24 उच्च न्यायालयों में 400 से अधिक न्यायाधीशों की सीट ख़ाली है।क्या इसी वजह से फ़ैसलों में देरी होती है?...


play
user

Awdhesh Singh

Former IRS, Top Quora Writer, IAS Educator

0:55

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखे जो न्यायालय में सीटें खाली हैं 400 से ज्यादा इसका असर तो लाजमी है पैसों में और अगर यह 400 लोग मान लिया Wanted होते हैं तो रोज कई सारे हजारों फैसले बोलोगे सकते थे और इसमें कोई दो राय नहीं है कि जो पेंडेंसी है वह काफी हद तक कम हो जाती तो इसमें कोई दो राय नहीं है कि जो उच्च न्यायालय पर खा लिया को एक बहुत बड़ा कारण है कि नहीं अकेला कारण नहीं है इसके अलावा बहुत सारे कारण हैं जिसमें जो आपके जो बाकी लोग हैं जैसे आप के एडवोकेट सेवर जेल में लेते रहते हैं टाइम से आते नहीं हैं और जो एक न्यायालय की जो प्रक्रिया है वह बहुत ज्यादा कॉन्प्लेक्स है और उस चक्कर में भी बहुत सारी डिलीट होती हैं 2 सीटों को भरना बहुत जरूरी है लेकिन उसके साथ-साथ में उसमें जो गुणात्मक सुधार है और उसमें जो प्रक्रिया में सुधार है वह भी अगर हम चाहते हैं कि न्यायालय हैं उसमें तेजी से फैसले

likhe jo nyayalaya mein seaten khaali hain 400 se jyada iska asar to lajmi hai paison mein aur agar yeh 400 log maan liya Wanted hote hain to roj kai sare hajaron chahiye faisle bologe sakte the aur isme koi do rai nahi hai ki jo pendensi hai wah kaafi had tak kum ho jati to isme koi do rai nahi hai ki jo uccha chahiye nyayalaya par kha liya ko ek bahut bada kaaran hai ki nahi akela kaaran nahi hai iske alava bahut sare kaaran hain jisme jo aapke jo baki log hain jaise aap ke edavoket sevar jail mein lete rehte hain time se aate nahi hain aur jo ek nyayalaya ki jo prakriya hai wah bahut jyada conplex hai aur us chakkar mein bhi bahut saree delete hoti hain 2 seaton ko bharna bahut zaroori hai lekin uske saath saath mein usamen chahiye jo gunatmak sudhaar hai aur usamen chahiye jo prakriya mein sudhaar hai wah bhi agar hum chahte hain ki nyayalaya hain usamen chahiye teji se faisle

लिखे जो न्यायालय में सीटें खाली हैं 400 से ज्यादा इसका असर तो लाजमी है पैसों में और अगर यह

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  490
KooApp_icon
WhatsApp_icon
9 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!