क्या भारत के लिए यही प्रार्थना ठीक नहीं है ईश्वर अल्लाह एक ही नाम सबको सन्मति दे भगवान?...


user

Brijpal Singh Chouhan

Social Worker, journalist

0:58
Play

Likes  20  Dislikes    views  539
WhatsApp_icon
14 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Nishant Kr. Sharma

Social Worker And Advocate

1:22
Play

Likes  58  Dislikes    views  1036
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसा कि आपका प्रश्न है कि भारत के लिए यही प्रार्थना ठीक नहीं कि ईश्वर अल्लाह एक नाम सबको सन्मति दे जैसा कि मैं यह कहना चाहूंगा कि भारत देश में सभी पंथ संप्रदाय के लोग रहते हैं लेकिन सभी का एक ही ईश्वर एक है चाहे आप अल्लाह के दो चाहे आप भगवान के दो चाहे आप गुरु ग्रंथ साहिब के दो सारे मिलकर एक ही प्रभु का नाम जपते हैं सबके घर में सुख शांति विराजे इसलिए मेरा तो यह कथन बिल्कुल स्वीकार है

jaisa ki aapka prashna hai ki bharat ke liye yahi prarthna theek nahi ki ishwar allah ek naam sabko sanmati de jaisa ki main yah kehna chahunga ki bharat desh me sabhi panth sampraday ke log rehte hain lekin sabhi ka ek hi ishwar ek hai chahen aap allah ke do chahen aap bhagwan ke do chahen aap guru granth sahib ke do saare milkar ek hi prabhu ka naam japte hain sabke ghar me sukh shanti viraje isliye mera toh yah kathan bilkul sweekar hai

जैसा कि आपका प्रश्न है कि भारत के लिए यही प्रार्थना ठीक नहीं कि ईश्वर अल्लाह एक नाम सबको स

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  163
WhatsApp_icon
user

Radha Raman

Legal Practitioner (Lawyer)

2:14
Play

Likes  4  Dislikes    views  53
WhatsApp_icon
play
user

Ravi Sharma

Advocate

1:50

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में जिस प्रकार से विभिन्न जातियों संप्रदाय वह पत्तों में बैठे हुए लोग आपस में लड़ाई झगड़ा करते हैं और एकता का अभाव जा नजर आता है वहां पर यह कहना बिल्कुल ठीक होगा कि भारत में भगवान सभी को सन्मति दे यानी कि एक अच्छी मति दे जिससे भारत के नागरिक विकास की ओर उन्मुख हो आज हम पश्चिमी संस्कृति का को फॉलो करते हैं परंतु पश्चिमी संस्कृति की अच्छी बातों को ग्रहण नहीं करते उनको हम अपने जीवन में दिन प्रतिदिन के जीवन में उनका निर्माण नहीं कर पाते रही बाद भारतीय संस्कृति भारतीय संस्कृति का भी निर्माण हम अपने जीवन में नहीं कर पाते तो हम बीच में फंसे हुए हैं यानी कि हम पश्चिमीकरण पर भारतीय संस्कृति के बीच के एक युग में फंसे हुए हैं जब तक हम उसे नहीं निकलेंगे या तो हम पूरी तरह पाश्चात्य संस्कृति को फॉलो करें या बुरी तरह भारतीय संस्कृति का अनुपालन करें उसके बाद ही हमारा विकास संभव है तो यह तभी हो सकता है जब ईश्वर अल्लाह वाहेगुरु सूया ईसा मसीह हमें अच्छी मति दे जिससे कि हम भारत की संस्कृति व भारत का जो 12 में इतिहास है उसको उसका अनुपालन करके भारत को विकास की ओर ले जाए बजाय इसके कि आपस में धर्म जाति व संप्रदायों के आधार पर लड़ते रहे वह विभिन्न जातिगत भेदभाव के आधार पर वोट दें वह गलत सरकार बार बार चुने राज्य व केंद्र सरकारों में आपसी मतभेद होता है वह इसी प्रकार से धर्म जाति संप्रदायों के नाम पर भारत के नागरिकों को बांटकर अपना उल्लू सीधा करती हैं जिसका सीधा सीधा नुकसान में पिछले 70 से 72 सालों में होता है वह आगे भी होता रहेगा यदि हम अब भी नहीं सुधरेंगे और सभी धर्म को साथ लेकर नहीं चलेंगे तो भारत का विकास आने वाले वर्षों में भी संभव नहीं है धन्यवाद

