भीमा कोरेगव में दलितों के साथ जो भी हुआ उस सब के पीछे कौन जिम्मेदार?...


play
user

Arvind rajpurohit

Entrepreneur , Mentor,

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भीमा कोरेगांव में जो फंक्शन होता है वह काफी सालों से होता है और वह फंक्शन ना तभी हुआ था जब पिछली बार शिवसेना बीजेपी सरकार थी उसके बाद कांग्रेस की सरकार है BJP की सरकार आई और अभी बीजेपी की सरकार है कहीं ना कहीं मुझे यह लगता है कि एक जो मुहिम चल पड़ी है दलितों को हिंदू जातियों से अलग बताने की और उसमें जो राजनीतिक लोग जो तेरे क्लीन बोल्ड हो रहे हैं किस के प्रलोभन से हो रहा है किस पल्लव वंश और है मुझे नहीं पता लेकिन कहीं ना कहीं उस में विपक्ष की शादी से ऐसे नजर आती है कि जब तक जिग्नेश मेवानी जैसे और जो JNU के अपराधी है वैसे लोग और जिनका दलितों से कोई लेना देना ही नहीं एक मुस्लिम धर्म का नेता जो जेएनयू में देश विरोधी नारे लगाने का अपराधी है आरोपी है वह दलितों के सम्मेलन में क्या काम कर रहा था क्या वहां पर उसको जाना चाहिए वह लोग वहां गए जो बाहर के लोग वहां जाते हैं इंटरनेट करते तो वहां पर हिंसा हुई है और वहां पर ऐसी चीजें होती है क्योंकि वह लोग इसका राजनीतिक फायदा उठाते हैं कहीं ना कहीं मैं मानता हूं कि इससे नुकसान दलितों को भी होता है और यह हिंदू धर्म को बांटने की जो साजिश हो रही है उसका भी एक का प्रयास किया जा रहा है बहुत ही मुहिम के तौर पर किया जा रहा है सांगली किया जा रहा है ताकि कैसे भी करके हिंदुओं 2014 के इलेक्शन में एकजुट हुए थे क्योंकि हमने देखा कि 2014 में नरेंद्र मोदी के समर्थन में जातिगत भेदभाव को भुलाकर सारे हिंदू एक मोटे तौर पर एकजुट हुए तो उनको वोट मिला उनका तो आप उनको वापस बांटने की साजिश हो रही है ताकि एक नया समीकरण बनाया जा सके और वापस BJP को रोका जा सके केवल राजनीति के लिए सत्ता के लिए जो खेल हो रहा है 2 जातियों को आपस में बांटने की साजिश हो रही है वह हिंदू धर्म के लिए दलितों के लिए और कहीं ना कहीं बहुसंख्यक होने के नाते इस देश के लिए बहुत ज्यादा खतरा

bhima koregaon mein jo function hota hai vaah kaafi salon se hota hai aur vaah function na tabhi hua tha jab pichali baar shivsena bjp sarkar thi uske baad congress ki sarkar hai BJP ki sarkar I aur abhi bjp ki sarkar hai kahin na kahin mujhe yah lagta hai ki ek jo muhim chal padi hai dalito ko hindu jaatiyo se alag batane ki aur usme jo raajnitik log jo tere clean bold ho rahe hai kis ke pralobhan se ho raha hai kis pallav vansh aur hai mujhe nahi pata lekin kahin na kahin us mein vipaksh ki shadi se aise nazar aati hai ki jab tak jignesh mevani jaise aur jo JNU ke apradhi hai waise log aur jinka dalito se koi lena dena hi nahi ek muslim dharm ka neta jo jnu mein desh virodhi nare lagane ka apradhi hai aaropi hai vaah dalito ke sammelan mein kya kaam kar raha tha kya wahan par usko jana chahiye vaah log wahan gaye jo bahar ke log wahan jaate hai internet karte toh wahan par hinsa hui hai aur wahan par aisi cheezen hoti hai kyonki vaah log iska raajnitik fayda uthate hai kahin na kahin main manata hoon ki isse nuksan dalito ko bhi hota hai aur yah hindu dharm ko baantne ki jo saajish ho rahi hai uska bhi ek ka prayas kiya ja raha hai bahut hi muhim ke taur par kiya ja raha hai sangli kiya ja raha hai taki kaise bhi karke hinduon 2014 ke election mein ekjut hue the kyonki humne dekha ki 2014 mein narendra modi ke samarthan mein jaatigat bhedbhav ko bhulakar saare hindu ek mote taur par ekjut hue toh unko vote mila unka toh aap unko wapas baantne ki saajish ho rahi hai taki ek naya samikaran banaya ja sake aur wapas BJP ko roka ja sake keval raajneeti ke liye satta ke liye jo khel ho raha hai 2 jaatiyo ko aapas mein baantne ki saajish ho rahi hai vaah hindu dharm ke liye dalito ke liye aur kahin na kahin bahusankhyak hone ke naate is desh ke liye bahut zyada khatra

