भारत में कृषि सब्सिडी की आवश्यकता क्यों है?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में कृषि में सब्सिडी की आवश्यकता इसलिए है क्योंकि एक तो अभी भी भारत की 55 से 60% जनता कृषि पर निर्भर है| भले ही कृषि का जीडीपी में योगदान आज 15 परसेंट हो गया है| जो एक आजादी के टाइम पर करीब 50% होता था| लेकिन उसके बावजूद भी क्योंकि हमारी बहुत ज्यादा जनता कृषि पर निर्भर है| अपने एंप्लॉयमेंट के लिए, अपने रोजगार के लिए और अपने जीवन यापन के लिए, तो कृषि क्षेत्र को बनाए रखना, प्रोस्परस होने देना हमारे देश के लिए बहुत ज्यादा जरूरी है| इतनी 50% से अधिक जनता इस पर निर्भर है| और हमारे यहां पर बहुत छोटी छोटी फ्रेगमेंनटेड लैंड होल्डिंगस है| कृषि में उतना मेकनाइजेशन है नहीं और होना भी मुश्किल है| क्योंकि लोगों के पास बहुत छोटी-छोटी जमीने है| उन पर उतना लार्ज स्केल का मेकनाइजेशन जैसे कि अगर यूएस में है| और बहुत सारी कंट्री में होता है| कि मशीने काम करती हैं| इवन फ़र्टिलाइज़र वह छोटे एरोप्लेन से डालते हैं| तो उससे कॉस्ट जो है, लागत जो है, कम हो जाती है| जबकि हमारे देश में बहुत सारा काम मैनुअल होता है| और कृषि में अच्छी लागत है| आज के डेट में अगर आप बात करें| एक और हम मजदूरों को एम नरेगा में मिनिमम जो रोजगार में जो पैसा देते हैं, वह भी ज्यादा हो गया| तो उन सब से लेबर का इनकम बढ़ने से और लेबर का वैज बढ़ने से कृषि में उत्पादन लागत बढ़ गई है| और हम कंपिट करते हैं ग्लोबल मार्केट में| तो हमको कही न कंही सब्सिडी देनी पड़ती है| क्योंकि हमारे यहां पर पर यूनिट प्रोडक्शन कम है| कृषि का आधुनिकरण उतना हुआ नहीं है| छोटी-छोटी जोते हैं मतलब खेत जो छोटे होते हैं| तो उसमें उसने लार्ज स्केल इंडसस्टरलाइजेशन, लार्ज स्केल मॉडर्नाइजेशन शायद पॉसिबल भी नहीं हो पाता है| इसके लिए हमारे यहां पर कृषि में सब्सिडी देनी पड़ती है|

bharat mein krishi mein subsidy ki avashyakta isliye hai kyonki ek toh abhi bhi bharat ki 55 se 60 janta krishi par nirbhar hai bhale hi krishi ka gdp mein yogdan aaj 15 percent ho gaya hai jo ek azadi ke time par kareeb 50 hota tha lekin uske bawajud bhi kyonki hamari bahut zyada janta krishi par nirbhar hai apne employment ke liye apne rojgar ke liye aur apne jeevan yaapan ke liye toh krishi kshetra ko banaye rakhna prosparas hone dena hamare desh ke liye bahut zyada zaroori hai itni 50 se adhik janta is par nirbhar hai aur hamare yahan par bahut choti choti fregamennated land holdings hai krishi mein utana meknaijeshan hai nahi aur hona bhi mushkil hai kyonki logo ke paas bahut choti choti jamine hai un par utana large scale ka meknaijeshan jaise ki agar US mein hai aur bahut saree country mein hota hai ki machinein kaam karti hain even fartilaizar vaah chote aeroplane se daalte hain toh usse cost jo hai laagat jo hai kam ho jaati hai jabki hamare desh mein bahut saara kaam manual hota hai aur krishi mein achi laagat hai aaj ke date mein agar aap baat kare ek aur hum majduro ko M nrega mein minimum jo rojgar mein jo paisa dete hain vaah bhi zyada ho gaya toh un sab se labour ka income badhne se aur labour ka vaij badhne se krishi mein utpadan laagat badh gayi hai aur hum compete karte hain global market mein toh hamko kahi na kahin subsidy deni padti hai kyonki hamare yahan par par unit production kam hai krishi ka aadhunikaran utana hua nahi hai choti choti jote hain matlab khet jo chote hote hain toh usme usne large scale indasastaralaijeshan large scale madarnaijeshan shayad possible bhi nahi ho pata hai iske liye hamare yahan par krishi mein subsidy deni padti hai

भारत में कृषि में सब्सिडी की आवश्यकता इसलिए है क्योंकि एक तो अभी भी भारत की 55 से 60% जनता

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  219
KooApp_icon
WhatsApp_icon
21 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
भारत में कृषि सब्सिडी ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!