bharat mein jis prakar se vibhinn jaatiyo sampraday vaah patton mein baithe hue log aapas mein ladai jhagda karte hai aur ekta ka abhaav ja nazar aata hai wahan par yah kehna bilkul theek hoga ki bharat mein bhagwan sabhi ko sanmati de yani ki ek achi mati de jisse bharat ke nagarik vikas ki aur unmukh ho aaj hum pashchimi sanskriti ka ko follow karte hai parantu pashchimi sanskriti ki achi baaton ko grahan nahi karte unko hum apne jeevan mein din pratidin ke jeevan mein unka nirmaan nahi kar paate rahi baad bharatiya sanskriti bharatiya sanskriti ka bhi nirmaan hum apne jeevan mein nahi kar paate toh hum beech mein fanse hue hai yani ki hum pashchimikaran par bharatiya sanskriti ke beech ke ek yug mein fanse hue hai jab tak hum use nahi nikalenge ya toh hum puri tarah pashchayat sanskriti ko follow kare ya buri tarah bharatiya sanskriti ka anupaalan kare uske baad hi hamara vikas sambhav hai toh yah tabhi ho sakta hai jab ishwar allah vaheguru suya isa masih hamein achi mati de jisse ki hum bharat ki sanskriti va bharat ka jo 12 mein itihas hai usko uska anupaalan karke bharat ko vikas ki aur le jaaye bajay iske ki aapas mein dharm jati va sampradayon ke aadhaar par ladte rahe vaah vibhinn jaatigat bhedbhav ke aadhaar par vote de vaah galat sarkar baar baar chune rajya va kendra sarkaro mein aapasi matbhed hota hai vaah isi prakar se dharm jati sampradayon ke naam par bharat ke nagriko ko bantakar apna ullu seedha karti hai jiska seedha seedha nuksan mein pichle 70 se 72 salon mein hota hai vaah aage bhi hota rahega yadi hum ab bhi nahi sudhrenge aur sabhi dharm ko saath lekar nahi chalenge toh bharat ka vikas aane waale varshon mein bhi sambhav nahi hai dhanyavad

भारत में जिस प्रकार से विभिन्न जातियों संप्रदाय वह पत्तों में बैठे हुए लोग आपस में लड़ाई झ

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  366
WhatsApp_icon
user

Abhay Pratap

Advocate | Social Welfare Activist

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रघुपति राघव राजा राम पतित पावन सीता राम ईश्वर अल्लाह तेरो नाम सबको सम्मति दे भगवान यह नारा राष्ट्रीय गरिमा के लिए सबसे श्रेष्ठ और महान है अभी अब यहां कब

raghupati raghav raja ram patit paavan sita ram ishwar allah tharo naam sabko sammati de bhagwan yah naara rashtriya garima ke liye sabse shreshtha aur mahaan hai abhi ab yahan kab

रघुपति राघव राजा राम पतित पावन सीता राम ईश्वर अल्लाह तेरो नाम सबको सम्मति दे भगवान यह नारा