भीमा कोरेगांव में जो फंक्शन होता है वह काफी सालों से होता है और वह फंक्शन ना तभी हुआ था जब

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  166
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Shubham

Software Engineer in IBM

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सर आपने को शंका पर डाला है और जो अभी इंसिडेंट चल रहा है एक-दो दिनों से वह काफी शर्मनाक और दर्दनाक दोनों ही है मैं जो भीमा कोरेगाव के बारे में दलितों के साथ जो हुआ उसके बारे में पढ़ते बताने से पहले मैं आपको कुछ बात बताने वाला बताने वाला हूं कि इंसिडेंट है क्या जो भीमा कोरेगांव इंसिडेंट है वो 1 से लेकर आएगी 1980 में युद्ध हुआ था जो पेशवा बाजीराव और एक ब्रिटिश सरकार के ईस्ट इंडिया कंपनी के बीच में हुआ था जिसमें जो दलित थे उन्होंने ब्रिटिश इंडिया का साथ दिया था तो उस टाइम जो मराठा से बहार गए थे इनसे ईस्ट इंडिया कंपनी चौधरी से तो तू क्या कहते हैं तू युद्ध माना जाता है वह मना दलितों की विजय तो इसीलिए कुछ मराठा आज वैसे भी ऑलरेडी जो ब्राह्मणों लेटे हुए हैं दलित से और बताओ और अभी जो ऐसा कुछ नहीं है कि दलित लड़ने की वजह से आए थे ऐसा कुछ भी नहीं दलित राजोरी गांव है उसमें बस आए थे और जो कुछ सुंदर की वजह से जोगी दलित कुछ मारे गए उनके फैंस के लिए आए थे तो और जो भी पुलिस स्टेशन है उसमें कोई पेपर नहीं पाया गया दलितों के पास तो मुझे लगता है इसमें जो मराठा दोनों ने हमला किया है पहले ऐसा मेरा मानना है तो कहीं ना कहीं लोकगीत हिंदी में भी गलती है इसका इस चीज को हुए काफी साल हो चुके हैं दूसरी चीज मुझे पॉलिटिकल हाथ भी है क्योंकि मराठा समाज और जो हाई का प्रकाश जो लीडर से वह काफी है तो वह चाहते थे इस सचिन को कंट्रोल कर सकते थे कैसे भी करके लेकिन सलूशन धीरे धीरे बिगड़ती करो इसमें पुलिस कि कहीं ना कहीं गलती है सिस्टम की गलती है क्योंकि वह इस चीज को अच्छे से नहीं संभाल पाए और कहीं ना कहीं उनकी कमजोरी दिखाई दे तो यह सिस्टम ज्यादा बिगड़ यह घटना ज्यादा बिगड़ गई

sir aapne ko shanka par dala hai aur jo abhi incident chal raha hai ek do dino se vaah kaafi sharmnaak aur dardanak dono hi hai jo bhima koregaon ke bare mein dalito ke saath jo hua uske bare mein padhte batane se pehle main aapko kuch baat batane vala batane vala hoon ki incident hai kya jo bhima koregaon incident hai vo 1 se lekar aayegi 1980 mein yudh hua tha jo peshwa bajirao aur ek british sarkar ke east india company ke beech mein hua tha jisme jo dalit the unhone british india ka saath diya tha toh us time jo maratha se bahar gaye the inse east india company choudhary se toh tu kya kehte hain tu yudh mana jata hai vaah mana dalito ki vijay toh isliye kuch maratha aaj waise bhi already jo brahmanon lete hue hain dalit se aur batao aur abhi jo aisa kuch nahi hai ki dalit ladane ki wajah se aaye the aisa kuch bhi nahi dalit rajori gaon hai usme bus aaye the aur jo kuch sundar ki wajah se jogi dalit kuch maare gaye unke fans ke liye aaye the toh aur jo bhi police station hai usme koi paper nahi paya gaya dalito ke paas toh mujhe lagta hai isme jo maratha dono ne hamla kiya hai pehle aisa mera manana hai toh kahin na kahin lokgeet hindi mein bhi galti hai iska is cheez ko hue kaafi saal ho chuke hain dusri cheez mujhe political hath bhi hai kyonki maratha samaj aur jo high ka prakash jo leader se vaah kaafi hai toh vaah chahte the is sachin ko control kar sakte the kaise bhi karke lekin salution dhire dhire bigadati karo isme police ki kahin na kahin galti hai system ki galti hai kyonki vaah is cheez ko acche se nahi sambhaal paye aur kahin na kahin unki kamzori dikhai de toh yah system zyada bigad yah ghatna zyada bigad gayi

