अरुण जेटली ने आधार के संस्थान को मज़बूत बनाने के लिए विचारों का स्वीकार किया है। आप क्या करने का सुझाव देते हैं?...


play
user

Raj Shah

Aspiring engineer

0:07

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इकोनॉमिक डाउन फॉल होने के बाद अब लग रहा है तो बहुत बड़े स्टेप्स लेने आओगे तो यह जो अरुण जेटली दिस टाइप ले आओ बिल्कुल सही लगे

economic down fall hone ke baad ab lag raha hai toh bahut bade steps lene aaoge toh yah jo arun jaitley this type le aao bilkul sahi lage

इकोनॉमिक डाउन फॉल होने के बाद अब लग रहा है तो बहुत बड़े स्टेप्स लेने आओगे तो यह जो अरुण जे

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  12
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Amber Rai

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:48
Play

Likes  4  Dislikes    views  40
WhatsApp_icon
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे हिसाब से जुगनी जी को यह सब सुझाव देखनी चाहिए पहला मेरा सुझाव यह होगा कि जितने भी आधार एनरोलमेंट सेंटर है उनकी फैसिलिटीज को ज्यादा अच्छा कर रहा है जी और उनके जो सेंटर से बात पर दो अलग-अलग लैंग्वेज एक लाइन जवानी थी वह बुरे लोगों के लिए होने चाहिए और एक लाइन बच्चों के लिए होनी चाहिए और क्लीन टॉयलेट सो ड्रिंकिंग वॉटर रखनी चाहिए ताकि उन लोगों का बहुत वहां पर बहुत टाइम जा रहा है तो लोग यह सब चीजें एक्सेस कर पाए और यह चीजें क्लीन वंशी दूसरा मैं यह कहना चाहूंगा कि जो मेंटली डिसेबल जा रे जोगी उनके लिए भी बहुत ही तकलीफ की बात क्यों क्या आधार सेंटर पर जाना पड़ता है और उनको यह सब चीजें करनी पड़ती है जो हम लिखते भी करे तो मेरे हिसाब से सरकार को उन लोगों के लिए कुछ करना चाहिए सरकार को मेंटली चैलेंज्ड एडल्ट के लिए भी उनके लिए कुछ करना अच्छे सरकारी ऑफिसर उनके घर पर जाकर आधार एनरोलमेंट सर्विस देनी चाहिए और मैं बड़ी चीज यह कहूंगा कि बायोमेट्रिक डिवाइस भेजो एक बुड्ढे लोगों के लिए यूजर फ्रेंडली होना चाहिए जैसे हमने देखा कि कई सारी जगहों पर फिंगर प्रिंट्स का प्रॉब्लम आ रहा है बच्चों के साथ दो लोगों के साथ भी तू यह फिंगरप्रिंट का जो सिस्टम है हमें इस में कुछ तकनीकी सुधार लाने चाहिए और यह हमें यूजर फ्रेंडली या बुरे लोगों के लिए पहली बार आना चाहिए और इस चीज में यह कहना चाहूंगा कि आधार एनरोलमेंट में नो रिकॉर्ड फॉर्म का एक बहुत ही बड़ा कॉमन एरर आता है या फिर आप को यह बताया जाता है क्या वापस से पूरा प्रोसेस भेज दो सरकार को यह एक चीज बड़े ध्यान रख नीचे इसका भी सरकार को कुछ ना कुछ सुझाव मिलने ना अच्छी

