क्या मोदी अपनी जगह सही है यह राहुल गांधी सही है?...


play
user

Ravi Sharma

Advocate

1:58

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी जी का अपनी जगह सही होना व राहुल गांधी का अपनी जगह सही होना एक बहुत ही हास्यास्पद परिस्थिति की ओर इशारा करता है देखिए मोदी जी अपनी जगह सही हैं भारत का प्रधानमंत्री होकर परंतु राहुल गांधी जी बिल्कुल सही नहीं है भारत की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी का अध्यक्ष बन के उसकी अध्यक्षता कर के वह अपनी जगह पूरी तरह सही नहीं है उन्हें भी पता है कि वो राजनीति के लिए नहीं बने हैं वह बिना मन के मन से राजनीति का एक अंग बने हुए हैं जिसके बाद कांग्रेस की कार्य समिति ने उनको एक मोहरे के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है तथा वह चाहते हैं कि गांधी परिवार व उसकी छवि के अनुरूप है कांग्रेस को राहुल गांधी के नाम व उनकी सर ने जो कि गांधी है उसके आधार पर आने वाले समय पर वोट मिलते रहे परंतु कांग्रेस बार बार यह फूल जाती है कि आप भी जनता जो है जागृत हो चुकी है वह उसको पता है कि किसी परिवार व जाति के आधार पर वोट नहीं किया जा सकता अब जो वोट होगा वह विकास के नाम पर हो इसीलिए आने वाले चुनाव में भी हम देखेंगे कि मोदी और बीजेपी सरकार को ही चार बोतल वोट मिलेंगे अल्पसंख्यकों द्वारा व पिछड़े वर्ग द्वारा भी बीजेपी को वोट किया जाना पिछले कुछ चुनावों में इस बात का इस बात को दर्शाता है इस बात का सही उदाहरण है कि भारत की जनता वास्तव में जागृत हो सकी है मगर हम किसी और परिप्रेक्ष में भी देखें तो राहुल गांधी जी का अपने संविधान के दायरे में रहकर कोई बयान बाजी करना बिल्कुल भी गलत नहीं है वह अपनी जगह पूरी तरह सही है एक अच्छे विकल्प एक अच्छे विपक्ष वह एक अच्छे राजनेता होने के गुण होने के नाते मैं इस प्रकार के बयान बार-बार देने पड़ते हैं देते हैं लेकिन यह काफी हास्यास्पद लगता है क्योंकि इसका मूलभूत कारण यही है कि वह शायद राजनीति के लिए बनाई नहीं है उनका व्यक्तित्व व जो उन का एक्सपीरियंस है वह बिल्कुल अलग प्रकार का है जब बजाएं मोदी जी की जो एक स्वयंसेवक रह चुके हैं धंयवाद

modi ji ka apni jagah sahi hona va rahul gandhi ka apni jagah sahi hona ek bahut hi hasyaspad paristithi ki aur ishara karta hai dekhiye modi ji apni jagah sahi hain bharat ka pradhanmantri hokar parantu rahul gandhi ji bilkul sahi nahi hai bharat ki sabse purani raajnitik party ka adhyaksh ban ke uski adhyakshata kar ke vaah apni jagah puri tarah sahi nahi hai unhe bhi pata hai ki vo raajneeti ke liye nahi bane hain vaah bina man ke man se raajneeti ka ek ang bane hue hain jiske baad congress ki karya samiti ne unko ek mohare ke taur par istemal kiya ja raha hai tatha vaah chahte hain ki gandhi parivar va uski chhavi ke anurup hai congress ko rahul gandhi ke naam va unki sir ne jo ki gandhi hai uske aadhaar par aane waale samay par vote milte rahe parantu congress baar baar yah fool jaati hai ki aap bhi janta jo hai jagrit ho chuki hai vaah usko pata hai ki kisi parivar va jati ke aadhaar par vote nahi kiya ja sakta ab jo vote hoga vaah vikas ke naam par ho isliye aane waale chunav mein bhi hum dekhenge ki modi aur bjp sarkar ko hi char bottle vote milenge alpsankhyako dwara va pichde varg dwara bhi bjp ko vote kiya jana pichle kuch chunavon mein is baat ka is baat ko darshata hai is baat ka sahi udaharan hai ki bharat ki janta vaastav mein jagrit ho saki hai magar hum kisi aur paripreksh mein bhi dekhen toh rahul gandhi ji ka apne samvidhan ke daayre mein rahkar koi bayan baazi karna bilkul bhi galat nahi hai vaah apni jagah puri tarah sahi hai ek acche vikalp ek acche vipaksh vaah ek acche raajneta hone ke gun hone ke naate main is prakar ke bayan baar baar dene padte hain dete hain lekin yah kaafi hasyaspad lagta hai kyonki iska mulbhut karan yahi hai ki vaah shayad raajneeti ke liye banai nahi hai unka vyaktitva va jo un ka experience hai vaah bilkul alag prakar ka hai jab bajaye modi ji ki jo ek swayamsevak reh chuke hain dhanyvad

मोदी जी का अपनी जगह सही होना व राहुल गांधी का अपनी जगह सही होना एक बहुत ही हास्यास्पद परिस

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  511
KooApp_icon
WhatsApp_icon
5 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!