चाइना नॉर्थ कोरिया को तेल की आपूर्ति करते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया है, क्या वे ऐसा करने में सही हैं?...


user

Sefali

Media-Ad Sales

0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चाइना नॉर्थ कोरिया को तेल सप्लाई करते वक्त पकड़ा गया है| जो कि यहां तक कि इसमें डोनाल्ड ट्रंप जो अमेरिका के राष्ट्रपति हैं| उन्होंने भी बहुत नाराजगी जताई है| चाइना की तरफ, कि वह ऐसा नहीं कर सकते| सी के थ्रू से नॉर्थ कोरिया को तेल सप्लाई नहीं कर सकते | यहां तक कि यह रिस्ट्रिक्टेड है| यह प्रोहिबिटेड है, यूएन सेक्शनस के हिसाब से| तो इसलिए उन्होंने बहुत नाराजगी जताई है| और यहां तक यह भी कहा, कि वह अगर ऐसा ही करते रहे| बिना सिस्टम को माने, बिना रूल्स को माने, वह ऐसे ही तेल सप्लाई करते रहे सी के थ्रू से| शायद ही नॉर्थ कोरिया की प्रॉब्लम के अगेंस्ट में कोई सलूशन यूएन और चाइना मिलकर निकाल पाए|

china north korea ko tel supply karte waqt pakada gaya hai jo ki yahan tak ki isme donald trump jo america ke rashtrapati hain unhone bhi bahut narajgi jatai hai china ki taraf ki vaah aisa nahi kar sakte si ke through se north korea ko tel supply nahi kar sakte yahan tak ki yah registered hai yah prohibited hai un sekshanas ke hisab se toh isliye unhone bahut narajgi jatai hai aur yahan tak yah bhi kaha ki vaah agar aisa hi karte rahe bina system ko maane bina rules ko maane vaah aise hi tel supply karte rahe si ke through se shayad hi north korea ki problem ke against mein koi salution un aur china milkar nikaal paye

चाइना नॉर्थ कोरिया को तेल सप्लाई करते वक्त पकड़ा गया है| जो कि यहां तक कि इसमें डोनाल्ड ट्

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  128
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

1:13

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिग्गी मुझे लगता है कि यह जगजाहिर है कि चाइना की रिलेशन नॉर्थ कोरिया पाकिस्तान से बहुत कॉर्डियल बहुत ही अच्छे रिलेशन है हालांकि चाइना इस तरह के रिलेशन को छू नहीं करना चाहता लेकिन सब जानते हैं कि चाइना जो है वह नॉर्थ कोरिया को बहुत ज्यादा सपोर्ट करता है और आज भी हमारे विश्व के अंदर यह स्थिति हो गई कि हर घंटे नॉर्थ कोरिया से परेशान हो गया है उसकी गीत भक्तों से परेशान हो गया जिस तरह से वह हमेशा कुछ न कुछ उल्टे सीधे काम करके विश्व के बड़े बेटे कंट्रीस को डराता है जैसे हम लोगों ने देखा है कि अमेरिका को भी को धमकी देता रहता है तो मुझे लगता है कि इस तरह की कंट्री आने वाले दिनों में अपने अस्तित्व की लड़ाई जरूर लेंगे दूसरे चाइना को भी यह देखना होगा कि कैसे कंट्रीज का साथ देना उसके लिए कितना फलदायक हो सकता है दूसरा मैच में यह कहना चाहूंगा कि आज यह स्थिति हो गई है कि नॉर्थ कोरिया से कोई भी अच्छा देश + डबल अपडेट बॉल कोई रिलेशन नहीं रखना चाहता उसके बाद भी अगर चाइना नॉर्थ कोरिया से रिलेशन बनाए हुए बहुत अच्छे रिलेशन मेंटेन कर रहा है तो मुझे लगता है कि कहीं नहीं कि आने वाले समय में यह चाइना के लिए भी एक सबक बनेगा