Romanized Version
Likes  82  Dislikes    views  354
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सर बहुत अच्छी बात है आपने भी क्वेश्चन किया गया क्या बात के लिए प्रार्थना ठीक नहीं है लेकिन हम सब को संबंध एवं सर बहुत अच्छी प्रार्थना हमारे देश के लिए सर हमारा देश अगर इस प्रार्थना अगर यह प्रार्थना स्वीकार होती है अगर पूरा देश हिंदू मुस्लिम एक हो जाए ना सर तो हमारे देश से गंदी राजनीति भी निकल जाएगी सर हर गंदा इंसान इस देश से चला जाएगा सर और सर मेरा देश बहुत उन्नति करेगा सर थैंक यू सर जय हिंद

sir bahut achi baat hai aapne bhi question kiya gaya kya baat ke liye prarthna theek nahi hai lekin hum sab ko sambandh evam sir bahut achi prarthna hamare desh ke liye sir hamara desh agar is prarthna agar yah prarthna sweekar hoti hai agar pura desh hindu muslim ek ho jaaye na sir toh hamare desh se gandi raajneeti bhi nikal jayegi sir har ganda insaan is desh se chala jaega sir aur sir mera desh bahut unnati karega sir thank you sir jai hind

सर बहुत अच्छी बात है आपने भी क्वेश्चन किया गया क्या बात के लिए प्रार्थना ठीक नहीं है लेकिन

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  351
WhatsApp_icon
user
0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भोजपुरी राघव राजा राम पति के पावन पूरे भारत की

bhojpuri raghav raja ram pati ke paavan poore bharat ki

भोजपुरी राघव राजा राम पति के पावन पूरे भारत की

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  131
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बेशक बेशक बिल्कुल राइट है भारत के लिए प्रार्थना दुआ सब कर सकते हैं ईश्वर अल्लाह एक ही नाम बेशक ईश्वर जो जिसको ईश्वर मानता है मुस्लिम अल्लाह हू जिसकी जिस रूप मानते नाम है नाम अनेक है खुदा एक है उसके नाम हनी है जो जिस तरीके से उसकी पूजा करें माने से भारत के लिए दवा विक्रेता अभी करें जिस तरीके से रेप कर सकते इसमें कोई अर्जुन

beshak beshak bilkul right hai bharat ke liye prarthna dua sab kar sakte hain ishwar allah ek hi naam beshak ishwar jo jisko ishwar maanta hai muslim allah hoon jiski jis roop maante naam hai naam anek hai khuda ek hai uske naam honey hai jo jis tarike se uski puja kare maane se bharat ke liye dawa vikreta abhi kare jis tarike se rape kar sakte isme koi arjun

बेशक बेशक बिल्कुल राइट है भारत के लिए प्रार्थना दुआ सब कर सकते हैं ईश्वर अल्लाह एक ही नाम

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  68
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में यह प्रार्थना प्रसांगिक या समय चीनी नहीं है ईश्वर और अल्लाह अगर देखा जाए तो अगर आप उन्हें निराकार मानते हैं तो यह बात संभव है कि ईश्वर अल्लाह एक ही नाम है लेकिन भारतीय सनातन परंपरा के अनुसार भारतीय सनातन रीति-रिवाजों के अनुसार भारतीय ओरियंटेशन के मुताबिक ईश्वर और चाबी घर में निवास करता है जबकि अल्लाह एक कला में कहीं पर भी विश्वास में है और उसका कुरूप नहीं है रंग नहीं है जबकि भारतीय परंपरा में ईश्वर निराकार भी है और उसका आकार भी है क्योंकि हमारे यहां सर्वमान्य मान्यता यह है कि जो निराकार है वही आकार वाला है और जो आकार वाला है वही निराकार हो सकता है अल्लाह को मानने वाले अल्लाह के अलावा किसी और के बारे में उसकी होने के बारे में या उसके अस्तित्व के बारे में पूर्ण ते हैं मना करते हैं गीता में ईश्वर के बारे में जो धारणा है कुरान में अल्लाह की धारणा है उन दोनों में आकाश और पृथ्वी का फर्क है ला इलाहा इलल्लाह का मतलब यह है कि सिर्फ एक अल्लाह और कोई नहीं है जबकि भारतीय परंपरा भारतीय संस्कृति भारतीय धार्मिक विज्ञान के मतानुसार ईश्वर एक अलग मान्यता है ईश्वर के बारे में भिन्न-भिन्न मानते हैं भारतीय परंपरा में ईश्वर और ईश्वर के अस्तित्व के बारे में जो कहा गया है वह इस्लामिक परंपरा के मुताबिक अल्लाह में उपलब्ध नहीं है

