aur uske ghar apne pati K ghar aakar apna nahin apne duniya bus auti hai agar wah pati sirf tin bar talak ka shabd bolne se oosh per oosh mahila co talak dekar oosh mahila ki poori duniya ujad sakta hai yeh bilkool hea galat hai aur bahut bada anyay hai muslim mahilao K lie tum muslim board ka joe yeh ray hai qi triple talak bill mein muslim samaj K lie khatarnaak hai mujhe nahin lagta yeh sahi hai aur aisa nahin hai qi uski muslim mahila ka utpati gel challa jaaegaa to uske uske lie usse kuch kama kya bataun kampanaseshan nahin milega muslim mahila ek majistret mein jaakar aplai car sakti hai aur vahan per ghar karj ki mang K lie aur bachcho ki custody K lie bhi mang car sakti hai chahiye to muslim board ki joe raha hai wah bilkool galat hai

ट्रिपल तलाक जो ट्रिपल तलाक बिल और उसे खिलाफ मुस्लिम बोर्ड की जो रहे हैं ना मैं इससे सहमत न

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  16
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!