diggi mujhe lagta hai ki yah jagajahir hai ki china ki relation north korea pakistan se bahut kardiyal bahut hi acche relation hai halanki china is tarah ke relation ko chu nahi karna chahta lekin sab jante hain ki china jo hai vaah north korea ko bahut zyada support karta hai aur aaj bhi hamare vishwa ke andar yah sthiti ho gayi ki har ghante north korea se pareshan ho gaya hai uski geet bhakton se pareshan ho gaya jis tarah se vaah hamesha kuch na kuch ulte seedhe kaam karke vishwa ke bade bete kantris ko darata hai jaise hum logon ne dekha hai ki america ko bhi ko dhamki deta rehta hai toh mujhe lagta hai ki is tarah ki country aane waale dino mein apne astitva ki ladai zaroor lenge dusre china ko bhi yah dekhna hoga ki kaise countries ka saath dena uske liye kitna faldayak ho sakta hai doosra match mein yah kehna chahunga ki aaj yah sthiti ho gayi hai ki north korea se koi bhi accha desh double update ball koi relation nahi rakhna chahta uske baad bhi agar china north korea se relation banaye hue bahut acche relation maintain kar raha hai toh mujhe lagta hai ki kahin nahi ki aane waale samay mein yah china ke liye bhi ek sabak banega

डिग्गी मुझे लगता है कि यह जगजाहिर है कि चाइना की रिलेशन नॉर्थ कोरिया पाकिस्तान से बहुत कॉर

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  214
WhatsApp_icon
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए चीन सबसे अलग ही चलता है और वह अपने अलग ही SS बना रहा है अलग ही दे जो जो जो जो ग्लोबल लेवल पर सब से अलग-थलग पड़े हुए उनके साथ ही वह अपने रिश्ते बनाता था कि वह अलग से ही सारे ब्रह्मा सारे दुनिया पर राज चला सके दक्षिण कोरिया ने प्रतिबंध के बावजूद उत्तर कोरिया को पेट्रोलियम आप उर्दू में हांगकांग के जहाज को पकड़ा है और इस पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन के रंगे हाथ पकड़े जाने का दावा भी किया है लेकिन दूसरी और चीन जैसे ट्रंप का दावा खारिज करते हुए कहा कि पकड़े गए जहाज में उसका कोई संबंध नहीं है और इस बीच अमेरिका के आदेश पर संयुक्त राष्ट्र ने उत्तर कोरिया के चारों के चारों और जहाजों के बंदर का में प्रवेश करने पर रोक रोक लगा दी जो चीन के प्रवक्ता विदेश मंत्रालय के उन्होंने कहा जिनसे को लेकर आरोप लगाए जा रहे हैं वह अगस्त चीन के बंदरगाह पर नहीं थे इस जहाज के चीन के ब्रदर का में प्रवेश करने आज यहां से जाने का कोई रिकॉर्ड नहीं है और जो मीडिया के दावे हैं वह गलत है दूसरी तरफ ट्रंप कह रहे हैं कि रंगे हाथ पकड़ा है चीन को और बहुत निराशाजनक है कि चीन उत्तर कोरिया को तेल जाने की इजाजत दे रहा है और अगर यही हाल रहा तो उत्तर कोरिया की समस्या का हल नहीं जा सकेगा उसके लिए चीनी जिम्मेदार होगा

dekhiye china sabse alag hi chalta hai aur vaah apne alag hi SS bana raha hai alag hi de jo jo jo jo global level par sab se alag thalag pade hue unke saath hi vaah apne rishte banata tha ki vaah alag se hi saare brahma saare duniya par raj chala sake dakshin korea ne pratibandh ke bawajud uttar korea ko petroleum aap urdu mein hongkong ke jahaj ko pakada hai aur is par american rashtrapati donald trump ne china ke rangey hath pakde jaane ka daawa bhi kiya hai lekin dusri aur china jaise trump ka daawa khareej karte hue kaha ki pakde gaye jahaj mein uska koi sambandh nahi hai aur is beech america ke aadesh par sanyukt rashtra ne uttar korea ke charo ke charo aur jahajon ke bandar ka mein pravesh karne par rok rok laga di jo china ke pravakta videsh mantralay ke unhone kaha jinse ko lekar aarop lagaye ja rahe hain vaah august china ke bandargah par nahi the is jahaj ke china ke brother ka mein pravesh karne aaj yahan se jaane ka koi record nahi hai aur jo media ke daave hain vaah galat hai dusri taraf trump keh rahe hain ki rangey hath pakada hai china ko aur bahut nirashajanak hai ki china uttar korea ko tel jaane ki ijajat de raha hai aur agar yahi haal raha toh uttar korea ki samasya ka hal nahi ja sakega uske liye chini zimmedar hoga