bharat me yah prarthna prasangik ya samay chini nahi hai ishwar aur allah agar dekha jaaye toh agar aap unhe nirakaar maante hain toh yah baat sambhav hai ki ishwar allah ek hi naam hai lekin bharatiya sanatan parampara ke anusaar bharatiya sanatan riti rivajon ke anusaar bharatiya orientation ke mutabik ishwar aur chabi ghar me niwas karta hai jabki allah ek kala me kahin par bhi vishwas me hai aur uska kurup nahi hai rang nahi hai jabki bharatiya parampara me ishwar nirakaar bhi hai aur uska aakaar bhi hai kyonki hamare yahan sarvmanya manyata yah hai ki jo nirakaar hai wahi aakaar vala hai aur jo aakaar vala hai wahi nirakaar ho sakta hai allah ko manne waale allah ke alava kisi aur ke bare me uski hone ke bare me ya uske astitva ke bare me purn te hain mana karte hain geeta me ishwar ke bare me jo dharana hai quraan me allah ki dharana hai un dono me akash aur prithvi ka fark hai la ilaha ilallah ka matlab yah hai ki sirf ek allah aur koi nahi hai jabki bharatiya parampara bharatiya sanskriti bharatiya dharmik vigyan ke matanusar ishwar ek alag manyata hai ishwar ke bare me bhinn bhinn maante hain bharatiya parampara me ishwar aur ishwar ke astitva ke bare me jo kaha gaya hai vaah islamic parampara ke mutabik allah me uplabdh nahi hai

भारत में यह प्रार्थना प्रसांगिक या समय चीनी नहीं है ईश्वर और अल्लाह अगर देखा जाए तो अगर आ

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  91
WhatsApp_icon
user

Shubham

Software Engineer in IBM

1:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां सर मैं बिल्कुल सहमत हूं और यह जो प्रार्थना है ईश्वर अल्लाह एक ही नाम सबको सन्मति दे भगवान जो कथन कहां गया यह बिल्कुल सही है अगर हम भारत को उठाकर देखें तो यह जो कथन है वह भारत पर बिल्कुल लागू होना चाहिए मतलब मैं यह बोलना चाहता हूं कि आज जो भारत की स्थिति वह बिल्कुल भी सही नहीं है आजकल लोग रिलीजन के नाम पर लड़ रहे हैं हमारे जा रहे हैं हिंदू मुस्लिम से लड़ रहा है भारत में कहीं ना कहीं यह चल रहा है रिलीज उनके पीछे लोग मर रहे हैं लोग एक दूसरों की जो ईश्वर को नहीं मानते हैं भले ही आप किसी दूसरे के धर्म को नहीं माने लेकिन आपको कोई हक नहीं है कि दूसरे के धर्म को बुरा बोलें या धर्म के पीछे लड़ाई करें क्योंकि भगवान से एक ही है ठीक है आज के जमाने में जब लोग रामेश्वर इतने पढ़े लिखे हो बनते जा रहे हैं फिर भी लो अगर लड़ाई कर रहे हैं धर्म के नाम पर तो मुझे लगता है यह कहीं भी सही नहीं है और रियल बात यही है कि कि ईश्वर अल्लाह एक ही नाम सबको सम्मति दे भगवान बिल्कुल सही बात है अल्लाह एक ही है भगवान एक ही है ईशा एक ही है सब कुछ एक ही है फिर भी लोग पता नहीं क्यों लड़ते हैं धर्मों के नाम पर तो हमारे भारत के लोगों को इसके बारे में समझाना चाहिए थोड़ा ज्ञान होना चाहिए ताकि यह जो लड़ाई चल रही है वह थोड़ी कम हो भारत में थोड़ी शांति रहे आजकल बहुत दंगे हो रहे हैं इसे आप राम मंदिर को ले लीजिए औराई जगह ददं के बढ़ते जा रहे हैं तो मुझे लगता है यह बिल्कुल भी सही नहीं है इसमें सुधार लाना चाहिए और लोगों को यह समझना चाहिए इस कथन को समझना चाहिए जो कहा गया है यह बिल्कुल सही है