सर आपने को शंका पर डाला है और जो अभी इंसिडेंट चल रहा है एक-दो दिनों से वह काफी शर्मनाक और

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  237
WhatsApp_icon
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे हिसाब से अभी यह कहना सही नहीं हो पा कि इसके पीछे कौन जिम्मेदार लेकिन फिर भी यह मामला चल रहा है अभी भी दंगे चल रहे हो जिस प्रकार से महाराष्ट्र सरकार ने बोला है कि कुछ भी आप कुछ भी करके वफाएं ना हो जाए जब तक आप को इस बात की पूरी तरह से पुष्टि ना हो तो मुझे इस बात की कोई इधर से दोस्ती नहीं है इसके पीछे कौन है इन आंखों में बसी सोचना चाहिए कि जो दंगे हो रहे हो काम हो महाराज सिरे से राज्य में और देश में कई सारे राज्य है जहां पर दंगे चल रहे वापस शांति बनी रहे हमें शांति के पीछे काम करना चाहिए और जो भी इनके पीछे रहेंगे मेरे सबसे सरकारों ने जल्द से जल्द पकड़ने के गाने कड़ी से कड़ी सजा देनी चाहिए

mere hisab se abhi yah kehna sahi nahi ho paa ki iske peeche kaun zimmedar lekin phir bhi yah maamla chal raha hai abhi bhi dange chal rahe ho jis prakar se maharashtra sarkar ne bola hai ki kuch bhi aap kuch bhi karke vafaen na ho jaaye jab tak aap ko is baat ki puri tarah se pushti na ho toh mujhe is baat ki koi idhar se dosti nahi hai iske peeche kaun hai in aankho mein basi sochna chahiye ki jo dange ho rahe ho kaam ho maharaj sire se rajya mein aur desh mein kai saare rajya hai jaha par dange chal rahe wapas shanti bani rahe hamein shanti ke peeche kaam karna chahiye aur jo bhi inke peeche rahenge mere sabse sarkaro ne jald se jald pakadane ke gaane kadi se kadi saza deni chahiye

मेरे हिसाब से अभी यह कहना सही नहीं हो पा कि इसके पीछे कौन जिम्मेदार लेकिन फिर भी यह मामला

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  176
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां जो आप का सवाल है इसका जवाब अभी सीधा-सीधा कोई भी नहीं दे सकता कि भीमराव भीमा कोरेगांव में दलितों के साथ जो भी हो उसके पीछे कौन जिम्मेदार है क्योंकि अभी इसलिए यह भंगिया पी चल ही रहे हैं और आज तीसरा दिन हो गया है आज जाकर थोड़ी बहुत शांत हुई है यह दंगों की आंख तो अभी इसके पीछे कौन जिम्मेदार है इसके लिए पुलिस और प्रशासन बहुत अच्छे से काम कर रहा है वह पता लगाने की कोशिश कर रहा है कि कौन जिम्मेदार है परंतु अभी से यह कह देना कि कौन जिम्मेदार है यह सही नहीं होगा और लोगों को तो पता भी नहीं है कि एक दम से क्या हो गया कैसे हो और क्यों हुआ तो अभी इसका कोई भी सबूत या कोई भी इंसान इसके लिए जिम्मेदार साबित नहीं हुआ है

haan jo aap ka sawaal hai iska jawab abhi seedha seedha koi bhi nahi de sakta ki bhimrao bhima koregaon mein dalito ke saath jo bhi ho uske peeche kaun zimmedar hai kyonki abhi isliye yah bhangiya p chal hi rahe hain aur aaj teesra din ho gaya hai aaj jaakar thodi bahut shaant hui hai yah dango ki aankh toh abhi iske peeche kaun zimmedar hai iske liye police aur prashasan bahut acche se kaam kar raha hai vaah pata lagane ki koshish kar raha hai ki kaun zimmedar hai parantu abhi se yah keh dena ki kaun zimmedar hai yah sahi nahi hoga aur logo ko toh pata bhi nahi hai ki ek dum se kya ho gaya kaise ho aur kyon hua toh abhi iska koi bhi sabut ya koi bhi insaan iske liye zimmedar saabit nahi hua hai

हां जो आप का सवाल है इसका जवाब अभी सीधा-सीधा कोई भी नहीं दे सकता कि भीमराव भीमा कोरेगांव म

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  148
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
bhima che gane ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!