मानसिक स्वास्थ्य पेशेवर अपने मरीजों की कहानियों और स्वास्थ्य स्थितियों से कैसे प्रभावित नहीं होते हैं?...


play
user

Dr Ravi Prakash

Psychiatrist

1:60

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नेशनल सिटी हम लोग इंसान ही है मौसम तो है हम लोगों से गुजरते हैं शुरुआती दौर में हम लोग जाते हैं तो कई बार ऐसा होता है कि पेशेंट का पर्सनल बात देश ने पेशेंट का उसके लाइफ की जो चिरालिटी जो है वह हमको भी अफेक्ट थे जब हम लोग सुनते हैं लेकिन धीरे-धीरे को चुनौती दे दी आप गिटार बजाना सीखे आता है जब आप किसी भी प्रॉब्लम को ऑब्जेक्टिव नहीं देखना चाहते आपका वहीं आ जाता है कि आप किसी भी प्रॉब्लम चाहे वह मेंटल हेल्थ क्या किसी भी चीज का शुभ हो आप उसको और 50 मीटर चार्ज करते व्यक्ति के पास सारी डिटेल ज्यादा कर पाते हैं और स्टेज से मतलब ऐसे नहीं आ सकता वह धीरे-धीरे करके प्रेक्टिस से आता है उसमें कोई विशेष बात नहीं है हम लोग भी इंसान हैं आप डाउनलोड करते हो जाते लेकिन हम लोग को यह बताया जाता है बाकायदा ट्रेन किया जाता है कि आप अपने आप को कैसे दूर रखें उस एहसास से जो आपके खींचने में इंटरफेयर करें वैसे ही जैसे सज्जन को 3:00 के हिसाब से दूर रहना बहुत जरूरी है जग्गू अपना सर्जरी करना है उसी तरीके से एक मैसेज प्रोफेशनल को पेशेंट के मेंटल हेल्थ ट्रेन से थोड़ी है अगर पॉजिटिव ट्रीटमेंट से करना चाहते हैं

national city hum log insaan hi hai mausam toh hai hum logo se gujarate hai shuruati daur mein hum log jaate hai toh kai baar aisa hota hai ki patient ka personal baat desh ne patient ka uske life ki jo chiraliti jo hai wah hamko bhi Affect the jab hum log sunte hai lekin dhire dhire ko chunauti de di aap guitar bajana sikhe aata hai jab aap kisi bhi problem ko objective nahi dekhna chahte aapka wahi aa jata hai ki aap kisi bhi problem chahe wah mental health kya kisi bhi cheez ka shubha ho aap usko aur 50 meter charge karte vyakti ke paas saree detail zyada kar paate hai aur stage se matlab aise nahi aa sakta wah dhire dhire karke practice se aata hai usme koi vishesh baat nahi hai hum log bhi insaan hai aap download karte ho jaate lekin hum log ko yeh bataya jata hai bakayada train kiya jata hai ki aap apne aap ko kaise dur rakhen us ehsaas se jo aapke kheenchne mein intarafeyar karein waise hi jaise sajjan ko 3:00 ke hisab se dur rehna bahut zaroori hai jaggoo apna surgery karna hai usi tarike se ek massage professional ko patient ke mental health train se thodi hai agar positive treatment se karna chahte hain

नेशनल सिटी हम लोग इंसान ही है मौसम तो है हम लोगों से गुजरते हैं शुरुआती दौर में हम लोग जात

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  152
WhatsApp_icon
14 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Alpana Rastogi