देखिए चीन सबसे अलग ही चलता है और वह अपने अलग ही SS बना रहा है अलग ही दे जो जो जो जो ग्लोबल

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  170
WhatsApp_icon
user

Amber Rai

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आंधी के जैसा कि चाइना ने जो है अभी नॉर्थ कोरिया को तेल की आपूर्ति करते हुए पकड़ा गया है तो वह मैं समझता है ऐसा करना बिल्कुल गलत है कि नॉर्थ कोरिया जो है वह इस पूरी दुनिया की जो है वह बाकी सारे कंट्रीस के लिए दुनिया के लिए खतरा है क्योंकि जो वहां अकेली डर है लीडर ने बताओ कितना टाइप से ही वहां अकेली डर है तो शासक किम जोंग उन वह जो है उनका दिमाग खराब बिलकुल ही पागल टाइप का है वह कभी भी सेट कर रहे हो सकते हैं और उन्होंने मिसाइल जो है वह जल्दी कर रखें ताकि कोई भी कंट्री उनकी तरफ हाथ उठाने का कोशिश करें तो उसी समय अटैक कर करके उसको खत्म कर दिया उन्होंने हाइड्रोजन बम किसने लिखी है तो निकले स्वपन उनके पास बहुत बड़े पैमाने पर है तू मैं नहीं समझ गई ना को उसको सपोर्ट करना ठीक जाएगा क्योंकि पूरे यूनाइटेड नेशंस जो है यूनाइटेड नेशन क्रिएट ए कंट्रीस है वह भी नॉर्थ कोरिया को बहुत करती है वैसे मैं चाइना चाइना का नॉर्थ कोरिया को सपोर्ट करना मैं नहीं समझता कि सही होगा यह पूरी दुनिया के लिए खतरा बन सकता है

andhi ke jaisa ki china ne jo hai abhi north korea ko tel ki aapurti karte hue pakada gaya hai toh vaah main samajhata hai aisa karna bilkul galat hai ki north korea jo hai vaah is puri duniya ki jo hai vaah baki saare kantris ke liye duniya ke liye khatra hai kyonki jo wahan akeli dar hai leader ne batao kitna type se hi wahan akeli dar hai toh shasak kim jong un vaah jo hai unka dimag kharaab bilkul hi Pagal type ka hai vaah kabhi bhi set kar rahe ho sakte hain aur unhone missile jo hai vaah jaldi kar rakhen taki koi bhi country unki taraf hath uthane ka koshish karen toh usi samay attack kar karke usko khatam kar diya unhone hydrogen bomb kisne likhi hai toh nikle swapan unke paas bahut bade paimane par hai tu main nahi samajh gayi na ko usko support karna theek jaega kyonki poore united nations jo hai united nation create a kantris hai vaah bhi north korea ko bahut karti hai waise main china china ka north korea ko support karna main nahi samajhata ki sahi hoga yah puri duniya ke liye khatra ban sakta hai

आंधी के जैसा कि चाइना ने जो है अभी नॉर्थ कोरिया को तेल की आपूर्ति करते हुए पकड़ा गया है तो

