गर्भावस्था में महिलाओं को कैसी किताबें पड़नी चाहिएँ?...


play
user

Dr Aradhana Karla Dawar (Gold medalist)

Consultant High risk Obstetrics, Gynecology and Infertility

0:16

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रेगनेंसी के वक्त जो बच्चे को सुनाई देता है 26 हफ्ते में अगर हम मानेगी सुनाई देता है तो अच्छी किताब है जिनसे गुड टीचिंग सुधार में किताबें बच्चे से बात करना चाहिए बच्चे को महसूस करना चाहिए

pregnancy ke waqt jo bacche ko sunayi deta hai 26 hafte mein agar hum manegi sunayi deta hai toh acchi kitab hai jinse good teaching sudhaar mein kitaben bacche se baat karna chahiye bacche ko mahsus karna chahiye

प्रेगनेंसी के वक्त जो बच्चे को सुनाई देता है 26 हफ्ते में अगर हम मानेगी सुनाई देता है तो अ

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  371
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

महेश हिन्दू

विधार्थी

1:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार माताओं बहनों गर्भावस्था में महिलाओं को कैसे किताबें पढ़नी चाहिए महिलाओं को विशेषकर रामायण महाभारत गीता पढ़नी चाहिए और आप जो पढ़ोगे जो सुमिरन करोगी वही बच्चे पर उसका प्रभाव पड़ेगा ज्यादा से ज्यादा आप धार्मिक किताबें पढ़ी उसके बाद संसार के जितने भी बड़े बड़े महापुरुष लोग हुए हैं उनकी जीवनी या को पड़े उन्होंने किस प्रकार से संघर्ष करके आगे बढ़े उनकी किताबें पड़े उसके बाद जो सत्य घटनाएं हैं भक्त और भगवान की ऐसी किताबें हैं उन्हें भी आप पढ़िए उसके बाद आप टीवी देख सकती है टीवी में जो लाइव कथाएं चलती है धार्मिक प्रवचन साधु संत महात्माओं के आप उन्हें सुना करें तो उससे भी आपके होने वाली संतान को अच्छा महसूस होगा और वह भी गलत गलत रास्ते से जाने से बच जाएगी उन पर दीदी आप जो कहोगी वह इसका सीधा असर पड़ेगा बाकी घर का माहौल वातावरण ऐसा हो कि ना लड़ाई झगड़ा नाचे चिड़ा पन ना इधर-उधर की बातें और फालतू की बातें लिखकर यह बात रखे आप जब भी गर्भधारण करती हो तो अपने कमरे में अश्लील चित्र या अश्लील साहित्य की एक भी चीज या वस्तु अपने कमरे में नहीं होनी चाहिए जब तक अपना बच्चा मां के पेट से बाहर ना धन्यवाद

namaskar mataon bahanon garbhavastha mein mahilaon ko kaise kitaben padhani chahiye mahilaon ko visheshkar ramayana mahabharat geeta padhani chahiye aur aap jo padhoge jo sumiran karogi wahi bacche par uska prabhav padega zyada se zyada aap dharmik kitaben padhi uske baad sansar ke jitne bhi bade bade mahapurush log hue hain unki jeevni ya ko pade unhone kis prakar se sangharsh karke aage badhe unki kitaben pade uske baad jo satya ghatnaye hain bhakt aur bhagwan ki aisi kitaben hain unhein bhi aap padhie uske baad aap TV dekh sakti hai TV mein jo live kathaen chalti hai dharmik pravachan sadhu sant mahatmaon ke aap unhein suna karein toh usse bhi aapke hone waali santan ko accha mahsus hoga aur wah bhi galat galat raste se jaane se bach jayegi un par didi aap jo kahogi wah iska seedha asar padega baki ghar ka maahaul vatavaran aisa ho ki na ladai jhagda nache chida pun na idhar udhar ki batein aur faltu ki batein likhkar yeh baat rakhe aap jab bhi garbhadharan karti ho toh apne kamre mein ashleel chitra ya ashleel sahitya ki ek bhi cheez ya vastu apne kamre mein nahi honi chahiye jab tak apna baccha maa ke pet se bahar na dhanyavad

नमस्कार माताओं बहनों गर्भावस्था में महिलाओं को कैसे किताबें पढ़नी चाहिए महिलाओं को विशेषकर

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  400
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!