Psychologist

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई कह रहा कि वह टेक्टिड नहीं है तो वह गलत कह रहा है क्योंकि अफेक्टेड होते हैं लेकिन जिस तरह दूसरों को निकालने की कुछ जीवन की क्वालिटी को इंप्रूव करने की कुछ नियम होते हैं वह नियम हम भी लागू करते तो हम उसमें पढ़ते नहीं है और अब बहुत देर तक तक तक नहीं रहता अफेक्टेड होते हैं लेकिन हम से निकल जाते हैं

koi keh raha ki vaah tektid nahi hai toh vaah galat keh raha hai kyonki affected hote hain lekin jis tarah dusro ko nikalne ki kuch jeevan ki quality ko improve karne ki kuch niyam hote hain vaah niyam hum bhi laagu karte toh hum usme padhte nahi hai aur ab bahut der tak tak tak nahi rehta affected hote hain lekin hum se nikal jaate hain

कोई कह रहा कि वह टेक्टिड नहीं है तो वह गलत कह रहा है क्योंकि अफेक्टेड होते हैं लेकिन जिस त

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  255
WhatsApp_icon
user

Dr. PRAVINA MISHRA

REHABILITATION PSYCHOLOGIST

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दाऊ की वजह यह है कि हम लोकेशन में जाते हैं तो हम भी क्लाइंट आता है हम उनकी सुनते हैं हमको डिटेल रहना होता है इमोशनल अटैचमेंट होना पड़ता है कि हमारी प्रोफेशनल बनता है और हमारा पर पति रखा है कि उनकी प्रॉब्लम सॉल्व हो यदि हम उनके जो प्रॉब्लम को सॉल्व नहीं कर पाएंगे इसलिए उनकी प्रॉब्लम क्यों मूड ऑफ तो बहुत अच्छे से समझ पाते हैं

dau ki wajah yeh hai ki hum location mein jaate hain toh hum bhi client aata hai hum unki sunte hain hamko detail rehna hota hai emotional attachment hona padta hai ki hamari professional banta hai aur hamara par pati rakha hai ki unki problem solve ho yadi hum unke jo problem ko solve nahi kar payenge isliye unki problem kyon mood of toh bahut acche se samajh paate hain

दाऊ की वजह यह है कि हम लोकेशन में जाते हैं तो हम भी क्लाइंट आता है हम उनकी सुनते हैं हमको

Romanized Version
Likes  40  Dislikes    views  501
WhatsApp_icon
user

Purba

Ex Army officer Psychological Counsellor

2:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं नहीं नहीं नहीं होती है फ्रेंड बाय बाय मैं कैसे बताऊं तेरे को पहले भारतीय सीमा में कितने पानी में हूं मुझे ही पता है तुम मेरे लिए लाइक इज यूज्ड इन करना तो मुझे प्रॉब्लम कीजिए कॉल करना करूं मैं क्या करूं क्या नहीं करूं मेरे साथ ऐसा हो रहा है क्या मुझे एक पोटैटो पोट अंदर पड़ता है अपने अंदर दो तरह के लोगों को नहीं रखता अगर मैं दो तरह के इंसान के रूप में फोन आए उनके प्रॉब्लम आई इंजॉय अकाउंट नंबर और करो और करो और मुझे प्लेटफार्म चाहिए ऐसे ही रहना जो मैं कोई डर नहीं होता तो हम जो रहते हैं

nahi nahi nahi nahi hoti hai friend bye bye main kaise bataun tere ko pehle bharatiya seema mein kitne paani mein hoon mujhe hi pata hai tum mere liye like is used in karna toh mujhe problem kijiye call karna karu main kya karu kya nahi karu mere saath aisa ho raha hai kya mujhe ek potato pot andar padta hai apne andar do tarah ke logo ko nahi rakhta agar main do tarah ke insaan ke roop mein phone aaye unke problem I enjoy account number aur karo aur karo aur mujhe platform chahiye aise hi rehna jo main koi dar nahi hota toh hum jo rehte hain

नहीं नहीं नहीं नहीं होती है फ्रेंड बाय बाय मैं कैसे बताऊं तेरे को पहले भारतीय सीमा में कित