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  144
WhatsApp_icon
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दक्षिण कोरिया ने उत्तर कोरिया की तरफ तील क्या फ्रिज को जाते हुए रंगे हाथों पकड़ा है और यह बात उन्होंने बताई है कि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि यह पृथ्वी तेल की आपूर्ति जा रही है और यूएस ट्रेजरी डिपार्टमेंट जो है उन्होंने इसकी सैटेलाइट इमेजेस भी निकाली है कि कैसे एक या दो शब्द जो है वह दिल्ली दिल्ली उत्तर कोरिया की तरफ जा रहे अगर हमें पूरा मामला देखे तो नॉर्थ कोरिया को पेट्रोल ऐसा कुछ भी देना यूनाइटेड नेशंस में गलत माना है और इसके खिलाफ यूनाइटेड नेशंस ने कहा है कि और कोई भी ऐसा करेगा तो ने कड़ी से कड़ी सजा मिलेगी ऑन पर सख्त कार्रवाई हुई जाएगी तो यह गलत है कि जो चाइना ने किया है कि नॉर्थ कोरिया को अपने दिल की आपूर्ति दिया वह बिल्कुल ही गलत है इस बात का यूएस के प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रंप ने बीजेपी की टंकी चाइना को ऐसा नहीं करना चाहिए परंतु अगर हम देखें तो कैसे चाइना और उत्तर कोरिया के बीच में पहले से ही अच्छे और सस्ते और अच्छे संबंध बनते आ रहे हैं यूएसएसआर कर रही है उत्तर कोरिया तो ऑफ न्यूक्लियर पावर वैसे ही चाइना उत्तर कोरिया को देता है तो मेरे सबसे बिल्कुल ही गलत है और अगर हम इस पर और तहकीकात करेगा थोड़ा और इंफॉर्मेशन लेना चाहे तो लाइट हाउस वन मोर करके जो सिर्फ जो है वह इसी साल विराट एंड नेशंस में अमेरिका ने कहा था कि यह सब को बंद कर देना चाहिए और यही शुभ जो है वह पकड़ी गई है साउथ कोरिया ने पकड़ी गई है उत्तर कोरिया की तरफ जाते हुए तो हम वैसे हूं मैं ऐसा नहीं करना चाहता चाइना को ऐसा नहीं करना चाहिए था और जय श्री कृष्णा रिलेशंस ने कहा था कि कोई भी चीज उत्तर कोरिया को कोई कुछ नहीं देखा वह चाहे तेल हो या खाना हो तो उत्तर और यूनाइटेड नेशंस के रूस के खिलाफ कोई और चाइना को इसकी सजा मिलनी चाहिए

dakshin korea ne uttar korea ki taraf tila kya fridge ko jaate hue rangey hathon pakada hai aur yah baat unhone batai hai ki aisa pehli baar nahi hua hai ki yah prithvi tel ki aapurti ja rahi hai aur US treasury department jo hai unhone iski satellite images bhi nikali hai ki kaise ek ya do shabd jo hai vaah delhi delhi uttar korea ki taraf ja rahe agar hamein pura maamla dekhe toh north korea ko petrol aisa kuch bhi dena united nations mein galat mana hai aur iske khilaf united nations ne kaha hai ki aur koi bhi aisa karega toh ne kadi se kadi saza milegi on par sakht karyawahi hui jayegi toh yah galat hai ki jo china ne kiya hai ki north korea ko apne dil ki aapurti diya vaah bilkul hi galat hai is baat ka US ke president donald trump ne bjp ki tanki china ko aisa nahi karna chahiye parantu agar hum dekhen toh kaise china aur uttar korea ke beech mein pehle se hi acche aur saste aur acche sambandh bante aa rahe hain USSR kar rahi hai uttar korea toh of nuclear power waise hi china uttar korea ko deta hai toh mere sabse bilkul hi galat hai aur agar hum is par aur tahkikat karega thoda aur information lena chahen toh light house van mor karke jo sirf jo hai vaah isi saal virat and nations mein america ne kaha tha ki yah sab ko band kar dena chahiye aur yahi shubha jo hai vaah pakadi gayi hai south korea ne pakadi gayi hai uttar korea ki taraf jaate hue toh hum waise hoon main aisa nahi karna chahta china ko aisa nahi karna chahiye tha aur jai shri krishna rileshans ne kaha tha ki koi bhi cheez uttar korea ko koi kuch nahi dekha vaah chahen tel ho ya khana ho toh uttar aur united nations ke rus ke khilaf koi aur china ko iski saza milani chahiye

दक्षिण कोरिया ने उत्तर कोरिया की तरफ तील क्या फ्रिज को जाते हुए रंगे हाथों पकड़ा है और यह