mere hisab se jugni ji ko yah sab sujhaav dekhni chahiye pehla mera sujhaav yah hoga ki jitne bhi aadhaar enrollment center hai unki facilities ko zyada accha kar raha hai ji aur unke jo center se baat par do alag alag language ek line jawaani thi vaah bure logo ke liye hone chahiye aur ek line baccho ke liye honi chahiye aur clean toilet so drinking water rakhni chahiye taki un logo ka bahut wahan par bahut time ja raha hai toh log yah sab cheezen access kar paye aur yah cheezen clean vanshi doosra main yah kehna chahunga ki jo mentally disable ja ray jogi unke liye bhi bahut hi takleef ki baat kyon kya aadhaar center par jana padta hai aur unko yah sab cheezen karni padti hai jo hum likhte bhi kare toh mere hisab se sarkar ko un logo ke liye kuch karna chahiye sarkar ko mentally challenged adult ke liye bhi unke liye kuch karna acche sarkari officer unke ghar par jaakar aadhaar enrollment service deni chahiye aur main badi cheez yah kahunga ki biometric device bhejo ek buddhe logo ke liye user friendly hona chahiye jaise humne dekha ki kai saree jagaho par finger prints ka problem aa raha hai baccho ke saath do logo ke saath bhi tu yah fingerprint ka jo system hai hamein is mein kuch takniki sudhaar lane chahiye aur yah hamein user friendly ya bure logo ke liye pehli baar aana chahiye aur is cheez mein yah kehna chahunga ki aadhaar enrollment mein no record form ka ek bahut hi bada common error aata hai ya phir aap ko yah bataya jata hai kya wapas se pura process bhej do sarkar ko yah ek cheez bade dhyan rakh niche iska bhi sarkar ko kuch na kuch sujhaav milne na achi

मेरे हिसाब से जुगनी जी को यह सब सुझाव देखनी चाहिए पहला मेरा सुझाव यह होगा कि जितने भी आधार

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  13
WhatsApp_icon
user

Janak

An Enthusiastic Entrepreneur.

1:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसे की हमारे फाइनेंस मिनिस्टर अरुण जेटली ने आधार को और कंपलसरी कर दिया है कंपलसरी मैनडेटरी करते हैं इनकम टैक्स फील करते वक्त क्योंकि उनसे जो टेस्ट इन मीटर्स है ताकि बिल्डर्स हमको पता उनका पता चल सके कि उन्होंने पिछले पिछले 10 सालों की क्रम क्या है और उनकी अभी की इनकम क्या है और उसमें कितना टैक्स भरपाई की है कितना इनकम टैक्स भरपाई की है और कितना काला धन अगर उन्होंने किया है तो कितना काला धन जमा किया है उसे भी पता चल सकता है कि वह व्यक्ति कौन है भक्ति की ID कौन है और उसकी सारी डिटेल कमेंट को मिल सकती है क्या तो काफी अच्छा है बट इट्स इंप्लीमेंटेशन करने के लिए क्या पता आप लोग सहमत हो गए कि नहीं होगी हम कह मैं कि मैं कि मैं कह दो नहीं सकता हूं लेकिन उनका जो आईडिया है आधार को आधार के संस्थान को मजबूत बनाने का ऐप काफी अच्छा है और हो सकता है क्या ऐसे करने से टांसिलाइटिस का पता चल सके ऐसे भी हो सकता है कि जैसे की हमारे लोग काफी स्मार्ट है सब काम करने में ऐसे भी हो सकता है कि कुछ ना कुछ इग्लू खोल निकाल दें और उस से बच सकते हैं वह लोग

jaise ki hamare finance minister arun jaitley ne aadhaar ko aur compulsory kar diya hai compulsory maindetri karte hain income tax feel karte waqt kyonki unse jo test in metres hai taki builders hamko pata unka pata chal sake ki unhone pichle pichhle 10 salon ki kram kya hai aur unki abhi ki income kya hai aur usme kitna tax bharpai ki hai kitna income tax bharpai ki hai aur kitna kaala dhan agar unhone kiya hai toh kitna kaala dhan jama kiya hai use bhi pata chal sakta hai ki vaah vyakti kaun hai bhakti ki ID kaun hai aur uski saree detail comment ko mil sakti hai kya toh kaafi accha hai but its implementation karne ke liye kya pata aap log sahmat ho gaye ki nahi hogi hum keh main ki main ki main keh do nahi sakta hoon lekin unka jo idea hai aadhaar ko aadhaar ke sansthan ko majboot banane ka app kaafi accha hai aur ho sakta hai kya aise karne se tansilaitis ka pata chal sake aise bhi ho sakta hai ki jaise ki hamare log kaafi smart hai sab kaam karne mein aise bhi ho sakta hai ki kuch na kuch igloo khol nikaal de aur us se bach sakte hain vaah log

जैसे की हमारे फाइनेंस मिनिस्टर अरुण जेटली ने आधार को और कंपलसरी कर दिया है कंपलसरी मैनडेटर

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  12
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!