Romanized Version
Likes  34  Dislikes    views  268
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राइटर नहीं होता जब उनको पेशेंट को जब हम हैंडल करते

writer nahi hota jab unko patient ko jab hum handle karte

राइटर नहीं होता जब उनको पेशेंट को जब हम हैंडल करते

Romanized Version
Likes  105  Dislikes    views  4192
WhatsApp_icon
user

Dr. Bushra Rais

Child Psychologist

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मूवी देखते देखते हैं कितना

movie dekhte dekhte hain kitna

मूवी देखते देखते हैं कितना

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  248
WhatsApp_icon
user

Dr HITESH KUMAR PATEL

Consultant Psychologist

1:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

साइकोलॉजी संसार की सुनने के बाद में बहुत सारे लोगों को प्रॉब्लम सुनने के बाद में साइकोलॉजी उसको एक प्रॉब्लम में नहीं आ जाए उसकी वजह से ज्यादातर लोग खुद के इमोशंस को रिलीज करते हैं खुद को मेंटेन करके रखते हैं कभी-कभी बहुत सारे सुन लेने के बाद में खुद थोड़ा सा रिलैक्सेशन धरा पी लेते हुए साइकोएनालिसिस मतलब खुद में काफी कुछ चीज है जो बार बार टच कर रही है बार-बार याद आ रही है उसको डिलीट करने का ट्राई कर रहे हैं जिसकी वजह से वह थोड़ा मेंटली स्ट्रांग रहता है या फिर मेंटली अपसेट ना हो पाए वह चीज को पेंटिंग करना चाहिए

psychology sansar ki sunne ke baad mein bahut saare logo ko problem sunne ke baad mein psychology usko ek problem mein nahi aa jaye uski wajah se jyadatar log khud ke emotional ko release karte hain khud ko maintain karke rakhte hain kabhi kabhi bahut saare sun lene ke baad mein khud thoda sa Relaxation dhara p lete hue saikoenalisis matlab khud mein kaafi kuch cheez hai jo baar baar touch kar rahi hai baar baar yaad aa rahi hai usko delete karne ka try kar rahe hain jiski wajah se wah thoda mentally strong rehta hai ya phir mentally upset na ho paye wah cheez ko painting karna chahiye

साइकोलॉजी संसार की सुनने के बाद में बहुत सारे लोगों को प्रॉब्लम सुनने के बाद में साइकोलॉजी

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  510
WhatsApp_icon
user

ASHOKBHAI METALIYA

REHABILITATION PSYCHOLOGIST

1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेंटल इलनेस वाले दर्द जो भी होते हैं और जो भी अपनी समस्या हो जो भी बेरोजगार प्रॉब्लम होता है तो उसके जो स्पेशली से उसके पास आते हैं तो जो स्पेशल होता है उसका वह पहले से इस बारे में ट्रेन होता है और उसके साथ कौन से परिवार से और कौन सी ट्रीटमेंट से उसके उसके साथ बात करनी है उसके लिए उसने पहले से ही पूर्व ज्ञान होता है ठीक है तो इस हिसाब से वह अपने स्टेशन से आराम से बात करके और उसके जो भी बियर प्रॉब्लम है जो भी समस्या है उसको सुनने के बाद हो उसके सुझाव से आप अपने हिसाब से अपने एक्सीडेंट से जब से वह सुझाव देगा और उसका प्रभाव अपने आप अपने पर नहीं आएंगे तो उसका कारण ही है कि उसका जो भी प्रोग्राम है जो भी स्टडी उसने किया है उसके हिसाब से वह मेंटल इलनेस वाला जो दर्द है उसका अपने आप पर कोई असर होने नहीं देता है मेरी सबसे सही जवाब है इसका लिए

mental illness wale dard jo bhi hote hain aur jo bhi apni samasya ho jo bhi berozgaar problem hota hai toh uske jo speshli se uske paas aate hain toh jo special hota hai uska wah pehle se is bare mein train hota hai aur uske saath kaun se parivar se aur kaun si treatment se uske uske saath baat karni hai uske liye usne pehle se hi purv gyaan hota hai theek hai toh is hisab se wah apne station se aaram se baat karke aur uske jo bhi beer problem hai jo bhi samasya hai usko sunne ke baad ho uske sujhaav se aap apne hisab se apne accident se jab se wah sujhaav dega aur uska prabhav apne aap apne par nahi aayenge toh uska kaaran hi hai ki uska jo bhi program hai jo bhi study usne kiya hai uske hisab se wah mental illness vala jo dard hai uska apne aap par koi asar hone nahi deta hai meri sabse sahi jawab hai iska liye