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  142
WhatsApp_icon
user

Anukrati

Journalism Graduate

1:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं मैं ऐसा करने में सही नहीं थे ट्रंप ने अपनी उत्तर कोरिया रणनीति के केंद्र में चीन को रखा है चीन उत्तर कोरिया के सबसे करीबी व्यापारिक सहयोगी है और इस वजह से उत्तर कोरिया की छोटी और गरीब अर्थव्यवस्था पर भारी उत्तोलन है ट्रंप ने दर्द दिया है कि चीन को अपने परमाणु और बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रमों को रोकने के लिए उत्तर कोरिया पर दबाव डालने के लिए और कुछ करना चाहिए जब किसी ने ऐसा करने का वादा किया है और हाल के महीनों में संयुक्त राष्ट्रीय में प्योंगयांग के खिलाफ कठोर प्रतिबंधों को सहमति दी है नवीनतम रिपोर्ट याद दिलाती है कि जब उत्तर कोरिया के साथ कठोर होने की बात आती है तो बीजिंग नियमित रूप से अपने वादों को पूरा करने में विफल रहता है अनिल का कहना है कि ट्रंप प्रशासन चीनी व्यवसाय और व्यक्तियों पर संक्षिप्त लगा सकते हैं जो उत्तर कोरिया के साथ गैर कानूनी तौर पर व्यापार के लिए समय में है एक ऐसा कार्य जो बीजिंग का गुस्सा उनकी तरफ लाएगा मानना है कि चीन को यह भी आशंका है कि उत्तरी कोरिया के पतन से नतीजों का सामना करने और देश के परमाणु हथियारों को सुरक्षित करने के लिए अमेरिका क्षेत्र में अपनी सैन्य उपस्थिति को नाटकीय ढंग से बढ़ा देगा चीन की सीमा पर अमेरिका सैन्य उपस्थित चीन के नेता देखना नहीं चाहते नतीजतन चीन उत्तर कोरिया के नेतृत्व को आगे बढ़ाने में मदद करता है क्योंकि एक स्थिर उत्तर कोरिया उनके लिए रणनीतिक बफर के रूप में काम करता है लेकिन यह उनके परमाणु और बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रमों को प्रोत्साहित करने की संभावना को बढ़ाता है जो दुनिया के बाकी देशों के लिए बहुत कठिन हो सकता है

nahi main aisa karne mein sahi nahi the trump ne apni uttar korea rananiti ke kendra mein china ko rakha hai china uttar korea ke sabse karibi vyaparik sahayogi hai aur is wajah se uttar korea ki choti aur garib arthavyavastha par bhari uttolan hai trump ne dard diya hai ki china ko apne parmanu aur bailistik missile karyakramon ko rokne ke liye uttar korea par dabaav dalne ke liye aur kuch karna chahiye jab kisi ne aisa karne ka vada kiya hai aur haal ke mahinon mein sanyukt rashtriya mein pyongyang ke khilaf kathor pratibandho ko sahmati di hai navintam report yaad dilati hai ki jab uttar korea ke saath kathor hone ki baat aati hai toh Beijing niyamit roop se apne vaado ko pura karne mein vifal rehta hai anil ka kehna hai ki trump prashasan chini vyavasaya aur vyaktiyon par sanshipta laga sakte hain jo uttar korea ke saath gair kanooni taur par vyapar ke liye samay mein hai ek aisa karya jo Beijing ka gussa unki taraf layega manana hai ki china ko yah bhi ashanka hai ki uttari korea ke patan se nateezon ka samana karne aur desh ke parmanu hathiyaron ko surakshit karne ke liye america kshetra mein apni sainya upasthitee ko natkiya dhang se badha dega china ki seema par america sainya upasthit china ke neta dekhna nahi chahte natijatan china uttar korea ke netritva ko aage badhane mein madad karta hai kyonki ek sthir uttar korea unke liye rannitik before ke roop mein kaam karta hai lekin yah unke parmanu aur bailistik missile karyakramon ko protsahit karne ki sambhavna ko badhata hai jo duniya ke baki deshon ke liye bahut kathin ho sakta hai

नहीं मैं ऐसा करने में सही नहीं थे ट्रंप ने अपनी उत्तर कोरिया रणनीति के केंद्र में चीन को र

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  160
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!