क्या लोग उम्र के साथ कम या ज़्यादा धार्मिक हो जाते हैं?...


play
user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

1:60

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों ट्रेडिशनल अगर हम देखें तो इंडिया जो की कार्यशैली बहुत रिचा सोसायटी रही है शुरू से लेकर अभी तक वहां पर बना क्लीयरली प्रैक्टिकली लॉन्च क्लियर साइंटिफिकली एक लाइफ को पूरा डिवाइड किया हुआ था और यह बताया गया था कि भालीखाल में युवावस्था में गृहस्थ जीवन में ऑपरेट वृद्धावस्था में इंसान को कैसे जीना चाहिए तो जब बच्चा होता है उसको बाले काल में या बालिका से थोड़ा ऊपर होता है जब वह पढ़ाई किस देश में होता है उसका वो कैसा टेंशन ध्यान अर्थशास्त्र और शास्त्र विद्या हासिल करने में होता था ऐसे ही था ना तो उसमें क्या होता है फोटो सहित है पढ़ाई की तरफ नॉलेज केन करने की तरफ और स्किल डेवलपमेंट शुरू से लेकर अभी तक रहा है और ऐसा ही होना चाहिए उसके बाद वह गृहस्थ में घुसता है उसके बाद वह बड़े साहब वृद्धावस्था में जाता है इस हिसाब से लाइफ में उस इंसान को वैसा ही काम करना चाहिए जहां पर जिस चीज को पार्टी देनी है देनी चाहिए और फिर आगे बढ़ना चाहिए ऐसा नहीं होना चाहिए धार्मिक उसे सिर्फ यू नो लास्ट के कुछ सालों में ही होना चाहिए धार्मिक को इंसान को हमेशा रहना चाहिए बस डिग्री का टाइम का थोड़ा फर्क हो सकता है बस इतना है ना क्यों कि लाइफ में 4 चीजें तो क्लियर कट होनी ही होनी है हर इंसान के साथ वह क्या बर्थ ओल्ड एज सिकनेस और डेट चाहे आप माने ना माने चाहे ना चाहे यह तो होना ही होना है जिसने एक बार जीवन ले लिया चांसेस हैं वह दोबारा आएगा इसीलिए बर्थ ओल्ड एज सिकनेस और डेट तो बना ही रहेगा अब आप अपनी लाइफ को किस चरण में क्या प्रायरिटी देते हैं प्रायरिटाइज करते हैं कितना उस पर काम करते हैं यहां पर डिपेंड करता है तो थोड़ा सा साइंटिफिक थोड़ा सा लॉजिकल थोड़ा सा टेंशन में रहने से आप जाएंगे तो लाइफ बहुत बढ़िया से जा सकती है नहीं मिल जाती तो प्रयास तो करते रहना चाहिए ना हम यह कर सकते हैं करियर

namaskar doston traditional agar hum dekhen toh india jo ki karyashaili bahut richa sociaty rahi hai shuru se lekar abhi tak wahan par bana kliyarali practically launch clear scientifically ek life ko pura divide kiya hua tha aur yah bataya gaya tha ki bhalikhal mein yuvavastha mein grihasth jeevan mein operate vriddhavastha mein insaan ko kaise jeena chahiye toh jab baccha hota hai usko bale kaal mein ya balika se thoda upar hota hai jab vaah padhai kis desh mein hota hai uska vo kaisa tension dhyan arthashastra aur shastra vidya hasil karne mein hota tha aise hi tha na toh usme kya hota hai photo sahit hai padhai ki taraf knowledge cane karne ki taraf aur skill development shuru se lekar abhi tak raha hai aur aisa hi hona chahiye uske baad vaah grihasth mein ghuste hai uske baad vaah bade saheb vriddhavastha mein jata hai is hisab se life mein us insaan ko waisa hi kaam karna chahiye jaha par jis cheez ko party deni hai deni chahiye aur phir aage badhana chahiye aisa nahi hona chahiye dharmik use sirf you no last ke kuch salon mein hi hona chahiye dharmik ko insaan ko hamesha rehna chahiye bus degree ka time ka thoda fark ho sakta hai bus itna hai na kyon ki life mein 4 cheezen toh clear cut honi hi honi hai har insaan ke saath vaah kya birth old age sickness aur date chahen aap maane na maane chahen na chahen yah toh hona hi hona hai jisne ek baar jeevan le liya chances hain vaah dobara aayega isliye birth old age sickness aur date toh bana hi rahega ab aap apni life ko kis charan mein kya prayariti dete hain prayaritaij karte hain kitna us par kaam karte hain yahan par depend karta hai toh thoda sa scientific thoda sa logical thoda sa tension mein rehne se aap jaenge toh life bahut badhiya se ja sakti hai nahi mil jaati toh prayas toh karte rehna chahiye na hum yah kar sakte hain career

नमस्कार दोस्तों ट्रेडिशनल अगर हम देखें तो इंडिया जो की कार्यशैली बहुत रिचा सोसायटी रही है

Romanized Version
Likes  162  Dislikes    views  7146
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!