मेंटल इलनेस वाले दर्द जो भी होते हैं और जो भी अपनी समस्या हो जो भी बेरोजगार प्रॉब्लम होता

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  407
WhatsApp_icon
user

SWETA SUREKA

Life Coach

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

और उसके लिए हम लोग अपने एक मिले तो आज भी किसी और को हेल्प करने के लिए हम लोगों को खुद का भी हमारा भी माइंडसेट वैसा होना बहुत जरूरी है ना आज हम लोग का डीलर ट्रेनिंग है छोटे थे तभी हम लोग उस लेवल तक नहीं पहुंच पाए हैं कि हम लोग आज इतने समय थे कि हम और किसी को हेल्प कर पा रहे हैं तो और पहुंचा हूं किसी और को हेल्प कर दें हम लोगों को उनकी इमोशनली लेटेस्ट बहुत जरूरी है अगर कोई इमोशनली एंड बोल्ड हो जाएंगे तो उनके खुद के ऊपर भी उसका प्रभाव आने लग जाएगा बहुत जरूरी है कि हम उनसे उनके आउटकम पर बिताए और निस्वार्थ भावना से हम उनकी सेवा करते हैं या उनके ठीक होने के लिए काम करते हैं एक छोटे डिपार्टमेंट भी हम लोग को प्राप्त करना पड़ता

aur uske liye hum log apne ek mile toh aaj bhi kisi aur ko help karne ke liye hum logo ko khud ka bhi hamara bhi mindset waisa hona bahut zaroori hai na aaj hum log ka dealer training hai chote the tabhi hum log us level tak nahi pohch paye hain ki hum log aaj itne samay the ki hum aur kisi ko help kar pa rahe hain toh aur pohcha hoon kisi aur ko help kar de hum logo ko unki emotionally latest bahut zaroori hai agar koi emotionally end bold ho jaenge toh unke khud ke upar bhi uska prabhav aane lag jayega bahut zaroori hai ki hum unse unke outcome par bitae aur niswarth bhavna se hum unki seva karte hain ya unke theek hone ke liye kaam karte hain ek chote department bhi hum log ko prapt karna padta

और उसके लिए हम लोग अपने एक मिले तो आज भी किसी और को हेल्प करने के लिए हम लोगों को खुद का भ

Romanized Version
Likes  107  Dislikes    views  1137
WhatsApp_icon
user

Manisha Jethwani

Psychologist

1:56
Play

Likes  13  Dislikes    views  166
WhatsApp_icon
user

Dr Tarun Nigam

Psycratist

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कमरुल है कि कोई डॉक्टर पेशेंट को नियुक्ति देखेगा हम लोग के अंदर इंटरनल कनफ्लिक्ट कनफ्लिक्ट बिटवीन ऑफ द माइंड माइंड के बारे में नहीं जानते इसलिए यार बड़ी चीज के बारे में मालूम है कि डॉक्टर जो है अनअफेक्टेड होता है

kamrul hai ki koi doctor patient ko niyukti dekhega hum log ke andar internal kanaflikt kanaflikt between of the mind mind ke bare mein nahi jante isliye yaar badi cheez ke bare mein maloom hai ki doctor jo hai unaffected hota hai

कमरुल है कि कोई डॉक्टर पेशेंट को नियुक्ति देखेगा हम लोग के अंदर इंटरनल कनफ्लिक्ट कनफ्लिक्ट

