क्या UPSC मेन्स परीक्षा में लिखावट मायने रखती है?...


user

Rakesh Kumar Sharma

Director - The Smile Institute for UPSC & JUDICIARY

1:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यहां तक यूपीएससी मेंस परीक्षा में लिखावट की बात रहे हैं तो लिखावट तो इंपॉर्टेंट है ही लेजिबल होना चाहिए जिंदगी बहुत सारे बच्चे ऐसे होते हैं जिनकी हैंडराइटिंग ज्यादा नहीं होती है इस एग्जाम रखो तो दिक्कत आती है तो यूं कहा जाए यह नली बच्चे लोग का दिमाग में होता है कि चलो संदी संदी अंटार्कटिक लिख देंगे अपना तो मैसेज से निकल जाएगा लेकिन सबसे इंपोर्टेंट होता है कि अगर लिखावट आपकी बिल्कुल खराब है अगर आपको लगता है कि आप अच्छा नहीं लिख पाते तो थोड़ा सा ध्यान दें पॉइंट वाइज अपनी बातों को आंसर में लिखें और आंसर को संक्षिप्त करें टू द प्वाइंट कंसाई सैंपल साइज लिखें वॉइस बनाकर लिखे तो है मगर आपकी अच्छी नहीं भी होगी तो यूपीएससी मैंस में जो एग्जामिनर होता है जो इंसान की कॉपी चेक करते हैं वह दया रिटेलर प्रोफेसर फ्रॉम द रिवर रिनाउंड यूनिवर्सिटी जींद के सामने पेपर दिए जाते हैं चेक करने के लिए तो वह भी समझते हैं कि बच्चों को हो सकता लिखावट के प्रो बहुत सारी बातें होती है स्टूडेंट के दिमाग में बातें आ रही हो लिखता जा रहा है तो सचिन संभव नहीं हो पाता है कि बात को बोल दो कि बातें बहुत जल्दी जल्दी आती है स्टूडेंट के दिमाग खराब होगी इसलिए बच्चों को प्रेस करके देखना चाहिए तो मेरा तो यह होगा कि लिखावट अगर खराब है तो यह उसको स्टेप्संस में करने के लिए ऑफिस को हथियार बना सकते हो पॉइंट्स को टू द प्वाइंट सीखने के लिए

yahan tak upsc mains pariksha me likhavat ki baat rahe hain toh likhavat toh important hai hi legible hona chahiye zindagi bahut saare bacche aise hote hain jinki handwriting zyada nahi hoti hai is exam rakho toh dikkat aati hai toh yun kaha jaaye yah nali bacche log ka dimag me hota hai ki chalo sandi sandi antarctica likh denge apna toh massage se nikal jaega lekin sabse important hota hai ki agar likhavat aapki bilkul kharab hai agar aapko lagta hai ki aap accha nahi likh paate toh thoda sa dhyan de point wise apni baaton ko answer me likhen aur answer ko sanshipta kare to the point kansai sample size likhen voice banakar likhe toh hai magar aapki achi nahi bhi hogi toh upsc mains me jo examiner hota hai jo insaan ki copy check karte hain vaah daya retailer professor from the river renowned university Jind ke saamne paper diye jaate hain check karne ke liye toh vaah bhi samajhte hain ki baccho ko ho sakta likhavat ke pro bahut saari batein hoti hai student ke dimag me batein aa rahi ho likhta ja raha hai toh sachin sambhav nahi ho pata hai ki baat ko bol do ki batein bahut jaldi jaldi aati hai student ke dimag kharab hogi isliye baccho ko press karke dekhna chahiye toh mera toh yah hoga ki likhavat agar kharab hai toh yah usko stepsans me karne ke liye office ko hathiyar bana sakte ho points ko to the point sikhne ke liye

यहां तक यूपीएससी मेंस परीक्षा में लिखावट की बात रहे हैं तो लिखावट तो इंपॉर्टेंट है ही लेजि

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  225
KooApp_icon
WhatsApp_icon
11 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!