haan sir main bilkul sahmat hoon aur yah jo prarthna hai ishwar allah ek hi naam sabko sanmati de bhagwan jo kathan kahaan gaya yah bilkul sahi hai agar hum bharat ko uthaakar dekhen toh yah jo kathan hai vaah bharat par bilkul laagu hona chahiye matlab main yah bolna chahta hoon ki aaj jo bharat ki sthiti vaah bilkul bhi sahi nahi hai aajkal log religion ke naam par lad rahe hai hamare ja rahe hai hindu muslim se lad raha hai bharat mein kahin na kahin yah chal raha hai release unke peeche log mar rahe hai log ek dusro ki jo ishwar ko nahi maante hai bhale hi aap kisi dusre ke dharm ko nahi maane lekin aapko koi haq nahi hai ki dusre ke dharm ko bura bolen ya dharm ke peeche ladai kare kyonki bhagwan se ek hi hai theek hai aaj ke jamane mein jab log rameshwar itne padhe likhe ho bante ja rahe hai phir bhi lo agar ladai kar rahe hai dharm ke naam par toh mujhe lagta hai yah kahin bhi sahi nahi hai aur real baat yahi hai ki ki ishwar allah ek hi naam sabko sammati de bhagwan bilkul sahi baat hai allah ek hi hai bhagwan ek hi hai isha ek hi hai sab kuch ek hi hai phir bhi log pata nahi kyon ladte hai dharmon ke naam par toh hamare bharat ke logo ko iske bare mein samajhana chahiye thoda gyaan hona chahiye taki yah jo ladai chal rahi hai vaah thodi kam ho bharat mein thodi shanti rahe aajkal bahut dange ho rahe hai ise aap ram mandir ko le lijiye aurai jagah dadan ke badhte ja rahe hai toh mujhe lagta hai yah bilkul bhi sahi nahi hai isme sudhaar lana chahiye aur logo ko yah samajhna chahiye is kathan ko samajhna chahiye jo kaha gaya hai yah bilkul sahi hai

हां सर मैं बिल्कुल सहमत हूं और यह जो प्रार्थना है ईश्वर अल्लाह एक ही नाम सबको सन्मति दे भग

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  147
WhatsApp_icon
user

Ridhima

Mass Communications Student

1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे हिसाब से यह प्रार्थना बहुत ही ज्यादा राइट होगी क्योंकि वह यह बोल भी किए करेक्ट पॉइंट लेकर जाएगा पब्लिक में की गॉड गॉड है उसको ईद कि वह मैटर नहीं करता क्या गॉड को भगवान जी को किस नाम से पुकारे अल्लाह अजीज हिंदू में राम ईश्वर अल्लाह जो भी बोलो तो एक ही है हिंदी एंड मुझे फिगर है वह भगवान जी है जो जो हर रिलीजियस में अलग नाम से पुकारे जाते हैं पर हिंदी है वह एक है और चुकी भारत में यह भी शुरू हो जाता है यह जरूरी है ऐसा लाना प्रार्थना लाना बोलना की रिलीजिंग कि भगवान से एक है क्युकी भारत में बहुत ज्यादा बड़ा देश है जहां पर रिजल्ट मेट्रो उसको बहुत मेहंदी प्लेट और यूज़ किया जाता है पॉलिटिक्स में बिजनेस में वगैरा तो अगर सब्जी लाया जाए तो खोपोली इंडिया में यह जो रिलीज नाम पर कुछ भी फाइट्स होते हैं या झोलमाल होते हैं तो उपयोग कम हो जाएंगे और कभी रुक भी जाएंगे