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  286
WhatsApp_icon
user

Surender Dhalwal

Assistant Professor Clinical Psychology

2:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिस प्रकार से यह कोई नियम नहीं है कि वह एक कार्डियक सर्जन जो है वह हार्टअटैक से नहीं मरेगा इतना निश्चित रूप से मनुष्य गरम बात कहीं की भी आ सकते नहीं होने वाली बात पैसा नहीं कि आप अच्छे नहीं होते क्योंकि वह प्रोफेशनल मैनेज कर पाते हैं बहुत हद तक मैनेज कर पाते एक मेंटल हेल्थ प्रोफेशनल साइड नहीं करेगा या उसको डिप्रेशन नहीं होगा कि नहीं होगा यदि हम उसकी बात करें तो बहुत अच्छा रिपीट भेजो हेल्प जो है स्पीकर फीचर्स भी करते है उसको फॉलो नहीं कर पाते तो जिसमें कि जैसे ट्रांसपेरेंसी अकाउंट ट्रांसफर इन चीजों की ट्रेनिंग है

jis prakar se yah koi niyam nahi hai ki vaah ek cardiac Surgeon jo hai vaah hartataik se nahi marega itna nishchit roop se manushya garam baat kahin ki bhi aa sakte nahi hone wali baat paisa nahi ki aap acche nahi hote kyonki vaah professional manage kar paate hain bahut had tak manage kar paate ek mental health professional side nahi karega ya usko depression nahi hoga ki nahi hoga yadi hum uski baat kare toh bahut accha repeat bhejo help jo hai speaker features bhi karte hai usko follow nahi kar paate toh jisme ki jaise transparency account transfer in chijon ki training hai

जिस प्रकार से यह कोई नियम नहीं है कि वह एक कार्डियक सर्जन जो है वह हार्टअटैक से नहीं मरेगा

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  323
WhatsApp_icon
user

Dr. Pallavee Trivedi

REHABILITATION PSYCHOLOGIST

1:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसलिए नहीं होता है कि नकली हम लोग जो है वह स्टेशन को बाहर बैठे देखते हैं जैसे कि हमारे पास अगर कोई काम चली आया तो बताता है तो वह प्रॉब्लम होता है और उसके साथ बहुत सारे लोग जुड़े हुए हैं हम उनसे भी बात करते हैं और हम वह भी प्रॉब्लम है उसको पूरी समझने की कोशिश करते हैं और उसको समझाने की कोशिश करता रहा है क्या उसमें वह जाकर यह सब हम नहीं करते मगर मूवी देख रहे हैं कौन मूवी की एक ही आज तक पर गौर नहीं करते बहुत सारी चीजों पर बात करते हैं और कैसे और हमें यह भी पता है कि यह जो मूवी है वह मूवी बैटरी का जो प्रॉब्लम होता है उसको ऐसा मैं नहीं आऊंगी कि बिल्कुल फेक नहीं करता है पर उसके लिए हमें ट्रेनिंग दी गई है आपको अगर हो जाएंगे तो हम तो कितने सारे प्रॉब्लम कर ले कर जाएंगे तो हमें ट्रेनिंग दी जाती है कि आपको किसी की इमोशंस को इमोशनल हुए बिना की तरह से उस को विश करना है कि कल को समझना है तो हमें होना है हमें ट्रेनिंग मिली है कि अगर हम अतिथि डाउनलोड करना चाहते तो हमें थोड़ा अलग रह कर सोचना पड़ेगा क्योंकि हम इस बात का सलूशन ला पाएंगे नहीं तो फिर वही मौसम में

isliye nahi hota hai ki nakli hum log jo hai wah station ko bahar baithe dekhte hain jaise ki hamare paas agar koi kaam chali aaya toh batata hai toh wah problem hota hai aur uske saath bahut saare log jude hue hain hum unse bhi baat karte hain aur hum wah bhi problem hai usko puri samjhne ki koshish karte hain aur usko samjhane ki koshish karta raha hai kya usme wah jaakar yeh sab hum nahi karte magar movie dekh rahe hain kaun movie ki ek hi aaj tak par gaur nahi karte bahut saree chijon par baat karte hain aur kaise aur humein yeh bhi pata hai ki yeh jo movie hai wah movie battery ka jo problem hota hai usko aisa main nahi aaungi ki bilkul fake nahi karta hai par uske liye humein training di gayi hai aapko agar ho jaenge toh hum toh kitne saare problem kar le kar jaenge toh humein training di jati hai ki aapko kisi ki emotional ko emotional hue bina ki tarah se us ko wish karna hai ki kal ko samajhna hai toh humein hona hai humein training mili hai ki agar hum atithi download karna chahte toh humein thoda alag reh kar sochna padega kyonki hum is baat ka salution la payenge nahi toh phir wahi mausam mein

इसलिए नहीं होता है कि नकली हम लोग जो है वह स्टेशन को बाहर बैठे देखते हैं जैसे कि हमारे पास

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  511
WhatsApp_icon
user

Yogesh Verma

Psychotherapist

1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ओके डिलीट होता है बिल्कुल होता है उसका आपने जो मानसिक बीमार है तो ऑटोमेटिक रोमांटिक पिता जो है वह आप जो है लेने लग जाओगे यह तो होता ही होता है तो उसके लिए क्या होना पड़ता है मैं अपने ऊपर काम करना पड़ता है बहुत कम लोग भी है कि आप लोग अपने आपको अपडेट नहीं करते हो अगर हम लोग अपने आपको अपडेट नहीं करेंगे तो फिर हमारा काम कब तक हो जाएगी अगर आते हैं उनका किट लेकर आते हैं इस तरह का जोखिम बढ़ाइए अलग तरीका होता है तो उनसे काम करने के लिए हमें अपनी पिक सेंड की और एनर्जी दोनों ही रखनी पड़ेगी 22 लोग जाते हैं तो उनका काम ही होता है कि एनर्जी नहीं आते तो आप एनर्जी ड्रिंक करोगे करोगे अपनी उनको दोगे तो आपको अपनी एनर्जी को इंटैक्ट करना होता है रखना पड़ता है आपको बहुत पराए पूछना पड़ता है अपने पर मेडिसिटी पेट्रोल आपको जॉइनिंग करनी पड़ती है अपने आपको अनकॉन्शियस से अपना सपोर्ट लेना होता है तो बहुत सारी चीजें खट्टा मीठा फिल्म राजू हैं उनके साथ उनकी एनर्जी ड्रिंक मैं शामिल हुई जाओगे

ok delete hota hai bilkul hota hai uska aapne jo mansik bimar hai toh Automatic romantic pita jo hai vaah aap jo hai lene lag jaoge yah toh hota hi hota hai toh uske liye kya hona padta hai apne upar kaam karna padta hai bahut kam log bhi hai ki aap log apne aapko update nahi karte ho agar hum log apne aapko update nahi karenge toh phir hamara kaam kab tak ho jayegi agar aate hain unka kit lekar aate hain is tarah ka jokhim badhaiye alag tarika hota hai toh unse kaam karne ke liye hamein apni pic send ki aur energy dono hi rakhni padegi 22 log jaate hain toh unka kaam hi hota hai ki energy nahi aate toh aap energy drink karoge karoge apni unko doge toh aapko apni energy ko intact karna hota hai rakhna padta hai aapko bahut parae poochna padta hai apne par medicity petrol aapko joining karni padti hai apne aapko anakanshiyas se apna support lena hota hai toh bahut saree cheezen khatta meetha film raju hain unke saath unki energy drink main shaamil hui jaoge

ओके डिलीट होता है बिल्कुल होता है उसका आपने जो मानसिक बीमार है तो ऑटोमेटिक रोमांटिक पिता ज

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  328
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!