mere hisab se yah prarthna bahut hi zyada right hogi kyonki vaah yah bol bhi kiye correct point lekar jaega public mein ki god god hai usko eid ki vaah matter nahi karta kya god ko bhagwan ji ko kis naam se pukare allah aziz hindu mein ram ishwar allah jo bhi bolo toh ek hi hai hindi and mujhe figure hai vaah bhagwan ji hai jo jo har rilijiyas mein alag naam se pukare jaate hain par hindi hai vaah ek hai aur chuki bharat mein yah bhi shuru ho jata hai yah zaroori hai aisa lana prarthna lana bolna ki rilijing ki bhagwan se ek hai kyunki bharat mein bahut zyada bada desh hai jaha par result metro usko bahut mehendi plate aur use kiya jata hai politics mein business mein vagera toh agar sabzi laya jaaye toh khopoli india mein yah jo release naam par kuch bhi fights hote hain ya jholmal hote hain toh upyog kam ho jaenge aur kabhi ruk bhi jaenge

मेरे हिसाब से यह प्रार्थना बहुत ही ज्यादा राइट होगी क्योंकि वह यह बोल भी किए करेक्ट पॉइंट

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  112
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ईश्वर अल्लाह तेरो नाम सबको सन्मति दे भगवान जी हां मैं आपकी बात से बिल्कुल सहमत हूं यह प्रार्थना हमारे भारत के लिए बिल्कुल सही है क्योंकि हमारे भारत में बहुत ही अलग अलग प्रकार के अलग-अलग जाति धर्म के लोग रहते हैं तो यह प्रार्थना बिल्कुल सही बैठती हमारे भारत के लिए

ishwar allah tharo naam sabko sanmati de bhagwan ji haan main aapki baat se bilkul sahmat hoon yah prarthna hamare bharat ke liye bilkul sahi hai kyonki hamare bharat mein bahut hi alag alag prakar ke alag alag jati dharm ke log rehte hain toh yah prarthna bilkul sahi baithati hamare bharat ke liye

ईश्वर अल्लाह तेरो नाम सबको सन्मति दे भगवान जी हां मैं आपकी बात से बिल्कुल सहमत हूं यह प्रा

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  167
WhatsApp_icon
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सभी भारतीयों को इस प्रार्थना की मीनिंग को समझना चाहिए और उसके हिसाब से ही डिसीजन्स लेना चाहिए| क्योंकि भारत में अभी जिस तरह का माहौल है तो वह ठीक नहीं है| और कई जगह हिंदू मुस्लिम दंगे हो रहे हैं और लोग धर्म के नाम पर एक दूसरे से घृणा कर रहे हैं| चाहे वह कोई सा भी धर्म हो, वह सभी धर्म हमें यही सीख देते हैं कि आपस में मिल जुल कर रहना चाहिए और तथा भाईचारे से रहना चाहिए| लेकिन लोग इस प्रार्थना को भूलते जा रहे हैं और आपस में दंगे फसाद कर रहे हैं धर्म के नाम पर, जो कि बिल्कुल भी ठीक नहीं है|

sabhi bharatiyon ko is prarthna ki meaning ko samajhna chahiye aur uske hisab se hi disijans lena chahiye kyonki bharat mein abhi jis tarah ka maahaul hai toh vaah theek nahi hai aur kai jagah hindu muslim dange ho rahe hain aur log dharm ke naam par ek dusre se ghrina kar rahe hain chahen vaah koi sa bhi dharm ho vaah sabhi dharm hamein yahi seekh dete hain ki aapas mein mil jul kar rehna chahiye aur tatha bhaichare se rehna chahiye lekin log is prarthna ko bhulte ja rahe hain aur aapas mein dange fasad kar rahe hain dharm ke naam par jo ki bilkul bhi theek nahi hai

सभी भारतीयों को इस प्रार्थना की मीनिंग को समझना चाहिए और उसके हिसाब से ही डिसीजन्स लेना चा

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  268
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
sanmati meaning ; ishwar allah tero naam sabko sanmati de bhagwan meaning ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!